प्रदेश में 73.85 फीसदी मतदान, सीईओ आनंद कुमार को है कम वोटिंग का मलाल 

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/12/07 09:14

जयपुर (ऋतुराज शर्मा)। प्रदेश में विधानसभा चुनाव में इस बार 73.85 फीसदी मतदान हुआ है जो कि 2013 से 1.83 फीसदी कम है। शाम 5 बजे तक बूथ में आनेवाले मतदाताओं को वोटिंग की मंजूरी देने के चलते हालांकि कुछ जगहों पर वोटिंग जारी होने की सूचना है। लेकिन इससे वोटिंग में 1 फीसदी तक की ही बढ़ोतरी हो सकती है। सीईओ आनंद कुमार ने अपेक्षा अनुरूप वोटिंग न होने की विफलता मानते हुए कहा कि उन्हें इसका मलाल रहेगा कि इतने व्यापक स्वीप कार्यक्रम व अन्य गतिविधियों के बावजूद वोटिंग प्रतिशत नहीं बढ़ सका।

15 वीं विधानसभा के लिए प्रदेश में वोटिंग होने के बाद शाम को सचिवालय में सीईओ आनंद कुमार ने मतदान के आंकड़े जारी किए। निर्वाचन विभाग के अंतिम तौर पर आज आंकड़ा अपडेट होने तक 73.85 फीसदी मतदान हुआ। जिसमें जैसलमेर जिले में सबसे ज्यादा 83.65 फीसदी वोटिंग तो सबसे कम पाली में 64.65 फीसदी वोटिंग हुई। जिलेवार आंकड़ों के मुताबिक 

-हनुमानगढ़ में 81.74, श्रीगंगानगर में 81.04, चित्तौड़गढ़, में 80.47, प्रतापगढ़ में 79.93, झालावाड़ में 78.57, बांसवाड़ा में 77.98, बारां में 77.47, बाड़मेर में 75.68, दौसा में 75.09, बूंदी में 74.98, जयपुर में 74.34, अलवर में 74.16, बीकानेर में 73.89, चूरू में 73.85, धोलपुर में 73.47, भीलवाड़ा में 73.4, सीकर में 72.71, नागौर में 72.46, झुंझुनूं में 72.24, कोटा में 71.52, भरतपुर व टोंक में 71.11, अजमेर में 71.09, उदयपुर व राजसमंद में 70.98, जोधपुर में 70.68, करौली में 68.78, डूंगरपुर में 68.68, जालोर में 68.53, सिरोही में 67.44, सवाई माधोपुर में 67.3 और पाली में 64.65 फीसदी वोटिंग हुई। 

सीईओ आनंद कुमार ने कम मतदान प्रतिशत से निराशा जताते हुए कहा कि जितने प्रयास किए गए थे आंकड़े उस अनुरूप नहीं रहे। 

—विशिष्ट डीजी लॉ एंड ऑर्डर एन आर के रेड्डी ने हिंसक घटनाओं के बारे में यह जानकारी दी।
—कोई भी ऐसी घटना नहीं जो पोलिंग प्रोसेस को बाधा डाल सके 
—शाहजहांपुर में बूथ कैपचरिंग का हुआ था प्रयास 
—मुंडावर में हुए प्रयास के बाद सीपीएमएफ में हवा में फायर किया लेकिन मतदान अनवरत जारी रहा।
—जैसलमेर के लाठी में दो गुटों में शाम को हुआ झगड़ा 
—पोलिंग के बाद दुर्घटना के चलते आगजनी व पथराव हुआ
—सीकर में पोलिंग बूथ के बाहर मोटरसाइकिल जलाई गई 
—जोधपुर में छिटपुट घटना
—भरतपुर में गनमैन अंदर घुसने की कोशिश की। वहां पोल प्रेसेस 10 मिनट के लिए रुका।
—दिगंबर सिंह के पुत्र द्वारा राशि बांटने का था एक आरोप। इस मामले में एसपी ने केस दर्ज कराया है।
—स्ट्रांग रूम की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की गई है। एक सीपीएमएफ की यूनिट मौजूद है। वहां सुरक्षा को लेकर कोई दिक्कत नहीं 
—आनंद कुमार ने कहा  कि स्ट्रांग रूम में 24 घंटे बिजली आपूर्ति के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। 

शिकायतों और वोटिंग की धीमी गति संबंधी पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए आनंद कुमार ने कहा कि कांग्रेस की लिखित शिकायत नहीं मिली टेलीफोन के जरिए जानकारी मिली। अजमेर में मतदान बहिष्कार की बात सामने आई थी। वहीं कोटा में मतदान बहिष्कार के लिए कहा था लेकिन समझाइश के बाद वे मान गए। उन्होंने  सुखबीर जौनपुरिया द्वारा  मौखिक शिकायत आने की बात कहते हुए बताया कि संबंधित अधिकारी को  इसे दिखवाने के लिए जानकारी दे दी गई थी। आनंद कुमार ने कहा वेबसाइट पर जो वोटिंग लिस्ट है, उसी से मतदाता सूची प्रकाशित होती है इसलिए किशनपोल विधानसभा क्षेत्र से आई शिकायतें निराधार हैं।

खास बात यह रही कि पिछली बार वोटिंग में आगे रहने वाले हनुमानगढ़, डूंगरपुर जैसे जिलों में इस बार रुझान घटा दिखाई दिया। सीईओ आनंद कुमार ने भी माना कि उन्हें यह मलाल रहेगा कि इतने प्रयासों के बावजूद मतदान प्रतिशत अपेक्षा अनुरूप नहीं रहा। 
 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

कांग्रेस-बीजेपी के भरोसे\'मंद\' - 25 !

सैम पित्रोदा के बयान पर कांग्रेस की किरकिरी
सैम पित्रोदा के एयर स्ट्राइक पर विवादित बयान को लेकर सियासत
लोकसभा चुनाव का सियासी गणित
धन संबधित परेशानी है तो जानिए कुछ असरकारी टोटके| Good Luck Tips
BJP ने 182 लोकसभा उम्मीदवारों की पहली सूची की जारी
BJP थोड़ी देर में जारी करेगी उम्मीदवारों की पहली सूची
देश के 3 प्रमुख मंदिरों की होली