अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर पीड़िता के पिता से मांगी थी 5 लाख की फिरौती, पुलिस ने मामले में किया बड़ा खुलासा

अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर पीड़िता के पिता से मांगी थी 5 लाख की फिरौती, पुलिस ने मामले में किया बड़ा खुलासा

अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर पीड़िता के पिता से मांगी थी 5 लाख की फिरौती, पुलिस ने मामले में किया बड़ा खुलासा

पोकरण(जैसलमेर): पोकरण शहर में बदमाशों द्वारा एक पिता से पुत्री के अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर 5 लाख की फिरौती मांगे के मामले का पुलिस ने बड़ा खुलासा करते हुए मामले के मुख्य मास्टर माइंड व गिरोह के सरगना कवियस को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है. वहीं गिरफ्तार आरोपी कम्प्यूटर साइंस की मास्टर डिग्री का छात्र भी है. उसी ने अपने मित्र के साथ योजना बनाकर शहर के एक पिता से पुत्री के अश्लील वीडियो वायरल नहीं करने की एवज में 5 लाख की रकम मांगी थी. आरोपियों के गिरफ्तार होने के बाद लाचार पिता ने राहत की सांस ली है. वहीं आरोपी ने अपने महिला मित्र का मोबाइल चुराकर वाटस अप काल करके फिरौती मांगी थी.

एक नंबर से व्हाट्सअप पर मैसेज व कॉल किए गए:
पुलिस ने बताया कि 26 अक्टूबर को थानाक्षेत्र के एक व्यक्ति ने रिपोर्ट पेश कर बताया था कि उसके मोबाइल पर 24 अक्टूबर को एक नंबर से व्हाट्सअप पर मैसेज व कॉल किए गए. कॉल करने वाले ने अपना नाम व पता नहीं बताया तथा मैसेज के माध्यम से उसकी बेटी के अश्लील फोटो वायरल करने की धमकी देकर पांच लाख रुपए फिरौती मांगी. रिपोर्ट पर पुलिस की ओर से मामला दर्ज कर जांच शुरू की गई. जांच के दौरान पाया गया कि पूर्व में चोरी के एक मामले में गिरफ्तार स्थानीय निवासी युवक ही इस मामले का आरोपी निकला. युवक के पास से बरामद किए गए एप्पल आईफोन को चैक किया, तो उसमें सिम नहीं पाई गई. मोबाइल को आरोपी की ओर से अन्य मोबाइल के वाई-फाई हॉटस्पोट के जरिए व्हाट्सअप चलाना पाया गया. व्हाट्सअप की चैटिंग की जांच करने पर पीडि़त के नंबर पर चैट भी पाई गई. 

पीड़िता को ब्लैकमेल करने के लिए एप्पल आईफोन का उपयोग किया:
आरोपी युवक ने पूछताछ में बताया कि उसने अपने मित्र स्थानीय सुंदरनगर निवासी एक युवक के साथ मिलकर पीडि़त को ब्लैकमेल करने की योजना बनाई है. सिम के बारे में पूछताछ करने पर बताया कि दूसरा युवक 23 अक्टूबर को जोधपुर गया था. वह अपनी महिला मित्र के साथ रेलवे स्टेशन के सामने एक होटल में रुका तथा उसके साथ शराब पी और खाना खाया. उसने अपनी महिला मित्र को नींद आने पर उसका मोबाइल चुरा लिया और पोकरण आ गया. उसने मोबाइल से सिम निकालकर आरोपी को दे दी. युवक ने पीड़िता को ब्लैकमेल करने के लिए एप्पल आईफोन का उपयोग किया. मोबाइल में एक बार व्हाट्सअप चालू कर सिम निकाल दी तथा इसके बाद हॉटस्पोट से व्हाट्सअप चलाकर ब्लैकमेल किया गया. पुलिस ने आरोपी इस युवक को गिरफ्तार किया. जबकि दूसरा आरोपी पूर्व में एक चोरी के मामले में न्यायिक अभिरक्षा में है.

और पढ़ें