जोधपुर VIDEO: जोधपुर में ACB की कार्रवाई, तहसीलदार का ड्राइवर मदन सिंह ट्रैप, साथ ही दो दलालों को दबोचा

VIDEO: जोधपुर में ACB की कार्रवाई, तहसीलदार का ड्राइवर मदन सिंह ट्रैप, साथ ही दो दलालों को दबोचा

जोधपुर (शिवप्रकाश पुरोहित): भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो जोधपुर की टीम ने सोमवार को कार्रवाई करते हुए जोधपुर तहसील कार्यालय के क्लर्क सहित तहसीलदार के ड्राइवर, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को 50000 रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. एसीबी टीम ने इस मामले में तहसील कार्यालय के सामने फोटोकॉपी की दुकान चलाने वाले संचालक को भी गिरफ्तार किया है. एसीबी के अधिकारी ने बताया कि जमीन की तरमीम और मौका रिपोर्ट बनाने की एवज में तहसीलदार के नाम पर उसी के ड्राइवर और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी ने परिवादी केवलराम से 50000 रुपये की मांग की थी शिकायत के सत्यापन के बाद एसीबी की टीम ने सोमवार को इस कार्रवाई को अंजाम दिया जहां फिलहाल एसीबी की टीम द्वारा तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया है और तहसीलदार की भूमिका के बारे में जांच की जा रही है.

एसीबी के पुलिस निरीक्षक ने बताया कि 2 दिसंबर को परिवादी केवलराम ने एसीबी कार्यालय में शिकायत दी कि बनाड़ क्षेत्र में उसकी जमीन है जहां कोर्ट के आदेश थे कि 60 दिन के भीतर उस जमीन मालिक को पट्टा दिया जाए और मामले में मौका रिपोर्ट तैयार करने के लिए तहसीलदार को कोर्ट के आदेश पर नियुक्त किया गया था लेकिन लंबे समय से तहसीलदार द्वारा मौका रिपोर्ट नहीं बनाई जा रही थी. 

 

तहसीलदार के ड्राइवर और कार्यालय के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी द्वारा परिवादी पर पैसे देकर ही काम करने का दबाव बनाया जा रहा था. जिसके बाद परिवादी ने परेशान होकर इस संबंध में एसीबी को शिकायत दी और एसीबी ने कार्यवाही करते हुए जमीन की तमीम रिपोर्ट और मौका तैयार करने की एवज में रिश्वत मांगने वाले तहसील कार्यालय के ड्राइवर मदन सिंह, चतुर्थ श्रेण कर्मचारी हुकम सिंह ,फोटोकॉपी दुकान  संचालक तेज सिंह को गिरफ्तार किया है. फिलहाल एसीबी की टीम द्वारा मामले में जोधपुर के तहसीलदार दीपक सांखला की भूमिका के बारे में भी जांच की जा रही है. एसीबी ने बताया कि जांच में अगर वे दोषी पाए जाते हैं तो उनके खिलाफ भी कार्यवाही की जाएगी.

और पढ़ें