Live News »

झालावाड़ के खानपुर में ACB कार्रवाई, जयपुर डिस्कॉम के तकनीकी सहायक महावीर नागर ट्रैप 

झालावाड़ के खानपुर में ACB कार्रवाई, जयपुर डिस्कॉम के तकनीकी सहायक महावीर नागर ट्रैप 

झालावाड़: राजस्थान के झालावाड़ जिले में एसीबी ने सोमवार को खानपुर कस्बे में कार्यवाही करते हुए जयपुर डिस्कॉम के कनिष्ठ अभियंता कार्यालय के लाइनमैन (तकनीकी सहायक) महावीर नागर को घरेलू बिजली कनेक्शन की रिडिंग कम आने पर वीसीआर भरवाने की धमकी देकर परिवादी से 7 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों ट्रेप कर लिया गया.

वीसीआर भरवाने की दे रहा था धमकी:
झालावाड़ एसीबी के एएसपी भवानी शंकर मीणा ने बताया कि खानपुर इलाके के डूंडी गांव निवासी परिवादी रामपाल किराड़ ने एसीबी झालावाड़ को शिकायत दी थी कि उसके पिता के नाम से घरेलू बिजली कनेक्शन है, जिसके बिल मे रीडिंग से कम यूनिट आने पर आरोपी लाइनमैन (तकनीकी सहायक) सहायक अभियंता से वीसीआर भरवाने की लगातार धमकी दे रहा था.

जोधपुर में ACB की बड़ी कार्रवाई, डिस्कॉम JEN वंदना और बिचौलिया मनोहर सिंह गिरफ्तार 

एसीबी टीम आरोपी से कर रही है गहन पूछताछ: 
इस मामले में उसने वीसीआर ना भरवाने को लेकर 10 हजार रुपए की रिश्वत की मांग की थी, जिसकी शिकायत परिवादी ने झालावाड़ एसीबी को की थी, इस दौरान आज रिश्वत राशि सत्यापन के दौरान 7 हजार रुपए लेते हुए सोमवार को आरोपी तकनीकी सहायक महावीर नागर को झालावाड़ एसीबी टीम ने खानपुर डूंडी मार्ग पर रंगे हाथों धर दबोचा,फिलहाल एसीबी टीम आरोपी से गहन पूछताछ में जुटी हुई है. 

कोरोना के साथ ही मौसमी बीमारियों के प्रति भी रहें आमजन सतर्क, बारिश के मौसम में कई बीमारियां फैलने का अंदेशा: डॉ रघु शर्मा

और पढ़ें

Most Related Stories

झालावाड़ में कांग्रेस नेता के बिगड़े बोल, कहा - जिसको दारू पीनी है दारू पी ले जिससे पैसे लेना हो पैसे ले ले, लेकिन वोट कांग्रेस को ही दें

झालावाड़ में कांग्रेस नेता के बिगड़े बोल, कहा - जिसको दारू पीनी है दारू पी ले जिससे पैसे लेना हो पैसे ले ले, लेकिन वोट कांग्रेस को ही दें

झालावाड़: जिले में पंचायत राज संस्थाओं के चुनाव में कांग्रेस व भाजपा में घमासान मचा हुआ है. दोनों ही पार्टियों में सीधी टक्कर है. इसी के चलते दोनों ही दलों के नेताओं ने गांव-गांव ढ़ाणी-ढ़ाणी की खाक छान मारी है. इसके साथ ही मतदाताओं को प्रलोभन देने में भी कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं. 

"जिसको दारू पीना हो दारू पी ले जिसको पैसे लेना हो पैसे ले ले'': 
पंचायत चुनाव को लेकर कांग्रेस के जिलाध्यक्ष कैलाश मीणा ने सभा को संबोधित करते हुए मतदाताओं से कहा कि वोट से आप किसी को भी बना दो चलनी तो हमारी ही है. ऐसे में आप लोगों को ज्यादा ज्ञान और ध्यान लगाने की जरूरत नहीं है. चार पांच दिन है "जिसको दारू पीना हो दारू पी ले जिसको पैसे लेना हो पैसे ले ले' लेकिन वोट तो कांग्रेस को ही दो. कांग्रेस के जिलाध्यक्ष एवं मनोहर थाना के पूर्व विधायक कैलाश मीणा के बिगड़े बोल का वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. हालांकि फर्स्ट इंडिया इस वायरल वीडियो की पुष्टि नहीं करता है. 

विन्रम अपील की जगह दिया प्रलोभन: 
कांग्रेस जिलाध्यक्ष कैलाश मीणा ने झालावाड़ जिले के अकलेरा पंचायत समिति के वार्ड नं. 8 में कांग्रेस के उम्मीदवार सुरेश तंवर के सर्मधन में सभा करते हुए मतदाताओं से विन्रम अपील की जगह शराब और पैसे का प्रलोभन देते हुए वोट देने को कहा है.  

{related}

अकलेरा पंचायत समिति में सरड़ा पंचायत को हॉट सीट माना जा रहा: 
गौरतलब है कि सरड़ा कस्बे में भारतीय जनता पार्टी की ओर से पूर्व सरपंच रोशन सिंह तंवर तो वहीं कांग्रेस की ओर से पूर्व सरपंच मनोहर सिंह तंवर के बेटे सुरेश तंवर चुनावी मैदान में है. दोनों तंवर प्रत्याशी के होने से अकलेरा पंचायत समिति में सरड़ा पंचायत को हॉट सीट माना जा रहा है. जहां आगामी 1 दिसंबर को चुनाव होने हैं. ऐसे में दोनों प्रत्याशी एड़ी चोटी का जोर लगाते दिखाई देने लगे हैं. सरड़ा कस्बे में कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने कांग्रेस सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की लोगों को जानकारी देते हुए अपने समर्थक को भारी मतों से जिताने की अपील की. 

वीडियो वायरल होने पर दी सफाई:
जब जिलाध्यक्ष को वीडियो के सोशल मीडिया पर वायरल होने की जानकारी मिली तो उन्होंने इसे बीजेपी की साजिश करार दिया. उन्होंने कहा कि जहां वो प्रचार कर रहे थे वहां बीजेपी के लोग शराब पिला रहे थे. मतदाताओं को लुभाने का प्रयास किया जा रहा था. इसी को लेकर मैंने कहा था कि खाओ पीओ लेकिन वोट कांग्रेस को ही देना है. ऐसे में यह सब कांग्रेस को बदनाम करने के लिए बीजेपी की साजिश है. 

कोटा ग्रामीण ACB की झालावाड़ में बड़ी कार्रवाई, 40 हजार की रिश्वत लेते 3 घूसखोर चढ़े हत्थे 

जयपुरः कोटा ग्रामीण एसीबी की टीम ने गुरुवार देर शाम झालावाड़ में बड़ी कार्रवाई करते हुए तीन घूसखोरों को 40 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया है. आरोपियों ने परिवादी से बिल पास कराने की एवज में रिश्वत की मांग की थी.

{related}

22 लाख रुपए के पेंडिंग बिल पास कराने की एवज में मांगी थी रिश्वतः
जानकारी के अनुसार करीब छह महीने पहले परिवादी ने एसीबी कोटा को शिकायत दर्ज कराई थी इसके अनुसार करीब 22 लाख रुपए के पेंडिंग बिल को पास कराने की एवज में आरोपियों ने उससे 2 प्रतिशत रिश्वत की मांग की थी. इस दौरान एसीबी अधिकारी को कोरोना होने के चलते कार्रवाई को स्थगित कर दिया गया, गुरुवार को एसपी अनिल बेनीवाल के निर्देशन में एएसपी प्रेरणा शेखावत की टीम ने आरोपियों को ट्रैप करने की कार्रवाई को अंजाम दिया. इस दौरान अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक कार्यालय में एसीबी टीम ने कार्रवाई करते हुए वरिष्ठ सहायक दीपक शर्मा को 40 हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है. वहीं जिला शिक्षा अधिकारी रंगलाल मीणा, सहायक लेखाधिकारी महेन्द्र मीणा को भी ट्रैप किया है.

40 हजार रुपए की रिश्वत लेते किया गिरफ्तारः
एएसपी प्रेरणा शेखावत ने बताया कि मामले को लेकर कोटा और झालावाड़ दोनों जगह पर कार्रवाई की गई है. उन्होंने बताया कि 22 लाख रुपए के पेंडिंग बिल को पास कराने की एवज में इन्होंने 2 प्रतिशत रिश्वत (44 हजार रुपए) की मांग की थी, इसमें से 40 हजार रुपए गुरुवार को सहायक लेखाकर ने लिए हैं. जिस पर कार्रवाई की गई है. उन्होंने बताया कि तीनों आरोपियों की शिकायत मिली थी. जिन्हे ट्रैप कर लिया गया. उन्होंने बताया कि इनके अलावा मामले में किसी ओर की संलिप्तता नजर नहीं आती. टीम मामले की जांच में जुटी हुई है.

दो बच्चों के पिता पर 17 वर्षीय नाबालिग किशोरी से दुष्कर्म करने का आरोप

दो बच्चों के पिता पर 17 वर्षीय नाबालिग किशोरी से दुष्कर्म करने का आरोप

झालावाड़: जिले के कामखेडा थाना क्षेत्र मे 17 वर्षीय नाबालिग किशोरी से डरा धमका कर पिछले दो वर्षो से दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है. आरोपी के खिलाफ पीड़िता के परिजनों ने रिपोर्ट दर्ज करवाई है. थाना अधिकारी प्रेम बिहारी नागर ने बताया कि पीड़िता ने अपने परिजनों के साथ थाने में आकर मामला दर्ज करवाया है. 

पिछले दो वर्षों से दुष्कर्म करने का आरोप: 
उन्होंने बताया कि दर्ज रिपोर्ट के अनुसार पिछले दो वर्षों से पृथ्वीपुरा निवासी शाकिर खां पुत्र सलीम खां पीड़िता को डरा धमका कर पहाड़ियों के पिछे ले जाकर दुष्कर्म करता था. इस दौरान इस बारे में किसी को बताने पर परिवार को जान से मारने की धमकी भी देता था. 

{related}

आरोपी दो बच्चों का पिता:
वहीं पीड़िता के पिता ने बताया कि जानकारी मिलने पर कामखेडा थाने में मामला दर्ज कराया है. आरोपी दो बच्चों का पिता है. इसके साथ ही पीड़िता के पिता ने परिवार के दहशत में होने की बात करते हुए सुरक्षा की भी मांग की है. 
 

Navratri Special: यहां माता के दरबार में पुलिस देती है पहरा, सरकारी आभूषणों से होता है माता का श्रृंगार

Navratri Special: यहां माता के दरबार में पुलिस देती है पहरा, सरकारी आभूषणों से होता है माता का श्रृंगार

झालावाड़: प्रदेश झालावाड़ जिले के असनावर के पास मुकंदरा की हिल्स के बीच दर्शन देती हैं मां राता देवी. यहीं नहीं यहां पुलिस देती है पहरा और झालरापाटन तहसील से जाते है सोने के आभूषण. जो 9 दिनों तक माता के श्रृंगार में शोभा बढ़ाते हैं. चलिए आपको शारदीय नवरात्रि के मौके पर मातारानी के इस धाम की यात्रा करवाते हैं. आपको बता दें कि झालावाड़ से मात्र 30 किलोमीटर दूर असनावर के निकट लावासल ग्राम पंचायत में मुकन्दरा पर्वत माला के बीच रातादेवी का मंदिर श्रद्धालुओं का आस्था का केंद्र हैं. 

हर मन्नत माता के मंदिर में होती हैं पूरी:
यह खींची राजवंश की कुलदेवी हैंं पूरा मंदिर सफेद संगमरमर से निर्मित हैं. राता देवी गागरोन के राजा अचलदास खींची की बहन थी, जो सती होने के दौरान पत्थर के रूप में  परिवर्तित हो गई. इनके यहां 2 स्वरूपों मे पुजा की जाती हैं. इसमें 1 बिजासन ओर दूसरे रूप में  अन्नपूर्ण के रूप में पुजा होती है. माता की मूर्ति के पीछे अचलदास की छाप है. चैत्र एवं शारदीय नवरात्रि में 9 दिन तक यहां मेला लगता था, जो पूरे हाड़ौती और मध्य प्रदेश के लोग यहां काफी संख्या में आते थे और पूजा अर्चना करते है. कहते है कि यहां आकर मन्त्रते मांगने से सभी की झोली भर जाती है. कोई खाली हाथ नहीं जाता, लेकिन लॉकडाउन और कोरोना के चलते यहां आने वाले लाखों भक्त अब गिनती के पहुंच रहे है, जो भक्त आ रहे है उनको भी यहां सेनेटाइज किया जा रहा है, सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करवाई जा रही है. 

{related}

लोगों के आस्था और विश्वास का केंद्र: 
यह मंदिर खींची राजाओं ने बनवाया था , यह उनकी कुल देवी के नाम से भी जानी जाती है. समय समय पर खींची राजाओं के वंशज यहां आकार पुजा अर्चना करते है. नवरात्रा में यहां उनके परिवार के लोग आते है और पूजा अर्चना करते है. लोगों का आस्था ओर विश्वास का केंद्र है यह राता देवी मंदिर. इस मंदिर में हमेशा देशी घी के दिए जलते रहते है. बाहर से आने वाले भक्तों की यहां हर इच्छा पूरी होती है. यहां नवरात्रा में मन्दिर में पुलिस का पहरा रहता है, जो हर 3 घन्टे में बदलता रहता है. यहीं नहीं सुबह शाम आरती के समय पुलिस सलामी देती है. राजस्थान का यह पहला मन्दिर होगा, जहां सरकारी आभूषणों से श्रृंगार होता है और पुलिस सलामी देती हो, श्रद्धालुओ में यहां नवरात्रा में दर्शन करने में बहुत आस्था है और पहले हजारों की संख्या में श्रद्धालु यहां नंगे पांव चले आते थे, लेकिन अभी कोरोना काल चल रहा है और प्रशासन ने भी यहां सख्ती बढा रखी है ऐसे में फर्स्ट इंडिया न्यूज के माध्यम से आप मा राता देवी के दर्शन कर सकते है. 

...फर्स्ट इंडिया के लिए आरिफ मंसूरी की रिपोर्ट 

तीन हजार रुपए के इनामी दो वांछित अपराधी चढ़े पुलिस के हत्थे, 9 माह से चल रहे थे फरार

तीन हजार रुपए के इनामी दो वांछित अपराधी चढ़े पुलिस के हत्थे, 9 माह से चल रहे थे फरार

डग (झालावाड़): प्रदेश के झालावाड़ जिले की गंगधार थाना पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए तीन हजार रुपए का इनामी सहित दो वांछित अपराधी को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की. जिला पुलिस अधीक्षक डॉ. किरण कंग सिद्धू ने बताया कि गंगधार थाना पुलिस ने लूट के मामले में फरार चल रहे जिले के 3000 रुपए के इनामी राकेश कंजर और राजा बाबू कंजर निवासी बामन देवरिया थाना उन्हेल जो लूट के मामले में 9 माह से फरार चल रहे थे, जिन को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की.

6 फरवरी को हुआ था मामला दर्ज:
दोनों अभियुक्त थाने के टॉप 10 वांटेड लिस्ट में लिस्टेड थे. जानकारी के मुताबिक   6 फरवरी को फरियादी रामलाल ने मामला दर्ज कराते हुए बताया था कि वह उसके दोस्तों के साथ मोटरसाइकिल से आलोट मध्य प्रदेश जा रहा था, तभी चार व्यक्ति द्वारा मारपीट कर बंदूक की नोक पर मोबाइल और नकदी छीन ले गए थे.जिसका मामला गंगधार थाने में दर्ज करवाया गया था.

{related}

जंगलों से किया आरोपी को गिरफ्तार:
इस संदर्भ में गंगधार पुलिस उपाधीक्षक बृजमोहन मीणा के सुपर विजन में  थानाधिकारी संजय प्रसाद के नेतृत्व में टीम गठित कर दोनों मुलजिम को तलावली के जंगलों में छिपे हुए रहने की सूचना मिलने पर जंगलों में घेरा देकर आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की.

झालावाड़ में नाले में बही बोलेरो, जीजा की मौत, साले ने खुद की तैरकर बचाई जान

झालावाड़ में नाले में बही बोलेरो, जीजा की मौत, साले ने खुद की तैरकर बचाई जान

झालावाड़: प्रदेश के झालावाड़ जिले के सारोला थाना क्षेत्र में पुलिया के नीचे नाले में कार बह जाने से जीजा की मौत हो गई. जबकि साला तैरकर बाहर निकला मगर साले ने जीजा के बारे में ग्रामीणों को नहीं बताया जिस कारण पानी में डूबने से मौत हो गई. 

पुलिस पार करते वक्त हुआ हादसा:
सारोला थाना अधिकारी अजीत सिंह चौधरी ने बताया कि थाना क्षेत्र के कड़ीखेड़ी गांव ससुराल से समरोल गांव लौटते समय छोटू लाल मीणा अपने साले तोलाराम के साथ आ रहे थे, रास्ते में भीलखेड़ा गांव के पास पुलिया पार करते समय बोलेरो नाले में बह गई. 

{related}

पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंपा:
दोनों बोलेरो सवारों ने शराब के सेवन की जानकारी मिली. मगर समरोल निवासी तोलाराम तो तैर कर बाहर निकल गया और घर जाकर सो गया और ग्रामीणों को अपने जीजा के बहने की जानकारी नहीं दी. सुबह राहगीर ग्रामीणों ने गाड़ी के एंटीने से बोलेरो को पहचाना और बाहर निकाला तो उसमें कढ़ीखेड़ी गांव निवासी मृतक छोटू लाल मीणा के रूप में पहचान हुई, जिसका अस्पताल में पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप मामला दर्ज कर लिया गया है.

VIDEO: झालावाड़ में युवक की लापरवाही पड़ी भारी, जलाशय के तेज बहाव में बहा युवक, तलाश जारी

झालावाड़: प्रदेश के झालावाड़ जिले के डग पुलिस थाना क्षेत्र के डग से पृथ्वी पूरा रोड पर स्थित जलाशय की रपट पर एक युवक रपट पार करते समय तेज बहाव में  पैर फिसलने के दौरान बह गया. युवक के पानी में डूबने का लाइव वीडियो सामने आया है, जो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है. 

तेज बहाव में बह गया युवक:
जब युवक पानी के तेज बहाव में रपट पार कर रहा था, तो आसपास के लोगों ने युवक से रपट को मना किया था, लेकिन युवक ने लोगों की बात को अनसुनी कर दी. जिसकी वजह से युवक पानी में बह गया और युवक का अभी तक पता नहीं लगा है. झालावाड जिले के डग से पृथ्वीगड़ जाते समय युवक राधेश्याम जलाशय में तेज बहाव के चलते बहा  गया. 

SMS मेडिकल कॉलेज फिर रचेगा नया कीर्तिमान, अब होंगे रोजाना 10 हजार कोरोना टेस्ट

युवक की तलाश जारी:
सूचना मिलने पर पुलिस और प्रशासन मौके पर पहुंचा. जानकारी के मुताबिक  युवक राधेश्याम आत्मज प्रभुलाल, उम्र 20 साल डग से अपने गांव पृथ्वीगड़ जा रहा था. तब रास्ते में जलाशय की रपट पर तेज बहाव में पैर फिसलने की वजह से हादसा हो गया. जिसकी वजह से युवक बह गया, अगर युवक लोगों की बात मान लेता था, तो शायद यह हादसा टल जाता. पुलिस टीम युवक की तलाश कर रही है. रेस्क्यू जारी है.

Rajasthan Corona Update: पिछले 24 घंटे में 7 मौत, 603 नए पॉजिटिव केस, जयपुर में मिले सर्वाधिक 137 संक्रमित 

नदी में आया अचानक तेज बहाव, बकरी चराने गया युवक फंसा टापू पर, पानी में बही 22 बकरियां

नदी में आया अचानक तेज बहाव, बकरी चराने गया युवक फंसा टापू पर, पानी में बही 22 बकरियां

झालावाड़: खामखेड़ा थाना क्षेत्र में बकरियों को बचाने के चक्कर में अचानक नदी में तेज बहाव के आने से 35 वर्षीय युवक एक टापू पर फंस गया. ये युवक करीब 3 घंटे तक टापू पर फंसा रहा. सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची. पुलिस ने रेस्क्यू टीम की मदद से युवक को बाहर निकाला. 

रेस्क्यू करके युवक को निकाला बाहर:
थाना प्रभारी बाबुलाल ने बताया की थाना क्षेत्र की सन्या घाट के समीप नेवज नदी में  दोपहर 3 बजे के लगभग सूचना मिली की खुरी निवासी रामदयाल मेघवाल बीच नदी में फंसा हुआ है, जिस पर मौके पर जाकर उस निकालने के प्रयास किए. लेकिन सफलता नहीं मिली इस पर अकलेरा से रेस्क्यू टीम को बुलवाकर उसे बाहर निकाला गया. 

VIDEO: बांसवाड़ा में भारी बारिश से नदी-नाले उफान पर, तेज बहाव की वजह से सीमेंट से भरा ट्रक और 5 लोग बहे

22 बकरियां तेज बहाव में बही:
युवक यहां बकरियां चराने आया हुआ था तेज पानी आने पर उसे बुलाने आया तो पानी में बहाव तेज हो गया जिस पर बालक को बाहर निकाल कर बकरियों को बचाने गया तो और तेज बहाव आ गया, जिसमें 22 बकरियां बह गई. वहीं वह तैर कर नदी के बीच में बने टापू पर पहुंच गया. जिसके बाद युवक को रेस्क्यू करके बाहर निकाला गया.

VIDEO: 33476 प्रकरणों में ना कोई जीता और ना कोई हारा, देश की पहली ऑनलाइन लोक अदालत का हुआ आयोजन