यमन में सरकार समर्थक बलों और हूती विद्रोहियों के बीच लड़ाई में 28 लोगों की मौत

यमन में सरकार समर्थक बलों और हूती विद्रोहियों के बीच लड़ाई में 28 लोगों की मौत

यमन में सरकार समर्थक बलों और हूती विद्रोहियों के बीच लड़ाई में 28 लोगों की मौत

सना: यमन के मारिब प्रांत में सरकार समर्थक बलों और हूती विद्रोहियों के बीच हुई लड़ाई में बीते 24 घंटे में कम से कम 28 लोगों की मौत हो गई. गुरुवार को दोनों पक्षों के सुरक्षा अधिकारियों और कबायली नेताओं ने यह जानकारी दी. अधिकारियों ने बताया कि हूती विद्रोहियों के बीच अधिक मौतें हुईं जो रबा शहर में हमले कर रहे हैं.

हालिया महीनों में विद्रोही, सीमा के दूसरी ओर सऊदी अरब पर हमले तेज करते हुए मारिब की ओर बढ़ने की कोशिश कर रहे हैं, जिसे सरकार समर्थक बलों का गढ़ कहा जाता है. हमलों में हजारों लड़ाके मारे गए हैं, जिनमें अधिकतर हूती हैं. सोमवार को 12 सरकारी सैनिकों की मौत हुई. तब से रबा में लड़ाई तेज हुई है. यह शहर जुलाई में सरकारी सैनिकों के कब्जे में आ गया था. इससे लगभग दो साल पहले तक इस पर हूती विद्रोहियों का नियंत्रण था. इस बीच, सऊदी नीत गठबंधन ने रबा, सिरवा और मदगेल समेत मारिब के कई शहरों में सरकारी बलों की मदद के लिये दर्जनों हवाई हमले किये हैं.

यमन में साल 2014 में गृह युद्ध छिड़ गया था जब हूती विद्रोहियों ने सना और देश के अधिकतर उत्तरी हिस्सों पर कब्जा कर लिया था. इसके चलते राष्ट्रपति अब्द रब्बू मंसूर हादी की सरकार खतरे में पड़ गई थी. इसके बाद ,हादी की सरकार को बरकरार रखने के लिये सऊदी अरब के नेतृत्व वाले गठबंधन ने उस समय अमेरिका के समर्थन से युद्ध शुरू किया था. तब से जारी गृह युद्ध में 1, 30,000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. इसके चलते दुनिया का सबसे बड़ा मानवीय संकट भी खड़ा हो गया है.

और पढ़ें