Live News »

ऑल इंडिया सेवा के 120 अफसरों को नए साल पर पदोन्नति का तोहफा

ऑल इंडिया सेवा के 120 अफसरों को नए साल पर पदोन्नति का तोहफा

जयपुर। नई सरकार ने ऑल इंडिया सेवा के 120 अफसरों को नए साल पर पदोन्नति का तोहफा दिया है। इनमें 53 आईएएस, 28 आईएफएस और 39 आईपीएस शामिल हैं। इस सूची की खास बात यह है कि इसमें 2003 बैच के आईएएस नीरज के पवन का सचिव पद के लिए प्रमोशन नहीं किया गया तो वहीं 2006 बैच में आईएएस वी सरवन को और आईएफएस आसू सिंह शेखावत को चयन वेतन शृंखला पद के लिए चयन नहीं किया गया है। 

120 ऑल इंडिया सेवा अधिकारी आज से नए साल में नए प्रमोटेड पद पर काम करने का गौरव हासिल करेंगे। मध्यरात्रि को हुए प्रमोशन आदेश में नई सरकार ने उन्हें प्रमोशन का तोहफा दिया है। 
120  ऑल इंडिया सेवा अधिकारी हुए प्रमोट
53 आईएएस हुए प्रमोट
28 आईएफएस हुए प्रमोट
39 आईपीएस हुए प्रमोट
नए साल पर नए पद पर करेंगे ज्वॉइन

सीएस रैंक के लिए ये आईएएस  चयनित
-1989 के 5 आईएएस वी श्रीनिवास,शुभ्रा सिंह,राजेश्वर सिंह,निरंजन आर्य,रोहित कुमार सिंह एसीएस या अपेक्स स्केल के लिए चयन।

ये 5 आईएएस  प्रमुख सचिव
-1995 बैच के 5 आईएएस प्रवीण गुप्ता,भास्कर आत्माराम सावंत,राजीव सिंह ठाकुर,अश्विनी भगत,कुंजीलाल मीणा प्रमुख सचिव।
-हायर सुपर टाइम स्केल में हुए पदोन्नत।

ये 15 आईएएस हुए सचिव
-2003 बैच के आईएएस प्रीतम बी यशवंत,कृष्ण कुणाल,भानुप्रकाश येटुरू,सिद्धार्थ महाजन,लक्ष्मीनारायण मीणा,सलविंदर सिंह सोहता,सोमनाथ मिश्रा,बाबूलाल कोठारी,वेद सिंह,अनिल गुप्ता,जगदीश चंद पुरोहिं त,ज्ञानाराम,डॉक्टर वीना प्रधान,राजेश शर्मा,लक्ष्मीनारायण सोनी बने सचिव।
-सुपर टाइम स्केल में हुए पदोन्नत।
सिद्धार्थ महाजन अब विशिष्ट सचिव से सचिव बन गए हैं। 
2003 बैच में नीरज के पवन को छोड़ा।
-इसका कारण उनका एसीबी के एक मामले में आरोपित होना हो सकता है। 

14 आईएएस चयन वेतन श्रृंखला में प्रमोट
-2006 बैच के 14 आईएएस गौरव गोयल,आरती डोगरा,रोहित गुप्ता,उर्मिला राजोरिया,नन्नूमल पहाड़िया,कैलाश बैरवा,शकुंतला सिंह,विनीता बोहरा,स्नेहलता पंवार,जितेन्द्र कुमार उपाध्याय,सत्यपाल सिंह भूरिया,सुधीर कुमार शर्मा,नरेश कुमार ठकराल,बाबूलाल मीणा चयन वेतन शृंखला में प्रमोट।
2006 बैच मे वी सरवन को छोड़ा। एसीआर संबंधी समस्या के चलते ऐसा हो सकता है। 

6 आईएएस कनिष्ठ प्रशासनिक वेतन शृंखला में पदोन्नत
प्रकाश राजपुरोहित,जितेन्द्र सोनी,इंद्रजीत सिंह
नेहा गिरी,विश्वमोहन शर्मा,महावीर प्रसाद हए पदोन्नत

8 आईएएस वरिष्ठ वेतन शृंखला में पदोन्नत
2015 बैच के 8 आईएएस लोकबंधु,नीलाभ सक्सेना,निशांत जैन,खुशाल यादव,सौरभ स्वामी,पूजा कुमार पार्थ,इंद्रजीत यादव,अंजलि राजोरिया हुए वरिष्ठ वेतन शृंखला में चयनित।

3 आईएफएस अतिरिक्त प्रधान मुख्य वेतन शृंखला में पदोन्नत
गोविंद सागर भारद्वाज,वेंकटेश शर्मा,अजय गुप्ता अति.प्रधान मुख्य वेतन शृंखला में प्रमोट

4 आईएफएस मुख्य वन संरक्षक वेतन शृंखला में प्रमोट
राजकुमार सिंह,राजेश कुमार जैन,महेन्द्र अग्रवाल
मनोज पाराशर मुख्य वन संरक्षक वेतन शृंखला में प्रमोट

वहीं 2005 बैच में 10 आई एफ एस  बने वन संरक्षक यानि सीएफ
ख्याति माथुर, चंदा राम मीणा, अनूप के आर, अमर सिंह गोठवाल रामकरण खैरवा, जय प्रकाश, हनुमान राम दिग्विजय गुप्ता, टीकम चंद वर्मा और वेद प्रकाश गुर्जर सीएफ पद पर प्रमोट 

4 आईएफएस चयन वेतन शृंखला में पदोन्नत
आईएफएस शारदा प्रताप सिंह,सेडूराम यादव,राजकुमार जैन
हेतराम चयन वेतन शृंखला में पदोन्नत
इस बैच में आसू सिंह शेखावत को शामिल नहीं किया गया है। एसीआर सबंधी समस्या के चलते प्रमोशन रोकना हो सकता है। 

6 आईएफएस कनिष्ठ प्रशासनिक वेतन शृंखला में प्रमोट
विक्रम केशरी प्रधान,बीजो जॉय,अनीता,कपिल चंद्रावल
सुदीप कौर,सुपोंग शशी कनिष्ठ प्रशा.वेतन शृंखला में प्रमोट
1आईएफएस अपूर्वा कृष्ण श्रीवास्तव वरिष्ठ वेतन शृंखला में प्रमोट

5आईपीएस अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस वेतन शृंखला में प्रमोट
ips राजेश कुमार आर्य,अनिल पालीवाल को परफॉर्मा प्रमोशन
अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस वेतन शृंखला में प्रमोट
आनंद श्रीवास्तव,अशोक राठौड़,मालिनी अग्रवाल भी प्रमोट
इसी वेतन शृंखला में प्रमोट

3 आईपीएस महानिरीक्षक पुलिस वेतन शृंखला में प्रमोट
आईपीएस राघवेन्द्र सुहासा को परफॉर्मा प्रमोशन
महानिरीक्षक पुलिस वेतन शृंखला में पदोन्नति
प्रफुल्ल कुमार,एस एन खींची भी पदोन्नत
इसी वेतन शृंखला में पदोन्नत

11 आईपीएस उपमहानिरीक्षक वेतन शृंखला में प्रमोट
आईपीएस अजयपाल लांबा,डॉ.विष्णुकांत,परम ज्योति
किशन सहाय मीणा,ओमप्रकाश दायमा,राजेन्द्र सिंह
जयनारायण,संदीप सिंह,सत्येन्द्र सिंह,अशोक गुप्ता
सवाई सिंह गोदारा उपमहानिरीक्षक वेतन शृंखला में प्रमोट

5 आईपीएस चयन वेतन शृंखला में प्रमोट
आईपीएस अंशुमान भोमिया,राहुल प्रकाश हैदर अली जैदी
हेमंत शर्मा,अनिल टाक चयन वेतन शृंखला में पदोन्नत
डोन के जोस को चयन वेतन शृंखला में परफॉर्मा प्रमोशन

11 ips कनिष्ठ प्रशासनिक वेतन शृंखला में प्रमोट
ipsगगनदीप सिंगला,विकास शर्मा,राजीव पचार,
देशमुख परिस अनिल,राठौड़ विनीत कुमार,मनीष अग्रवाल
यादराम फासल,भंवर सिंह नाथावत,योगेश दाधीच
मनोज कुमार,मामन यादव कनि.प्रशा.वेतन शृंखला में प्रमोट

4 आईपीएस वरिष्ठ वेतन शृंखला में प्रमोट
आईपीएस सुधीर चौधरी,मृदुल कछावा,दीपक यादव
कविन्द्र सागर वरिष्ठ वेतन शृंखला में पदोन्नत

ये सभी पदोन्नत अधिकारी जिस विभाग में जिस पद पर कार्यरत हैं उसी पर अगले आदेशों तक रहेंगे...अलबत्ता वे आज से प्रमोट हो गए हैं। ये प्रमोशन आदेश आज से लागू माने गए हैं। बहरहाल अब इनके प्रमोशन आदेश के बाद आरएएस और अन्य स्टेट सेवा में भी जल्द प्रमोशन की उम्मीद है। 


 

और पढ़ें

Most Related Stories

कृषि से जुड़े विधेयकों को लेकर राहुल गांधी बोले, पीएम मोदी बना रहे है किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम

 कृषि से जुड़े विधेयकों को लेकर राहुल गांधी बोले, पीएम मोदी बना रहे है किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम

नई दिल्ली: आज कृषि से जुडे 2 बिलों को राज्यसभा में पेश कर दिया गया.  लोकसभा से ये बिल पहले ही पास हो चुके हैं. कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, बसपा और अकाली दल सहित कई पार्टियां इस बिल का विरोध कर रही हैं. वहीं कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कृषि बिलों को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोला है. 

पीएम मोदी किसानों को बना रहे है पूंजीपतियों का गुलाम:
राहुल गांधी ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम बना रहे हैं, जिसे देश कभी सफल नहीं होने देगा. राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार के कृषि-विरोधी काले कानून से किसानों को APMC/किसान मार्केट खत्म होने पर न्यूनतम समर्थन मूल्य कैसे मिलेगा? इस बिल में MSP की गारंटी क्यों नहीं. 

{related}

भाजपा की अगुआई वाली एनडीए में फूट:
इन बिलों को लेकर भाजपा की अगुआई वाली एनडीए में फूट पड़ चुकी है. भाजपा की सबसे पुरानी सहयोगी अकाली दल और मोदी कैबिनेट में केंद्रीय मंत्री रहीं हरसिमरत कौर इन बिलों के विरोध में इस्तीफा दे चुकी हैं. 

मुख्यमंत्री गहलोत बोले, सभी जिलों में कोरोना के इलाज की समुचित व्यवस्था, राज्य-स्तरीय हेल्पलाइन 181 होगी शुरू

मुख्यमंत्री गहलोत बोले, सभी जिलों में कोरोना के इलाज की समुचित व्यवस्था, राज्य-स्तरीय हेल्पलाइन 181 होगी शुरू

जयपुर: प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेशवासियों को आश्वस्त किया है कि राज्य के सभी जिलों में कोरोना के इलाज की समुचित व्यवस्था की गई है. किसी भी जिले में ऑक्सीजन बेड, आईसीयू बेड तथा वेन्टिलेटर जैसे जीवन रक्षक उपकरणों की कमी नहीं है. इस संबंध में कतिपय भ्रामक सूचनाएं फैलाई गई हैं, जो दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना के मरीजों के इलाज में कोई कमी नहीं छोड़ी जाएगी.

सोमवार से राज्य-स्तरीय हेल्पलाइन 181 शुरू होगी:
प्रदेश में कोरोना वायरस से प्रभावित किसी भी व्यक्ति या उसके परिजन को किसी भी परेशानी सलाह या कोरोना से संबंधित जानकारी देने के लिए राज्य-स्तरीय हेल्पलाइन 181 भी सोमवार 21 सितम्बर से शुरू होगी. कोई भी व्यक्ति 181 नम्बर डायल करके कोरोना से संबंधित समस्या के समाधान तथा सलाह लेने के लिये सम्पर्क कर सकेगा. मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को इस हेल्पलाइन के लिए पर्याप्त टेलीफोन लाइन की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए. 

{related}

राज्य एवं जिला स्तर तक वॉर रूम भी स्थापित:
इस हेल्पलाइन पर आने वाली कोरोना वायरस से संबंधित सूचनाओं तथा लोगों द्वारा बताई गई समस्याओं के समाधान के लिए किए जाएंगे. कोरोना के मरीजों और उनके परिजनों की सहायता के लिए ये वॉर रूम 24x7 काम करेंगे. जिलों में अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट स्तर के अधिकारी वॉर रूम के प्रभारी होंगे.

हेल्थ प्रोटोकॉल की कड़ाई से पालना करवाने के निर्देश:
सीएम गहलोत ने महामारी के संक्रमण से बचने के लिए सभी सार्वजनिक स्थलों पर मास्क पहनने और उचित दूरी रखने सहित हेल्थ प्रोटोकॉल की कड़ाई से पालना करवाने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि लोगों को बाजारों, कार्यालयों, सार्वजनिक परिवहन, पर्यटन स्थलों आदि सभी जगह पर ’नो मास्क, नो एन्ट्री’ के संकल्प की पालना करनी चाहिए.

कृषि से जुड़े 3 बिल राज्यसभा में पेश, कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने किए पेश 

 कृषि से जुड़े 3 बिल राज्यसभा में पेश, कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने किए पेश 

नई दिल्ली: आज संसद के मॉनूसन सत्र का सातवां दिन है. सरकार ने कृषि संबंधित विधयकों को राज्यसभा में पेश किया. कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने बिल राज्यसभा में पेश किए. 

किसानों के जीवन में आएंगे क्रांतिकारी बदलाव:
नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि MSP जारी थी, जारी है और जारी रहेगी. किसानों के जीवन में क्रांतिकारी बदलाव आएंगे. किसान किसी भी जगह फसल बेच सकेंगे. मनचाही कीमत पर फसल बेचने की आजादी होगी. विपक्ष की बिल को सेलेक्ट कमेटी को भेजने की मांग की गई.कृषि से जुड़े दो बिल लोकसभा से पहले ही पास हो चुके हैं. 

{related}

देशभर के किसान कर रहे हैं बिल का विरोध:
हालांकि, शिरोमणि अकाली दल जो बीजेपी की सबसे पुरानी सहयोगी थी, उसने बिल का विरोध किया. पार्टी की सांसद हरसिमरत कौर बादल ने कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया. देशभर के किसान बिल का विरोध कर रहे हैं. कांग्रेस ने सरकार को किसान विरोधी तक करार दिया है.

अभिनेत्री पायल घोष के आरोपों को अनुराग कश्यप ने बताया बेबुनियाद, कहा-अभी तो बहुत आक्रमण होने वाले हैं

अभिनेत्री पायल घोष के आरोपों को अनुराग कश्यप ने बताया बेबुनियाद, कहा-अभी तो बहुत आक्रमण होने वाले हैं

नई दिल्ली: बॉलीवुड अभिनेत्री पायल घोष ने फिल्म मेकर अनुराग कश्यप पर जबरदस्ती करने के गंभीर आरोप लगाये. इसके बाद फिल्म मेकर अनुराग कश्यप ने प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम काफी सारे ट्वीट किए हैं और पायल के आरोपों को बेबुनियाद बताया. 

अनुराग कश्यप ने ट्वीट करते हुए कहा कि क्या बात है , इतना समय ले लिया मुझे चुप करवाने की कोशिश में. चलो कोई नहीं. मुझे चुप कराते कराते इतना झूठ बोल गए की औरत होते हुए दूसरी औरतों को भी संग घसीट लिया. थोड़ी तो मर्यादा रखिए मैडम. बस यही कहूँगा की जो भी आरोप हैं आपके सब बेबुनियाद हैं.

कश्यप ने आगे लिखा, या कोई भी प्रेमिका या वो बहुत सारी अभिनेत्रियाँ जिनके साथ मैंने काम किया है , या वो पूरी लड़कियों और औरतों की टीम जो हमेशा मेरे साथ काम करती आयीं हैं , या वो सारी औरतें जिनसे मैं मिला बस , अकेले में या जनता के बीच.

अनुराग कश्यप ने आगे लिखा, मैं इस तरह का व्यवहार ना तो कभी करता हूँ ना तो कभी किसी क़ीमत पे बर्दाश्त करता हूँ. बाक़ी जो भी होता है देखते हैं. आपके वीडियो में ही दिख जाता है कितना सच है कितना नहीं, बाक़ी आपको बस दुआ और प्यार. आपकी अंग्रेज़ी का जवाब हिंदी में देने के लिए माफ़ी.

{related}

इसके साथ ही अनुराग कश्यप ने ये भी बताया कि उन्हें काफी सारे फोन आ रहे है. वो लिखते हैं, अभी तो बहुत आक्रमण होने वाले हैं. यह बस शुरुआत है. बहुत फ़ोन आ चुके हैं, कि नहीं मत बोल और चुप हो जा. यह भी पता है कि पता नहीं कहाँ कहाँ से तीर छोड़ें जाने वाले हैं. इंतेज़ार है.

कोरोना महामारी: राजस्थान में 11 जिला मुख्यालयों पर धारा-144 लागू, 5 से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर रोक

 कोरोना महामारी: राजस्थान में 11 जिला मुख्यालयों पर धारा-144 लागू, 5 से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर रोक

जयपुर: प्रदेश में कोरोना महामारी के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए 11 जिलों में  राज्य सरकार ने जिला मुख्यालयों में सार्वजनिक स्थलों पर धारा-144 लागू कर 5 से अधिक व्यक्तियों के समूह में इकट्ठा होने पर रोक लगाने का निर्णय किया है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में शनिवार रात एक उच्च स्तरीय बैठक में यह निर्णय लिया. 

इन जिलों में रहेगा प्रतिबंध:
कोविड-19 संक्रमण की गंभीर स्थिति के मद्देनजर जयपुर, जोधपुर, कोटा, अजमेर, अलवर, भीलवाड़ा, बीकानेर, उदयपुर, सीकर, पाली और नागौर जिलों के मुख्यालय वाले शहरों में सार्वजनिक स्थलों पर धारा-144 के तहत 5 से अधिक व्यक्तियों के एक साथ इक्कठा होने पर प्रतिबंध रहेगा. सार्वजनिक जगहों पर 5 व्यक्ति भी मास्क पहनने और सामाजिक दूरी के नियम की पालना करेंगे. संबंधित जिले के कलेक्टर इस संबंध में आदेश जारी करेंगे. 

{related}

सामाजिक-धार्मिक आयोजन पर रोक:
सीएम गहलोत ने शनिवार को मुख्यमंत्री निवास पर प्रदेश में कोविड-19 महामारी की स्थिति और उससे बचाव के उपायों पर अधिकारियों के साथ बैठक में पूरे प्रदेश में किसी भी सामाजिक-धार्मिक आयोजन पर रोक को भी 31 अक्टूबर तक यथावत जारी रखने का निर्णय लिया है. केवल अंतिम संस्कार में 20 और विवाह-शादी के आयोजन में 50 व्यक्तियों के शामिल होने की छूट पूर्ववत रहेगी, लेकिन इसके लिए स्थानीय उपखण्ड अधिकारी को पूर्व सूचना देनी होगी.

{related}

सभी जिलों में कोरोना के इलाज की समुचित व्यवस्था:
सीएम गहलोत ने प्रदेशवासियों को आश्वस्त किया है कि राज्य के सभी जिलों में कोरोना के इलाज की समुचित व्यवस्था की गई है. किसी भी जिले में ऑक्सीजन बेड, आईसीयू बेड तथा वेन्टिलेटर जैसे जीवन रक्षक उपकरणों की कमी नहीं है. इस संबंध में कतिपय भ्रामक सूचनाएं फैलाई गई हैं, जो दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना के मरीजों के इलाज में कोई कमी नहीं छोड़ी जाएगी.

Horoscope Today, 20 September 2020: आज का दिन इन राशि वालों के लिए है शुभ, मिलेगी सफलता

Horoscope Today, 20 September 2020: आज का दिन इन राशि वालों के लिए है शुभ, मिलेगी सफलता

जयपुर: दैनिक राशिफल चंद्र ग्रह की गणना पर आधारित होता है. राशिफल की जानकारी करते समय पंचांग की गणना और सटीक खगोलीय विश्लेषण किया जाता है. दैनिक राशिफल में सभी 12 राशियों के भविष्य के बारे में बताया जाता है. ऐसे में आप इस राशिफल को पढ़कर अपनी दैनिक योजनाओं को सफल बना सकते हैं.  

मेष( Aries): रविवार के बावजूद आज के दिन आपको आराम करने के लिए दिल गवाही नहीं देगा. हो सकता है सुबह-सबेरे ही कोई ऐसा भूलाभटका काम आपको याद आ जाए जिसके लिए आप अपना पूरा दिन समर्पित कर सकते हैं. बिजनस अथवा कारोबार के सिलसिले में किसी व्यक्ति विशेष से सांयकाल के समय मिल लेना बेहतर रहेगा.
 
वृष(Taurus):
आज के दिन आप खुद में सहनशीलता और दूसरों की मदद करने का जज्बा पैदा करने में कामयाब हो सकते हैं. इसी कारण आपके जीवन में पहले से अधिक जगमगाहट और रोशनी आ सकती है जिसके आगे आपकी सहनशीलता और उदार मनोवृति झलक रही हो. वैसे भी आपके अन्दर लोकप्रियता और समाज सेवा के कई गुण मौजूद हैं जिनके बल पर लोग अपने आपको श्रेष्ठ साबित करते हैं.

{related}

मिथुन(Gemini): आज के दिन आप किसी पुराने सम्बन्ध का नवीनीकरण कर सकते हैं. कुछ व्यक्तिगत और सामाजिक उत्तरदायित्व भी आपको पूरे करने होंगे. दोपहर के बाद किसी पारिवारिक समारोह या उत्सव में शामिल होना पड़ सकता है. वैसे भी आजकल त्यौहारों के मौसम चल रहे हैं. अत: दिल खोलकर इनके साथ अपने को भी जोड़ लें। एक नई ताकत आपके अन्दर आ सकती है.

कर्क(Cancer): कोई प्रियजन या नजदीकी दोस्त आज आपको बहसबाजी या विवाद में उलझा सकता है. यदि आप अपने मिजाज को सन्तुलित नहीं रखेंगे तो बहसबाजी या आरोप-प्रत्यारोप बढ़ सकते हैं. ऐसा वातावरण आपकी छुट्टी को खराब ही करेगा. अत: पहले से ही यह सोचकर चलें कि आपका इनसे ज्यादा लगाव नहीं है.

सिंह(Leo): आज आपके फुर्सत और आराम क्षणों को कोई प्रियजन खराब कर सकता है. हो सकता है उसकी जरूरत और मांग को पूरा करने के लिए आपको अपनी जेब भी ढीली करनी पड़े. यदि आप उसे कुछ लेन-देन के फेर में डाल देंगे तो फिर आगे चलकर उससे पीछा छुड़ाना भारी पड़ेगा. हालात देखकर काम करें.

कन्या(Virgo): आज के दिन यदि आप अपने विरूद्ध कोई बात किसी से सुनते हैं तो उस पर अधिक गौर नहीं करें. उस व्यक्ति का भी विश्वास न करें जो आपको एक नई मुसीबत में डालने की कोशिश कर रहा है. कूटनीति और चाटूकारिता के परिणाम कभी-कभी बहुत गंभीर भी हो जाते हैं. यदि आप किसी अच्छे खान-पान की तलाश कर रहे हैं तो नजदीकी क्लब या रेस्तरां में जाना बेहतर होगा.

तुला(Libra): अपने घर-परिवार और जीवन शैली को अच्छे स्तर पर लाने में आप सदैव प्रयत्नशील रहे हैं. आज के दिन भी आपको किसी पुराने मसले पर फिर से विचार करके अपने घर की साज-सज्जा और डेकोरेशन को दुरूस्त करनी होगी. अपने द्वारा किए गए महत्वपूर्ण कार्य को नियमित रूप से अमल करने में दूसरों की मदद ले सकते हैं.

वृश्चिक(Scorpio): आज के दिन का पूरा समय आपको अपनी दैहिक यानी शारीरिक इच्छा की पूर्ति करने में व्यतीत होगा. विपरीत योनि का कोई वरिष्ठ व्यक्ति आपसे प्रेम या प्यार का निवेदन कर सकता है. यदि आपके अन्दर कुछ रोमांस पैदा हो रहा तो सम्बन्ध आगे बढ़ाने में आप खुले दिल से तैयार हो सकते हैं. ऐसे सम्बन्ध आपके लिए भी टॉनिक का काम करेंगे.

धनु(Sagittarius): वक्त पर कोई महत्वपूर्ण काम पूरा कर लेना आपके लिए हमेशा ही जरूरी होता है. अवकाश के दिन भी आप कुछ न कुछ ऐसे काम को अंजाम दे देते हैं जो आगे चलकर आपको राहत और फुर्सत के क्षण दे देता है. अपने चल और अचल सम्पत्ति का रखरखाव करने में आपका रविवार बखूबी इस्तेमाल हो जाएगा.

मकर(Capricorn): किसी हाई प्रोफाइल व्यक्ति के सम्पर्क से आपकी प्रगति और उन्नति की संभावनाएं बहुत ही मजबूत हो रही हैं. आज के दिन भी आपको ऐसे सम्पर्कों पर कुछ पानी और डाल देना चाहिए यानी कि इन पर अपनी तरफ से उपहार और भेंट आदि देकर आगे के लिए छिटपुट लाभ मार्ग भी खोजने चाहिए.

कुंभ(Aquarius ): अपने काम को निकालने के लिए आपको युक्ति, कूटनीति और उदारतापूर्वक दान-पुण्य करने का मौका भी निकालना होगा. आज के दिन भी कुछ ऐसी ही आध्यात्मिक प्रेरणा आपको धन-व्यय करने में तत्पर बना सकती है. यदि आप अपने परिजनों के साथ कहीं पर कोई मनोरंजन या मौजमस्ती करना चाहें तो भी दिन का उत्तरार्ध भाग अनुकूल साबित होगा.

मीन(Pisces): आज के दिन आपको पूरी तरह आराम और विश्राम करना होगा. अच्छा समय हमेशा ही एक ही रूप लेकर नहीं आता है. वक्त के मिजाज में बदलाव होते रहते हैं यदि आप भी इसी बदलाव से प्रभावित हो रहे हैं तो आपको सन्तोष और सुख की अनुभूति मिलनी चाहिए. यदि आप और भी अच्छा वक्त देखना चाहें तो इंतजार करना होगा.

सौजन्य - राज ज्योतिषी पंडित मुकेश शास्त्री

20 सितंबर 2020: पंचांग से जानें आज का शुभ-अशुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

20 सितंबर 2020: पंचांग से जानें आज का शुभ-अशुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

जयपुर: पंचांग का हिंदू धर्म में शुभ व अशुभ देखने के लिए विशेष महत्व होता है. पंचाम के माध्यम से समय एवं काल की सटीक गणना की जाती है. यहां हम दैनिक पंचांग में आपको शुभ मुहूर्त, शुभ तिथि, नक्षत्र, व्रतोत्सव, राहुकाल, दिशाशूल और आज शुभ चौघड़िये आदि की जानकारी देते हैं. तो ऐसे में आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी रहेगी आज ग्रहों की चाल... 

शुभ मास- प्रथम आश्विनी (अधिक ) शुक्ल पक्ष: 
शुभ तिथि चतुर्थी रिक्ता संज्ञक तिथि रात्रि  2 बजकर 27 मिनट तक तत्पश्चात पंचमी तिथि रहेगी. चतुर्थी तिथि में अग्नि,विषादिक असद कार्य,शत्रु मर्दन,इत्यादि कार्य विशेष रूप से सिद्ध होते है. शुभ और मांगलिक कार्य वर्जित है. चतुर्थी तिथि में जन्मे जातक धनवान, बुद्धिवान ,भाग्यवान ,पराक्रमी  होते है.

शुभ नक्षत्र स्वाति नक्षत्र रात्रि 10 बजकर 52 मिनट तक तत्पश्चात विशाखा नक्षत्र रहेगा.स्वाति नक्षत्र मे यदि तिथि शुभ हो तो यात्रा,विवाह, गृह प्रवेश, मांगलिक कार्य  इत्यादि कार्य विशेष रूप से सिद्ध होते है. स्वाति नक्षत्र मे जन्मा जातक मेघावी,विलासप्रिय ,धनवान, बुद्धिमान होता है.  

चन्द्रमा-सम्पूर्ण दिन ‎तुला  राशि में संचार करेगा.
व्रतोत्सव -  चतुर्थी  व्रत

राहुकाल -सायंकाल 4.30 बजे से 6 बजे तक

दिशाशूल - रविवार को पश्चिम दिशा मे दिशाशूल रहता है. यात्रा को सफल बनाने लिए घर से घी-दलिया खा कर निकले.

सौजन्य - राज ज्योतिषी पंडित मुकेश शास्त्री

कलयुगी मां की शर्मनाक करतूत, 4 दिन की मासूम बच्ची को अस्पताल में छोड़ भागी 

कलयुगी मां की शर्मनाक करतूत, 4 दिन की मासूम बच्ची को अस्पताल में छोड़ भागी 

जोधपुर: जोधपुर शहर में एक बार फिर ममता को शर्मसार करने का मामला सामने आया है. उम्मेद अस्पताल में एक कलयुगी मां अपने 4 दिन की मासूम बेटी को छोड़कर भाग गई , हालांकि अस्पताल के वार्ड में भर्ती अन्य मरीज व हॉस्पिटल प्रशासन में बच्ची को अपने संरक्षण में लिया और उसका मेडिकल चेकअप करवाया.

मासूम बच्ची को किया लव कुश संस्थान के सुपुर्द:
2 दिन तक अस्पताल में ऑब्जरवेशन रखने के बाद मासूम बच्ची को लव कुश संस्थान के सुपुर्द किया गया है. उम्मेद अस्पताल के अधीक्षक डॉ रंजना देसाई ने बताया कि 17 सितंबर को एक महिला हॉस्पिटल के वार्ड में आई और  पलंग पर एक बच्ची को छोड़ दिया. उस महिला ने पास में खड़ी महिला को कुछ देर में वापस लौट कर आने की बात कही. करीब 1 घंटा बीत जाने के बावजूद भी वह महिला वापस नहीं आई और मासूम बच्ची का रो-रो कर बुरा हाल हो रहा था.

{related}

महिला की तलाश शुरू:
वार्ड में भर्ती अन्य महिला मरीजों ने अस्पताल प्रशासन को इसकी जानकारी दी, जिसके बाद अस्पताल प्रशासन ने उस महिला की तलाश शुरू की. जब वह महिला कहीं नहीं मिली तो बच्चे को अस्पताल प्रशासन ने अपने संरक्षण में लिया और उसे दो दिन तक अस्पताल में रखा. बच्ची के पूर्ण स्वस्थ होने के बाद मासूम बच्ची को लव कुश संस्थान के सुपुर्द किया गया है.

Open Covid-19