Live News »

जीएसटी परिषद की 28 वीं बैठक संपन्न, जानिए क्या हुआ सस्ता 

जीएसटी परिषद की 28 वीं बैठक संपन्न, जानिए क्या हुआ सस्ता 

नई दिल्ली। वस्तु और सेवा कर परिषद की 28 वीं बैठक वित्त मंत्री पीयूष गोयल की अध्यक्षता में आज नई दिल्ली में संपन्न हुई। इस बैठक में कई बड़े फैसले लिए गए। सबसे अहम फैसला यह था कि सैनेटरी नैपकिन को जीएसटी के दायरे से बाहर कर दिया है। 

नई दिल्ली में जी.एस.टी. परिषद की 28वीं बैठक को सम्बोधित करते हुए गोयल ने कहा कि जीएसटी कर प्रणाली को बेहतर ढंग से लागू करने से लोगों को फायदा होगा और कई वस्तुएं और सेवाएं सस्ती होंगी। सैनेटरी नैपकिन के अलावा होम एपलायंसेज पर लगने वाले 28 फीसदी टैक्स को घटाया गया है। इलेक्ट्रॉनिक आईटम जैसे फ्रिज, वाशिंग मशीन, टीवी जैसे उत्पादों पर जीएसटी 28 फीसदी से घटाकर 18 फीसदी किया गया है। 

झाडू़, स्‍टोन, मार्बल, राखी, लकड़ी की मूर्तियों को जीएसटी से बाहर रखा गया है। वहीं फॉस्‍फेरिक एसिड, हैंडलूम के अलावा 1000 रुपये तक के फुटवियर को 5 फीसदी के स्‍लैब में रखा गया है. बता दें कि  पहले 500 रुपये तक के फुटवियर इस स्‍लैब में आते हैं। इसके अलावा पेंट को भी 28 फीसदी के स्लैब से घटाकर 18 फीसदी किया गया है। आने वाले त्योहारों के सीजन में आपके लिए घरों में पेंट कराना महंगा नहीं पड़ेगा। 

आज लिए गए फैसलों के मुख्य बिंदु 

- छोटे शिल्पकारों, हैंडीक्राफ्ट्स वाले उद्योग जहां अलग अलग GST थे, उन्हें भी शून्य कर दिया गया है। इनमें लकड़ी, पत्थर और संगमरमर की बनी मूर्तियां, राखी, फूल झाड़ू, दोने शामिल हैं। 
- हैंडलूम की बनी दरी, फॉस्फोरिक एसिड, ₹1000 से कम टोपी (Knitted Caps) को 5% GST के अंदर लाया गया है। 
- बंबू की फ्लोरिंग, ब्रास केरोसीन स्टोव, हाथ से चलने वाले रबर रोलर्स को 18% से 12% GST पर लाया गया है। 
- कुछ वस्तुओं में GST को 18% से 5% किया गया है, जिसमे इथेनॉल, सोलिड बॉयो फ्यूल के पेलेट्स आदि।  
-  स्पेशल पर्पज व्हिकल फॉयर फाइटिंग, कंक्रीट मिक्सर लॉरीज, क्रेन लॉरीज, लिथियम ऑयन बैट्रीज, वैक्यूम क्लीनर्स, मिक्सर ग्राइंडर, हेयर ड्रायर्स, पेंट वार्निश, वॉटर कूलर, आइस क्रीम फ्रिजर, महिलाओं के लिये सेंट्स, परफ्यूम, टॉयलेट स्प्रेस, पाउडर पफ्स के रेट 28% से 18% किये गये हैं। 
- टैक्सटाइल उद्योग की मांग थी कि इनपुट टैक्स क्रेडिट को वो पूरे रूप से इस्तेमाल नही कर पाते, उसे भी रिफंड के रूप में टैक्सटाइल बिजनेस में दिया जाये। 27 जुलाई के बाद टैक्सटाइल उद्योग को यह रिफंड दिया जायेगा। 
- हाथ से बने कॉरपेट, फ्लोर कवरिंग्स के लिये भी GST को 12% से 5% किया गया है। 
- अलग अलग स्थानों पर उपयोग होने वाले स्टोन पर पॉलिश होने से पहले तक 5% GST लगेगा। 
- फॉर्टिफाइड मिल्क GST से मुक्त रहेगा, वाशिंग मशीन पर भी 28% से 18% GST कर दिया गया है। 
- रिटर्न की प्रक्रिया में बदलाव लाने का निर्णय लिया गया है, 5 करोड़ तक के टर्न ओवर वालों को टैक्स पेमेंट मासिक और रिटर्न 3 महीने में एक बार देना होगा। 
- रिटर्न्स दो फॉर्मेट में बनाये गये हैं, इसके लिये दो फॉर्म सुगम और सहज के फॉर्मेट को GST काउंसिल ने मंजूरी दी है। 
- कंपोजिट डीलर अपने टर्नओवर के 10% या 5 लाख (जो भी अधिक हो) तक सर्विस दें तो वो भी कंपोजिशन स्कीम में आने का विकल्प चुन सकते हैं। 
- ई-कॉमर्स ऑपरेटर्स को उन वस्तुओं के लिये रजिस्ट्रेशन कराना होगा, जिन पर GST लगता है। 
- ई-बुक्स पर GST को 18% से घटाकर 5% किया जा रहा है। 

और पढ़ें

Most Related Stories

2 साल बाद भी कॉलेजियम का ही इंतजार, लॉकडाउन के बाद Rajasthan High Court के सामने जजों की कमी होगी बड़ी चुनौति

जयपुर: जस्टिस डिलेड जस्टिस डिनाइड अर्थात इंसाफ़ में देरी नाइंसाफ़ी है. प्रदेश की न्यायपालिका में एक बात जो सभी की जुबान पर है. वो ये कि क्या राजस्थान हाईकोर्ट अपने सबसे मुश्किल दौर से गुजर रहा है. एक तरफ राजस्थान के मुख्य न्यायाधीश इन्द्रजीत महांति का नाम सुप्रीम कोर्ट के लिए नामित होने के संकेत मिल रहे हैं तो दूसरी ओर सेवानिवृति और तबादले के बाद जजो की संख्या घटकर फिर से आधी ही रह गयी है. हाईकोर्ट में नए जजों की नियुक्ति में जितनी देरी हो रही है उतनी ही देरी हाईकोर्ट में लंबित पक्षकारों को उनके केसों में न्याय मिलने में हो रही है. कोरोना के चलते फिलहाल राजस्थान हाईकोर्ट में अति आवश्यक प्रकरणों की ही सुनवाई कि जा रही है लेकिन रेगुलर अदालते खुलने के साथ ही माना जा रहा है कि अदालतों में मुकदमों की बाढ आने वाली है. पहले से ही प्रदेश में करीब 4 लाख मुकदमे पेडिंग है ऐसे में जजों की नियुक्ति आने वाले दिनों में एक मुश्किल चुनौति होगी.   

सवाई माधोपुर में महिला कांस्टेबल ने किया आत्महत्या का प्रयास, हालत बताई जा रही खतरे से बाहर

स्वीकृत 50 पदों में से मात्र 25 पदों पर ही जज कार्यरत: 
प्रदेश में बढ़ते मुकमदों की संख्या को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट की अनुशंसा पर केन्द्र सरकार ने अक्टूबर 2014 में राजस्थान हाईकोर्ट में जजों के स्वीकृत पदों की संख्या बढ़ाकर 40 से 50 कर दी थी. लेकिन पहले की तरह ही आज दिन तक इन सभी पदों पर कभी भी पूरी तरह से नियुक्ति नहीं की जा सकी. राजस्थान हाईकोर्ट में 2014 के बाद पहली बार मई 2018 को जजों की संख्या जरूर 39 हो गई थी. इससे मामलों के निस्तारण में भी तेजी देखने को मिली. लेकिन, मई 2019 तक एक वर्ष से भी कम समय में जजों की संख्या घटते-घटते 24 पर रह गयी थी और अब 2 दो साल बाद 31 मई 2020 को भी राजस्थान हाईकोर्ट अपने पूर्व स्थिती में आ गया है. राजस्थान हाईकोर्ट में स्वीकृत 50 पदों में से मात्र 25 पदों पर ही जज कार्यरत है. लॉकडाउन के चलते फिलहाल राजस्थान हाईकोर्ट में अतिआवश्यक प्रकरणों की ही सुनवाई हो रही है जिसके चलते बहुत कम नए केस फाइल हो रहे हैं. लेकिन लॉकडाउन के बाद अचानक मुकदमों की संख्या में इजाफा होना तय है. ऐसे में अब राजस्थान हाईकोर्ट नए जजों की नियुक्ति की उम्मीद लगाए हुए है. ये अलग बात है कि 6 अक्टूबर 2019 को राजस्थान के 37 वें मुख्य न्यायाधीश की शपथ लेते हुए जस्टिस इन्द्रजीत महांति ने कहा था कि वे शीघ्र ही जजों की नियुक्ति का प्रयास करेंगे. 

अंतिम बार 28 मई 2018 को कॉलेजियम किया गया: 
राजस्थान हाईकोर्ट में जजों की नियुक्ति की सिफारिश के लिए अंतिम बार 28 मई 2018 को कॉलेजियम किया गया था. कॉलेजियम ने 20 पदों के लिए 11 डीजे कोटे के और 9 अधिवक्ता कोटे से नाम सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम को भेजे थे. सुप्रीम कोर्ट की सिफारिश पर केन्द्र सरकार ने इन दो सालों में अलग अलग तारीखों पर डीजे कोटे से कुल 7 जजों की नियुक्ति की है. इनमें जस्टिस अभय चतुवेर्दी, जस्टिस नरेन्द्रसिंह ढड्डा, जस्टिस देवेन्द्र कच्छवाहा, जस्टिस सतीश शर्मा, जस्टिस प्रभा शर्मा, जस्टिस मनोज व्यास और जस्टिस रामेशवर व्यास शामिल है. वहीं अधिवक्ता कोटे से भेजे गये 9 नाम में से केवल जस्टिस महेन्द्र गोयल का नाम ही क्लीयर किया गया. एडवोकेट मनीष सिसोदिया को रिकंसीडर करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने दुबारा केन्द्र सरकार को भेजा है तो वहीं केन्द्र ने एक बार फिर एडवोकेट फरजंद अली का नाम सुप्रीम कोर्ट को रिकंसीडरेशन के लिए भेजा है. सुप्रीम कोर्ट द्वारा तीसरी बार ये नाम केन्द्र को भेजे जाने की भी खबर है. 

अदालतें खुलने पर एक नई चुनौति का सामना करना होगा:
जजों की कमी से जूझ रहा राजस्थान हाईकोर्ट लॉकडाउन के बाद अदालतें खुलने पर एक नई चुनौति का सामना करना होगा. एक तरफ राजस्थान हाईकोर्ट सहित अधिनस्थ अदालतों में पेडिंग केसों की संख्या 16 लाख से अधिक है वहीं राजस्थान हाईकोर्ट में ही 1 जून 2020 को कुल 4 लाख 85 हजार से अधिक मुकदमे पेडिंग है. रेगुलर अदालते खुलने के बाद इस संख्या में इजाफा होना तय है. नेशनल ज्यूडिशल डाटा ग्रिड के अनुसार इन केसों में सर्वाधिक पेंडेंसी पिछले एक वर्ष में हुई है. 1 वर्ष से भी कम समय में दायर किये गये 1 लाख 43 हजार से अधिक केस पेंडिंग है. जो कि राजस्थान हाईकोर्ट की कुल पेडेंसी का 29 प्रतिशत से अधिक है. इसका मुख्य कारण हाईकोर्ट जजों की कमी है. जिसके बाद से ही अधिवक्ताओं से लेकर पक्षकारों को भी  में पिछले दो साल कई माह से अदालतों में लगने वाले अधिकांश मुकदमों में तारीखे ही दी जा रही है. 

राजस्थान में राज्यसभा चुनाव की बिछी चौसर, तीन सीटों पर चार उम्मीदवार मैदान में 

नए जजों की नियुक्ति नहीं हो पाना एक बड़ा विषय:
सुप्रीम कोर्ट में राजस्थान से जुड़े 2—2 जजों की मौजूदगी के बावजूद नए जजों की नियुक्ति नहीं हो पाना एक बड़ा विषय है. जजों की नियुक्ति नहीं होने से पक्षकारों को मिलने वाले न्याय में देरी होती रही है. कारेोना के बाद लगाए गये लॉकडाउन के चलते हालात ओर भी कमजोर हुए है. ऐसे में रेगुलर अदालत लगने पर जजों पर कार्य का दबाव ओर भी बढ़ जायेगा. 

Rajasthan Corona Updates: पिछले 24 घंटे में 5 मौत, 269 नए संक्रमित केस आये सामने, कुल पॉजिटिव केस हुए 9100

जयपुर: राजस्थान में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढते जा रहे है. पिछले 24 घंटे में 5 मरीजों की मौत हो गई. ज​बकि 269 नए पॉजिटिव केस सामने आये है. जयपुर में 3, बारां-बीकानेर में 1-1 मरीज की मौत हो गई. सर्वाधिक 52 केस अकेले पाली में  सामने आये है. राजस्थान में कुल 199 लोगों की कोरोना वायरस से मौत हो चुकी है. वहीं कुल 9100 कोरोना पॉजिटिव केस है. 

देश में 200 ट्रेनों का संचालन शुरू, जयपुर जंक्शन से गुजरेंगी 10 ट्रेनें, पहले दिन जयपुर से जोधपुर गई ट्रेन

पाली में सामने आये 52 नए केस: 
सोमवार रात 8:30 बजे तक सर्वाधिक 52 केस अकेले पाली में सामने आये. अजमेर 7, अलवर 6, बारां 27, भरतपुर 44, भीलवाड़ा 2 पॉजिटिव, चूरू 7, दौसा 2, डूंगरपुर 3, जयपुर 36, झालावाड़ 5 पॉजिटिव, झुंझुनूं 6, जोधपुर 32, कोटा 11, राजसमंद एक, सीकर 12 पॉजिटिव, सिरोही 5, टोंक 1, उदयपुर में 10 मरीज पॉजिटिव केस सामने आये है. 

जयपुर में कोरोना का बढ़ता दायरा:
राजधानी जयपुर में कोरोना का दायरा बढ़ता जा रहा है. पिछले 24 घंटे में 3 लोगों की मौत हो गई. 36 नए पॉजिटिव केस सामने आये है. सर्वाधिक 5 पॉजीटिव केस जयपुर के गंगापोल में मिले. आदर्श बस्ती,टोंक फाटक 4, कोटपूतली में 3,खजाने वालों का रास्ता,विद्याधर नगर, शास्त्री नगर में 2-2, डिस्ट्रिक जेल, सुभाष नगर,कच्ची बस्ती, ईदगाह, वन विहार, तिलक नगर, जौहरी बाजार, 22गोदाम, मच्छावा कालवाड रोड,सुभाष चौक, मानसरोवर, ज्योति नगर, आदर्श नगर, पावटा, पानीपेच, रामगंज, ब्रह्मपुरी में 11 पॉजिटिव केस सामने आये. जयपुर में अब तक 94 लोगों की कोरोना की वजह से मौत हो चुकी है. वहीं कुल 2027 पॉजिटिव केस हो चुके है.

SHO विष्णुदत्त सुसाइड केस की CBI जांच की मांग, सीएम गहलोत से मिला विश्नोई समाज का प्रतिनिधिमंडल

देश में 200 ट्रेनों का संचालन शुरू, जयपुर जंक्शन से गुजरेंगी 10 ट्रेनें, पहले दिन जयपुर से जोधपुर गई ट्रेन

जयपुर: रेलवे प्रशासन ने सोमवार से देशभर में 200 स्पेशल ट्रेनों का संचालन शुरू कर दिया है. उत्तर-पश्चिम रेलवे से भी कुल 10 ट्रेनें चलाई जाएंगी. इनमें से 5 ट्रेनें जयपुर जंक्शन आएंगी और 5 जयपुर जंक्शन से जाएंगी. हालांकि सोमवार को पहले दिन जयपुर जंक्शन से मात्र एक ट्रेन का ही संचालन शुरू हो सका है. यूं तो देश में यात्री ट्रेनों का संचालन 12 मई से शुरू हो चुका था, लेकिन देश में सही मायनों में ट्रेन संचालन सोमवार  से शुरू हो गया. दरअसल 12 मई से मात्र 15 स्पेशल टेनें चलाई जा रही थीं, जबकि आज से 200 स्पेशल ट्रेनों को चलाने की मंजूरी दी गई है.

सोशल डिस्टेंसिंग रखते हुए ट्रेनों में होगी यात्रा:
उत्तर-पश्चिम रेलवे जोन ने 10 ट्रेनाें का संचालन शुरू किया है. इनमें से 5 ट्रेनों का आवागमन जयपुर जंक्शन से होकर भी होगा. सोमवार से जयपुर से जोधपुर के लिए स्पेशल ट्रेन शुरू हुई. यह ट्रेन अलसुबह 6 बजे जोधपुर के लिए रवाना हुई. ट्रेन से 234 यात्री जोधपुर के लिए रवाना हुए. अब रेल यात्रा के दौरान यात्रियों को कई तरह की सावधानियां रखनी होंगी. ट्रेन में यात्रियों को अलग-अलग गेट से उतरना और चढ़ाना होगा. प्लेटफॉर्म पर यात्रियों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ लाइन में लगकर स्टेशन के अंदर और बाहर आना-जाना होगा.

राजस्थान में राज्यसभा चुनाव की बिछी चौसर, तीन सीटों पर चार उम्मीदवार मैदान में 

कम से कम 90 मिनट पहले पहुंचना होगा स्टेशन:
सोशल डिस्टेंसिंग के लिए एंट्री गेट से लेकर प्लेटफॉर्म तक पीले और सफेद रंग के पेंट से गोले बनाए गए हैं. स्टेशन पर एंट्री के लिए एक ही गेट रहेगा. जबकि एग्जिट के लिए दो गेट होंगे. आने-जाने वाले सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी. सभी यात्रियों को 90 मिनट पहले स्टेशन पहुंचना होगा. अधिकतम 2 घंटे पहले यात्री स्टेशन पहुंच सकेंगे. यात्री में कोरोना के लक्षण दिखने पर यात्रा करने से रोक दिया जाएगा. बाहर निकलने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग प्लेटफॉर्म-1 के मजिस्ट्रेट गेट के सामने वाले और कॉनकोर्स हॉल वाले एग्जिट गेट पर बने काउंटर्स पर होगी.

ट्रेनों का यह रहेगा टाइम टेबल:
- 02307 हावड़ा-जोधपुर आज से शुरू, रात 12:35 बजे जयपुर पहुंचकर 12:45 बजे जोधपुर जाएगी
- 02308 जोधपुर-हावड़ा ट्रेन 3 जून से शुरू होगी, रात 1:50 बजे जयपुर पहुंचकर 2:05 बजे हावड़ा जाएगी
- 02464 जोधपुर-दिल्ली सराय 2 जून से चलेगी, रात 12:15 बजे जयपुर पहुंचकर 12:25 बजे दिल्ली जाएगी
- 02463 दिल्ली सराय-जोधपुर 3 जून से होगी शुरू, रात 3:05 बजे जयपुर पहुंचकर 3:15 बजे जोधपुर जाएगी
- 02915 अहमदाबाद-दिल्ली सराय का समय बदला, सुबह 4:42 बजे जयपुर पहुंचकर 4:52 बजे दिल्ली जाएगी
- 02478 जयपुर-जोधपुर शुरू हुई, जयपुर से सुबह 6 बजे जोधपुर जाएगी
- 02065 अजमेर-दिल्ली सराय शुरू हुई, किशनगढ़, फुलेरा, रींगस, नीमकाथाना होकर चलेगी ट्रेन
- 02955 मुंबई सेंट्रल-जयपुर शुरू हुई, मुम्बई से चलकर दोपहर 12:45 बजे जयपुर पहुंचेगी
- 02956 जयपुर-मुंबई सेंट्रल 2 जून से शुरू होगी, दोपहर 2 बजे जयपुर से मुंबई के लिए होगी रवाना
- 02916 दिल्ली-अहमदाबाद का 2 जून से समय बदलेगा, शाम 8:25 बजे जयपुर पहुंचकर 8:35 बजे अहमदाबाद जाएगी
- 02066 दिल्ली सराय-अजमेर शुरू हुई, नीम का थाना, रींगस, फुलेरा, किशनगढ़ होकर चलेगी ट्रेन
- 02477 जोधपुर-जयपुर ट्रेन शुरू हुई, जोधपुर से चलने वाली ट्रेन रात 9:15 बजे जयपुर पहुंचेगी

निजी अस्पतालों के लिए एडवाइजरी जारी, कोरोना मरीजों का फ्री इलाज, अन्यथा होगी सख्त कार्रवाई 

यात्रियों के लिए अब होगा आवागमन सुगम:
शेड्यूल में हालांकि ट्रेनों का संचालन सोमवार से शुरू हो चुका है, लेकिन सोमवार से मात्र एक ट्रेन का संचालन ही जयपुर जंक्शन से हो रहा है. जयपुर से सुबह जोधपुर के लिए ट्रेन रवाना हुई और यही ट्रेन रात सवा नौ बजे जोधपुर से वापस जयपुर लौटेगी. मंगलवार को मुम्बई सेंट्रल से आने वाली ट्रेन भी जयपुर पहुंचेगी. यानी मंगलवार से अधिकांश ट्रेनों का संचालन शुरू हो जाएगा. कुलमिलाकर यात्रियों के लिए अब आवागमन सुगम होगा और लोग अपने गंतव्य तक पहुंच सकेंगे. 

...फर्स्ट इंडिया के लिए काशीराम चौधरी की रिपोर्ट

राजस्थान में राज्यसभा चुनाव की बिछी चौसर, तीन सीटों पर चार उम्मीदवार मैदान में 

जयपुर: राजस्थान में राज्यसभा चुनाव की चौसर बिछ गई है.3 सीटों पर 4 उम्मीदवार चुनावी समर में उतरे है, दो भाजपा से और दो कांग्रेस से.तीसरी सीट के लिये रोमांचक जंग के आसार है. वोटों का गणित कांग्रेस के पक्ष में है,करीब 122 से 125 वोट कांग्रेस खेमे में माने जा रहे ,बीजेपी को उम्मीद है सेंध लगाने की.  

पूरे 200 विधायकों के वोट हैं मान्य: 
राज्यसभा चुनाव की गणित की बात करे तो एक सीट को जीतने के लिए कितने वोट चाहिए?  दरअसल, प्रदेश की तीन सीटों पर हो रहे चुनाव को लेकर पूरे 200 विधायकों के मान्य वोट हैं. प्रदेश की इन तीनों सीटों की बात करें तो हर एक सीट को जीतने के लिए प्रथम वरीयता के लिए 51 वोट चाहिए. कांग्रेस ने दोनों उम्मीदवारों को बराबरी का वोट दिलाने की रणनीति बना ली थी.

सत्ताधारी दल के पास वोटों की गणित की बात करे तो
कांग्रेस - 107
निर्दलीय - 13
बीटीपी-2
आरएलडी-1
सीपीएम - 2
कांग्रेस +=125 

बीजेपी +
72 वोट
RLP - 2
कुल वोट-74

कांग्रेस को दो सीट जीतने के लिए चाहिए 102 वोट:
तय फॉर्मूले के अनुसार कांग्रेस को दो सीट जीतने के लिए 102 वोट चाहिए जो कि पर्याप्त रूप से उसके पास हैं. वहीं बात करते है कि भाजपा के पास सदन में 72 विधायक हैं, ऐसे में प्रथम वरीयता के 51 वोट चाहिए लिहाजा भाजपा के खाते में भी एक सीट आने वाली है. दो सीटों पर बीजेपी की जीत की संभावना तभी है जब निर्दलियों और कांग्रेस कैम्प में सेंध लगे.

दक्षिण-पश्चिमी मॉनसून पहुंच गया केरल, अगले 24 घंटे में लक्षद्वीप में भारी बारिश की संभावना

बीजेपी की रणनीति
-असंतुष्ट कांग्रेस विधायकों का समर्थन जुटाना
-लेकिन वोट दिखाकर देना होगा
-कांग्रेस विधायक दल के व्हीप का पालन करना अनिवार्य होगा
-क्रास वोट, अनुपस्थित और पेन/स्याही की गलती करने पर ही बीजेपी को लाभ
-निर्दलीय विधायकों का वोट गोपनीय होता है दिखाकर और नहीं दिखाकर दोनों तरीके से वोट दे सकते है
-बीजेपी की कोशिश निर्दलियों के वोट में सेंध लगे, हालांकि कार्य आसान नहीं है

बहरहाल चुनाव तो चुनाव ही है.लॉक डाउन के कारण रिसोर्ट राजनीति भले ही नजर ना आये लेकिन खेमेबंदी साफ नजर आने वाली है.

...फर्स्ट इंडिया के लिए योगेश शर्मा की रिपोर्ट 

निजी अस्पतालों के लिए एडवाइजरी जारी, कोरोना मरीजों का फ्री इलाज, अन्यथा होगी सख्त कार्रवाई 

Coronavirus Updates: राजस्थान में कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा पहुंचा 579, देखें जिलेवार संख्या

जयपुर: प्रदेश में लगातार कोरोनो संक्रमित लोगों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है. आज सुबह 7 बजे तक पूरे राजस्थान से कोरोना पॉजिटिव के 18 नए केस सामने आए. इनमें कोटा से 14 और बीकानेर से 4 पॉजिटिव केस सामने आए हैं. इसके साथ ही राजस्थान में पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 579 तक जा पहुंचा है. जबकि कोरोना से 8 लोगों की मौत भी हो चुकी है.

इंडियन आर्मी ने सिखाया पाकिस्तान को सबक, सीमा पार आतंकी अड्डों को किया तबाह  

सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मरीज जयपुर में 221:
राजस्थान में सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मरीज जयपुर में 221, जोधपुर में 43, कोटा में 33, झुंझुनूं में 31, भीलवाड़ा में 28, बांसवाड़ा में 24, टोंक में 27, जैसलमेर में 27, बीकानेर 24, जैसलमेर में 19, झालावाड़ में 12, चूरू में 11, भरतपुर में 9, दौसा में 7, अलवर में 6, अजमेर में 5, डूंगरपुर में 5, उदयपुर में 4, पाली-प्रतापगढ़-करौली में 2-2, नागौर-सीकर-बाड़मेर-धौलपुर में एक-एक पॉजिटिव केस सामने आए हैं. इसके साथ इटली के दो, ईरान से आए 50 भारतीय समेत 579 पॉजिटिव केस सामने आए हैं. 

राजस्थान में अब तक 22349 लोगों की जांच हुई: 
राजस्थान में अब तक 22349 लोगों की जांच हुई है उनमें से 20698 सैम्पल्स की रिपोर्ट नेगेटिव आई है. इसके अलावा प्रदेश में अभी तक 1072 सैम्पल की जांच लैब में प्रक्रियाधीन है. वहीं राहतभरी खबर यह है कि अब तक 72 पॉजिटिव केस नेगेटिव हो चुके हैं जिनमें से 52 को डिस्चार्ज किया जा चुका है. 

1 मई तक बढ़ेगा राजस्थान में लॉक डाउन, सीएम आवास पर हुई बैठक में हुआ फैसला! 

देश में अब तक 7400 से ज्यादा लोग चपेट में: 
वहीं देश में अब तक 7400 से ज्यादा लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं. साथ ही 239 लोगों की अब तक मौत भी हो चुकी है. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक पिछले 24 घंटे में देश में 1035 नए कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है. भारत में 24 घंटों के दौरान बढ़े संक्रमित मरीजों का यह अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है. वहीं कोरोना वायरस के कारण 24 घंटों में 40 नई मौतें दर्ज की गई हैं.
 

Coronavirus Updates: एक साल के लिए टला खेलों का महाकुंभ, टोक्यो ओलंपिक पर लगा ब्रेक

Coronavirus Updates: एक साल के लिए टला खेलों का महाकुंभ, टोक्यो ओलंपिक पर लगा ब्रेक

क्राइस्टचर्च: कोरोना वायरस की वजह से इस साल का टोक्यो ओलंपिक का आयोजन एक साल के लिए टल गया है. कोरोना वायरस की वजह से जापान ने ओलंपिक को टालने का प्रस्ताव दिया था. अमेरिका, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के ओलंपिक खेलों के लिए खिलाड़ी ना भेजने के फैसले के बाद ही इस महाकुंभ को एक साल के लिए टालने का दबाव बन रहा था.

कोरोना बचाव को लेकर केन्द्र और राज्य सरकार को सराहा, बीजेपी प्रदेश मुख्यालय में हुई बैठक 

अब यह 2021 में खेला जाएगा:
ओलंपिक के इस महाकुंभ का आयोजन 24 जुलाई से नौ अगस्त 2020 के बीच होना था. अब यह 2021 में खेला जाएगा. कोरोना वायरस के चलते अब तक विश्वभर में 17,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

Hanta Virus: चीन में हंता वायरस ने दी दस्तक, एक शख्स की मौत, 32 लोग संदिग्ध! 

आयकर रिटर्न की तारीख बढ़ाई:
वहीं कोरोना संकट के चलते देश में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर वित्त मंत्री ने कहा कि जल्द ही आर्थिक पैकेज का ऐलान किया जाएगा. इसके साथ ही आयकर रिटर्न की तारीख बढ़ाने का ऐलान भी वित्त मंत्री ने किया. वित्त मंत्री ने कहा- वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए आयकर रिटर्न की तारीख 31 मार्च के बजाए 30 जून 2020 होगी. वित्त मंत्री ने बताया कि रिटर्न में देरी पर लेट भुगतान 12% से घटाकर 9% किया गया.

डोनाल्ड ट्रंप का भारत दौरा अगले हफ्ते, स्वागत के लिए अहमदाबाद पूरी तरह से तैयार

डोनाल्ड ट्रंप का भारत दौरा अगले हफ्ते,  स्वागत के लिए अहमदाबाद पूरी तरह से तैयार

अहमदाबाद: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अगले सप्ताह भारत दौरे पर होंगे और दिल्ली, अहमदाबाद-आगरा का दौरा करेंगे. अपने पहले भारत दौरे पर आ रहे डोनाल्ड ट्रंप के स्वागत के लिए अहमदाबाद पूरी तरह से तैयार है. अमेरिकी डोनाल्ड ट्रंप के भारत की धरती पर कदम रखने से पहले ही जमीन से आसमान तक सुरक्षा एजेंसियां मुस्तैद हो चुकी हैं. सुरक्षा व्यवस्था को फुलप्रूफ करने के लिए अमेरिकी सीक्रेट सर्विस का एक विशेष विमान सोमवार को अहमदाबाद पहुंचा. 

दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम का करेंगे उद्धाटन:
सुरक्षा से जुड़े उपकरणों के साथ सीक्रेट सर्विस के एजेंट अहमदाबाद के हयात होटल में रुके हुए हैं. अहमदाबाद पहुंचने के बाद डोनाल्ड ट्रंप एयरपोर्ट से साबरमती आश्रम जाएंगे और फिर दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम का उद्धाटन करेंगे. ट्रंप के सुरक्षा के लिहाज से मोटेरा स्टेडियम का हर कोना CCTV की निगरानी में होगा. रोड शो के दौरान एनएसजी कमांडो और अमेरिकी स्नाइपर इमारतों पर तैनात होंगे.

30 सालों से पैरों के बीच झूल रही थी 8 किलो की गांठ, SMS में हुआ सफल ऑपरेशन

अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में होने वाले कार्यक्रम का नाम अब ‘केम छो ट्रंप’ की जगह ‘नमस्ते ट्रंप’ कर दिया गया है. अहमदाबाद के प्रशासन ने इसकी पुष्टि की है और पोस्टर भी जारी किए हैं. 24 फरवरी को यह कार्यक्रम आयोजित होगा, जो डोनाल्ड ट्रंप के दौरे का पहला कार्यक्रम होगा.

अमेरिकी राष्ट्रपति का होगा भव्य स्वागत:
अहमदाबाद एयरपोर्ट पर अमेरिकी राष्ट्रपति का भव्य स्वागत होगा. एयरपोर्ट से साबरमती आश्रम तक पीएम मोदी और डोनाल्ड ट्रंप करीब 7 किमी. का रोड शो निकालेंगे. इस दौरान सड़क के दोनों ओर समर्थकों का हुजूम होगा. साबरमती आश्रम में महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देने के बाद दोनों नेता मोटेरा क्रिकेट स्टेडियम का उद्घाटन करेंगे.

VIDEO: विधायकों, मंत्रियों की सिफारिशों की सूची वायरल होने के बाद शिक्षकों के प्रतिनियुक्ति आदेश निरस्त

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, लेडी मेलानिया ट्रंप 24-25 फरवरी को अहमदाबाद, नई दिल्ली जाएंगे. 24 फरवरी को ट्रंप और मेलानिया आगरा जाएंगे, जहां पर दोनों ताजमहल का दीदार करेंगे. दोनों करीब तीन घंटे तक आगरा में रहेंगे. 25 फरवरी को बैठक के दौरान डोनाल्ड ट्रंप देश के बड़े बिजनेसमैन से मुलाकात करेंगे.

मुंबई आंतकी हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद को टेरर फंडिंग केस में 5 साल की सजा

मुंबई आंतकी हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद को टेरर फंडिंग केस में 5 साल की सजा

नई दिल्ली: मुंबई आंतकी हमलों का मास्टरमाइंड और जमात उद दावा (जेयूडी) प्रमुख हाफिज सईद को टेरर फंडिंग केस में 5 साल कैद की सजा सुनाई गई है. न्यूज एजेंसी ANI और भाषा ने पाकिस्तानी मीडिया के हवाले से यह खबर दी है. 

आतंकवादी हमले होने की इनपुट मिलने के बाद आईबी की ओर से अलर्ट जारी, जयपुर में बढ़ी सुरक्षा

आतंकवादी फंडिंग से जुड़े दो मामलों फैसला रखा था सुरक्षित:
पिछले हफ्ते लाहौर की आतंकवाद रोधी अदालत (एटीसी) ने प्रतिबंधित जमात-उद-दावा (जेयूडी) के सरगना व 26/11 मुंबई आतंकवादी हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के खिलाफ आतंकवादी फंडिंग से जुड़े दो मामलों में अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था. ये मामले आतंकवाद रोधी विभाग (सीटीडी) की लाहौर और गुजरांवाला शाखाओं की ओर से दाखिल किए गए हैं.

विधानसभा में उठा कोरोना वायरस का मामला, मंत्री डॉ रघु शर्मा ने किया आश्वस्त

हाफिज सईद पर पाकिस्तान में 23 आतंकी मामले दर्ज:
हाफिज सईद पर पाकिस्तान में 23 आतंकी मामले दर्ज हैं. भारत द्वारा उसके खिलाफ आतंकी मामलों की डोजियर के बावजूद, उसे पाकिस्तान में खुलेआम घूमने और भारत विरोधी रैलियों को प्रभावशाली तरीके से संबोधित करने की अनुमति दी गई थी.

Open Covid-19