Live News »

बूंदी: बारातियों से भरी बस मेज नदी में गिरने 24 लोगों की मौत, सीएम ने की आर्थिक सहायता की घोषणा

बूंदी: जिले में बुधवार सुबह एक बड़ा सड़क हादसा हो गया. यहां पापडी गांव के पास बारातियों से भरी एक बस मेज नदी में जा गिरी. जबकि 5 गंभीर घायलों को कोटा रैफर किया गया है. शुरुआती सूचना के मुताबिक, बस कोटा से सवाईमाधोपुर जा रही थी. 

Delhi violence: नॉर्थ ईस्ट दिल्ली हिंसा में 20 लोगों की मौत, 250 से अधिक घायल

मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख की आर्थिक सहायता की घोषणा:
वहीं हादसे को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बड़ी घोषणा की है. सीएम गहलोत ने मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख की आर्थिक सहायता की घोषणा की है. यह राशि मुख्यमंत्री सहायता कोष से दी जाएगी. 

एक ही परिवार के लोग मायरा भरने जा रहे थे: 
जानकारी के मुताबिक कोटा के दादाबाड़ी से एक ही परिवार के लोग मायरा भरने सवाई माधोपुर जा रहे थे और रास्ते में यह हादसा हो गया. बस में कोटा के मुरारी लाल धोबी अपने परिवार के साथ सवाई माधोपुर जा रहे थे. वहां उनकी भांजी की शादी थी और वो मायरा लेकर परिजनों और करीबियों के साथ जा रहे थे. इसी दौरान रास्ते में यह हादसा हो गया.यहां पापड़ी गांव के पास कोटा-लालसोट मेगा हाइवे पर बस अनियंत्रित होकर नदी में जा गिरी.

VIDEO: हेड कांस्टेबल रतन लाल को मिला शहीद का दर्जा, परिवार को मिलेगी सभी आर्थिक सहायता

प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि बस का आगे का टायर निकले के बाद बस अनियंत्रित हो गई थी. वहीं इस पूरे मामले में पुलिया पर डिवाइडर नहीं होने से PWD प्रशासन की भी बड़ी लापरवाही सामने आ रही है. 

और पढ़ें

Most Related Stories

पानी की समस्या को लेकर महिलाओं का विरोध प्रदर्शन, लगाया सड़क पर जाम

पानी की समस्या को लेकर महिलाओं का विरोध प्रदर्शन, लगाया सड़क पर जाम

बूंदी: राजस्थान के बूंदी जिले में पानी की मांग को लेकर महिलाओं ने सड़क जाम कर दिया. मामला बूंदी शहर के वार्ड नंबर 17 छत्रपुरा दीनबंधु कॉलोनी का है. जहां पर पिछले 15 दिनों से नहीं हो रही जलापूर्ति की समस्या से नाराज कॉलोनी की महिलाओं का सोमवार को गुस्सा फुट पड़ा. नाराज महिलाओं ने मुख्य सड़क पर मटकी रख और जाम लगाकर विरोध प्रदर्शन किया.

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान में कुल 5 हजार 375 कोरोना संक्रमित, 173 नए मामले आये सामने, अकेले डूंगरपुर में मिले 64 पॉजिटिव

दूर से लाना पड़ रहा है पानी:
महिलाओं का आरोप है कि कॉलोनी में पिछले कई दिनों से नलों में पानी तक नहीं टपका है. जिससे भीषण गर्मी में पानी की बड़ी दिक्कत हो रही है. महिलाओं को रोजमर्रा के कार्यों के लिए भी दूर से पानी लाना पड़ रहा है. महिलाओं का आरोप है कि कई बार पार्षद और जलदाय विभाग को पानी की समस्या से अवगत कराने के बाद भी आज दिन तक पानी की समस्या ज्यों की त्यों बनी हुई है.

आश्वासन के बाद हटाया जाम:  
इसके चलते आज सभी महिलाओं ने मुख्य रोड को जाम कर सड़क पर मटकी रखकर अपना विरोध प्रदर्शन किया है. सूचना मिलने पर सदर थाना पुलिस और जलदाय विभाग के कनिष्ठ अभियंता मौके पर पहुंचे और महिलाओं को 24 घंटे में पानी की समस्या दूर करने का आश्वासन के बाद जाम हटाया गया.जाम की वजह से दूर-दूर तक दुपहियां और चोपहियां वाहनों की लम्बी लम्बी लाइन लग गई। जिससे अपने कार्यालयों में जा रहे कर्मचारियों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा.

बंगाल की खाड़ी में सुपर साइक्लोन में बदला अम्फान, मौसम विभाग ने 5 राज्यों के लिए जारी किया अलर्ट 
 

देशी शराब के ठेके के सेल्समैन की पत्थर से कुचल कर हत्या, अज्ञात हमलावरों के खिलाफ मामला दर्ज

देशी शराब के ठेके के सेल्समैन की पत्थर से कुचल कर हत्या, अज्ञात हमलावरों के खिलाफ मामला दर्ज

बूंदी: राजस्थान के बूंदी शहर से लगे सथूर चुंगी नाके पर देशी शराब के ठेके के सेल्समैन की पत्थर से कुचल कर अज्ञात हमलावरों ने हत्या कर दी. जानकारी के मुताबिक चोरी की नियत से अज्ञात चोरों द्वारा ठेके के सेल्समैन रघुवीर सिंह की हत्या की गई है हत्या कर शव नाले में फेंक दिया गया ताकि किसी को पता नहीं लगा लगे. 

देसी शराब के ठेके पर काम करता था सेल्समैन:
सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची कोतवाली थाना पुलिस सहित एडिशनल एसपी सतनाम सिंह और पुलिस उप अधीक्षक मनोज शर्मा और कोतवाली थाना पुलिस ने मामले को देखा तथा मुकेश से साक्ष्य जुटाए. चोरी की नियत से यह हत्या का मामला सामने आ रहा है. फिलहाल सेल्समैन की  हत्या क्यों की गई है इस मामले में पुलिस जांच कर रही है. जानकारी के मुताबिक रघुवीर सिंह देसी शराब के ठेके पर काम किया करता था ओर सथूर नाके पर आज उसका नाले में शव पड़ा मिला है.

देशव्यापी लॉकडाउन -3 का आज आखिरी दिन, लॉकडाउन 4 के लिए होगी गाइडलाइन जारी

अज्ञात हमलावरों के खिलाफ मामला दर्ज:
फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है तथा शव पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया है. मामला जानकारी में आने के बाद में एफएसएल टीम सहित पुलिस अधीक्षक शिवराज मीणा भी मौके पर पहुंचे जहां पर पत्थर से कुचल कर सेल्समैन की हत्या करने का मामला सामने आया है फिलहाल पुलिस ने अज्ञात हमलावरों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. 

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान में मरीजों की संख्या 5 हजार पार, डूंगरपुर में लगातार दूसरे दिन कोरोना विस्फोट

अनोखी शादी:  मास्क लगाकर दूल्हा-दुल्हन ने थामा एक-दूसरे का हाथ, विदाई में दिए मास्क और सैनिटाइजर

अनोखी शादी:  मास्क लगाकर दूल्हा-दुल्हन ने थामा एक-दूसरे का हाथ, विदाई में दिए मास्क और सैनिटाइजर

केशवरायपाटन(बूंदी): कोरोना काल में जहां कुछ लोग मनमानी करते हुए लॉकडाउन की धज्जियां उड़ा रहे हैं. वहीं कुछ लोग लॉकडाउन की पालना को लेकर मिसाल भी कायम कर रहे हैं. बूंदी जिले के रोटेदा गांव निवासी गुर्जर समाज में एक अनोखी शादी का मामला सामने आया है. यहां न बैंड बाजा, न ताम-झाम, न नाते-रिश्तेदारों का हुजूम और न ही प्रीतिभोज. बस पांच पचास लोगों के बीच पूरे विधि विधान से शादी हुई.

विदाई में मास्क और सैनिटाइजर भी दिए उपहार में: 
पीपल पूर्णिमा पर अनोखी शादी में दूल्हा-दुल्हन सहित सभी लोग मास्क लगाए हुए थे इतना ही नहीं बारात को विदाई में मास्क और सैनिटाइजर भी उपहार में दिए गए. इस शादी में बूंदी जिले के रोटेदा से दूल्हा महज परिवार के पांच सदस्यों के साथ शादी करने पहुंचा. यहां लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हुए गुर्जर समाज के नव दंपति सात फेरों के बंधन में बंधे. किसी ताम झाम के बगैर हुई शादी को लेकर गंगाइचा निवासी दुल्हन मैना का कहना था कि हर एक लड़की के सपने होते हैं कि उसकी शादी याद गार पलों के साथ सम्पन्न हो. लेकिन उनकी शादी एक अलग ही तरीके से हुई. ये भी एक यादगार मूवमेंट ही रहेगा.

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान में कोरोना से मौत का शतक, पिछले 12 घंटे में सामने आये 26 नए केस, कुल मरीज 3453 

सोशल डिस्टेंसिंग की पूरी पालना:
हालांकि इस बात का मलाल है कि परिवार के और लोग शादी में शामिल नहीं हो सके. दरअसल रोटेदा के रामदेव गुर्जर के पुत्र बलराम की शादी 26 अप्रैल को तय हुई थी. लेकिन प्रदेश में लागु लॉकडाउन और सरकार की गाइड लाइन के चलते शादी को पोस्टपोंड किया गया. लेकिन वर-वधु के परिवार वालों ने आपस में बैठ कर तय किया कि वो लॉकडाउन के नियमों की पालना करते हुए 7 मई बुद्ध पूर्णिमा को हिन्दू रीति-रिवाज के अनुसार शादी की रस्में पूरी की. दूल्हे बलराम का कहना था कि हम लोगों ने लॉकडाउन का पालन करते हुए शादी की है.

पूरे विधि विधान से हुई शादी:
यह भी जीवन में एक याद बनी रहेगी. अगर कोरोना जैसी वैश्विक महामारी से बचना है, तो लॉकडाउन के नियमों का पालन अवश्य करें और देश को इस महामारी से बचाएं. शादी में शिरकत नहीं कर सके रिश्तेदारों ने भी वीडियो कॉलिंग के माध्यम से वर-वधू को आशीर्वाद दिया. इसके अलावा दुल्हन के माता-पिता ने बेटी को उपहार के रूप में सैनिटाइजर दिया. समाज में रामदेव जैसे लोगों की जितनी तारीफ की जाए वो कम है. जिन्होंने किसी तरह के तामझाम को छोड़ गाइड लाइन की पालना करते हुए, पुरे विधि विधान के साथ शादी की.

COVID-19: देश में कुल 56 हजार 342 केस, पिछले 24 घंटों में 3390 नए संक्रमित मामले आये सामने, 103 लोगों की मौत

राजस्थान के इस मंदिर से पार्वती जी की मूर्ति चुराते ही हो जाती है कुंवारों की शादी, दशकों से चली आ रही परंपरा

राजस्थान के इस मंदिर से पार्वती जी की मूर्ति चुराते ही हो जाती है कुंवारों की शादी, दशकों से चली आ रही परंपरा

बूंदी: राजस्थान में बूंदी जिले के हिंडोली कस्बे में एक ऐसा मन्दिर है जहाँ से मूर्ति चुराकर ले जाने पर कोई पुलिस केस दर्ज नहीं कराया जाता. यहां रामसागर झील के किनारे रघुनाथ घाट मंदिर से पार्वती जी की मूर्ति चुराने के पीछे की वजह अनूठी है. मान्यता है कि जिस युवक की शादी नहीं हो पा रही, अगर वह इस मंदिर से गुपचुप तरीके से पार्वती की मूर्ति चुरा ले जाए तो उसकी शादी जल्द हो जाती है. 

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में 123 नए पॉजिटिव आए सामने, अकेले जोधपुर में सर्वाधिक 73 संक्रमित 

फिलहाल सावन के पहले से पार्वती जी महादेव से बिछुड़ी हुई: 
यही वजह है कि कुंवारे मन्दिर से रात के अंधेरे में गुपचुप मां पार्वती की मूर्ति उठा ले जाते हैं. मन्दिर में महादेव शिवलिंग के बगल में ही पार्वती जी की मूर्ति स्थापित है पर महादेव जोड़े के साथ कम ही नजर आते है, क्योंकि कुंवारे पहले से ताक में रहते हैं. फिलहाल सावन के पहले से पार्वती जी महादेव से बिछुड़ी हुई है. वे किसी कुंवारे के घर होम क्वारेंटाइन में है. लॉक डाउन के चलते इस बार अक्षय तृतीया जैसे मुहूर्त पर भी शादियां नही हुई. लॉकडाउन नहीं टूटा और शादियां नही हुई तो जुलाई से चार महीने के लिए देव सो जाएंगे, ऐसे में कम ही उम्मीद है कि पार्वतीजी महादेव के पास जल्द लौट आएगीं कतार में लगे कुंवारों को इस बार लम्बा इंतजार करना पड़ सकता है. 

मन्दिर में दशकों से यह परम्परा चली आ रही: 
कुंवारे घर मे पार्वती जी की पूजा करते हैं. उनसे शादी का वर मांगते हैं. शादी के बाद रात्रि के अंधेरे में चुपचाप दूल्हा दुल्हन जोड़े से आते हैं और मूर्ति स्थापित कर चले जाते हैं. पहले से वेटिंग में चल रहे युवक इसी ताक में रहते हैं, फिर वे चुरा ले जाते हैं. मन्दिर में दशकों से यह परम्परा चली आ रही है. 

VIDEO: कुदरत ने दिए अच्छे मानसून के संकेत, चौमासे में भरपूर बरसेंगे मेघ 

अब तक 15-20 बार पार्वतीजी की मूर्ति चोरी हो चुकी:
पिछले 35 साल से मन्दिर में पुजारी के रूप में सेवा दे रहे रामबाबू पराशर बताते है कि अब तक 15-20 बार पार्वतीजी की मूर्ति चोरी हो चुकी है और चुराने वाली कि शादियां भी हो चुकी है. हमे चोरी का पता लग भी जाता है तो भी किसी को टोकते नहीं. साल में बमुश्किल एक दो महीने ही पार्वती जी की प्रतिमा मन्दिर में विराजित रह पाती है. लौटते ही फिर कोई चुरा ले जाता है.

देशभर में मनाई जा रही है महावीर जयंती, घरों में ही हो रही है विशेष पूजा, सोशल डिस्टेंसिंग की पालना

देशभर में मनाई जा रही है महावीर जयंती, घरों में ही हो रही है विशेष पूजा, सोशल डिस्टेंसिंग की पालना

केशवरायपाटन(बूंदी): देशभर में सोमवार को महावीर जयंती पर जैन समाज के लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए घरों में ही विशेष पूजा अर्चना की. वहीं लोगों ने कोरोना से मुक्ति की कामना की. प्रदेश के बूंदी जिले के केशवरायपाटन के रोटेदा कस्बे में स्थित श्री पार्श्वनाथ दिगम्बर जैन मंदिर में सोमवार को महावीर जयंती के अवसर पर विशेष पूजा अर्चना की गई.

भाजपा का 40 वां स्थापना दिवस: सभी कार्यकर्ता अपने अपने घरों में ही मना रहे स्थापना दिवस, सोशल डिस्टेंसिंग की पूरी पालना 

सोशल डिस्टेंसिंग की पालना: 
मन्दिर में इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की पालना मुताबिक इक्के दुक्के समाजबंधु ही मौजूद रहे. समाजबंधुओं ने भगवान महावीर की पूजा अर्चना कर कोरोना से मुक्ति की कामना की. गौरतलब है कि हर साल चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी तिथि को भगवान महावीर स्वामी की जन्म जंयती मनाई जाती है.

सिंगर कनिका कपूर अस्पताल से हुई डिस्चार्ज, छठी रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद किया डिस्चार्ज

जैन धर्म के 24वें तीर्थकर धर्मगुरु:
भगवान महावीर स्वामी का जन्म जैन धर्म में लगभग 599 ईसा पूर्व हुआ था. भगवान महावीर स्वामी जैन धर्म के 24वें तीर्थकर धर्मगुरु माने जाते हैं. भगवान महावीर स्वामी के अथक प्रयासों से उनके जीवन काल में ही जैन धर्म, कौशल, विदेह, मगध, अंग, काशी, मिथला आदि राज्यों में लोकप्रिय हो गया था. 

लॉकडाउन के बावजूद भी बजरी माफियाओं के हौसले बुलंद, अवैध पत्थरों की निकासी पर वन विभाग ने जब्त किया ट्रैक्टर ट्रॉली

लॉकडाउन के बावजूद भी बजरी  माफियाओं  के हौसले बुलंद, अवैध पत्थरों की निकासी पर वन विभाग ने जब्त किया ट्रैक्टर ट्रॉली

बूंदी: लॉकडाउन के बावजूद भी बजरी माफियों के हौसले बुलंद है. बजरी माफिया दिनरात चम्बल नदी से पत्थरों का का खनन कर परिवहन कर रहे है, जिन्हें विभागीय कार्यवाही तक का डर नहीं है. शुक्रवार को राष्ट्रीय चम्बल घड़ियाल अभ्यारण्य की टीम ने चम्बल नदी से पत्थरो का परिवहन करते एक ट्रैक्टर ट्रॉली को जब्त किया.

ट्रैक्टर ट्रॉली को जब्त:
बूंदी जिले के केशवरायपाटन उपखण्ड क्षेत्र के बालिता गांव में शुक्रवार को चम्बल नदी से अवैध पत्थरों का परिवहन करते एक ट्रैक्टर ट्रॉली को जब्त किया है. गौरतलब है कि क्षेत्र में लोक डाउन के बाद भी चम्बल नदी में बजरी व पत्थरों का अवैध कारोबार जोर शोर से चल रहा था.

CORONA: इन चीजों का कीजिए सेवन, शरीर में विकसित होगी प्रतिरोधक क्षमता

अवैध कार्यो पर अंकुश लगाने के लिए कार्रवाई: 
जिस पर फर्स्ट इंडिया ने खबर का प्रसारण किया, तो राष्ट्रीय चम्बल घड़ियाल अभ्यारण्य के वनकर्मियों की नींद खुली. ओर अवैध कार्यो पर अंकुश लगाने के लिए कार्रवाई शुरू की. वनकर्मी ट्रेक्टर ट्रॉली को पकड़ कर रेंज चौकी केशवरायपाटन ले आये.

Coronavirus Updates: पिछले दो दिन में तब्लीगी जमात से जुड़े 647 पॉजिटिव कोरोना केस आए सामने, अब तक 56 की मौत- स्वास्थ्य मंत्रालय

बूंदी में सनकी युवक ने 3 युवतियों पर किए चाकुओं से वार, 2 की मौत, आरोपी मौके से फरार

बूंदी में सनकी युवक ने 3 युवतियों पर किए चाकुओं से वार, 2 की मौत, आरोपी मौके से फरार

बूंदी: बूंदी के तालेड़ा में शनिवार को एक सनकी युवक ने तीन युवतियों पर चाकुओं से ताबड़तोड़ वार कर दिए. मौके पर ही एक युवती की मौत हो गई, जबकि गंभीर घायल दूसरी युवती को कोटा के नये अस्पताल में लाया गया, लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका.  घायल तीसरी युवती का इलाज जारी है, बताया जा रहा है कि तालेड़ा में युवती पूजा पढ़ाई करके घर लौट रही थी उसी वक्त रास्ते में घात लगाकर बैठे युवक महेश उर्फ पप्पू ने चाकुओं से हमला बोल दिया. 

सचिवालय में बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश पर पूरी तरह रोक, प्रवेश पास बनाने पर आगामी आदेश तक रोक

चाकुओं से ताबड़तौड़ वार किए:
इस दौरान बीच बचाव करने आई पूजा की दो बहने, प्रियंका और रेखा पर भी सनकी युवक ने हमला बोल दिया और चाकुओं से ताबड़तौड़ वार किए. हमले में युवती पूजा के 21 घाव लगे जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई, वारदात के बाद घटनास्थल पर परिजनों और मोहल्लेवासियों में चीख पुकार मच गई. घायल हालत में युवती प्रियंका को गंभीर हालत में कोटा रैफर किया, जहां उसकी मौत हो गई. फिलहाल रेखा का अभी अस्पताल में उपचार जारी हैं. फिलहाल तालेड़ा पुलिस प्रथमदृष्टया इसे प्रेम प्रसंग का प्रकरण मान रही है. वारदात के बाद आरोपी महेश उर्फ पप्पू मौके से फरार हो गया.

CORONA: मिल गया कोरोना का तोड़, सुपर कंप्यूटर बना मददगार, दवा बनाने में मिलेगी मदद !

खेल खेल में घुमा दी ट्रैक्टर की चाबी, दो बच्चों की मौत

खेल खेल में घुमा दी ट्रैक्टर की चाबी, दो बच्चों की मौत

केशवरायपाटन(बूंदी): उपखण्ड क्षेत्र के कापरेन थाना अंतर्गत बोरदारोड सड़क पर मंगलवार सुबह ईट भट्टे पर कार्य करने वाले ट्रैक्टर चालक को ट्रैक्टर में चाबी छोड़ना भारी पड़ गया. ट्रैक्टर में सवार चालक के दोनों बच्चो ने खेल खेल में चाबी घुमा दी. जिससे ट्रैक्टर स्टार्ट हो गया और पलट गया. इससे मौके पर ही दोनों बच्चों की दर्दनाक मौत हो गई. 

पूर्व CJI रंजन गोगोई राज्यसभा के लिए मनोनीत, सीएम गहलोत ने कहा- इससे लोगों का न्यायिक प्रणाली पर विश्वास खत्म हो जाएगा 

ट्रैक्टर स्टार्ट होकर पास ही गहरी खाई में जाकर पलट गया:
प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक बोरदा रोड पर ईंट भट्टों पर काम करने वाला ट्रैक्टर चालक फतेह सिंह बंजारा अपने 4 वर्षीय बेटे गणेश व 8 वर्षीय बेटे श्याम को लेकर सुबह कापरेन बायपास पर पहुंचा था. वह दोनों मासूमों को ट्रैक्टर में छोड़कर नीचे उतर गया, तभी बच्चों ने ट्रैक्टर की चाबी घुमा दी, जिससे ट्रैक्टर स्टार्ट होकर पास ही गहरी खाई में जाकर पलट गया. 

VIDEO: रंजन गोगोई को राज्यसभा से मनोनीत किये जाने पर डॉ महेश जोशी ने उठाया सवाल, बीजेपी पर साधा निशाना 

सूचना पर पुलिस व आसपास के लोगों की भीड़ जमा हो गई:
वहीं पुलिस के मुताबिक चालक दोनों बच्चों को ट्रैक्टर में लेकर जा रहा था. इस दौरान अनियंत्रित होकर ट्रॉली पलट गई और दोनों मासूम ट्रैक्टर के नीचे दबे रह गए, जिनकी मौके पर ही मौत हो गई. सूचना पर पुलिस व आसपास के लोगों की भीड़ जमा हो गई. जिन्होंने दोनों बच्चों को बाहर निकाला और कापरेन राजकीय सामुदायिक चिकित्सालय लेकर आये. जहां चिकित्सकों ने दोनों बच्चों को मृत घोषित कर दिया. बाद में दोनों शवों का चिकित्सकों ने पोस्टमार्टम कर परिजनों को सुपुर्द कर दिया. वहीं पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की है. 
 

Open Covid-19