UP: किशोरी से दुष्कर्म के आरोपी को अदालत ने सुनाई 10 साल की सजा

UP: किशोरी से दुष्कर्म के आरोपी को अदालत ने सुनाई 10 साल की सजा

UP: किशोरी से दुष्कर्म के आरोपी को अदालत ने सुनाई 10 साल की सजा

बांदाः उत्तरप्रदेश के बांदा जिले की एक विशेष पॉक्सो अदालत ने दुष्कर्म से एक किशोरी के गर्भवती होने के मामले में आरोपी युवक को बृहस्पतिवार को 10 साल कैद की सजा सुनाई है और उस पर 50 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है. आपको बता दें कि 16 वर्षीय किशोरी अपने खेत जा रही थी इसी बीच युवक ने उसको सूने स्थान पर ले जाकर दरिंदगी की थी. 

पॉक्सो अदालत के विशेष लोक अभियोजक रामसुफल सिंह ने जानकारी देते हुए बताया है कि विशेष अदालत ने बलात्कार के मामले में दोषी पाए गए गिरवां थाने के एक गांव के युवक चिरौंजीलाल लोध (24) को शुक्रवार को 10 साल कैद की सजा सुनाई है और उस पर 50 हजार रुपये का जुर्माना लगाया है. इतना ही नहीं जुर्माने की 80 फीसदी राशि पीड़िता को दिए जाने का आदेश दिया गया है.

घटना के संबंध में सिंह ने बताया है कि गिरवां थाना क्षेत्र के एक गांव में 27 जनवरी 2015 को एक 16 साल की किशोरी अकेले खेत जा रही थी, तभी रास्ते में उसी गांव का युवक चिरौंजीलाल लोध उसे पकड़कर एक सूने घर में ले गया और उसके साथ बलात्कार किया था.इसके बाद आरोपी ने पीड़िता को बुरी तरह से धमका दिया था.

उन्होंने आगे बताया है कि धमकी के डर से पीड़िता ने घटना की जानकारी तब किसी को नहीं बताई थी, लेकिन आठ माह बाद जब बच्ची का प्रसव हुआ तो इस घटना का खुलासा हुआ था और सितंबर 2015 को थाने में मामला दर्ज करवाया गया था. फिलहाल देर से ही सही मगर न्याय मिलने पर पीड़ित के परिवार ने पुलिस प्रशासन और न्यायालय का शुक्रिया अदा किया है. (सोर्स-भाषा)

और पढ़ें