UP सरकार महिलाओं के प्रति संवेदनशील नहीं- मायावती

UP सरकार महिलाओं के प्रति संवेदनशील नहीं- मायावती

UP सरकार महिलाओं के प्रति संवेदनशील नहीं- मायावती

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी (BSP) सुप्रीमो मायावती ने बुधवार को उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े करते हुए महिला उत्पीड़न के मामलों में सरकार पर असंवेदनशील और लापरवाह रवैया अपनाने का आरोप लगाया. मायावती ने सरकार को आडे हाथों लेते हुए कहा कि जब केंद्र में आपकी (बीजेपी) सरकार बैठी है तब भी आखिर महिलाओं के खिलाफ ऐसे बर्बर मामलों पर अंकुश क्यों नहीं लग पा रहा है? प्रदेश में रेप और महिला उत्पीड़न के सरकारी आंकड़े भयावह हैं.

यूपी में क्राइम अपने चरम पर, सरकार बरत रही लापरवाही:
मायावती ने सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा कि उत्तर प्रदेश में वैसे तो हर प्रकार के अपराध चरम पर होने से अपराध नियंत्रण का काफी बुरा हाल है. यूपी में क्राइम अपने चरम पर है और सरकार इसमें ढ़ीलाई और लापरवाही बरत रही है. लेकिन खासकर दलित और महिला उत्पीड़न एवं असुरक्षा की आए दिन होने वाली दर्दनाक व शर्मनाक घटनाओं से हर तरफ चिन्ता है. ऐसे संगीन मामलों में भी सरकार की असंवेदनशीलता व लापरवाही अति-दुःखद है. उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि हाथरस में दलित उत्पीड़न व पिता की हत्या तथा गुजरात में दलित आरटीआई कार्यकर्ता की निर्मम हत्या यह साबित करती है कि कांग्रेस पार्टी की तरह भाजपा सरकार में भी दलितों, शोषितों और महिलाओं आदि की जान तथा आत्म सम्मान कतई सुरक्षित नहीं है. सरकार इस ओर तुरन्त ध्यान दे.(सोर्स भाषा)

और पढ़ें