तालाब में डूबने से 3 बच्चों की मौत, भैंसों को निकालते समय हुआ हादसा

तालाब में डूबने से 3 बच्चों की मौत, भैंसों को निकालते समय हुआ हादसा

डूंगरपुर: जिले के दोवड़ा थाना क्षेत्र के रामगढ़ गांव में तालाब में डूबने से 3 बच्चों की मौत हो गई. तीनों बच्चे आपस में चचेरे भाई बहन थे और तालाब में नहा रही भैंसों को निकालने के लिए तालाब में उतरे थे. दोवड़ा थाना अधिकारी सुरेन्द्र सोलंकी ने बताया कि रामगढ़ गांव निवासी 12 वर्षीय सपना पारगी, 13 वर्षीय ललित पारगी और 14 वर्षीय अर्चना पारगी आपस में चचेरे भाई-बहन है और बुधवार दोपहर अपनी भैंसों को ढूंढने निकले थे तब उन्होंने देखा कि उनकी भैंसे गांव के तालाब के पानी में बैठी थी. 

सहकारी बैंकों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के परिवीक्षा वेतन में की वृद्धि 

भैंसों को निकालने के लिए पानी में उतरने से डूबे: 
तीनों बच्चे भैंसों को निकालने के लिए पानी में उतरे तथा गहरे पानी तक चले गए और डूबने लगे. बच्चों के चिल्लाने की आवाज सुनकर आस-पास के ग्रामीण दौड़ पड़े और थोड़ी देर बाद बच्चो को पानी से निकालकर रामगढ़ अस्पताल पहुंचाया. इधर अस्पताल में जांच के बाद डॉक्टरों ने तीनों बच्चों को मृत घोषित कर दिया. 3 बच्चों की मौत की सूचना गांव में आग की तरह फ़ैल गई और बड़ी संख्या में ग्रामीण अस्पताल की और पहुंचे. 

अजमेर के गुरुजी की रासलीला आयी सामने, परीक्षा देने गई नाबालिग छात्रा को घर ले जाकर की अश्लील हरकत 

पुलिस ने तीनों शवों का पोस्टमार्टम करवाते हुए शव परिजनों को सौंपे:
वहीं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गणपति महावर, उपाधीक्षक प्रभातीलाल और दोवड़ा थानाधिकारी सुरेन्द्र सोलंकी भी अस्पताल पहुंचे. परिजनों से रिपोर्ट लेने के बाद पुलिस ने तीनों शवों का पोस्टमार्टम करवाते हुए शव परिजनों को सौंप दिए साथ ही घटना स्थल का मौका मुआयना भी किया. अधिकारियों ने बताया कि मृत तीनों बच्चे गरीब परिवार से है इस कारण उनके परिवार को सरकार से आर्थिक सहायता दिलाने के प्रयास किये जाएंगे. 

और पढ़ें