हरियाणाः किसान आंदोलन के बीच INLD का बड़ा फैसला, आगामी निगम चुनावों का करेगी बहिष्कार 

हरियाणाः किसान आंदोलन के बीच INLD का बड़ा फैसला, आगामी निगम चुनावों का करेगी बहिष्कार 

हरियाणाः किसान आंदोलन के बीच INLD का बड़ा फैसला, आगामी निगम चुनावों का करेगी बहिष्कार 

चंडीगढ़: केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के जारी आंदोलन के बीच इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) ने सोमवार को कहा कि वह केंद्र और राज्य की सरकारों द्वारा किसानों पर कथित तौर पर किए गए ‘अत्याचार’ के खिलाफ हरियाणा में आगामी निगम चुनावों का बहिष्कार करेगा. हरियाणा में नगर निकायों का चुनाव 27 दिसंबर को होगा.

अभय सिंह चौटाला का आरोप, कहा- भाजपा के मंत्री प्रदर्शनकारी किसानों का कर रहे अपमानः
इनेलो के वरिष्ठ नेता और पार्टी के विधायक अभय सिंह चौटाला ने यहां एक बयान जारी किया और आरोप लगाया कि भाजपा के मंत्री प्रदर्शनकारी किसानों को ‘‘आतंकवादी और गद्दार’’ बताकर उनका अपमान कर रहे हैं . चौटाला ने कहा कि उनकी पार्टी ने केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा अन्नदाता पर ढाए गए अत्याचारों के खिलाफ निगम चुनावों का बहिष्कार करने का फैसला किया है. उन्होंने कहा कि जिस तरह से केंद्र और राज्य में भाजपा सरकार किसानों की उपेक्षा कर रही है, यह बहुत दुखद और निंदनीय है.

भाजपा-जजपा सरकार पर लगाया आरोप, कहा- वह ऐसे समय चुनाव करवा रही जब देश में किसान कर रहे हैं प्रदर्शनः
इनेलो नेता अभय सिंह चौटाला ने कहा कि राज्य में भाजपा-जजपा सरकार ऐसे समय में चुनाव करवा रही है जब पिछले 18 दिनों से किसान कृषि कानूनों को निरस्त करने समेत अपनी विभिन्न मांगों को लेकर दिल्ली की सीमाओं के पास प्रदर्शन कर रहे हैं. अंबाला, पंचकूला और सोनीपत नगर निगमों के मेयर और पार्षद की सीटों के लिए चुनाव होगा. रेवाड़ी नगर परिषद के अध्यक्ष और सदस्यों, रोहतक में सांपला, रेवाडी में धारूहेड़ा, हिसार जिले में उकलाना की निगम समितियों के लिए चुनाव होगा.
सोर्स भाषा

और पढ़ें