कोरोना वायरस की तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर चरणबद्ध योजना को मंजूरी दी गई: केजरीवाल

कोरोना वायरस की तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर चरणबद्ध योजना को मंजूरी दी गई: केजरीवाल

कोरोना वायरस की तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर चरणबद्ध योजना को मंजूरी दी गई: केजरीवाल

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने शुक्रवार को कहा कि दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की बैठक में कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए ग्रेडेड रिस्पॉन्स एक्शन प्लान को मंजूरी दी गई है.

दिल्ली सरकार की एक समिति ने कोविड की संभावित तीसरी लहर से निबटने के लिए रंगों के कोड की प्रणाली तैयार की है जो चरणबद्ध प्रतिक्रिया के कदम सुझाएगी मसलन उच्चतम अलर्ट वाले लाल स्तर पर ज्यादातर आर्थिक गतिविधियों को बंद कर देना.

डीडीएमए की बैठक में ग्रेडेड रिस्पॉन्स एक्शन प्लान पास किया:
केजरीवाल ने हिंदी में ट्वीट किया कि आज डीडीएमए की बैठक में ग्रेडेड रिस्पॉन्स एक्शन प्लान पास किया गया. कब लॉकडाउन लगेगा और कब क्या खुलेगा, इसे लेकर अब संशय की स्थिति नहीं रहेगी. बैठक में कोरोना वायरस के डेल्टा प्लस स्वरूप को लेकर भी बात हुई. इस स्वरूप को हमें दिल्ली में फैलने से रोकना है जिसके लिए सरकार हर ज़रूरी कदम उठा रही है.

अलर्ट के चार विविध स्तर कलर कोड के जरिए बताए जाएंगे जिनमें लगातार दो दिन की संक्रमण दर, एक हफ्ते में संक्रमण के कुल नए मामले और एक हफ्ते में औसतन कितने ऑक्सीजन बेड भरे, इन आधारों पर फैसला लिया जाएगा.

चरणबद्ध कदमों में वैश्विक महामारी की गंभीरता के आधार पर अलर्ट के स्तर के मुताबिक आर्थिक गतिविधियां रोकना शामिल है. अलर्ट के सभी चार स्तर में आवश्यक वस्तुओं की दुकानें और प्रतिष्ठान खुल सकेंगे एवं आवश्यक सेवाएं सुचारू रूप से चलती रहेंगी.

और पढ़ें