नई दिल्ली आप से राज्यसभा सीट के लिए नामांकित राघव चड्ढा ने दिल्ली विधानसभा से दिया इस्तीफा

आप से राज्यसभा सीट के लिए नामांकित राघव चड्ढा ने दिल्ली विधानसभा से दिया इस्तीफा

आप से राज्यसभा सीट के लिए नामांकित राघव चड्ढा ने दिल्ली विधानसभा से दिया इस्तीफा

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक राघव चड्ढा ने बृहस्पतिवार को दिल्ली विधानसभा से इस्तीफा दे दिया क्योंकि पार्टी ने उन्हें राज्यसभा के लिए नामांकित किया गया है. चड्ढा आप द्वारा राज्यसभा के लिए नामांकित पांच प्रत्याशियों में से एक हैं. राज्यसभा चुनाव के लिए 31 मार्च को मतदान होगा. अगर चड्ढा निर्वाचित हो जाते हैं तो 33 साल की उम्र में वह संसद के उच्च सदन में निर्वाचित सबसे युवा सदस्य होंगे.

दिल्ली विधानसभा के अध्यक्ष राम निवास गोयल ने चड्ढा की उनके काम के लिए प्रशंसा की. विधायक के तौर पर बिताए गए समय को याद करते हुए चड्ढा ने कहा कि दो साल पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उन्हें राजेंद्र नगर से विधानसभा चुनाव लड़ने को कहा था. चड्ढा ने कहा कि उन्होंने अपने निर्वाचन क्षेत्र के लिए कड़ी मेहनत की है.

उन्होंने कहा कि महामारी के दौरान हो या पानी की पाइपलाइन बिछानी हो, हमारे निर्वाचन क्षेत्र के निवासी केजरीवाल के शुक्रगुजार हैं. मैं उन्हें आश्वस्त करना चाहता हूं कि भले विधायक बदल जाए लेकिन कार्य जारी रहेंगे. उन्होंने जिस तरह से मुझे सम्मानित किया है मैं उसके लिए हमेशा उनका आभारी रहूंगा. मैं सभी निवासियों को धन्यवाद ज्ञापित करता हूं. आपका यह छोटा भाई और बेटा हमेशा आपके लिए तत्पर रहेगा. उन्होंने कहा कि यह केवल आप है जहां पर साधारण मध्यम वर्ग के लोगों को इतना बड़ा अवसर मिलता है.

चड्ढा ने विधानसभा में इस्तीफा देने के दौरान संबोधन में कहा कि यह केजरीवाल मॉडल है जहां पर व्यक्ति की देशभक्ति और समर्पण को सम्मान मिलता है. हम केजरीवाल के राजनीतिक स्कूल के छात्र हैं. उन्होंने मेरे लिए कई क्षेत्र चुने हैं. मैं इस सदन की कमी महसूस करूंगा. जय हिंद. जय भारत. इंकलाब जिंदाबाद. विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने भी चड्ढा को राज्यसभा के लिए नामांकित जाने पर बधाई दी. उन्होंने कहा कि मैं उन्हें राज्यसभा सीट के लिए नामांकित करने पर प्रसन्न हूं. मैं उन्हें बधाई देता हूं. हम राघव चड्ढा की बहुत कमी महसूस करेंगे. अगर संभव हो तो कृपया सदन में वापस आइएगा. चड्ढा को अपना छोटा भाई करार देते हुए उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि वह दिल्ली और देश की आवाज उच्च सदन में बनेंगे. (भाषा) 

और पढ़ें