किसानों को 31 मार्च, 2020 तक 1177 करोड़ 75 लाख रूपये का किया जाएगा ऋण वितरण

Nirmal Tiwari Published Date 2019/09/14 03:44

जयपुर: जिला कलक्टर एवं केन्द्रीय सहकारी बैंक के प्रशासक जगरूप सिंह यादव ने बताया कि जिले के किसानों को 31 मार्च, 2020 तक 1177 करोड़ 75 लाख रूपये का ऋण वितरण किया जाएगा. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की दोनों ऋण माफी योजना के तहत्त 933.10 करोड़ रूपये की ऋण माफी का लाभ जिले के लगभग 1.43 लाख किसानों को मिला है. उन्होंने कहा कि बैंक ने वर्ष 2018-19 में 13 करोड़ 59 लाख का परिचालन लाभ तथा 3.07 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ अर्जित किया है. यादव आज सहकार भवन में जयपुर केन्द्रीय सहकारी बैंक की 68वीं वार्षिक साधारण सभा को सम्बोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि राज्य में पहली बार सहकारी फसली ऋण ऑनलाइन पंजीयन एवं वितरण योजना के तहत्त जिले में 1.38 लाख किसानों का ऑनलाइन फसली ऋण पोर्टल पर पंजीयन किया जा चुका है.पंजीयन की प्रक्रिया जारी है. किसानों की साख सीमा स्वीकृत करते हुए डीएमआर के माध्यम से ही ऋण वितरण किया जा रहा है. जिसके द्वारा भेद-भाव एवं अनियमिताओं की संभावना शून्य हुई है.

किसानों की अधिकतम साख सीमा ऑनलाइन स्वीकृत: 
उन्होंने बताया कि बैंक निरंतर लाभ में काम कर रहा है. उन्होंने बताया कि बैंक ने कृषि निवेश ऋणों की मांग के विरूद्ध 96.90 प्रतिशत वसूली की है. अपेक्स बैंक के प्रबंध निदेशक इन्दर सिंह ने कहा कि अधिकतम किसानों को फसली ऋण मिले इसके लिए ऑनलाइन पंजीयन एवं वितरण योजना किसानों के हित में लागू की गई है. इस योजना से किसानों की अधिकतम साख सीमा ऑनलाइन स्वीकृत होती है जिससे भेद-भाव एवं भाई भतीजावाद समाप्त हुआ है. उन्होंने कहा कि नए सदस्य किसानों को  इस योजना से जोड़ा जा रहा है ताकि उन्हें भी फसली ऋण मुहैया कराया जा सकें.

बैंकिग क्षेत्र में यह योजना लागू करने वाला राजस्थान एकमात्र राज्य: 
उन्होंने कहा कि बैंकिग क्षेत्र में यह योजना लागू करने वाला राजस्थान एकमात्र राज्य है. प्रबन्ध निदेशक इन्द्रराज मीणा ने बताया कि बैंक उत्तरोत्तर अच्छी वित्तीय स्थति की ओर बढ़ रहा है. उन्होंने बताया कि बैंक कृषि ऋण योजनाओं में कृषक मित्र योजना, कृषक समृद्धि, सहकार किसान कल्याण योजना, एवं फसली ऋण के माध्यम से किसानों के सशक्तीकरण के लिए कार्य कर रहा है. वहीं अकृषि ऋण योजनाओं में आवास एवं व्यवसायिक परिसर ऋण योजना, कल्पतरू योजना,अचल सम्पति रहन ऋण योजना, सीसीटी, महिला स्वयं सहायता समूह ऋण तथा वाहन ऋण के माध्यम से लोगों को सुविधा प्रदान कर रहा है. 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in