Live News »

राहुल गांधी समेत विपक्ष के 12 नेता जा रहे जम्मू-कश्मीर, प्रशासन ने आने से किया मना

राहुल गांधी समेत विपक्ष के 12 नेता जा रहे जम्मू-कश्मीर, प्रशासन ने आने से किया मना

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता राहुल गांधी के नेतृत्व में विपक्षी दलों का एक प्रतिनिधिमंडल आज जम्मू-कश्मीर जा रहा है. लेकिन पुलिस सूत्रों की माने तो विपक्षी प्रतिनिधिमंडल को श्रीनगर एयरपोर्ट के बाहर नहीं जाने दिया जाएगा. इस बारे में जम्मू कश्मीर प्रशासन ने कहा है कि विपक्षी नेता कश्मीर ना आएं और सहयोग करें. 

11 विपक्षी नेता भी जा रहे कश्मीर घाटी:
राहुल के साथ कांग्रेस के ग़ुलाम नबी आज़ाद, केसी वेणुगोपाल, आनंद शर्मा, लेफ़्ट के सीताराम येचुरी, डी राजा,  डीएमके के तिरुची शिवा, टीएमसी के दिनेश त्रिवेदी, एनसीपी के माजिद मेमन, आरजेडी के मनोज झा और जेडीएस के उपेंद्र रेड्डी के अलावा शरद यादव भी कश्मीर जाने वाले नेताओं में शामिल हैं. 

प्रशासन ने की नेताओं से सहयोग की मांग: 
वहीं  कुछ दिन पहले ही गुलाम नबी आज़ाद भी श्रीनगर गए थे लेकिन उन्हें एयरपोर्ट से ही वापस भेज दिया गया था. इस बीच जम्मू-कश्मीर प्रशासन का बयान आया है जिसमें कहा गया है कि विपक्षी नेता कश्मीर न आएं और सहयोग करें. प्रशासन ने ट्वीट किया है कि नेताओं के दौरे से असुविधा होगी.

शाह ने कहा- कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा बनाः
हैदराबाद में सरदार वल्लभभाई पटेल राष्ट्रीय पुलिस अकादमी में गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि मैं सरदार पटेल को श्रद्धांजलि देना चाहता हूं; उन्होंने 630 रियासतों को एकजुट किया, केवल जम्मू और कश्मीर बचा था. पीएम मोदी के नेतृत्व में, अनुच्छेद-370 को निरस्त कर दिया गया है और जम्मू-कश्मीर पूरी तरह से शेष भारत के साथ एकीकृत हो गया है.

और पढ़ें

Most Related Stories

भारत की मदद से नेपाल ने खोले 3 नए स्कूल, विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने किया उद्घाटन

भारत की मदद से नेपाल ने खोले 3 नए स्कूल, विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने किया उद्घाटन

काठमांडूः हाल ही में नेपाल ने भारत की मदद से तीन नए स्कूल खोले है, जिनका उद्घाटन आज किया गया है. खबर है कि देश के विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने नेपाल के गोरखा जिले में भारत की सहायता से निर्मित तीन स्कूलों का आज उद्घाटन किया है. ये जिला 2015 में आए भूकंप का केंद्र था. नेपाल में अप्रैल 2015 में आए 7.8 तीव्रता के भूकंप ने काफी तबाही मचाई थी जिसमें करीब 9000 लोगों की मौत हो गई थी जबकि करीब 22,000 अन्य घायल हो गए थे. जिसके बाद भारत ने दोस्ती निभाते हुए नेपाल की मदद की है और पुनरुद्धार कराया है. 

भारतीय दूतावास ने ट्वीट किया है कि विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने आज गोरखा में भारत की पुनर्निर्माण सहायता- लोगों में निवेश- शिक्षा में निवेश के तहत निर्मित तीन स्कूलों का उद्घाटन किया गया है. विदेश मंत्रालय ने स्कूल के उद्घाटन कार्यक्रम का एक वीडियो भी ट्वीट किया है. विदेश सचिव ने मनंग जिले में भारत की सहायता से पुनरुद्धार किए गए एक बौद्ध मठ का भी उद्घाटन किया है. मंत्रालय ने ट्वीट किया कि विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने मनंग जिले में भारत की मदद से पुनरुद्धार के बाद तैयार ताशोप (तारे) गोम्पा मठ का भी उद्घाटन किया है.

मंत्रालय ने श्रृंगला को उद्धृत करते हुए कहा कि बौद्ध धर्म भारत और नेपाल के बीच एक महत्वपूर्ण संपर्क-सूत्र है.इससे पहले  विदेश नीति थिंक-टैंक एशियन इंस्टीयूट ऑफ डिप्लोमैसी एंड इंटरनेशनल अफेयर्स द्वारा आयोजित एक परिचर्चा में श्रृंगला ने कहा कि नेपाल और भारत के बीच का रिश्ता जटिल है और उनकी सभ्यतागत धरोहर, संस्कृति एवं रीति-रिवाज आपस में मिलते हैं. उन्होंने 2015 में नेपाल में आये विनाशकारी भूकंप के बाद भारत द्वारा त्वरित रूप से उठाये गये कदमों का दृष्टांत देते हुए कहा कि भारत अपने आप को नेपाल का स्वाभाविक और स्वत: प्रवृत सहयोगकर्ता के रूप में देखता है. (सोर्स-भाषा)

{related}

ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने ओवरलोड सवारी ऑटो रोका तो ऑटोचालक ने सड़क पर घसीटा, ड्राइवर गिरफ्तार

 ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने ओवरलोड सवारी ऑटो  रोका तो ऑटोचालक ने सड़क पर घसीटा, ड्राइवर गिरफ्तार

औरंगाबादः महाराष्ट्र के औरंगाबाद शहर से कानून की धज्जियां उड़ाता एक मामला सामने आ रहा है. खबर है कि क्षमता से ज्यादा सवारी लेकर जा रहे एक ऑटो रिक्शा को पुलिसकर्मी ने रोकने की कोशिश की मगर चालक ने वाहन रोकने के बजाय उसकी गति तेज कर दी थी. इससे  ट्रैफिक पुलिसकर्मी का पैर गाड़ी में फंस गया और वे सड़क पर घसीटते हुए चले गए थे. इस मामले की जानकारी एक पुलिस अधिकारी ने दी है. 

उन्होंने कहा कि ये घटना बृहस्पतिवार दोपहर बाद शहर के जालना रोड पर हुई है. उन्होंने कहा कि इस दौरान पुलिसकर्मी हसीमुद्दीन शेख को दाहिने पैर में चोट आई है. अधिकारी ने कहा कि शेख जालना रोड स्थित हाईकोर्ट सिग्नल पर ड्यूटी पर तैनात था जब उसने एक ऑटो रिक्शा को क्षमता से अधिक सवारी ले जाते देखा था. तब शेख ऑटो रिक्शा को रुकवाकर उसकी पिछली सीट पर बैठ गया और चालक को वाहन सड़क के किनारे करने को कहा था. 

उन्होंने कहा कि ऑटो रिक्शा चालक फारुक शाह इसके बावजूद रुका नहीं और ऑटो से धक्का दिये जाने के कारण शेख उससे नीचे गिर गया है.  पुलिसकर्मी ने हालांकि वाहन को छोड़ा नहीं था.  इस पर चालक ने ऑटो रिक्शा की गति और बढ़ा दी जिससे पुलिसकर्मी कुछ दूरी तक घिसटता चला गया था. इसके बाद आरोपी को तत्काल गिरफ्तार कर लिया गया और उसे शुक्रवार को अदालत में पेश किया जाएगा. 

सहायक पुलिस निरीक्षक घनश्याम सोनावाने ने कहा कि घायल पुलिसकर्मी का इलाज जारी है और वे खतरे से बाहर है. फिलहाल पुंडालिक नगर पुलिस थाने में आरोपी चालक के खिलाफ प्रासंगिक धाराओं में मामला दर्ज किया गया है और जल्दी ही उसे अदालत में पेश किया जाएगा.  (सोर्स-भाषा)

{related}

Farmers Protest: किसानों को दिल्ली में प्रवेश की अनुमति दी गई, सीएम अमरिंदर ने कदम का  किया स्वागत

Farmers Protest: किसानों को दिल्ली में प्रवेश की अनुमति दी गई, सीएम अमरिंदर ने कदम का  किया स्वागत

चंडीगढ़: केन्द्र सरकार द्वारा किसानों को दिल्ली में दाखिल होने और शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने की मंजूरी देने के कदम का पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शुक्रवार को स्वागत किया. इससे पहले दिन में प्रदर्शनकारी किसानों ने दिल्ली-हरियाणा के सिंघू बॉर्डर पर पथराव किया और बैरीकेड तोड़ डाले. दिल्ली पुलिस के साथ उनका संघर्ष भी हुआ जिसने उन्हें तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े. पुलिस ने कहा कि किसानों को उत्तर दिल्ली के निरंकारी मैदान में शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने की अनुमति दे दी गई है.

अमरिंदर सिंह ने ट्वीट किया, किसानों को दिल्ली में प्रवेश करने और प्रदर्शन करने के लोकतांत्रिक अधिकार की अनुमति देने के लिए मैं केंद्र के निर्णय का स्वागत करता हूं. कृषि कानूनों पर किसानों की चिंताओं का समाधान करने के लिए अब उन्हें तुरंत वार्ता शुरू करनी चाहिए. पंजाब के किसान संगठनों ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने उन्हें दिल्ली में एक स्थान पर आंदोलन करने की अनुमति दे दी है.

{related}

क्रांतिकारी किसान यूनियन के अध्यक्ष दर्शन पाल ने कहा कि हमें दिल्ली में प्रवेश की इजाजत दी गई है. भारतीय किसान यूनियन (राजेवल) के अध्यक्ष बलबीर सिंह राजेवाल ने कहा कि किसान बुराड़ी की ओर निकल गए हैं. इससे पहले, किसानों ने रामलीला मैदान में प्रदर्शन करने की अनुमति मांगी थी, लेकिन दिल्ली पुलिस ने वहां प्रदर्शन की अनुमति देने से इनकार कर दिया था. पंजाब के मुख्यमंत्री ने हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार द्वारा किसानों को रोकने के लिए क्रूर बल का इस्तेमाल करने को लेकर आलोचना की.

मुख्यमंत्री ने एक बयान जारी कर कहा कि इस तरह के कड़े कदम उठाने की क्या जरूरत है? मनोहर लाल खट्टर जी इस तरह की क्रूरता को रोकने की जरूरत है. केन्द्र के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध जताने दिल्ली के लिए निकले पंजाब और हरियाणा के किसान रास्ते में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त के बावजूद शुक्रवार सुबह दिल्ली के दो बॉर्डर पर पहुंच गए. किसान नये कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग कर रहे हैं. उनका कहना है कि नये कानून से न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की व्यवस्था समाप्त हो जाएगी. केन्द्र ने पंजाब के कई किसान संगठनों को बातचीत करने के लिए तीन दिसम्बर को बुलाया है.(भाषा)

समुद्री सुरक्षा को लेकर त्रिपक्षीय वार्ता में शिरकत करने श्रीलंका पहुंचे National Security Advisor अजित डोभाल

समुद्री सुरक्षा को लेकर त्रिपक्षीय वार्ता में शिरकत करने श्रीलंका पहुंचे National Security Advisor अजित डोभाल

कोलंबो: देश के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोभाल भारत, श्रीलंका और मालदीव के बीच समुद्री सुरक्षा को लेकर त्रिपक्षीय वार्ता के लिए आज कोलंबो पहुंचे है. आपको बता दे कि श्रीलंका, भारत और मालदीव के साथ शुक्रवार और शनिवार को समुद्री सुरक्षा सहयोग पर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की चौथी त्रिपक्षीय बैठक का आयोजन कर रहा है. इस बैठक का आयोजन लगभग छह साल बाद किया जा रहा है. इससे पहले ये बैठक 2014 में नई दिल्ली में हुई थी.

कोलंबो में भारतीय दूतावास ने ट्वीट किया है कि भारत-श्रीलंका-मालदीव के बीच समुद्री और सुरक्षा सहयोग पर वार्ता के लिए एनएसए अजित डोभाल कोलंबो पहुंच गए हैं. सैन्य कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल सिल्वा शवेंद्र ने गर्मजोशी से उनका स्वागत किया है. श्रीलंका की सेना ने बताया कि डोभाल और मालदीव की रक्षा मंत्री मारिया दीदी वार्ता में अपने अपने देशों का नेतृत्व करेंगे. बांग्लादेश, मॉरीशस और सेशेल्स के पर्यवेक्षक भी रहेंगे. 

हिंद महासागर क्षेत्र में समुद्री सुरक्षा पर समन्वित कार्रवाई, राहत और बचाव अभियान का प्रशिक्षण, समुद्र में बढ़ते प्रदूषण को लेकर कदम उठाने, सूचनाएं साझा करने, अवैध हथियारों, मादक पदार्थों की तस्करी पर लगाम लगाने जैसे विषयों पर चर्चा होगी. नई दिल्ली में विदेश मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को कहा था कि एनएसए स्तर की त्रिपक्षीय बैठक हिंद महासागर के देशों के बीच सहयोग बढ़ाने के लिए एक प्रभावी मंच हैं.

विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा था कि हिंद महासागर क्षेत्र में समुद्री सुरक्षा को लेकर सहयोग से जुड़े मुद्दों पर चर्चा होगी. इस साल डोभाल का श्रीलंका का यह दूसरा दौरा है. इससे पहले वह जनवरी में श्रीलंका आए थे और दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों पर चर्चा की थी. कयास लगाए जा रहे है कि इससे दोनों देशों के संबध और भी अच्छे होगें.  (सोर्स-भाषा)

{related}

RDIF औऱ हेटेरो भारत में स्पुतनिक वी वैक्सीन की 10 करोड़ खुराक तैयार करने पर सहमत, 2021 में शुरु होगा काम

RDIF औऱ हेटेरो भारत में स्पुतनिक वी वैक्सीन की 10 करोड़ खुराक तैयार करने पर सहमत, 2021 में शुरु होगा काम

नई दिल्लीः कोरोना काल के बीच एक राहत की खबर आ रही है. असल में रूसी प्रत्यक्ष निवेश कोष (आरडीआईएफ) और दवा कंपनी हेटेरो भारत में हर साल स्पुतनिक वी वैक्सीन की 10 करोड़ खुराक तैयार करने पर सहमत हो गए हैं.  इस बात की जानकारी रूस के सावरेन वेल्थ फंड ने एक बयान में दी है. इस बयान में कहा गया है कि कोरोना वायरस की संभावित वैक्सीन स्पुतनिक वी का उत्पादन 2021 में शुरू करने पूरी तैयारी  की जा रही है. 

इस समय इस वैक्सीन के तीसरे चरण का परीक्षण बेलारूस, यूएई, वेनेजुएला और अन्य देशों में चल रहा है. आरडीआईएफ ने कहा कि भारत में दूसरे चरण और तीसरे चरण का परीक्षण चल रहा है. घरेलू दवा कंपनी डॉ रेड्डीज लैबोरेटरीज और आरडीआईएफ को भारत के दवा महानियंत्रक (डीसीजीआई) से भारत में स्पुतनिक वी वैक्सीन के दूसरे और तीसरे चरण के परीक्षण की अनुमति मिली थी.

स्पुतनिक वी वैक्सीन की 1.2 अरब से अधिक खुराक के लिए 50 से अधिक देशों ने अनुरोध किया है. आरडीआईएफ ने कहा कि वैश्विक बाजार के लिए वैक्सीन का उत्पादन भारत, ब्राजील, चीन, दक्षिण कोरिया और अन्य देशों में आरडीआईएफ के साझेदारों द्वारा किया जाएगा. रूसी प्रत्यक्ष निवेश कोष के सीईओ किरिल दिमित्रिग ने कहा कि  हमें आरडीआईएफ और हेटेरो के बीच समझौते की घोषणा करते हुए खुशी है कि इससे भारत में सुरक्षित और अत्यधिक प्रभावी स्पुतनिक वी वैक्सीन के उत्पादन का रास्ता साफ होगा. 

आरडीआईएफ ने मंगलवार को कहा था कि स्पुतनिक वी कोविड-19 वैक्सीन का असर 95 प्रतिशत से अधिक है और अंतरराष्ट्रीय बाजारों के लिए एक खुराक की कीमत 10 अमेरिकी डॉलर (लगभग 740 रुपये) से कम होगी. हेटेरो लैब्स के अंतरराष्ट्रीय विपणन निदेशक बी मुरली कृष्ण रेड्डी ने कहा कि कंपनी स्पुतनिक वी वैक्सीन के लिए विनिर्माण साझेदार बनकर खुश है और वह परीक्षण परिणामों का इंतजार कर रही है. (सोर्स-भाषा)

{related}

जेल में बंद लालू की जमानत याचिका पर सुनवाई 11 दिसंबर तक टली

जेल में बंद लालू की जमानत याचिका पर सुनवाई  11 दिसंबर तक टली

रांची: साढ़े नौ सौ करोड़ रुपये के चारा घोटाले के मामले में जेल में बंद लालू यादव की जमानत याचिका पर अदालत ने 11 दिसंबर तक रोक लगा दी है. खबर है कि चारा घोटाले के चार अलग-अलग मामलों में से एक में राजद नेता लालू प्रसाद की जमानत याचिका पर झारखंड उच्च न्यायालय ने सुनवाई 11 दिसंबर तक के लिए स्थगित कर दी है. आपको बता दे कि इस मामले में लालू को 14 वर्ष तक की कैद की सजा सुनाई गई थी और इस समय उनका रांची स्थित राजेन्द्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) में इलाज चल रहा है. 

लालू के स्थानीय अधिवक्ता प्रभात कुमार ने पीटीआई-भाषा को बताया है कि झारखंड उच्च न्यायालय में चारा घोटाले के दुमका कोषागार से गबन से जुड़े मामले में लालू की जमानत याचिका पर अब 11 दिसंबर को आगे की सुनवाई होगी. लालू की ओर से दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सुनवाई से जुड़े उच्चतम न्यायालय के वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने लालू प्रसाद की न्यायिक हिरासत में 42 माह, 28 दिनों की हिरासत की अवधि पूरी होने की बात सिद्ध (कस्टडी प्रूफ) करने के लिए समय मांगा जिसके बाद अदालत ने मामले की सुनवाई 11 दिसंबर तक स्थगित कर दी गई है. 

इससे पूर्व न्यायमूर्ति अपरेश कुमार सिंह की पीठ के समक्ष सीबीआई ने दावा किया कि अन्य मामलों की न्यायिक हिरासत को जोड़ लेने पर भी लालू ने दुमका मामले में अभी सिर्फ 34 माह ही न्यायिक हिरासत में बिताये हैं, जबकि सिब्बल ने दावा किया कि लालू ने इस मामले में 42 माह, 28 दिन न्यायिक हिरासत में पूरे कर लिये हैं. सीबीआई ने कहा कि वैसे तो अपराध प्रक्रिया संहिता की धारा 427 के तहत निचली अदालत द्वारा अलग से उल्लेख न करने की स्थिति में लालू की सभी मामलों में सजाएं एक के बाद एक चलनी चाहिए और उस लिहाज से दुमका मामले में अब तक लालू ने न्यायिक हिरासत में एक दिन भी नहीं बिताया है.

सीबीआई ने दलील दी कि लालू को दुमका मामले में भारतीय दंड संहिता के विभिन्न प्रावधानों के तहत सात वर्ष कैद एवं भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत भी सात वर्ष कैद की सजा सुनायी गयी है जिसे मिलाकर उनकी इस मामले में कुल सजा चौदह वर्ष की हो जाती है. अदालत ने कहा कि सीबीआई द्वारा उठाये गये इस पक्ष पर अंतिम सुनवाई के दौरान विचार किया जायेगा. इससे पूर्व इस मामले में 24 नवंबर को दाखिल अपने जवाब में सीबीआई ने दावा किया था कि वास्तव में लालू प्रसाद ने दुमका कोषागार से गबन के मामले में अब तक एक दिन की भी सजा नहीं काटी है लिहाजा उन्हें इस मामले में अभी जमानत देने का कोई भी पुख्ता आधार नहीं बनता है.

जबकि लालू के वकीलों ने दावा किया था कि लालू ने इस मामले में अपनी आधी सजा न्यायिक हिरासत में पूरी कर ली है. चारा घोटाले से जुड़े दुमका मामले में लालू को विशेष सीबीआई अदालत ने चौदह वर्ष के सश्रम कारावास की सजा सुनाई थी. उन्हें चार मामलों में से तीन में पहले ही जमानत मिल चुकी है. फिलहाल आगे क्या होगा ये तो वक्त ही बताएगा. आपको बता दे कि हाल ही में लालू प्रसाद के खिलाफ एक मामला दर्द किया है जिसमें उनके खिलाफ बीजेपी नेताओं की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया गया है.  (सोर्स-भाषा)

{related}

LOC पर पाकिस्तान ने फिर किया सीजफायर का उलंघ्घन, 2 जवान शहीद

LOC पर पाकिस्तान ने फिर किया सीजफायर का उलंघ्घन,  2 जवान शहीद

जम्मू कश्मीरः आज जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्तानी सेना  ने भारी गोलीबारी करते हुए कई मोर्टार दागे है जिसमें भारतीय सेना के दो जवान शहीद हो गए है. इस घटना की जानकारी एक रक्षा अधिकारी ने दी है. उन्होंने कहा कि भारतीय सेना ने सीमा पार से बिना उकसावे के की जा रही गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया गया है, मगर इसके चलते दो जवान शहीद हो गए है. 

रक्षा प्रवक्ता ने कह कि पाकिस्तानी सेना ने आज जिला राजौरी के सुंदरबनी सेक्टर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास बिना उकसावे के संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है. उन्होंने बताया कि गोलीबारी में नायक प्रेम बहादुर खत्री और राइफलमैन सुखबीर सिंह गंभीर रुप से जख्मी हो गए थे, जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए पास के अस्पताल ले जाया गया था और बाद में इसी दौरान उन्होनें दम तोड़ दिया है.

अधिकारी ने कहा कि राष्ट्र उनके सर्वोच्च बलिदान और कर्तव्यनिष्ठा के लिए हमेशा उनका ऋणी रहेगा. आपको बता दे कि बृहस्पतिवार को भी पुंछ जिले के किरनी और कस्बा सेक्टरों में नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्तानी सेना की गोलाबारी में सूबेदार स्वतंत्र सिंह की मौत हो गई थी और एक नागरिक गंभीर रूप से घायल हो गया था. (सोर्स-भाषा)

{related}

20 करोड़ रूपये की डकैती के मामले में मणप्पुरम फाईनेंस लिमिटेड का ब्रांच मैनेजर गिरफ्तार

20 करोड़ रूपये की डकैती के मामले  में मणप्पुरम फाईनेंस लिमिटेड का ब्रांच मैनेजर गिरफ्तार

कटक: हाल ही में मणप्पुरम फाईनेंस लिमिटेड के शाखा प्रबंधक को कटक में आईआईएफएल की शाखा से करीब 20 करोड़ रूपये के सोने और अन्य बेशकीमती चीजों की डकैती के  मामले में हिरासत में लिया गया है. पुलिस उपायुक्त प्रतीक सिंह ने बताया है कि शाखा प्रबंधक से इस डकैती के सिलसिले में जांचकर्ता पूछताछ कर रहे हैं. इसके साथ ही पुलिस को इस डकैती के मामले में गिरफ्तार किए गए सात लोगों में से पांच को तीन दिन के लिए हिरासत में लेने के लिए अदालत से अनुमति भी मिल गई है. 

सिंह ने बताया कि मंगलवार को गिरफ्तार किये गये आईआईएफएल के स्वर्ण मूल्यांकन अधिकारी लाला अमृत राय उन पांच लोगों में शामिल है जिनसे हिरासत में पूछताछ की जाएगी. उनके अनुसार जांच दल का शक पक्का हो गया है कि वह मणप्पुरम फाईनेंस से ऋण लेने के लिए आईआईएफएल के गिरवी वाले सोने का नियमित रूप से इस्तेमाल कर रहा था. पुलिस अधिकारी ने कहा कि चूंकि मणप्पुरम फाइनेंस प्रबंधक अमृत के ऋण संबंधी विषयों को देख रहा था, इसलिए अब उससे इस सिलसिले में पूछताछ की जा रही है.

हालांकि उन्होंने इसका ब्यौरा नहीं दिया है. सिंह का कहना था कि यदि इस घटना में मणप्पुरम प्रबंधक की भूमिका स्थापित हो जाती है तो उसे गिरफ्तार किया जा सकता है.आपको बता दे कि पिछले सप्ताह कटक में आईआईएफएल की नया सड़क शाखा से 20 करोड़ रूपये से अधिक मूल्य की नकदी और सोने की डकैती हुई थी. इस मामले में कंपनी के दो कर्मियों समेत कम से कम सात लोग अब तक गिरफ्तार किये गये है. पुलिस ने उनसे एक किलोग्राम सोना और पांच लाख नकद बरामद किए है. फिलहाल मामले की जांच जारी है. (सोर्स-भाषा)

{related}