यूपी में डेंगू का कहर: फिरोजाबाद में 63 लोगों की मौत, मरीजों के आने का सिलसिला जारी

यूपी में डेंगू का कहर: फिरोजाबाद में 63 लोगों की मौत, मरीजों के आने का सिलसिला जारी

यूपी में डेंगू का कहर: फिरोजाबाद में 63 लोगों की मौत, मरीजों के आने का सिलसिला जारी

फिरोजाबाद: उत्तर प्रदेश में पिछले 40 दिनों से अधिक समय से महामारी से जूझ रहे फिरोजाबाद में एक और मौत के साथ वायरल बुखार और डेंगू से मरने वालों की संख्या जिले में अब 63 हो गई है जबकि मरीजों का सिलसिलेवार आना जारी है. एक बयान में इसकी जानकारी दी गयी है. बयान में कहा गया है कि मेडिकल कॉलेज की 100 शैय्या के बाल चिकित्सा आइसोलेशन वार्ड में शुक्रवार रात डेंगू के इलाज के दौरान 12 वर्षीय एक बच्ची की मौत हो गई.

इसमें कहा गया है कि अब तक वायरल डेंगू के प्रकोप से मरने वालों की संख्या 62 थी और कल रात एक और मौत के साथ यह संख्या अब 63 तक पहुंच गई है. मेडिकल कॉलेज की प्राचार्य डॉ संगीता अनेजा ने बताया कि पिछले 24 घंटे में 154 नए मरीज भर्ती हुए जबकि 153 मरीजों को इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई. अनेजा ने विज्ञप्ति के माध्यम से बताया कि शनिवार की सुबह मेडिकल कॉलेज अस्पताल के विभिन्न वार्डों में 255 मरीज भर्ती थे और उनका इलाज चल रहा है. इस बीच रामगढ़ थाना क्षेत्र की 12 वर्षीय किशोरी ने आइसोलेशन वार्ड में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया और उसके भाई दीपक ने मेडिकल कॉलेज के स्टाफ पर इलाज के दौरान लापरवाही का आरोप लगाया है.

शुक्रवार की रात पत्रकारों से बात करते हुए दीपक ने आरोप लगाया कि मेडिकल कॉलेज के कर्मचारियों द्वारा उसकी बहन के उपचार में लापरवाही बरती गई जिस कारण उसकी मौत हुई. लापरवाही का आरोप लगाते हुए परिजनों ने हंगामा किया और विरोध करने पर कर्मचारियों पर पिटाई का आरोप भी लगाया. इस बारे में पूछे जाने पर थाना प्रभारी उत्‍तर आनंद कुमार ने कहा, 'मौके पर मिली जानकारी के अनुसार आक्रोशित परिजनों ने मेडिकल कॉलेज के स्टाफ पर हाथ उठाया था और इसके बाद स्टाफ द्वारा भी हाथापाई की गई है.' न्होंने कहा कि मामले की जांच की जा रही है. सोर्स- भाषा
 

और पढ़ें