Live News »

भरतपुर के रूपबास में दिल दहलाने वाली घटना, महिला ने 3 बच्चों सहित कुएं में कूदकर दी जान 

भरतपुर के रूपबास में दिल दहलाने वाली घटना, महिला ने 3 बच्चों सहित कुएं में कूदकर दी जान 

भरतपुर: राजस्थान के भरतपुर जिले के रूपबास थाना इलाके के खान सुरजापुर गांव में आज एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है. गांव की एक महिला ने अपनी तीन मासूम बेटियों के साथ एक अंधे कुएं में छलांग लगा दी. घटना में महिला सहित तीनों बेटियों की दर्दनाक मौत हो गई. घटना की जानकारी मिलते ही रूपवास थाना पुलिस मौके पर पहुंची और भारी मशक्कत के बाद चारों के शवों को हुए से बाहर निकालकर पोस्टमार्टम के लिए रूपबास के अस्पताल पहुंचाया.

पति चेन्नई में करता है मजदूरी:
बताया गया कि मृतका शारदा का पति रवि चेन्नई में मजदूरी का काम करता है और पीछे से उसकी पत्नी ने आज इस जघन्य घटना को अंजाम दे दिया. गांव वालों का कहना है कि महिला रोजाना की तरह आज भी अपनी तीनों बेटियों के साथ पशुओं के लिए चारा लेने खेत पर गई थी और इसी दौरान जंगल में बने एक अंधे हुए में उसने पहले तो अपनी तीनों बेटियों को फेंका और फिर खुद ने भी कुएं में कूदकर जान दे दी.

गांव में सनसनीखेज घटना के बाद शोक की लहर: 
गांव में अचानक हुई इस सनसनीखेज घटना के बाद शोक का माहौल है और किसी भी घर में चूल्हा तक नहीं जला है. पुलिस अब इस बात का पता लगाने की कोशिश कर रही है कि आखिर ऐसी क्या वजह रही कि महिला को इतना बड़ा फैसला लेने को मजबूर होना पड़ा.

...फर्स्ट इंडिया के लिए दीपक लवानिया की रिपोर्ट

और पढ़ें

Most Related Stories

कृषि से जुड़े 3 बिल राज्यसभा में पेश, कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने किए पेश 

 कृषि से जुड़े 3 बिल राज्यसभा में पेश, कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने किए पेश 

नई दिल्ली: आज संसद के मॉनूसन सत्र का सातवां दिन है. सरकार ने कृषि संबंधित विधयकों को राज्यसभा में पेश किया. कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने बिल राज्यसभा में पेश किए. 

किसानों के जीवन में आएंगे क्रांतिकारी बदलाव:
नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि MSP जारी थी, जारी है और जारी रहेगी. किसानों के जीवन में क्रांतिकारी बदलाव आएंगे. किसान किसी भी जगह फसल बेच सकेंगे. मनचाही कीमत पर फसल बेचने की आजादी होगी. विपक्ष की बिल को सेलेक्ट कमेटी को भेजने की मांग की गई.कृषि से जुड़े दो बिल लोकसभा से पहले ही पास हो चुके हैं. 

{related}

देशभर के किसान कर रहे हैं बिल का विरोध:
हालांकि, शिरोमणि अकाली दल जो बीजेपी की सबसे पुरानी सहयोगी थी, उसने बिल का विरोध किया. पार्टी की सांसद हरसिमरत कौर बादल ने कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया. देशभर के किसान बिल का विरोध कर रहे हैं. कांग्रेस ने सरकार को किसान विरोधी तक करार दिया है.

अभिनेत्री पायल घोष के आरोपों को अनुराग कश्यप ने बताया बेबुनियाद, कहा-अभी तो बहुत आक्रमण होने वाले हैं

अभिनेत्री पायल घोष के आरोपों को अनुराग कश्यप ने बताया बेबुनियाद, कहा-अभी तो बहुत आक्रमण होने वाले हैं

नई दिल्ली: बॉलीवुड अभिनेत्री पायल घोष ने फिल्म मेकर अनुराग कश्यप पर जबरदस्ती करने के गंभीर आरोप लगाये. इसके बाद फिल्म मेकर अनुराग कश्यप ने प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम काफी सारे ट्वीट किए हैं और पायल के आरोपों को बेबुनियाद बताया. 

अनुराग कश्यप ने ट्वीट करते हुए कहा कि क्या बात है , इतना समय ले लिया मुझे चुप करवाने की कोशिश में. चलो कोई नहीं. मुझे चुप कराते कराते इतना झूठ बोल गए की औरत होते हुए दूसरी औरतों को भी संग घसीट लिया. थोड़ी तो मर्यादा रखिए मैडम. बस यही कहूँगा की जो भी आरोप हैं आपके सब बेबुनियाद हैं.

कश्यप ने आगे लिखा, या कोई भी प्रेमिका या वो बहुत सारी अभिनेत्रियाँ जिनके साथ मैंने काम किया है , या वो पूरी लड़कियों और औरतों की टीम जो हमेशा मेरे साथ काम करती आयीं हैं , या वो सारी औरतें जिनसे मैं मिला बस , अकेले में या जनता के बीच.

अनुराग कश्यप ने आगे लिखा, मैं इस तरह का व्यवहार ना तो कभी करता हूँ ना तो कभी किसी क़ीमत पे बर्दाश्त करता हूँ. बाक़ी जो भी होता है देखते हैं. आपके वीडियो में ही दिख जाता है कितना सच है कितना नहीं, बाक़ी आपको बस दुआ और प्यार. आपकी अंग्रेज़ी का जवाब हिंदी में देने के लिए माफ़ी.

{related}

इसके साथ ही अनुराग कश्यप ने ये भी बताया कि उन्हें काफी सारे फोन आ रहे है. वो लिखते हैं, अभी तो बहुत आक्रमण होने वाले हैं. यह बस शुरुआत है. बहुत फ़ोन आ चुके हैं, कि नहीं मत बोल और चुप हो जा. यह भी पता है कि पता नहीं कहाँ कहाँ से तीर छोड़ें जाने वाले हैं. इंतेज़ार है.

कोरोना महामारी: राजस्थान में 11 जिला मुख्यालयों पर धारा-144 लागू, 5 से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर रोक

 कोरोना महामारी: राजस्थान में 11 जिला मुख्यालयों पर धारा-144 लागू, 5 से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर रोक

जयपुर: प्रदेश में कोरोना महामारी के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए 11 जिलों में  राज्य सरकार ने जिला मुख्यालयों में सार्वजनिक स्थलों पर धारा-144 लागू कर 5 से अधिक व्यक्तियों के समूह में इकट्ठा होने पर रोक लगाने का निर्णय किया है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में शनिवार रात एक उच्च स्तरीय बैठक में यह निर्णय लिया. 

इन जिलों में रहेगा प्रतिबंध:
कोविड-19 संक्रमण की गंभीर स्थिति के मद्देनजर जयपुर, जोधपुर, कोटा, अजमेर, अलवर, भीलवाड़ा, बीकानेर, उदयपुर, सीकर, पाली और नागौर जिलों के मुख्यालय वाले शहरों में सार्वजनिक स्थलों पर धारा-144 के तहत 5 से अधिक व्यक्तियों के एक साथ इक्कठा होने पर प्रतिबंध रहेगा. सार्वजनिक जगहों पर 5 व्यक्ति भी मास्क पहनने और सामाजिक दूरी के नियम की पालना करेंगे. संबंधित जिले के कलेक्टर इस संबंध में आदेश जारी करेंगे. 

{related}

सामाजिक-धार्मिक आयोजन पर रोक:
सीएम गहलोत ने शनिवार को मुख्यमंत्री निवास पर प्रदेश में कोविड-19 महामारी की स्थिति और उससे बचाव के उपायों पर अधिकारियों के साथ बैठक में पूरे प्रदेश में किसी भी सामाजिक-धार्मिक आयोजन पर रोक को भी 31 अक्टूबर तक यथावत जारी रखने का निर्णय लिया है. केवल अंतिम संस्कार में 20 और विवाह-शादी के आयोजन में 50 व्यक्तियों के शामिल होने की छूट पूर्ववत रहेगी, लेकिन इसके लिए स्थानीय उपखण्ड अधिकारी को पूर्व सूचना देनी होगी.

{related}

सभी जिलों में कोरोना के इलाज की समुचित व्यवस्था:
सीएम गहलोत ने प्रदेशवासियों को आश्वस्त किया है कि राज्य के सभी जिलों में कोरोना के इलाज की समुचित व्यवस्था की गई है. किसी भी जिले में ऑक्सीजन बेड, आईसीयू बेड तथा वेन्टिलेटर जैसे जीवन रक्षक उपकरणों की कमी नहीं है. इस संबंध में कतिपय भ्रामक सूचनाएं फैलाई गई हैं, जो दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना के मरीजों के इलाज में कोई कमी नहीं छोड़ी जाएगी.

Horoscope Today, 20 September 2020: आज का दिन इन राशि वालों के लिए है शुभ, मिलेगी सफलता

Horoscope Today, 20 September 2020: आज का दिन इन राशि वालों के लिए है शुभ, मिलेगी सफलता

जयपुर: दैनिक राशिफल चंद्र ग्रह की गणना पर आधारित होता है. राशिफल की जानकारी करते समय पंचांग की गणना और सटीक खगोलीय विश्लेषण किया जाता है. दैनिक राशिफल में सभी 12 राशियों के भविष्य के बारे में बताया जाता है. ऐसे में आप इस राशिफल को पढ़कर अपनी दैनिक योजनाओं को सफल बना सकते हैं.  

मेष( Aries): रविवार के बावजूद आज के दिन आपको आराम करने के लिए दिल गवाही नहीं देगा. हो सकता है सुबह-सबेरे ही कोई ऐसा भूलाभटका काम आपको याद आ जाए जिसके लिए आप अपना पूरा दिन समर्पित कर सकते हैं. बिजनस अथवा कारोबार के सिलसिले में किसी व्यक्ति विशेष से सांयकाल के समय मिल लेना बेहतर रहेगा.
 
वृष(Taurus):
आज के दिन आप खुद में सहनशीलता और दूसरों की मदद करने का जज्बा पैदा करने में कामयाब हो सकते हैं. इसी कारण आपके जीवन में पहले से अधिक जगमगाहट और रोशनी आ सकती है जिसके आगे आपकी सहनशीलता और उदार मनोवृति झलक रही हो. वैसे भी आपके अन्दर लोकप्रियता और समाज सेवा के कई गुण मौजूद हैं जिनके बल पर लोग अपने आपको श्रेष्ठ साबित करते हैं.

{related}

मिथुन(Gemini): आज के दिन आप किसी पुराने सम्बन्ध का नवीनीकरण कर सकते हैं. कुछ व्यक्तिगत और सामाजिक उत्तरदायित्व भी आपको पूरे करने होंगे. दोपहर के बाद किसी पारिवारिक समारोह या उत्सव में शामिल होना पड़ सकता है. वैसे भी आजकल त्यौहारों के मौसम चल रहे हैं. अत: दिल खोलकर इनके साथ अपने को भी जोड़ लें। एक नई ताकत आपके अन्दर आ सकती है.

कर्क(Cancer): कोई प्रियजन या नजदीकी दोस्त आज आपको बहसबाजी या विवाद में उलझा सकता है. यदि आप अपने मिजाज को सन्तुलित नहीं रखेंगे तो बहसबाजी या आरोप-प्रत्यारोप बढ़ सकते हैं. ऐसा वातावरण आपकी छुट्टी को खराब ही करेगा. अत: पहले से ही यह सोचकर चलें कि आपका इनसे ज्यादा लगाव नहीं है.

सिंह(Leo): आज आपके फुर्सत और आराम क्षणों को कोई प्रियजन खराब कर सकता है. हो सकता है उसकी जरूरत और मांग को पूरा करने के लिए आपको अपनी जेब भी ढीली करनी पड़े. यदि आप उसे कुछ लेन-देन के फेर में डाल देंगे तो फिर आगे चलकर उससे पीछा छुड़ाना भारी पड़ेगा. हालात देखकर काम करें.

कन्या(Virgo): आज के दिन यदि आप अपने विरूद्ध कोई बात किसी से सुनते हैं तो उस पर अधिक गौर नहीं करें. उस व्यक्ति का भी विश्वास न करें जो आपको एक नई मुसीबत में डालने की कोशिश कर रहा है. कूटनीति और चाटूकारिता के परिणाम कभी-कभी बहुत गंभीर भी हो जाते हैं. यदि आप किसी अच्छे खान-पान की तलाश कर रहे हैं तो नजदीकी क्लब या रेस्तरां में जाना बेहतर होगा.

तुला(Libra): अपने घर-परिवार और जीवन शैली को अच्छे स्तर पर लाने में आप सदैव प्रयत्नशील रहे हैं. आज के दिन भी आपको किसी पुराने मसले पर फिर से विचार करके अपने घर की साज-सज्जा और डेकोरेशन को दुरूस्त करनी होगी. अपने द्वारा किए गए महत्वपूर्ण कार्य को नियमित रूप से अमल करने में दूसरों की मदद ले सकते हैं.

वृश्चिक(Scorpio): आज के दिन का पूरा समय आपको अपनी दैहिक यानी शारीरिक इच्छा की पूर्ति करने में व्यतीत होगा. विपरीत योनि का कोई वरिष्ठ व्यक्ति आपसे प्रेम या प्यार का निवेदन कर सकता है. यदि आपके अन्दर कुछ रोमांस पैदा हो रहा तो सम्बन्ध आगे बढ़ाने में आप खुले दिल से तैयार हो सकते हैं. ऐसे सम्बन्ध आपके लिए भी टॉनिक का काम करेंगे.

धनु(Sagittarius): वक्त पर कोई महत्वपूर्ण काम पूरा कर लेना आपके लिए हमेशा ही जरूरी होता है. अवकाश के दिन भी आप कुछ न कुछ ऐसे काम को अंजाम दे देते हैं जो आगे चलकर आपको राहत और फुर्सत के क्षण दे देता है. अपने चल और अचल सम्पत्ति का रखरखाव करने में आपका रविवार बखूबी इस्तेमाल हो जाएगा.

मकर(Capricorn): किसी हाई प्रोफाइल व्यक्ति के सम्पर्क से आपकी प्रगति और उन्नति की संभावनाएं बहुत ही मजबूत हो रही हैं. आज के दिन भी आपको ऐसे सम्पर्कों पर कुछ पानी और डाल देना चाहिए यानी कि इन पर अपनी तरफ से उपहार और भेंट आदि देकर आगे के लिए छिटपुट लाभ मार्ग भी खोजने चाहिए.

कुंभ(Aquarius ): अपने काम को निकालने के लिए आपको युक्ति, कूटनीति और उदारतापूर्वक दान-पुण्य करने का मौका भी निकालना होगा. आज के दिन भी कुछ ऐसी ही आध्यात्मिक प्रेरणा आपको धन-व्यय करने में तत्पर बना सकती है. यदि आप अपने परिजनों के साथ कहीं पर कोई मनोरंजन या मौजमस्ती करना चाहें तो भी दिन का उत्तरार्ध भाग अनुकूल साबित होगा.

मीन(Pisces): आज के दिन आपको पूरी तरह आराम और विश्राम करना होगा. अच्छा समय हमेशा ही एक ही रूप लेकर नहीं आता है. वक्त के मिजाज में बदलाव होते रहते हैं यदि आप भी इसी बदलाव से प्रभावित हो रहे हैं तो आपको सन्तोष और सुख की अनुभूति मिलनी चाहिए. यदि आप और भी अच्छा वक्त देखना चाहें तो इंतजार करना होगा.

सौजन्य - राज ज्योतिषी पंडित मुकेश शास्त्री

20 सितंबर 2020: पंचांग से जानें आज का शुभ-अशुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

20 सितंबर 2020: पंचांग से जानें आज का शुभ-अशुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

जयपुर: पंचांग का हिंदू धर्म में शुभ व अशुभ देखने के लिए विशेष महत्व होता है. पंचाम के माध्यम से समय एवं काल की सटीक गणना की जाती है. यहां हम दैनिक पंचांग में आपको शुभ मुहूर्त, शुभ तिथि, नक्षत्र, व्रतोत्सव, राहुकाल, दिशाशूल और आज शुभ चौघड़िये आदि की जानकारी देते हैं. तो ऐसे में आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी रहेगी आज ग्रहों की चाल... 

शुभ मास- प्रथम आश्विनी (अधिक ) शुक्ल पक्ष: 
शुभ तिथि चतुर्थी रिक्ता संज्ञक तिथि रात्रि  2 बजकर 27 मिनट तक तत्पश्चात पंचमी तिथि रहेगी. चतुर्थी तिथि में अग्नि,विषादिक असद कार्य,शत्रु मर्दन,इत्यादि कार्य विशेष रूप से सिद्ध होते है. शुभ और मांगलिक कार्य वर्जित है. चतुर्थी तिथि में जन्मे जातक धनवान, बुद्धिवान ,भाग्यवान ,पराक्रमी  होते है.

शुभ नक्षत्र स्वाति नक्षत्र रात्रि 10 बजकर 52 मिनट तक तत्पश्चात विशाखा नक्षत्र रहेगा.स्वाति नक्षत्र मे यदि तिथि शुभ हो तो यात्रा,विवाह, गृह प्रवेश, मांगलिक कार्य  इत्यादि कार्य विशेष रूप से सिद्ध होते है. स्वाति नक्षत्र मे जन्मा जातक मेघावी,विलासप्रिय ,धनवान, बुद्धिमान होता है.  

चन्द्रमा-सम्पूर्ण दिन ‎तुला  राशि में संचार करेगा.
व्रतोत्सव -  चतुर्थी  व्रत

राहुकाल -सायंकाल 4.30 बजे से 6 बजे तक

दिशाशूल - रविवार को पश्चिम दिशा मे दिशाशूल रहता है. यात्रा को सफल बनाने लिए घर से घी-दलिया खा कर निकले.

सौजन्य - राज ज्योतिषी पंडित मुकेश शास्त्री

कलयुगी मां की शर्मनाक करतूत, 4 दिन की मासूम बच्ची को अस्पताल में छोड़ भागी 

कलयुगी मां की शर्मनाक करतूत, 4 दिन की मासूम बच्ची को अस्पताल में छोड़ भागी 

जोधपुर: जोधपुर शहर में एक बार फिर ममता को शर्मसार करने का मामला सामने आया है. उम्मेद अस्पताल में एक कलयुगी मां अपने 4 दिन की मासूम बेटी को छोड़कर भाग गई , हालांकि अस्पताल के वार्ड में भर्ती अन्य मरीज व हॉस्पिटल प्रशासन में बच्ची को अपने संरक्षण में लिया और उसका मेडिकल चेकअप करवाया.

मासूम बच्ची को किया लव कुश संस्थान के सुपुर्द:
2 दिन तक अस्पताल में ऑब्जरवेशन रखने के बाद मासूम बच्ची को लव कुश संस्थान के सुपुर्द किया गया है. उम्मेद अस्पताल के अधीक्षक डॉ रंजना देसाई ने बताया कि 17 सितंबर को एक महिला हॉस्पिटल के वार्ड में आई और  पलंग पर एक बच्ची को छोड़ दिया. उस महिला ने पास में खड़ी महिला को कुछ देर में वापस लौट कर आने की बात कही. करीब 1 घंटा बीत जाने के बावजूद भी वह महिला वापस नहीं आई और मासूम बच्ची का रो-रो कर बुरा हाल हो रहा था.

{related}

महिला की तलाश शुरू:
वार्ड में भर्ती अन्य महिला मरीजों ने अस्पताल प्रशासन को इसकी जानकारी दी, जिसके बाद अस्पताल प्रशासन ने उस महिला की तलाश शुरू की. जब वह महिला कहीं नहीं मिली तो बच्चे को अस्पताल प्रशासन ने अपने संरक्षण में लिया और उसे दो दिन तक अस्पताल में रखा. बच्ची के पूर्ण स्वस्थ होने के बाद मासूम बच्ची को लव कुश संस्थान के सुपुर्द किया गया है.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिए निर्देश,कहा-अस्पतालों में नहीं होनी चाहिए ऑक्सीजन की कमी

सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिए निर्देश,कहा-अस्पतालों में नहीं होनी चाहिए ऑक्सीजन की कमी

नई दिल्ली: यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 के संक्रमण के नियंत्रण एवं उपचार की व्यवस्था को और अधिक प्रभावी बनाए रखने के निर्देश दिए है. योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सरकारी एवं निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता रहनी चाहिए. साथ ही ऑक्सीजन बैकअप की व्यवस्था भी रहनी चाहिए. योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को यहां अपने सरकारी आवास पर एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा की. 

यूपी में मृत्यु की दर कम और रिकवरी दर अच्छी:
उन्होंने कहा कि राज्य में कोविड-19 के संक्रमण के नियंत्रण एवं उपचार की व्यवस्था को और अधिक प्रभावी बनाया जाए. चिकित्सालयों में ऑक्सीजन की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता के साथ-साथ बैकअप की व्यवस्था भी रहनी चाहिए. यह भी सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि ऑक्सीजन निर्धारित मूल्य पर ही उपलब्ध हो. उन्होंने कहा कि प्रदेश में मृत्यु की दर कम और रिकवरी दर अच्छी है.  

{related}

ओपीडी सुविधा काफी उपयोगी सिद्ध:
सीएम योगी ने कहा कि ई-संजीवनी एप के माध्यम से उपलब्ध कराई जा रही ओपीडी सुविधा काफी उपयोगी सिद्ध हो रही है. ज्यादा से ज्यादा लोग इस सेवा से लाभान्वित हो सके, इसके मद्देनजर E-संजीवनी एप का व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जाये. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव के सम्बन्ध में जागरूकता अभियान जारी रखा जाए. इसके लिए प्रचार के कई साधनों के साथ-साथ पब्लिक एड्रेस सिस्टम का भी व्यापक स्तर पर उपयोग किया जाए. योगी ने मेडिकल टेस्टिग, डोर-टू-डोर सर्वे और कॉन्टैक्ट ट्रेंसिग के कार्य को पूरी सक्रियता से संचालित करने के निर्देश दिए हैं. सीएम योगी ने कहा कि कोविड चिकित्सालयों की व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरुस्त बनाया रखा जाए. यह सुनिश्चित किया जाए कि चिकित्सक एवं नर्सिंग स्टाफ नियमित राउण्ड लें.

तकनीकी खराबी के चलते आप यह खबर नहीं देख पा रहे हैं

तकनीकी खराबी के चलते आप यह खबर नहीं देख पा रहे हैं 

Open Covid-19