जयपुर VIDEO: शेड्यूल तय कर दिया, फ्लाइट चलाई नहीं, एयरलाइंस की मनमर्जी पर कौन करे नियंत्रण ? देखिए ये खास रिपोर्ट

VIDEO: शेड्यूल तय कर दिया, फ्लाइट चलाई नहीं, एयरलाइंस की मनमर्जी पर कौन करे नियंत्रण ? देखिए ये खास रिपोर्ट

जयपुर: जयपुर एयरपोर्ट पर फ्लाइट संचालन को लेकर प्रशासन के दावे खोखले साबित हो रहे हैं. मार्च माह के अंतिम रविवार से जब फ्लाइट्स का समर शेड्यूल लागू हुआ तो निर्धारित यह हुआ था कि रोजाना औसतन 70 फ्लाइट जयपुर से संचालित होंगी. लेकिन करीब 2 सप्ताह में भी 10 फ्लाइट ऐसी हैं, जो घोषणा के बावजूद शुरू नहीं हो सकी हैं. कौन है इसके लिए जिम्मेदार, कौनसी हैं वे फ्लाइट जो शुरू नहीं हो सकी. 

27 मार्च को जयपुर शहरवासियों को एयरपोर्ट प्रशासन और एयरलाइंस ने एक ख्वाब दिखाया. जयपुर से रोज 70 फ्लाइट संचालित होंगी. कहा यह गया कि कई नए शहरों के लिए फ्लाइट बढ़ने जा रही हैं. पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर, मध्यप्रदेश के भोपाल, पंजाब के जालंधर आदि शहरों के लिए नई फ्लाइट शुरू करने की बात कही गई. एयरलाइंस ने भी नियामक एजेंसी डीजीसीए यानी नागर विमानन महानिदेशालय से जो शेड्यूल अप्रूव कराया था, उसमें इन सभी फ्लाइट्स के 27 मार्च से नियमित रूप से शुरू करने की बात कही गई थी. लेकिन केवल ये 3 फ्लाइट्स ही नहीं, बल्कि ऐसी कुल 10 फ्लाइट हैं, जो अभी तक शुरू नहीं हो सकी हैं. फ्लाइट शुरू नहीं करने में इंडिगो, एयर एशिया, स्पाइसजेट, एयर इंडिया आदि सभी एयरलाइन शामिल हैं. वास्तविकता यह है कि अभी जयपुर एयरपोर्ट से रोजाना औसतन 57 फ्लाइट ही संचालित हो रही हैं. बची हुई 10 फ्लाइट यदि शुरू हों तो यात्रियों को कई शहरों के आवागमन के लिए विकल्प मिल सकेंगे.

ये 10 फ्लाइट, जो घोषणा के बावजूद नहीं चली:
-इंडिगो फ्लाइट 6E-2165 जयपुर से सुबह 9 बजे दिल्ली के लिए थी प्रस्तावित
-एयर इंडिया फ्लाइट 9I-683 जयपुर से सुबह 6:20 बजे भोपाल के लिए थी प्रस्तावित
-एयर इंडिया फ्लाइट 9I-687 जयपुर से शाम 4:45 बजे अहमदाबाद के लिए थी प्रस्तावित
-एयर इंडिया फ्लाइट AI-736 जयपुर से सुबह 11:40 बजे कोलकाता के लिए थी प्रस्तावित
-एयर एशिया फ्लाइट I5-1229 जयपुर से शाम 5:45 बजे हैदराबाद के लिए थी प्रस्तावित
-एयर एशिया फ्लाइट I5-1531 जयपुर से दोपहर 12:25 बजे चेन्नई के लिए थी प्रस्तावित
-स्पाइसजेट फ्लाइट SG-3257 जयपुर से सुबह 7:20 बजे आदमपुर (जालंधर) के लिए थी प्रस्तावित
-स्पाइसजेट फ्लाइट SG-359 जयपुर से दोपहर 12:15 बजे कोलकाता के लिए थी प्रस्तावित 
-स्पाइसजेट फ्लाइट SG-427 जयपुर से दोपहर 2:05 बजे दुर्गापुर (पश्चिम बंगाल) के लिए थी प्रस्तावित 
-स्पाइसजेट फ्लाइट SG-4493 जयपुर से दोपहर 12:30 बजे बागडोगरा (सिलीगुड़ी) के लिए थी प्रस्तावित

इस मामले में गो फर्स्ट एयरलाइन ने शेड्यूल में फ्लाइट संचालन काफी संभलकर संचालित किया है. एयरलाइन ने केवल मुम्बई और बेंगलूरु की 3 फ्लाइट्स का ही शेड्यूल लिया है. इसके अलावा बची हुई हैदराबाद और कोलकाता की फ्लाइट्स को 1 मई से शुरू करने की बात कही है. इस तरह गो फर्स्ट एयरलाइन अपनी निर्धारित सभी फ्लाइट्स को संचालित कर रही है. विमानन विशेषज्ञों की मानें तो फ्लाइट नहीं चल पाने के पीछे एयरलाइंस को पर्याप्त यात्रीभार नहीं मिलना बड़ा कारण है. भोपाल, जालंधर या दुर्गापुर जैसे डेस्टिनेशन्स के लिए अभी पर्याप्त संख्या में यात्री नहीं मिल पा रहे हैं. ऐसे में एयरलाइन इन शहरों के लिए नियमित फ्लाइट नहीं चला पा रही हैं.

हालात तो यह हैं कि कम यात्रीभार के चलते जयपुर एयरपोर्ट से रोजाना औसतन आधा दर्जन फ्लाइट रद्द हो रही हैं. इनमें बेंगलूरु, मुम्बई, पटना, चेन्नई जैसे कई शहरों की फ्लाइट नियमित रूप से रद्द हो रही हैं. बड़ी बात यह है कि शेड्यूल लेने के बावजूद फ्लाइट शुरू नहीं करने पर एयरलाइंस पर कोई कार्रवाई भी नहीं हो रही है. इस मामले में नियामक एजेंसी डीजीसीए ने भी अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है.  

...काशीराम चौधरी, फर्स्ट इंडिया न्यूज, जयपुर

और पढ़ें