श्रीनगर Jammu Kashmir: पथराव और राष्ट्र-विरोधी नारेबाजी के आरोप में 10 लोग गिरफ्तार

Jammu Kashmir: पथराव और राष्ट्र-विरोधी नारेबाजी के आरोप में 10 लोग गिरफ्तार

Jammu Kashmir: पथराव और राष्ट्र-विरोधी नारेबाजी के आरोप में 10 लोग गिरफ्तार

श्रीनगर: यहां मैसूमा इलाके में पुलिस ने पथराव और राष्ट्र विरोधी नारेबाजी में शामिल होने के आरोप में 10 लोगों को गिरफ्तार किया है. अधिकारियों ने गुरुवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि दिल्ली की एक अदालत के अलगाववादी नेता यासीन मलिक को सजा सुनाए जाने से पहले कुछ लोगों द्वारा पथराव और राष्ट्र विरोधी नारेबाजी की गई थी.

दिल्ली की अदालत ने आतंकवाद के वित्त पोषण मामले में मलिक को बुधवार को उम्रकैद की सजा सुनाते हुए कहा कि इन अपराधों का मकसद ‘भारत के विचार की आत्मा पर हमला करना’ और भारत संघ से जम्मू-कश्मीर को जबरदस्ती अलग करने का था. श्रीनगर पुलिस ने गुरुवार को ट्वीट किया कि कल सजा सुनाए जाने से पहले मैसूमा में यासीन मलिक के आवास के बाहर राष्ट्र विरोधी नारेबाजी और पथराव के सिलसिले में अब तक 10 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने कहा कि अन्य सभी इलाकों में शांतिपूर्ण माहौल बना हुआ है. युवाओं से हिंसक गतिविधियों में लिप्त न होने का एक बार फिर अनुरोध किया जाता है.  उसने कहा कि इस घटना में शामिल अन्य लोगों की पहचान की जा रही है और उन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा. मामला दर्ज किया गया है. 

पथराव करने और राष्ट्र विरोधी नारेबाजी करने के लिए लोगों को भड़काने वाले मुख्य आरोपी पर जन सुरक्षा कानून (पीएसए) के तहत मामला दर्ज किया गया जाएगा.’’ शहर के कुछ इलाकों में बृहस्पतिवार को दुकानें बंद रही लेकिन यातायात सामान्य रहा. स्कूल भी खुले रहे जबकि सरकारी और निजी कार्यालयों में उपस्थिति सामान्य रही. अधिकारियों ने बताया कि घाटी में हालात सामान्य रहने पर बृहस्पतिवार तड़के मोबाइल सेवाएं भी बहाल की गयी. मोबाइल पर इंटरनेट सेवाएं बुधवार शाम को बंद कर दी गयी थी, जब अदालत ने मलिक को उम्रकैद की सजा सुनायी थी. सोर्स- भाषा

और पढ़ें