Live News »

Corona Update: पूरी दुनिया में 22,340 लोगों की मौत, देश में अब तक 17 लोगों ने तोड़ा दम, तो मरीजों की संख्या पहुंची 724 

Corona Update: पूरी दुनिया में 22,340 लोगों की मौत, देश में अब तक 17 लोगों ने तोड़ा दम, तो मरीजों की संख्या पहुंची 724 

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के चलते भारत में लॉकडाउन का आज तीसरा दिन है. इस बीच कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या बढ़कर 724 पर पहुंच गई है. वहीं इस महामारी की चपेट में आकर देश में अब तक 17 लोगों ने दम तोड़ दिया है. हालांकि देश में 50 संक्रमित मरीज ठीक भी हुए हैं.

केरल में 137 सबसे ज्यादा मामले:
केरल में 137 सबसे ज्यादा मामले सामने आए है जबकि 125 केस के साथ महाराष्ट्र दूसरे नंबर पर है. भारत में लॉकडाउन के दौरान भी लोग सड़कों पर नजर आ रहे हैं हालांकि पहले दिन के मुकाबले दूसरे दिन कमी देखी गई. लेकिन अभी भी कई लोग अपने घरों में नहीं रह रहे हैं और सड़कों पर बिना वजह निकल रहे हैं. केंद्र और सरकारें लोगों से घरों में रहने की अपील कर रही हैं.

Rajasthan Corona Update: राजस्थान में 25 दिन में पॉजिटिव मरीज पहुंचे 45, भीलवाड़ा में दो लोगों की मौत, 2 नये पॉजिटिव केस मिले

पूरी दुनिया में 22,340 लोगों की मौत:
अगर बात करें पूरी दुनिया की, तो दुनिया में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 5 लाख के पार हो गई है. इसमें से 22,340 लोगों की मौत हुई है और 121,227 मरीज ठीक हुए हैं. 24 घंटे में स्पेन और इटली में चौदह सौ से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है. इन दो देशों में ही कोरोना मरीजों की संख्या सवा लाख से ज्यादा हो गई है. अमेरिका में कोरोना का कहर जारी है. 24 घंटे में अमेरिका में कोरोना संक्रमण के 15 हजार से ज्यादा मामले सामने आए और 182 लोगों की मौत हो गई. 

राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति की कोरोना समीक्षा वीसी, राज्यपाल कलराज मिश्र ने  बताया-राजस्थान में घर-घर कराया गया है सर्वे 

और पढ़ें

Most Related Stories

भारत में कोरोना वायरस को लेकर अमेरिकी प्रोफेसर का बड़ा अनुमान, जुलाई में होंगे करीब 5 लाख मामले

भारत में कोरोना वायरस को लेकर अमेरिकी प्रोफेसर का बड़ा अनुमान, जुलाई में होंगे करीब 5 लाख मामले

नई दिल्ली: भारत में तेजी से कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है. इसी बीच अमेरिकी प्रोपेसर और शोधकर्ता भ्रमर मुखर्जी का डराने वाला अनुमान सामने आया है. अनुमान के अनुसार जुलाई में भारत में कोरोना के मामले 5 लाख को पार कर सकते हैं. उन्होंने भारत में लॉकडाउन और कोरोना नियंत्रण पर आधारित 43 पन्नों की रिपोर्ट तैयार की है. रिपोर्ट के अनुसार भआरत में जुलाई की शुरुआत तक कोरोना के 5 लाख मामले सामने आ सकते हैं.

राजस्थान में पान, गुटखा और तम्बाकू बिक्री की अनुमति मिली, किया गया यह संशोधन 

हर रोज औसतन 6200 मामले सामने आ रहे:  
इस आंकलन को समझने के लिए हम देख सकते हैं कि पिछले 5 दिनों में कोरोना ने भारत में तेजी से पैर पसार रहा है.  20 से 25 मई के बीच हर रोज औसतन 6200 मामले सामने आ रहे हैं. ऐसे में यही हिसाब लगाए तो 26 मई से 1 जुलाई के बीच भारत में करीब सवा दो लाख कोरोना के मामले सामने आ सकते हैं. अगर 25 मई तक के कोरोना के कुल मामलों में इसे जोड़ा जाए तो 1 जुलाई तक कोरोना मरीजों की संख्या 3 लाख साठ हजार के पार पहुंच जाएगी.

राजस्थान रोडवेज की मोक्ष कलश स्पेशल बस सेवा शुरू, सिंधी कैंप बस स्टैंड से मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने किया रवाना

अधिकतम 21 लाख कोरोना से संक्रमित होने का अनुमान: 
शोधकर्ता भ्रमर मुखर्जी की रिपोर्ट के अनुसार 26 मई से हर रोज औसतन 10 हजार से ज्यादा मामले सामने आएंगे. ऐसे में 1 जुलाई तक कुल कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या करीब 5 लाख पहुंच जाएगी. इतना ही नहीं अगर हालात ज्यादा बिगड़ गए तो भारत में अधिकतम 21 लाख कोरोना से संक्रमित हो सकते हैं. हालांकि यह रिपोर्ट 14 अप्रैल तक के आंकड़ों के आधार पर तैयार की गई है. भारत में लॉकडाउन के तीसरे चरण के दौरान इस रिपोर्ट का रिवीजन चल रहा था. 


 

कोरोना संक्रमण को लेकर नया खुलासा, इतने दिन के बाद संक्रमित से नहीं फैलता वायरस

कोरोना संक्रमण को लेकर नया खुलासा,  इतने दिन के बाद संक्रमित से नहीं फैलता वायरस

नई दिल्ली: एक रिसर्च में इस बात की जानकारी सामने आई है कि कोरोना वायरस के मरीजों से 11वें दिन बाद संक्रमण नहीं फैलता. यहां तक की इस बात का भी फर्क नहीं पड़ता की वह 12वें दिन भी पॉजिटिव रहे. इस बात की जानाकारी सिंगापुर नेशनल सेंटर फॉर इंफेक्शस डिजीजेज (NCID) एंड अकेडमी ऑफ मेडिसीन की स्टडी में सामने आई है. शोधकर्ताओं के मुताबिक स्टडी के दौरान पाया गया कि कोरोना मरीजों के लक्षण दिखने के 7 से 10 दिन बाद तक संक्रमण फैलाने की क्षमता होती है. 

Coronavirus: भारत कोरोन संक्रमित देशों की सूची में टॉप-10 में शामिल, लगातार चौथे दिन सबसे ज्यादा बढोत्तरी 

मरीजों में एक्टिव वायरल रेप्लिकेशन घटने लगता है:
इस बारे में करीब 73 कोरोना पॉजिटिव मरीजों पर स्टडी करने पर उन्हें नई बात पता चली. शोधकर्ताओं के अनुसार 11 दिन के बाद कोरोना वायरस को आइसोलेट या Cultured नहीं किया जा सकता. शोधकर्ताओं के अनुसार लक्षण दिखने के एक हफ्ते बाद कोरोना मरीजों में एक्टिव वायरल रेप्लिकेशन घटने लगता है. ऐसे में इस बारे में हॉस्पिटल फैसला ले सकता है कि मरीजों को कब डिस्चार्ज किया जाए.  ऐसे में यह नहीं जानकारी डॉक्टरों के लिए महत्वपूर्ण हो सकती है. 

आज से शुरू हुआ नौतपा, आसमान से जमकर बरसेगी आग 

नई जानकारी को लेकर रिसर्चर्स विश्वस्त: 
शोधकर्ताओं का मानना है कि सैंपल साइज छोटा होने के बावजूद नई जानकारी को लेकर रिसर्चर्स विश्वस्त हैं. उनका मानना है कि बड़े सैंपल साइज में भी ऐसे ही परिणाम देखने को मिलेंगे. शोधकर्ताओं के अनुसार इस बात के पर्याप्त सबूत हैं कि कोरोना मरीज 11 दिन बाद संक्रामक नहीं होते हैं. बता दें कि दुनियाभर में लगातार कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार वृद्धि हो रही है. आज सुबह तक दुनिया में कोरोना मरीजों की संख्या 54 लाख को पार कर चुकी है.  


 

COVID-19: पूरे विश्व में अब तक 54 लाख 04 हजार 586 कोरोना पॉजिटिव केस, अब तक 3 लाख से ज्यादा लोगों की हो चुकी है मौत

COVID-19: पूरे विश्व में अब तक 54 लाख 04 हजार 586 कोरोना पॉजिटिव केस, अब तक 3 लाख से ज्यादा लोगों की हो चुकी है मौत

नई दिल्ली: दुनियाभर में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढते जा रहे है. पूरी दुनिया में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 50 लाख के पार पहुंच गया है. पूरे विश्व में अब तक 54 लाख 04 हजार 586 कोरोना पॉजिटिव मिले है. वहीं अब तक 3,43,804 लोगों की कोरोना की चपेट में आने से मौत हो चुकी है. जबकि अब तक 22,47,132 केस रिकवर हो चुके है.

दुनियाभर के 213 से ज्यादा देश कोरोना वायरस की चपेट में:
कोरोना वायरस ने दुनिया के 213 को हिलाकर रख दिया है. कोरोना वायरस की तमाम प्रयास के बावजूद अभी तक दवा नहीं बन पाई है, हालांकि दवा बनाने की विशेषज्ञ रिसर्च में जुटे हुए है. लेकिन अभी तक कोई ठोस निष्कर्ष नहीं निकल पाया है. 

दाती महाराज ने उड़ाईं लॉकडाउन की धज्जियां, दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच की शुरू 

अमेरिका में सबसे ज्यादा कहर:
वहीं बात करें अमेरिका की, तो यहां पर कोरोना वायरस ने सबसे ज्यादा कहर बरपाया है.अमेरिका में अब तक 16,66,828 पॉजिटिव केस मिले है. वहीं अब तक 98,683 लोगों की मौत हो चुकी है. पिछले 24 घंटे में 1,036 लोगों की मौत हो चुकी है. रूस में 3,35,882 कोरोना केस, 3,388 लोगों की हो मौत चुकी है. ब्राजील में 3,43,398 कोरोना पॉजिटिव,22,013 लोगों की मौत हो चुकी है. स्पेन में अब तक 2,80,117 पॉजिटिव, 28,678 लोगों की मौत हो चुकी है.

इटली में 32,735 लोगों की मौत:
इटली में अब तक 2,29,327 पॉजिटिव केस मिले है. वहीं अब तक कोरोना की चपेट में आने से 32,735 लोगों की मौत हो चुकी है. फ्रांस में अब तक 1,82,469 पॉजिटिव, 28,332 लोगों की जान गई. जर्मनी में अब तक 1,79,986 पॉजिटिव, 8,366 लोगों की मौत हो चुकी है. चीन में अब तक 82,971 पॉजिटिव, 4,634 लोगों की मौत हुई है. UK में 2,57,154 कोरोना पॉजिटिव, 36,675 लोगों की जान गई. ईरान में अब तक 1,33,521 पॉजिटिव, 7,359 लोगों की मौत हो चुकी है. मेक्सिको में 62,527 कोरोना मरीज, 6,989 लोगों की मौत हो गई. वहीं बात करें टर्की की तो यहां पर 1,55,686 कोरोना पॉजिटिव केस मिले है. जबकि 4,308 लोगों की जान गई है. पेरू में 1,15,754 कोरोना पॉजिटिव,3,373 लोगों की मौत हो चुकी है. कनाडा में 83,261 कोरोना पॉजिटिव,6,355 लोगों की मौत हो चुकी है.

Rajasthan Corona Updates: पिछले 24 घंटे में 7 मरीजों की मौत, 248 नए पॉजिटिव केस आए सामने, कुल मरीजों की संख्या पहुंची 6742

सितंबर तक मिल सकती है कोरोना वैक्सीन को लेकर Good News! भारतीय कंपनी को उत्पादन का कॉन्ट्रेक्ट देने का दावा

सितंबर तक मिल सकती है कोरोना वैक्सीन को लेकर Good News! भारतीय कंपनी को  उत्पादन का कॉन्ट्रेक्ट देने का दावा

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के बढ़ते कहर के बीच इस वक्त पूरी दुनिया में इसकी वैक्सीन को लेकर इंतजार किया जा रहा है. कोरोना वायरस का खात्मा करने के लिए कोशिशों का सिलसिला तेज होता जा रहा है. इसी बीच अब यह खबर आ रही है कि कोरोना की वैक्सीन सितंबर तक मिल सकती है. अमेरिका की मॉडर्ना नाम की कंपनी ने यह दावा किया है. इतना ही नहीं कंपनी ने यह भी दावा किया है कि उसने भारत की एक कंपनी को उत्पादन के लिए कॉन्ट्रेक्ट भी दे दिया है.

सादुलपुर थानाधिकारी विष्णुदत्त विश्नोई ने अपने क्वार्टर में फंदा लगाकर की आत्महत्या  

कंपनी शुरूआती ट्रायल सफल रहने का किया दावा:
मॉडर्ना नाम की अमेरिकी कंपनी ने दावा किया है कि उसका शुरूआती ट्रायल सफल रहा है. वैज्ञानिकों ने वैक्सीन को जिन लोगों के शरीर में डाला है, उनमें कोरोना वायरस के लिए एंटीबॉडीज डेवलप हो गए हैं. ऐसे में अब कंपनी तय किया है कि अगले फेज में वो छह सौ इंसानों पर ट्रायल करेगी. 

हर उम्र के इंसानों पर होगा ट्रायल:
कंपनी के अनुसार छह सौ लोगों में से आधे 18 से 45 साल के बीच होंगे और आधे 55 साल से ऊपर के लोग होंगे. इस ट्रायल के सफल होने के बाद फिर 2500 और लोगों पर ट्रायल होगा जिसमें कम उम्र के बच्चे शामिल रहेंगे. 

सितंबर तक बना ली जाएगी 11 करोड़ डोज:
ऐसे में अब सबसे बड़ा सवाल यह है कि ट्रायल पूरा होगा तो वैक्सीन की करोड़ों डोज बनाने में कितना वक्त लगेगा, लेकिन कंपनी का दावा है कि सितंर तक इस वैक्सीन की कम से कम 11 करोड़ डोज बना ली जाएगी. खबर तो यह भी है कि मॉडर्ना कंपनी ने एक भारतीय कंपनी को इस वैक्सीन की डोज बनाने का काम दिया है. 

1200 KM साइकिल चलाकर घायल पिता को लेकर बिहार पहुंची 15 साल की ज्योति, इवांका ट्रंप भी हुई मुरीद 

इवोला वायरस की भी बनाई थी वैक्सीन:
इस कंपनी के दावे पर इसलिए भरोसा किया जा सकता है क्योंकि इस कंपनी ने नौ महीने में इवोला वायरस का वैक्सीन भी बनाया था. कंपनी का कहना है कि कई टेस्ट पूरे हो गए हैं. वैक्सीन बनाने का काम भी शुरु हो गया है. 

1200 KM साइकिल चलाकर घायल पिता को लेकर बिहार पहुंची 15 साल की ज्योति, इवांका ट्रंप भी हुई मुरीद

1200 KM साइकिल चलाकर घायल पिता को लेकर बिहार पहुंची 15 साल की ज्योति, इवांका ट्रंप भी हुई मुरीद

नई दिल्ली: लॉकडाउन के चलते देश में कई ऐसे मंजर हमारी आंखों के सामने आए हैं जो शायद ही कभी देखें होंगे. संकट की इस घड़ी में प्रवासी मजदूरों की कुछ तस्वीरें ऐसी भी कहानियां दर्शा रही है जिन्हें किसी शब्द की जरूरत नहीं हैं. इनको देखकर हर किसी की अंदर तक रुह कांप जाती है और साथ-साथ गर्व की भी अनुभुति करवाती है. ऐसी ही एक घटना के चलते भारत की बेटी का विदेश में डंका बज रहा है.  हां, वही बिहार(bihar) की बेटी जिसने अपने पिता को साइकिल पर बैठाकर 1200 किलोमीटर से ज्यादा का सफर तय किया है. इस बेटी की तस्वीर जब सोशल मीडिया पर वायरल हुई तो देशभर में तारीफ हुई. 

25 मई से शुरू होंगी घरेलू फ्लाइट, जयपुर एयरपोर्ट से 21 फ्लाइट का होगा संचालन 

इवांका ट्रंप भी ज्योती की मुरीद:
पर अब अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald trump) की बेटी इवांका ट्रंप (Ivanka Trump) भी बिहार की ज्योति की मुरीद हो चुकी हैं. उन्होंने ट्वीट के जरिए ज्योति की खूब तारीफ की है. इवांका ट्रंप ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा कि 15 साल की ज्योति कुमारी अपने घायल पिता को साइकिल पर बैठाकर 7 दिनों में 1,200 किमी सफर तय करके गांव पहुंची. धीरज और प्यार के इस सुंदर पराक्रम ने भारतीयों और साइकलिंग फेडरेशन का ध्यान खींचा है.

एक हजार किलोमीटर से ज्यादा की दूरी सात दिन में तय की:
दरअसल, बिहार की एक बेटी ज्योति ने अपनी साइकिल पर पिता को बिठाकर हरियाणा (Haryana) के गुरुग्राम से एक हजार किलोमीटर से ज्यादा की दूरी सात दिन में तय की. वह एक दिन में 100 से 150 किलोमीटर अपने पिता को ही पीछे कैरियर पर बिठाकर साइकिल चलाती थी. जब कहीं ज्यादा थकान होती तो सड़क किनारे बैठ कर ही थोड़ा आराम कर लेती थी. रास्ते में कई तरह की परेशानियां हुईं, लेकिन हर बाधा को ज्योति बिना हिम्मत हारे पार करती गई. ज्योति कुमारी की इस तकलीफ और साहस के बारे में जानकर लोग हैरान हो गए.

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में सामने आए 48 नए पॉजिटिव, संक्रमितों का आंकड़ा पहुंचा 6542 

ज्योति को फेडरेशन ने बुलाया दिल्ली:
ज्योति के जज्बे को देखने के बाद भारतीय साइकिलिंग फेडरेशन ने उनकी तारीफ की और उन्हें अगले महीने ही ट्रायल के लिए दिल्ली बुलाया है. वहीं इवांका ने भी अपने ट्वीट में भारतीय साइकिलिंग फेडरेशन जिक्र किया है. फेडरेशन के चेयरमैन ओंकार सिंह का कहना है कि, अगर 8वीं की छात्रा ट्रायल पास कर लेती है तो उसे आईजीआई सपोर्ट कॉम्प्लेक्स में स्थित स्टेट-ऑफ़-द-आर्ट नेशनल साइकिलिंग एकेडमी में ट्रेनी के रूप में चुन लिया जाएगा. गौरतलब है कि यह एकेडमी स्पोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (SAI) के अधीन आता है और यह एशिया की सबसे विकसित साइकिल एकेडमी है. यह खेलों के अंतराष्ट्रिय संस्था UCI से भी मान्यता प्राप्त संस्था है.


 

पाकिस्तान में दिल दहलाने वाला हादसा,कराची एयरपोर्ट के पास विमान क्रैश, 98 लोग थे सवार

पाकिस्तान में दिल दहलाने वाला हादसा,कराची एयरपोर्ट के पास विमान क्रैश, 98 लोग थे सवार

नई दिल्ली: पाकिस्तान में लाहौर से कराची जा रहा विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया. यह विमान कराची एयरपोर्ट के पास क्रैश हो गया. बताया जा रहा है कि इस विमान में क्रू समेत 98 लोग सवार थे. हालांकि अभी कितने लोगों की मौत हुई, अभी तक पुष्टि नहीं हुई है. यह विमान पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस का बताया जा रहा है. ​

लाहौर से कराची जा रहा विमान दुर्घटनाग्रस्त:
कराची के रिहायशी इलाके में दिल दहला देने वाला हादसा घटित हो गया. विमान हादसे के बाद रिहायशी इलाके में आग लग गई. हादसे में कई मकान भी क्षतिग्रस्त होने की खबर मिली है. हादसे के बाद इलाके में आग लग गई. आसमान में धुएं गुबार नजर आया, जिसके बाद कुछ भी नजर नहीं आया. आसपास के इलाकों में लोगों को कुछ समझ नहीं आया कि आखिर हुआ ​क्या है. विमान हादसे के बाद लोगों में दहशत का माहौल व्याप्त है. ठीक विमान क्रैश होते ही अफरा तफरी का माहौल नजर आया है.

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान में कुल 6 हजार 377 केस, 150 नए संक्रमित आये सामने, अब तक 152 मरीजों की मौत

विमान के उतरने से एक मिनट पहले टूटा उसका संपर्क: 
विमान लाहौर से कराची जा रहा था और मालिर में मॉडल कॉलोनी के पास जिन्ना गार्डन इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हो गया. हादसे का वीडियो भी सामने आया है, जिसमें दुर्घटनास्थल से धुएं के गुबार उठते दिखाई दे रहे हैं. एंबुलेंस और अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं. पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक, विमान के उतरने से एक मिनट पहले उसका संपर्क टूट गया था.

पाकिस्तान के पीएम ने जताया शोक
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने हादसे पर दुख जताया है. उन्होंने कहा कि विमान हादसे से दुखी हूं. पीआईए के सीईओ अरशद मलिक के संपर्क में हैं. हादसे की जांच शुरू की जाएगी. मृतकों के परिवारों के लिए प्रार्थना और संवेदनाएं.

वंदे भारत मिशन के तहत पहली फ्लाइट पहुंची जयपुर, फ्लाइट से आए 148 प्रवासी राजस्थानी

पाकिस्तान में बड़ा विमान हादसा, कराची में लैंडिंग से ठीक पहले हुआ विमान क्रैश, कई लोगों की मौत

पाकिस्तान में बड़ा विमान हादसा, कराची में लैंडिंग से ठीक पहले हुआ विमान क्रैश, कई लोगों की मौत

नई दिल्ली: पाकिस्तान में एक बड़ा विमान हादसा हो गया. जिसमें कई लोगों की मौत की खबर मिल रही है. हालांकि अभी तक कोई आधिकारिक जानकारी नहीं मिली है, कि हादसे में कितने लोग हताहत हुए है. लेकिन पहले जो खबर सामने आई थी. उसमें बताया गया कि हादसे में 100 से ज्यादा लोगों की मौत होने की जानकारी मिल रही थी. विमान में कुल 90 यात्री सवार बताये जा रहे है.  

3 माह और जारी रहेगी ईएमआई न भरने की मोहलत, आरबीआई ने कोरोना संकट के बीच लिया फैसला

कितने लोग हुए हताहत, नहीं मिली जानकारी: 
जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान एयरलाइंस का एक विमान लाहौर से कराची पहुंचने पर लैंड कर रहा था तो वे क्रैश हो गया. हादसे में कितने लोग हताहत हुए हैं इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है. 

90 यात्री थे सवार:
90 यात्री इसमें सवार होने की खबर मिल रही है.  5 केबिन क्रू थे, जिसमें कुल 90 लोग सवार थे. हादसे की वजह का पता लगाया जा रहा है. फिलहाल घटनास्थल पर एंबुलेंस पहुंच गई हैं. जिस जगह यह विमान हादसा हुआ है वो एक रिहायशी इलाका है और विमान में भीषण आग लगी हुई है. 

 Rajasthan Corona Updates: राजस्थान में कुल 6 हजार 377 केस, 150 नए संक्रमित आये सामने, अब तक 152 मरीजों की मौत

चीनी वैज्ञानिकों का दावा, बिना वैक्सीन के भी यह नई दवा रोक सकती है कोविड-19 महामारी

चीनी वैज्ञानिकों का दावा, बिना वैक्सीन के भी यह नई दवा रोक सकती है कोविड-19 महामारी

नई दिल्ली: कोरोनावायरस महामारी को लेकर चीन के वैज्ञानिकों का दावा है कि उन्होंने ऐसी एक नई दवा बनाई है जिससे कोरोना वायरस को खत्म किया जा सकता है. इस दवा का परीक्षण चीन के प्रतिष्ठित पेकिंग विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों द्वारा किया जा रहा है. शोधकर्ताओं के अनुसार यह दवा ना सिर्फ संक्रमित मरीजों को जल्दी ठीक कर सकती है बल्कि वायरस से लड़ने के लिए शॉर्ट-टर्म इम्युनिटी भी विकसित कर सकती है.

IIT दिल्ली ने किया दावा, अश्वगंधा कोरोना वायरस के इलाज में कर सकता है मदद 

दवा पशुओं पर किए परीक्षण में सफल रही: 
शोधकर्ताओं के मुताबिक यह दवा पशुओं पर किए परीक्षण में सफल रही है. उन्होंने कहा कि जब हमने संक्रमित चूहों में न्यूट्रलाइजिंग एंटीबॉडी इंजेक्ट किया, तो पांच दिनों के बाद वायरल लोड 2500 गुना तेजी से कम हो गया. ऐसे में यह तो साफ है कि इस संभावित दवा में इजाल करने की क्षमता है. 

एंटीबॉडी के इस्तेमाल से मरीजों का बेहतर इलाज: 
यह दवा न्यूट्रलाइजिंग एंटीबॉडी का इस्तेमाल कर संक्रमण को खत्म करने में कारगर है. कोशिकाओं को वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए इम्यून सिस्टम न्यूट्रलाइजिंग एंटीबॉडी का उत्पादन करता है. शोधकर्ताओं की टीम ने बीमारी से ठीक हो चुके 60 मरीजों के खून से न्यूट्रलाइजिंग एंटीबॉडी अलग किया. एंटीबॉडी के इस्तेमाल से मरीजों का बेहतर इलाज होता है और वो कम समय में ठीक हो जाते हैं. ऐसे में शोधकर्ताओं की टीम एंटीबॉडी के लिए दिन-रात काम कर रही थी.

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को WHO एग्जीक्यूटिव बोर्ड के चेयरमैन की मिली बड़ी जिम्मेदारी 

दवा इस साल के अंत तक तैयार होने की संभावना:
शोधकर्ताओं के अनुसार उनकी टीम इम्यूनोलॉजी या वायरलॉजी नहीं बल्कि सिंगल सेल जीनोमिक्स पर काम कर रही है. यह जानने के बाद कि सिंगल सेल जीनोमिक्स प्रभावी रूप से न्यूट्रलाइजिंग एंटीबॉडी की खोज कर सकता है, हमारी खुशी का ठिकाना नहीं रहा. ऐसे में उन्होंने उम्मीद जताई कि यह दवा इस साल के अंत तक आम लोगों के इस्तेमाल के लिए तैयार हो जाएगी.

Open Covid-19