हनुमानगढ़: वृद्धा की हत्या करने के बाद लाश से दुष्कर्म करने के मामले में 19 साल के दरिंदे को फांसी की सजा

हनुमानगढ़: वृद्धा की हत्या करने के बाद लाश से दुष्कर्म करने के मामले में 19 साल के दरिंदे को फांसी की सजा

हनुमानगढ़: वृद्धा की हत्या करने के बाद लाश से दुष्कर्म करने के मामले में 19 साल के दरिंदे को फांसी की सजा

पीलीबंगा(हनुमानगढ़): राजस्थान के पीलीबंगा इलाके में एक वृद्धा की हत्या एवं दुष्कर्म के जुर्म में एक स्थानीय अदालत ने एक युवक को सोमवार को फांसी की सजा सुनाई. हनुमानगढ़ की पुलिस अधीक्षक प्रीति जैन ने बताया कि जिला एवं सत्र न्यायालय ने अभियुक्त को दोषी मानते हुए सोमवार को फांसी की सजा सुनाई.

उन्होंने एक बयान में बताया कि 16 सितंबर को पीलीबंगा थाना क्षेत्र के एक गांव में अकेली रहने वाली बुजुर्ग की सुरेंद्र उर्फ मांडिया ने गला दबाकर हत्या कर दी एवं बाद में शव के साथ दुष्कर्म किया. पुलिस ने मांडिया 19 को गिरफ्तार कर मामला दर्ज होने के सात दिन में ही चालान स्थानीय अदालत में पेश किया गया था.

74 दिन में मामले में सुनवाई पूरी की:
पुलिस ने अदालत से ‘केस ऑफिसर स्कीम’ के तहत इस मामले की त्वरित सुनवाई के लिए निवेदन किया था. जिला एवं सत्र न्यायालय ने 74 दिन में मामले में सुनवाई पूरी की और सोमवार को अभियुक्त सुरेंद्र को दोषी मानते हुए उसे फांसी की सजा सुनाई. 

और पढ़ें