पायलट का 18 वां सवाल: मनरेगा में भाजपा राज में घटे कार्यदिवस, ग्रामीण अर्थव्यवस्था हुई कमजोर

Dinesh Kumar Dangi Published Date 2018/09/06 11:31

जयपुर। भाजपा की गौरव यात्रा को लेकर कांग्रेस का सवाल पूछने का सिलसिला जारी है। इसके तहत पीसीसी चीफ सचिन पायलट ने 18 वां सवाल किया है। पायलट ने पूछा कि मनरेगा में भाजपा सरकार के कार्यकाल में साल दर साल घटते मानव दिवस और बढ़ते अधूरे कार्यों से प्रदेश की ग्रामीण अर्थव्यवस्था कमजोर हुई है। फिर भी सरकार गौरव महसूस कर रही है?

पायलट ने कहा कि वर्ष 2013 में भाजपा के सत्तारूढ़ होते ही केन्द्र सरकार को पत्र लिखकर नरेगा कानून का न केवल विरोध किया गया था वरन् कानून को कमजोर करने के लिए उसे योजना में परिवर्तित करने की अभिशंषा भी की गई थी। यह मुख्यमंत्री की मनरेगा के तहत् रोजगार के अधिकार कानून को कमजोर बनाने का सबसे बड़ा उदाहरण है। 

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के शासन में पिछले तीन सालों से मनरेगा में सौ दिन का रोजगार पूरा करने वाले परिवारों की संख्या में गिरावट आ रही है, जहॉं 2015-16 में ऐसे परिवार 4.68 लाख थे, वहीं 2016-17 में 4.27 लाख एवं 2017-18 में केवल 2.28 लाख परिवार ही ऐसे थे जिन्हें सौ दिन रोजगार मिला। इतना ही नहीं मनरेगा में शुरू किए गए ग्रामीण विकास के कामों को पूरा करने के मामले में भाजपा सरकार ने चरम स्तर पर लापरवाही बरती है। 
 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

Loksabha Election 2019 : भाजपा ने जारी की यूपी के उम्मीदवारों की लिस्ट

यूपी के भदोही में बीजेपी की \'विजय संकल्प\' सभा
योगी आदित्यनाथ से प्रियंका गाँधी के 4 सवाल
राहुल गांधी का राजस्थान दौरा, 2 चुनावी रैलियों को करेंगे संबोधित
कंगाली, गरीबी, दरिद्रता से मुक्ति दिलवाने वाले महा चमत्कारी उपाय
11 बजे की सुपर फ़ास्ट खबरें | INDIA 360
दीया का राजनीतिक भविष्य ?, राज्यपाल ने ये क्या कह दिया ? #ElectionExpress2019
दिल्ली में गिरफ्तार हुआ आईएसआई एजेंट | Breaking