11वां राष्ट्रीय मतदाता दिवस: राज्यपाल कलराज मिश्र बोले, स्वस्थ लोकतंत्र के लिए प्रत्येक मतदाता की भागीदारी हो

11वां राष्ट्रीय मतदाता दिवस: राज्यपाल कलराज मिश्र बोले, स्वस्थ लोकतंत्र के लिए प्रत्येक मतदाता की भागीदारी हो

11वां राष्ट्रीय मतदाता दिवस: राज्यपाल कलराज मिश्र बोले, स्वस्थ लोकतंत्र के लिए प्रत्येक मतदाता की भागीदारी हो

जयपुर: राज्यपाल कलराज मिश्र ने मतदाताओं से आह्वान किया है कि लोकतंत्र में एक-एक मत का महत्व होता है. ऐसे में प्रत्येक मतदाता जागरूक बने और सोच समझकर मतदान करते हुए ऐसे जनप्रतिनिधि चुने जो विकास और तरक्की का पथ प्रशस्त कर सकें. राज्यपाल ने ये विचार राजभवन से 11वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के राज्य स्तरीय समारोह में ऑनलाइन व्यक्त किए. कार्यक्रम में राज्यपाल ने कहा कि स्वस्थ लोकतंत्र के निर्माण और उसकी मजबूती के लिए प्रत्येक मतदाता की निर्वाचन प्रक्रिया में भागीदारी आवश्यक है.

मतदान प्रक्रिया में मतदाताओं की अधिकतम भागीदारी सुनिश्चित हो:
राज्यपाल ने कहा कि राष्ट्रीय मतदाता दिवस का आयोजन इस बात की याद दिलाता है कि भारत के लोग ही वह शक्ति हैं, जो संविधान को शक्ति प्रदान करते है. राजनीतिक दलों, उम्मीदवारों और नागरिकों के लिए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा पोर्टल एवं मोबाईल एप के माध्यम से निर्वाचन प्रक्रिया सुगम बनाने के लिए उल्लेखनीय पहल की गई है. इस जन उपयोगी तकनीक तथा मोबाईल एप की जानकारी साक्षरता क्लबों के माध्यम से अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाई जाए, जिससे त्रुटि रहित मतदाता सूचियां तैयार हो सकें और मतदान प्रक्रिया में मतदाताओं की अधिकतम भागीदारी सुनिश्चित हो सके.

निर्वाचन प्रक्रिया से जुड़ी सम्पूर्ण मशीनरी बधाई की पात्र:
कार्यक्रम में भारत के मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा का राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर देश की जनता के नाम संदेश का वीडियो द्वारा प्रसारित किया गया. राज्य निर्वाचन आयोग के आयुक्त प्रेम सिंह मेहरा ने कहा कि कोरोना दौर में बीते एक वर्ष में भारत सरकार तथा राज्य सरकार ने कोरोना गाइडलाइन की पूर्ण पालना करते हुए मतदान प्रक्रिया का चुनौती पूर्ण कार्य सफलता पूर्वक पूरा किया है. इसके लिए निर्वाचन प्रक्रिया से जुड़ी सम्पूर्ण मशीनरी बधाई की पात्र है.

प्रदेश में ई-इपिक का शुभारम्भ:
मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने कहा कि सभी मतदाता अपने विवेक का प्रयोग करते हुए जागरूक होकर सुरक्षित महसूस करते हुए मतदान कर सकें, यही लोकतंत्र की सफलता की सच्ची कसौटी है. इस मौके पर राज्यपाल कलराज मिश्र, निर्वाचन आयुक्त प्रेम सिंह मेहरा एवं मुख्य सचिव निरंजन आर्य के ई-इपिक कार्ड जारी कर प्रदेश में ई-इपिक का शुभारम्भ किया गया. समारोह के दौरान राज्यपाल के सचिव सुबीर कुमार, प्रमुख विशेषाधिकारी गोविन्दराम जायसवाल सहित सचिवालय एवं जिलास्तरीय मुख्यालयों से अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे.

...फर्स्ट इंडिया के लिए काशीराम चौधरी की रिपोर्ट  

और पढ़ें