नई दिल्ली Covid-19: 4,345 बच्चों ने कोविड के कारण अपने माता-पिता को गंवाया, महाराष्ट्र में मामले सबसे आगे

Covid-19: 4,345 बच्चों ने कोविड के कारण अपने माता-पिता को गंवाया, महाराष्ट्र में मामले सबसे आगे

Covid-19: 4,345 बच्चों ने कोविड के कारण अपने माता-पिता को गंवाया, महाराष्ट्र में मामले सबसे आगे

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने बुधवार को संसद को बताया कि कोविड-19 महामारी के के कारण 4,345 बच्चों ने अपने परिजन खो दिए और इस मामले में अन्य राज्यों के मुकाबले महाराष्ट्र सबसे आगे रहा जहां ऐसे बच्चों की संख्या 790 है.

केंद्रीय महिला और बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने राज्यसभा को एक सवाल के लिखित जवाब में यह जानकारी दी. कोविड-19 संक्रमण के कारण अपने माता और पिता को गंवाने वाले बच्चों की संख्या के बारे में पूछे गए गए प्रश्न पर ईरानी ने 36 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के आंकड़े प्रस्तुत करते हुए बताया कि ऐसे बच्चों की कुल संख्या 4,345 है.

351 बच्चों ने माता और पिता को कोरोना से गंवाया:
उनके मुताबिक महाराष्ट्र में 790, उत्तर प्रदेश में 441, मध्य प्रदेश में 428, तमिलनाडु में 394 और आंध्र प्रदेश में 351 बच्चों ने अपने माता और पिता को कोरोना की वजह से गंवाया. केंद्रीय मंत्री द्वारा प्रस्तुत आंकड़ों के मुताबिक त्रिपुरा, सिक्किम, लक्षद्वीप, लद्दाख और अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह में एक भी ऐसा बच्चा नहीं है, जिसने कोविड-19 के कारण अपने माता-पिता को गंवाया.

पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना की घोषणा की:
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोविड-19 महामारी के कारण माता-पिता खो चुके बच्चों का सहयोग करने के लिए पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना की घोषणा की है.उन्होंने कहा कि इस योजना का उद्देश्य बच्चों की व्यापक देखभाल और सुरक्षा सुनिश्चित करना और स्वास्थ्य बीमा के माध्यम से उनका कल्याण करना, शिक्षा के माध्यम से उन्हें सशक्त बनाना तथा उन्हें 23 वर्ष की आयु तक वित्तीय सहायता के जरिए आत्मनिर्भर बनाना है. सोर्स-भाषा

और पढ़ें