Live News »

राज्य में अटकी हैं 44 हजार पदों पर नियुक्तियां, कब मिलेगा बेरोजगारों को न्याय !

राज्य में अटकी हैं 44 हजार पदों पर नियुक्तियां, कब मिलेगा बेरोजगारों को न्याय !

जयपुर। प्रदेश के बेरोजगारों के साथ अन्याय न जाने कब जाकर थमेगा? पिछले साल विभिन्न विभागों में शुरू की गई बंपर भर्तियों में करीब 44 हजार से ज्यादा पदों पर नियुक्तियां आज भी अटकी हुई हैं। बेरोजगारों को इंतजार है कि नई सरकार उनकी जल्द से जल्द नियुक्ति का मार्ग प्रशस्त करें। पिछले साल सरकार ने 1.25 लाख से अधिक पदों की भर्तियां निकाली थी। करीब 17 बड़ी भर्तियां ऐसी है जो न्यायिक सहित अन्य किसी ना किसी कारण से अटकी हुई है और तो और आरएएस भर्ती-2016 के चयनित तो अभी नियुक्ति के लिए ही चक्कर काट रहे हैं। अटकी हुई भर्तियों को लेकर पेश है विशेष रिपोर्ट-

प्रदेश में चुनावी साल के मद्देनजर बड़ी संख्या में भर्तियां निकलीं, हालांकि कई भर्तियां इससे पहले की भी हैं। ज्यादातर भर्तियों की एजेंसी, आरपीएससी और कर्मचारी चयन बोर्ड जैसे निकाय हैं। अटकी भर्तियों में 15361 पदों की भर्तियों के लिए प्रतियोगी परीक्षा तो आयोजित हो गई, लेकिन अभ्यर्थी परिणाम का इंतजार कर रहे हैं। 7821 पदों की भर्तियों का परिणाम ही जारी नहीं हुआ। 7879 पदों की भर्तियों के लिए परिणाम तो जारी कर दिया गया, लेकिन नियुक्ति अटकी हुई है। इनके अलावा आरएएस भर्ती-2018 की मुख्य परीक्षा और एलडीसी भर्ती-2018 की दूसरे चरण की परीक्षा होना बाकी है। दोनों में ही कुल पदों की संख्या 12272 है। बेरोजगारों का कहना है कि एक समयबद्ध कार्यक्रम के अनुसार ही नियुक्ति प्रकि्रया समय पर पूरी हो जानी चाहिए। 

इनका परिणाम जारी, लेकिन नियुक्ति का आज भी इंतजार:

भर्ती का नाम                            पदों की संख्या
पीटीआई भर्ती परीक्षा 2018          4500
पशुधन सहायक भर्ती 2018          2077
सूचना सहायक भर्ती 2018           1302
 
परीक्षा हो गई, लेकिन परिणाम जारी नहीं हुआ:
 
 भर्ती का नाम                                                     पदों की संख्या
 एसआई भर्ती 2016                                                 330
 द्वितीय श्रेणी शिक्षक भर्ती 2018                                 9000
 प्रधानाध्यापक भर्ती 2018                                         1200
 कृषि पर्यवेक्षक भर्ती 2018                                        1832
 प्रयोगशाला सहायक भर्ती 2018                                 1200
 एनटीटी भर्ती परीक्षा 2018                                         1310
 आंगनबाड़ी महिला पर्यवेक्षक भर्ती 2018                       309
 महिला अधिकारिता विभाग में पर्यवेक्षक भर्ती 2018         180

 इन भर्तियों की अभी तक परीक्षा ही नहीं हुई:
 
 भर्ती का नाम                                  पदों की संख्या
 स्टेनोग्राफर भर्ती 2018                         1085
 फार्मासिस्ट भर्ती 2018                         1736
 स्कूल व्याख्याता भर्ती 2018                   5000

आरएएस 2016- 725 - मामला सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन
आरएएस 2018 - 1017 - प्री का परिणाम जारी, अब मुख्य परीक्षा जून में
एलडीसी 2018 - 11255 - परिणाम जारी हो गया, लेकिन दूसरे चरण की परीक्षा बाकी

और पढ़ें

Most Related Stories

राजस्थान सरकार ने किए 1 IAS और 14 RAS अधिकारियों के तबादले, यहां देखे पूरी लिस्ट

राजस्थान सरकार ने किए 1 IAS और 14 RAS अधिकारियों के तबादले, यहां देखे पूरी लिस्ट

जयपुर: राजस्थान सरकार ने को सूबे के प्रशासनिक अमले में बड़ा फेरबदल किया है. राज्य सरकार ने आरएएस अफसरों के भी ट्रांसफर के आदेश जारी कर दिए हैं. सरकारी आदेश के मुताबिक कुल 14 आरएएस अधिकारियों के ट्रांसफर किए गए हैं. इनके अलावा एक आईएस अधिकारी का भी तबादला हुआ है. 

- IAS देवेंद्र कुमार को लगाया सुमेरपुर SDM
- RAS नसीम खान को लगाया उप निदेशक,अल्पसंख्यक मामलात
- संतोष कुमार मीणा को लगाया SDM अकलेरा
- गोमती शर्मा को लगाया SDM रानी,पाली
- सुनील आर्य को लगाया SDM बयाना
- भारत भूषण गोयल को लगाया SDM देवली
- राजेंद्र सिंह-II को लगाया SDM किशनगढ़
- शैलेंद्र सिंह को लगाया SDM जसवंतपुरा
- कंचन राठौड़ को लगाया SDM बालेसर
- प्रकाश चंद्र रैगर को लगाया SDM खेरवाड़ा
- सुमित्रा पारीक को लगाया SDM बावड़ी
- महावीर सिंह जोधा को लगाया SDM गडरा रोड,बाड़मेर
- पुष्पा कंवर सिसोदिया को लगाया SDM मारवाड़ जंक्शन
- निशा सहारण को लगाया सहायक कलेक्टर चौमूं
- अनीता कुमारी खटीक को लगाया सहायक निदेशक,लोक सेवाएं,समन्वय विभाग,टोंक
- 2 RAS अधिकारियों के तबादले किए गए निरस्त

नौतपा के चौथे दिन भी जमकर तपी मरूधरा, भीषण गर्मी और लू का प्रकोप,  गर्मी में श्रीगंगानगर ने चूरू को पछाड़ा 

नौतपा के चौथे दिन भी जमकर तपी मरूधरा, भीषण गर्मी और लू का प्रकोप,  गर्मी में श्रीगंगानगर ने चूरू को पछाड़ा 

जयपुर: 25 मई से शुरू हुए नौतपा के चौथे दिन भी मरूधरा में सूर्य देव लगातार उगल रहे हैं. नौतपा के दौरान राजस्थान के कई जिलों में तापमान में लगातार बढ़ोतरी हो रही है जिसकी वजह से दिनचर्या में काफी बदलाव आया है. लोग लॉकडाउन और तेज गर्मी की वजह से अनावश्यक रूप से घरों से बाहर नहीं निकल रहे हैं जिसकी वजह से खासतौर से दोपहर बाद सड़कों और बाजारों में सन्नाटा पसरा रहता है. वही लोग तेज गर्मी से बचाव के लिए एसी और कूलर का सहारा ले रहे हैं तो वहीं कुछ शीतल पेय पदार्थों का इस्तेमाल कर तेज गर्मी से राहत लेने की कोशिश कर रहे हैं. 

कोरोना संकट के बीच सीएम गहलोत के अहम फैसले, 2 अहम परियोजनाओं पर लगाई मुहर

भीषण गर्मी और लू का प्रकोप जारी:
प्रदेश में भीषण गर्मी और लू का प्रकोप जारी है. गर्मी में गुरुवार को श्रीगंगानगर ने चूरू को पछाड़ा दिया है. श्रीगंगानगर में गुरुवार को 46.9डिग्री तापमान दर्ज किया गया है. जबकि चूरू में 46.6 डिग्री तापमान दर्ज हुआ है. बीकानेर में 45.2,जैसलमेर में 45.4, कोटा में 45 दर्ज किया गया है.

बाड़मेर तापमान 44.3 दर्ज:
वहीं बात करें बाड़मेर की, तो यहां पर 44.3 डिग्री तापमान दर्ज किया गया है,अजमेर 41.1,डबोक 39.4,जोधपुर 42.3, राजधानी जयपुर में 44.1 डिग्री तापमान दर्ज हुआ है. मौसम विभाग से गुरुवार को येलो अलर्ट जारी कर रखा है. येलो अलर्ट के तहत 6 संभागों में हीट वेव की चेतावनी की गई है. 

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान के 33 जिलों में कोरोना वायरस की दस्तक, पिछले 24 घंटे में 7 मरीजों की मौत, 251 नए केस आये सामने

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान के 33 जिलों में कोरोना वायरस की दस्तक, पिछले 24 घंटे में 7 मरीजों की मौत, 251 नए केस आये सामने

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान के 33 जिलों में कोरोना वायरस की दस्तक, पिछले 24 घंटे में 7 मरीजों की मौत, 251 नए केस आये सामने

जयपुर: राजस्थान में लगातार कोरोना वायरस के मामले बढते जा रहे है. पिछले 24 घंटे में 7 मरीजों की मौत हो गई. जबकि 251 नए पॉजिटिव केस सामने आये है. अलवर, बांसवाड़ा, दौसा, जयपुर, करौली, नागौर और दूसरे राज्य के 1-1 मरीज की मौत हो गई. सर्वाधिक 69 पॉजिटिव केस अकेले झालावाड़ में सामने आये है. अजमेर में 6, भरतपुर 12, भीलवाड़ा 1, बीकानेर 7, बूंदी 1, चूरू 5, दौसा 4, डूंगरपुर 1, हनुमानगढ़ 3, जयपुर 7, जालोर-1, झुंझुनूं-7, जोधपुर 64, कोटा 9, नागौर 9, पाली 32, सवाई माधोपुर-1, सीकर 10, सिरोही 1 और दूसरी राज्य का एक पॉजिटिव मरीज सामने आया है. राजस्थान में कुल  मौत का आंकड़ा 180 पहुंच गया है. वहीं पॉजिटिव मरीजों की संख्या 8067 पहुंच गई है. इन पॉजिटिव मरीजों में प्रवासियों की संख्या 2 हजार 199 शामिल है.

जयपुर में कोरोना का बढ़ता दायरा:
राजधानी जयपुर में कोरोना का दायरा बढ़ता जा रहा है. पिछले 24 घंटे में 1 एक मरीज की मौत हो गई. 7 मरीज पॉजिटिव मरीज सामने आये है. भोजपुरा में 1, नंदलालपुरा में-2, SMS हॉस्पिटल में 1, मानसरोवर में 1, कैलाशपुरी आमेर रोड 1 और शास्त्री नगर में 1 पॉजिटिव केस सामने आया है. जयपुर में अब तक 85 लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि कुल मरीजों की संख्या 1 हजार 909 पहुंच गई है. 

नहीं बढ़ रहा फ्लाइट्स का संचालन, कोलकाता के लिए एयर कनेक्टिविटी शुरू होने का इंतजार

राजस्थान में राहत की खबर:
राजस्थान में बढ़ते पॉजिटिव केस के बीच राहत की खबर है. प्रदेश में 4566 केस अब तक पॉजिटिव से नेगेटिव हुए है. 3913 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज किया जा चुका है. जबकि शेष क्वॉरंटीन पीरियड पूरा होने पर घर भेजे जाएंगे. राजस्थान में फिलहाल कोरोना के 3202 एक्टिव केस है. इनमें 2149 प्रवासी राजस्थानी भी शामिल है.

राजस्थान के हर जिले तक पहुंचा कोरोना:
राजस्थान के हर जिले तक कोरोना वायरस ने दस्तक दे दी है. 33वें जिले के रूप में बूंदी में भी कोरोना की चपेट में आ गया है. 87 दिन बाद बूंदी जिले में पहला केस बुधवार को सामने आया है. अब तक सर्वाधिक जयपुर में सामने आए 1909 पॉजिटिव केस है, अजमेर में 311, अलवर में 51, बांसवाड़ा में 85, बारां में 8, बाड़मेर में 92, भरतपुर में 165, भीलवाड़ा में 134, बीकानेर में 94, बूंदी 1, चित्तौड़गढ़ में 175, चूरू में 90, दौसा में 50, धौलपुर में 45, डूंगरपुर में 332, श्रीगंगानगर में 5, हनुमानगढ़ में 21, जैसलमेर में 68, जालोर 154, झालावाड़ में 204, झुंझुनूं में 109, जोधपुर में 1311, करौली में 12, कोटा में 422, नागौर में 421, पाली में 394, प्रतापगढ़ में 13, राजसमंद में 135
सवाईमाधोपुर में 19, सीकर में 164, सिरोही 141, टोंक में 163, उदयपुर में 523, दूसरे राज्यों के 13 मरीज अब तक कोरोना पॉजिटिव, इसके अलावा इटली के दो, ईरान से आए 61 यात्री पॉजिटिव, BSF के 50 जवान अब तक पॉजिटिव आ चुके है.

कोरोना संकट के बीच सीएम गहलोत के अहम फैसले, 2 अहम परियोजनाओं पर लगाई मुहर

कोरोना संकट के बीच सीएम गहलोत के अहम फैसले, 2 अहम परियोजनाओं पर लगाई मुहर

जयपुर: कोरोना संकट के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अहम फैसले लेते हुए दो परियोजना पर मुहर लगाई. सीएम गहलोत ने एक तरफ जहां प्रदेश की 10 कृषि उपज मंडियों में ई-नाम परियोजना से संबंधित समस्त कार्य पायलट प्रोजेक्ट के रूप में कराने को स्वीकृति दी, वहीं राज्य के सभी 33 जिलों के गजेटियर्स नए सिरे से तैयार कराने पर भी अपनी मुहर लगा दी. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सिर्फ कोरोना मामले में ही व्यस्त नहीं है, बल्कि प्रदेश से जुड़े अन्य अहम कार्यों पर भी फोकस किए हुए हैं. 

प्रदेश की 10 मंडियों में पायलट प्रोजेक्ट को मंजूरी:
सीएम गहलोत ने गुरुवार को दो अहम फैसले किए.पहला फैसला किसानों से जुड़ा है.गहलोत ने प्रदेश की 10 कृषि उपज मंडियों में ई-नाम परियोजना से संबंधित समस्त कार्य पायलट प्रोजेक्ट के रूप में विशेषज्ञ संस्था के माध्यम से कराए जाने के प्रस्ताव को स्वीकृति दी है. इस मंजूरी से इन मंडियों में राष्ट्रीय कृषि बाजार (ई-नाम) परियोजना का कार्य बेहतर ढंग से संचालित हो सकेगा.

स्पीक अप इंडिया अभियान: सोशल मीडिया पर जुड़े कांग्रेसी, केन्द्र सरकार से की मांग, गरीब मजदूरों, श्रमिकों को मिले सीधे पैसा

-राज्य की 25 मंडी समितियों में यह परियोजना चल रही है
-शेष 119 मंडी समितियों को भी इससे जोड़ा जा रहा है
-इस प्रोजेक्ट को सुगम एवं सुचारू संचालित किया जाएगा
-पायलट प्रोजेक्ट के तहत काम करने को दी गई मंजूरी
-12 माह के लिए विशेषज्ञ एजेंसी की सेवाएं ली जाएंगी
-दस मंडियों को दो क्लस्टर में बांटकर काम होगा
-पहले क्लस्टर में कोटा, बारां, रामगंजमंडी, बूंदी एवं देवली शामिल
-दूसरे क्लस्टर में श्रीगंगानगर, नागौर, बीकानेर, मेड़ता सिटी एवं
-जोधपुर अनाज मंडी को शामिल किया गया है

33 जिलों के गजेटियर्स तैयार कराएगी सरकार:
सीएम गहलोत ने एक और अहम परियोजना को मंजूरी देते हुए प्रदेश के सभी 33 जिलों के गजेटियर्स का नए सिरे से लेखन कराने का फैसला किया है. इसके तहत हर साल कम से कम 6 जिलों के गजेटियर का लेखन कर इनका प्रकाशन कराया जाएगा. प्रथम चरण में अलवर, बांसवाड़ा, जोधपुर, करौली, हनुमानगढ़ और प्रतापगढ़ जिलों के गजेटियर्स के लेखन एवं प्रकाशन का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है. इनमें से प्रत्येक जिले के लिए 5 लाख रूपए के अनुसार कुल 30 लाख रूपए का बजट प्रावधान किया गया है. इसी के साथ अगले चरण में चूरू, भरतपुर, गंगानगर, बीकानेर, जैसलमेर एवं जालौर जिले की सूचना का संकलन एवं लेखन का कार्य किया जाएगा. मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि सभी जिलों के गजेटियर्स लेखन में एकरूपता एवं प्रामाणिकता रखने के लिए इन्हें राज्य स्तर पर चुनिंदा लेखकों से ही लिखवाया जाए. गौरतलब है कि पूर्व में प्रकाशित सभी जिला गजेटियर्स 15 से 40 वर्ष तक पुराने हैं. सीएम ने इस साल बजट में जिला गजेटियर्स के नए सिरे से लेखन करवाने की महत्वपूर्ण घोषणा की थी.

नहीं बढ़ रहा फ्लाइट्स का संचालन, कोलकाता के लिए एयर कनेक्टिविटी शुरू होने का इंतजार

नहीं बढ़ रहा फ्लाइट्स का संचालन, कोलकाता के लिए एयर कनेक्टिविटी शुरू होने का इंतजार

जयपुर: घरेलू फ्लाइट्स का संचालन शुरू हुए गुरुवार को चौथा दिन है, लेकिन जयपुर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर अभी भी फ्लाइट्स का संचालन नहीं बढ़ पा रहा है. हालांकि आज अपेक्षाकृत रूप से यात्रीभार अधिक देखा जा रहा है. लेकिन इसके बावजूद गुरुवार को 20 में से 11 फ्लाइट रद्द रही हैं. फ्लाइट संचालन के चौथे दिन भी पश्चिम बंगाल के लिए एयर कनेक्टिविटी शुरू नहीं हो सकी है. जयपुर से पश्चिम बंगाल के कोलकाता के लिए इंडिगो एयरलाइन ने एक फ्लाइट शुरू करने का शेड्यूल दिया है, लेकिन पश्चिम बंगाल की राज्य सरकार के विरोध के कारण अभी तक इस फ्लाइट को उड़ान भरने की मंजूरी नहीं मिल सकी. एयरपोर्ट प्रशासन से जुड़े सूत्रों का कहना है कि शुक्रवार से कोलकाता के लिए फ्लाइट शुरू हो सकती है.

मुम्बई के लिए फिर रद्द हुई इंडिगो की फ्लाइट:
हालांकि गुरुवार को भी कुल फ्लाइट्स की संख्या में कमी देखी गई है. बुधवार को जहां जयपुर एयरपोर्ट से 10 फ्लाइट संचालित हुई थीं, वहीं आज 9 फ्लाइट ही संचालित हो रही हैं. दरअसल चार एयरलाइंस ने जयपुर एयरपोर्ट से कुल 20 फ्लाइट संचालित करने के लिए शेड्यूल दिया था. इनमें सर्वाधिक 8 फ्लाइट का शेड्यूल स्पाइसजेट एयरलाइन ने दिया था. इंडिगो ने 6 फ्लाइट, एयर इंडिया और एयर एशिया ने तीन-तीन फ्लाइट संचालित करने की बात कही थी, लेकिन पिछले चार दिनों में अभी तक एक भी दिन सभी 20 फ्लाइट संचालित नहीं हो सकी हैं. गुरुवार को 11 फ्लाइट्स जयपुर एयरपोर्ट से रद्द की गई हैं. स्पाइसजेट की 6, इंडिगो की 2, एयर एशिया की 2 और एयर इंडिया की 1 फ्लाइट रद्द हुई है.

धौलपुर के सैपऊ में तूफान से गिरा मकान, मलबे में दबने से 3 लोगों की मौत 

ये 11 फ्लाइट आज रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 5:45 बजे सूरत जाने वाली फ्लाइट SG-2763 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 7:20 बजे जालंधर जाने वाली फ्लाइट SG-2750 हुई रद्द
- इंडिगो की सुबह 6:40 बजे मुंबई जाने वाली फ्लाइट 6E-218 हुई रद्द
- एयर इंडिया की सुबह 7:35 बजे आगरा जाने वाली फ्लाइट 9I-687 हुई रद्द
- इंडिगो की शाम 4:45 बजे कोलकाता जाने वाली फ्लाइट 6E-6156 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 8 बजे मुंबई जाने वाली फ्लाइट SG-279 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 9:45 बजे उदयपुर जाने वाली फ्लाइट SG-6632 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 11:15 बजे अमृतसर जाने वाली फ्लाइट SG-3522 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की दोपहर 2:15 बजे गुवाहाटी जाने वाली फ्लाइट SG-448 हुई रद्द
- एयर एशिया की सुबह 9:15 बजे बेंगलूरु जाने वाली फ्लाइट I5-1721 हुई रद्द
- एयर एशिया की शाम 5:15 बजे पुणे जाने वाली फ्लाइट I5-1427 हुई रद्द

हालांकि यात्रीभार में दिख रही अपेक्षाकृत बढ़ोतरी:
जिस तरह से एयरलाइंस अपने शेड्यूल के मुताबिक फ्लाइट संचालित नहीं कर रही हैं, उससे यात्रियों के लिए परेशानी बढ़ गई है. दरअसल जिन यात्रियों ने फ्लाइट में पहले से बुकिंग कर ली है, उनके टिकट को रद्द किया जा रहा है. इसके एवज में यात्रियों को उनकी राशि भी नहीं लौटाई जा रही है, बल्कि उनकी राशि को क्रेडिट शेल के रूप में एयरलाइन अपने पास ही रख रही हैं. ऐसे में यदि यात्रियों का दुबारा कोई शेड्यूल नहीं बैठता है तो उन्हें इसका रिफंड कभी नहीं मिल सकेगा. हालांकि एयरलाइंस का कहना है कि यात्री अगले एक साल की अवधि में इस क्रेडिट शेल की राशि से टिकट बुक करवा सकते हैं. आपको बता दें कि इस कारण जिन यात्रियों ने मुम्बई, जालंधर, सूरत आदि शहरों से आने या जाने के लिए टिकट बुक करवा रखे थे, उन्हें इसका नुकसान झेलना पड़ रहा है. अब देखना होगा कि फ्लाइट्स के रद्द होने का यह सिलसिला कितने दिनों तक जारी रहेगा.

COVID-19 की वैक्सीन बनाने में 30 ग्रुप कर रहे है काम, अक्टूबर तक मिल सकती है सफलता:  डॉ. राघवन

...फर्स्ट इंडिया के लिए काशीराम चौधरी की रिपोर्ट

स्पीक अप इंडिया अभियान: सोशल मीडिया पर जुड़े कांग्रेसी, केन्द्र सरकार से की मांग, गरीब मजदूरों, श्रमिकों को मिले सीधे पैसा

जयपुर: कांग्रेस ने गुरुवार को देशभर में सोशल मीडिया कैम्पेन चलाया. देश भर के कांग्रेस नेता और कार्यकर्ताओं की इसमें भागीदारी रही. राजस्थान से भी बड़ी तादाद में कांग्रेस नेता कैम्पेन से जुड़े. प्रवासी श्रमिकों ,कामगार ,मजदूर,मध्यम वर्ग,छोटे व्यापारियों की मांग केन्द्र सरकार के सामने रखी. डिप्टी सीएम और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने फेसबुक पर कहा कि जरुरत है प्रवासी श्रमिकों की पीड़ा को दूर करना,ये कार्य केन्द्र को करना चाहिए. कांग्रेस के कई नेता सोशल अभियान से जुड़े अविनाश पांडे ,डॉ रघु शर्मा समेत प्रमुख मंत्री विधायक और पदाधिकारी शामिल हुए. 

राजस्थान से ये दिग्गज हुए शामिल:
राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के आह्वान के बाद पूरी कांग्रेस गरीब कामगारों की आवाज बुलंद कर रही है, जिन्होंने लॉकडाउन में दंश झेला उनकी आवाज बुलंद की जा रही. स्पीक इंडिया कार्यक्रम के तहत कांग्रेस के प्रमुख नेता और कार्यकर्ता सोशल मीडिया अभियान में शामिल हुए. डिप्टी सी एम सचिन पायलट, कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी अविनाश पांडे ,चिकित्सा और स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ,मुख्य सचेतक डॉ महेश जोशी शामिल समेत दिग्गज शामिल हुए. 

SMS अस्पताल को कोरोना फ्री करने की तैयारी, चिकित्सा शिक्षा सचिव वैभव गालरिया ने व्यवस्थाओं का लिया जायजा

जेब तक सीधा पैसा पहुंचाया जाये:
सचिन पायलट ने फेसबुक पर कहा कि कांग्रेस पार्टी चाहती है ऐसे लोगों की मदद की जाए जो इनकम टैक्स तक नहीं दे पा रहे,उनकी जेब तक सीधा पैसा पहुंचाया जाये. पायलट ने सोशल मीडिया अभियान के जरिये केन्द्र सरकार से यहीं मांग की. पायलट ने कहा कि मनरेगा में राजस्थान में अच्छा काम किया है. कांग्रेस राज्य प्रभारी अविनाश पांडे ने कहा कि केंद्र सरकार से हमारी मांग है कि मध्यम वर्ग ,छोटे उधोग धंधो की मदद की जाये,मनरेगा में रोजगार 200दिन किया जाये,प्रवासी श्रमिकों को नि शुल्क सेवा से घर पहुंचाया जाये. चिकित्सा और स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कैम्पेन में भाग लिया और कांग्रेस की पहल का स्वागत किया. रघु शर्मा ने कहा कि महामारी से त्रस्त गरीब लोगों की मदद करना केन्द्र का नैतिक अधिकार हम उन्हें उनकी भूमिका याद दिला रहे.

COVID-19 की वैक्सीन बनाने में 30 ग्रुप कर रहे है काम, अक्टूबर तक मिल सकती है सफलता:  डॉ. राघवन

सोशल मीडिया कैम्पेन में टॉप पर रही:
ऐसा कहा जा रहा है कि राजस्थान की कांग्रेस सोशल मीडिया कैम्पेन में टॉप पर रही. मंत्री परिषद के तकरीबन सभी सदस्य , विधायक ,पीसीसी के पदाधिकरी, जिला अध्यक्ष, अग्रिम संगठनों के अध्यक्ष ,ब्लॉक अध्यक्ष शामिल हुए. मुख्य सचेतक महेश जोशी अपने श्रीगंगानगर दौरे के दौरान सोशल मीडिया अभियान से जुडे. फेसबुक,ट्विटर, इंस्टाग्राम पर कांग्रेस गुरुवार को छाई रही. जाहिर है बीजेपी को कांग्रेस उसी हथियार से घेरने में जुटी जिसके लिये बीजेपी को महारत हासिल थी,सोशल मीडिया रुपी हथियार के जरिये केन्द्र सरकार को घेरा जा रहा.

...फर्स्ट इंडिया के लिए योगेश शर्मा की रिपोर्ट

SMS अस्पताल को कोरोना फ्री करने की तैयारी, चिकित्सा शिक्षा सचिव वैभव गालरिया ने व्यवस्थाओं का लिया जायजा

SMS अस्पताल को कोरोना फ्री करने की तैयारी, चिकित्सा शिक्षा सचिव वैभव गालरिया ने व्यवस्थाओं का लिया जायजा

जयपुर: करीब ढाई माह के लम्बे इंतजार के बाद आम मरीजों के लिए शुरू हो रहे प्रदेश के सबसे बड़े एसएमएस अस्पताल में तैयारियां जोरशोर है. नॉन कोविड अस्पताल की शुरूआत से पहले प्रशासन किसी भी तरह की कमी नहीं रखना चाहता, जिसके लिए हर ब्लॉक में अलग-अलग व्यवस्थाएं की जा रही है.इन्हीं तैयारियों का जायजा लेने के लिए चिकित्सा शिक्षा सचिव वैभव गालरिया एसएमएस अस्पताल पहुंचे और वहां चल रही तैयारियों का जायजा लिया.

नॉन कोविड बनाने की दिशा में सभी तैयारियां पूरी:
गालरिया ने प्रशासनिक टीम के साथ चरक भवन, ओपीडी, आईपीडी, न्यू आईसीयू ब्लॉक, इमरजेंसी समेत अस्पताल के विभिन्न हिस्सों का एक घंटे तक निरीक्षण किया.इस दौरान IAS गौरव गोयल, SMS मेडिकल कॉलेज प्राचार्य डॉ.सुधीर भंडारी, SMS अस्पताल अधीक्षक डॉ.राजेश शर्मा, अति.अधीक्षक डॉ.एनएस चौहान, डॉ.अजीत सिंह, डॉ.जगदीश मोदी, डॉ.बीएम शर्मा समेत अन्य कई अधिकारी मौजूद रहे.निरीक्षण के बाद गालरिया ने बताया कि सरकार के निर्देशों की पालना में अस्पताल को नॉन कोविड बनाने की दिशा में सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है.

सोशल मीडिया पर कांग्रेस का कैम्पेन, सचिन पायलट, अविनाश पांडे समेत प्रमुख नेता हुए शामिल

अस्पताल के विभिन्न हिस्सों का एक घंटे किया निरीक्षण:
कोरोना के मरीजों की आरयूएचएस में शिफ्टिंग का काम जारी है.उन्होंने बताया कि बुखार, खासी, जुखाम समेत अन्य आईएलआई के केस के लिए चरक भवन में अलग से ओपीडी चलती रहेगी.इसके अलावा गंभीर मरीजों के लिए अस्पताल के ही ठीक पास स्थित संक्रामक रोग हॉस्पिटल में उपचार जारी रहेगा.गालरिया ने ये भी स्पष्ट किया कि चरक भवन में पहले संचालित हो रही स्कीन और ईएनटी डिपार्टमेंट को भी फिर से शुरू किया जाएगा.हालांकि, ये डिपार्टमेंट दूसरी जगह पर संचालित होंगे, ताकि संक्रमण का खतरा नहीं रहे. 

भाजपा नेता संबित पात्रा अस्पताल में भर्ती, कोरोना वायरस के लक्षण दिखने पर हुए अस्पताल में भर्ती

सोशल मीडिया पर कांग्रेस का कैम्पेन, सचिन पायलट, अविनाश पांडे समेत प्रमुख नेता हुए शामिल

सोशल मीडिया पर कांग्रेस का कैम्पेन, सचिन पायलट, अविनाश पांडे समेत प्रमुख नेता हुए शामिल

जयपुर: कांग्रेस ने गुरुवार से देशभर में सोशल मीडिया कैम्पेन चलाया. देशभर के कांग्रेस नेता और कार्यकर्ताओं की इसमें भागीदारी रही. राजस्थान से भी बड़ी तादाद में कांग्रेस नेता कैम्पेन से जुड़े. प्रवासी श्रमिकों ,कामगार ,मजदूर,मध्यम वर्ग,छोटे व्यापारियों की मांग केन्द्र सरकार के सामने रखी. 

जेब तक पहुंचे सीधा पैसा: 
डिप्टी सीएम और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने फेसबुक पर कहा कि जरुरत है प्रवासी श्रमिकों की पीड़ा को दूर करना,उन गरीब कामगारों की आवाज बुलंद करना,जिन्होंने लॉकडाउन में दंश झेला,पायलट ने फेसबुक पर कहा कि कांग्रेस पार्टी चाहती है ऐसे लोगों की मदद की जाए, जो इनकम टैक्स तक नहीं दे पा रहे,उनकी जेब तक सीधा पैसा पहुंचाया जाये. 

मुंबई से श्रमिक स्पेशल ट्रेन पहुंची चूरू, 120 प्रवासियों को चूरू लेकर पहुंची ट्रेन

कांग्रेस की पहल का स्वागत:
पायलट ने सोशल मीडिया अभियान के जरिए केन्द्र सरकार से यहीं मांग की. पायलट ने कहा कि मनरेगा में राजस्थान में अच्छा काम किया है. कांग्रेस राज्य प्रभारी अविनाश पांडे ने कहा कि केंद्र सरकार से हमारी मांग है कि मध्यम वर्ग ,छोटे उधोग धंधो की मदद की जाये,मनरेगा में रोजगार 200दिन किया जाये,प्रवासी श्रमिकों को नि शुल्क सेवा से घर पहुंचाया जाए. चिकित्सा और स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कैम्पेन में भाग लिया और कांग्रेस की पहल का स्वागत किया.

कोरोना का खौफ...! वक्त पर मिल जाती बुजुर्ग इंसान को मदद, तो बच सकती थी जान, 3 घंटे तक बाजार में रहा बेहोश 

Open Covid-19