Live News »

राजधानी जयपुर में हुक्का बार पर कार्रवाई, रेस्टोरेंट संचालकों ने जताया विरोध 

राजधानी जयपुर में हुक्का बार पर कार्रवाई, रेस्टोरेंट संचालकों ने जताया विरोध 

जयपुर: राजधानी जयपुर में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए कई हुक्का बार के ऊपर दबिश दी. जिनमें बजाज नगर थाना पुलिस ने शाही चौपाल से बड़ी संख्या में हुक्के बरामद कर संचालक सहित एक और अन्य आरोपी को भी हिरासत में लिया. इस मौके पर बड़ी संख्या में रेस्टोरेंट संचालक बजाज नगर थाने के बाहर पहुंचे और उन्होंने पुलिस की कार्रवाई का विरोध जताया.

कोर्ट की गाइडलाइन की पालना:
इस मौके पर एडवोकेट शुभम जैन ने बताया कि कोर्ट के आदेश अनुसार रेस्टोरेंट में हुक्का चला रखा था. जिसमें कोर्ट के अनुसार हुक्के पर प्रतिबंध की गाइडेंस भी लिखी हुई थी. साथ ही हुक्के पर चेतावनी भी जारी कर रखी थी और यह हुक्का स्मोकिंग जोन में चलाया जा रहा था। जहां फ़ूड सप्लाई भी नहीं किया जा रहा था. मौके पर पहुंचे रेस्टोरेंट्स संचालकों ने इस पुलिस की कार्रवाई का विरोध जताया और कहा कि पुलिस कोर्ट के आदेशों का अवहेलना कर रही है. 

और पढ़ें

Most Related Stories

Rajasthan Corona Updates: पिछले 24 घंटे में 4 मौत, 273 नए पॉजिटिव केस, जयपुर के SMS अस्पताल में कोरोना का बड़ा विस्फोट

जयपुर: राजस्थान में कोरोना वायरस के लगातार मामले बढ़ते जा रहे है. पिछले 24 घंटे में 4 मरीजों की मौत हो गई. ज​बकि 273 नए पॉजिटिव केस सामने आये है. जयपुर में 2, भरतपुर और कोटा में एक-एक मरीज की मौत हो गई. सर्वाधिक 70 केस अकेले भरतपुर में सामने आये है. राजस्थान में कोरोना की चपेट में आने से अब तक 203 मरीजों की मौत हो चुकी है, वहीं कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 9 हजार 373 हो गई है. 

भरतपुर में सबसे ज्यादा मामले आये सामने:
मंगलवार रात 8:30 बजे तक सर्वाधिक 70 केस अकेले भरतपुर में सामने सामने आये. अजमेर 1, अलवर 10, बाड़मेर 3,  भीलवाड़ा 8 पॉजिटिव, बीकानेर 2, चित्तौडगढ़ 3, चूरू 2, दौसा में 7 पॉजिटिव, धौलपुर में 2, श्रीगंगानगर में 1, जयपुर 42 पॉजिटिव, झालावाड़ में 23, झुंझुनूं 6, जोधपुर 44, कोटा 13 पॉजिटिव, पाली 13, सीकर 5, सिरोही 12, टोंक में 1 पॉजिटिव, उदयपुर में 4 और दूसरे राज्य का एक मरीज पॉजिटिव सामने आया. 

जयपुर जंक्शन से गति पकड़ रहा ट्रेनों का संचालन, मुम्बई से 834 यात्रियों के साथ ट्रेन पहुंची जयपुर

जयपुर में एक ही दिन में 2 मौत, 42 नए पॉजिटिव:
जयपुर में एक ही दिन में 2 मरीजों की मौत हो गई. जबकि 42 नए पॉजिटिव केस सामने आये है. कुल पॉजिटिव में से अकेले 20 मरीज SMS अस्पताल से सामने आये है.इलाकेवार देखे तो एक बार फिर रामगंज में 17 नए केस सामने आये है. SMS अस्पताल के स्टाफ में से अधिकांश केस रामगंज के इलाके है. इसके अलावा सूरजपोल से 1,पांच्यावाला से 1,झोटवाड़ा से 1 पॉजिटिव, ग्रीन विहार से 1,चांदपोल से 3,शाहपुरा से 1 पॉजिटिव, झालाना कच्ची बस्ती से 1,पालडी मीणा से 1,राजपुरा से 1 पॉजिटिव, अम्बाबाडी से 1,करतापुरा अम्बेडकर नगर से 1,जवाहर नगर से 1 पॉजिटिव, शास्त्री नगर से 2,बंजारा बस्ती से 1,ब्रह्मपुरी से 1,जगतपुरा से 1 पॉजिटिव, अशोक नगर से 1,कोटपूतली से 2,मुरलीपुरा से 1,वनस्थली मार्ग से 1 पॉजिटिव, श्याम नगर से एक मरीज कोरोना पॉजिटिव मिला है. जयपुर में अब तक 96 लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि अब तक  2069 पॉजिटिव केस सामने आ चुके है. 

जयपुर के SMS अस्पताल में कोरोना का बड़ा विस्फोट:
राजधानी जयपुर के SMS अस्पताल में कोरोना का बड़ा विस्फोट हुआ है. एक ही दिन में 20 कोरोना वॉरियर कोरोना पॉजिटिव आए है. इसमें 10वार्ड ब्वॉय,एक वार्ड लेडी,एक गर्ल्स हॉस्टल की स्वीपर, दो कम्प्यूटर ऑपरेटर,दो डीडीसी सहायक,एक मोटर वर्कर,एक गेयर हाउस वर्कर,दो गार्ड जांच में पॉजिटिव निकले है.

राजस्थान रोडवेज बढ़ा रहा बस संचालन का दायरा, बुधवार से 100 नए रूटों पर चलेंगी बसें

फिर बढ़ गई शराब की कीमतें, 5 से 30 रुपए तक कीमतों में बढ़ोतरी

फिर बढ़ गई शराब की कीमतें, 5 से 30 रुपए तक कीमतों में बढ़ोतरी

जयपुर: राज्य सरकार अब प्राकृतिक या मानव निर्मित आपदाओं की जंग शराब पर लगाकर लड़ने की तैयारी में है. राज्य सरकार ने मंगलवार को एक अधिसूचना जारी कर शराब की विभिन्न किस्म और पैकिंग पर 5रुपए से लेकर 30 रुपए तक की वृद्धि कर दी है. इसका असर उपभोक्ताओं पर मंगलवार से ही पड़ना शुरू हो गया है. राज्य सरकार द्वारा जारी अधिसूचना में स्पष्ट तौर पर कहा गया है कि सूखा, बाढ़, महामारी जन स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याएं और आगजनी की स्थिति से निपटने के लिए शराब पर सर चार्ज लगाया गया है. जारी अधिसूचना के अनुसार अंग्रेजी शराब के पव्वे पर 5 रुपए, अद्धे पर 5 रुपए और बोतल पर 10 रुपए की वृद्धि की गई है.

राजस्थान रोडवेज बढ़ा रहा बस संचालन का दायरा, बुधवार से 100 नए रूटों पर चलेंगी बसें

उपभोक्ता के बीच दरों को लेकर गफलत:
इसी तरह ब्रीज़र पर 5 रुपए,  मिनिएचर और अन्य पैकिंग पर 5 रुपए और बीयर की बोतल पर 20 रुपए की वृद्धि की गई है. छोटी बीयर पर 5 रुपए की वृद्धि की गई है. देसी शराब के प्रति पव्वे और राजस्थान निर्मित शराब के प्रति पव्वे पर डेढ़ रुपए सरचार्ज लगाया गया है. आदेश में यह भी कहा गया है कि रिटेलर से यह राशि खरीदारी के समय ही वसूल की जाएगी और रिटेलर इस राशि को उपभोक्ता से वसूलेगा. बड़ी बात यह है कि सर चार्ज की राशि एमआरपी यानी अधिकतम खुदरा मूल्य में शामिल नहीं होगी ऐसे में लाइसेंसी और उपभोक्ता के बीच दरों को लेकर गफलत ही रहेगी. 

खजाना भरने के लिए शराब की दरों में लगातार वृद्धि:
इससे लाइसेंसी और ग्राहक के बीच तनाव बढ़ेगा. ध्यान रहे राज्य सरकार ने बीते वित्त वर्ष में अंग्रेजी शराब की दरों में 4 बार वृद्धि की थी और चालू वित्त वर्ष में दो बार वृद्धि की जा चुकी है. एक साल पहले जो शराब 100 रुपए की मिलती थी उसकी कीमत आज 200 रुपए से ज्यादा हो चुकी है सीधे तौर पर कहा जा सकता है कि राज्य सरकार खजाना भरने के लिए शराब की दरों में लगातार वृद्धि कर रही है. इससे उपभोक्ता को तो अपना शौक पूरा करने के लिए मोटी राशि चुकानी पड़ रही है साथ ही लाइसेंसी के लिए शराब बेचना मुश्किल हो गया है. सूत्रों की मानें तो सरकार शराब की दर बढ़ाकर राजस्व कमाना चाहती है जबकि हो इससे उलट रहा है. शराब की दर बढ़ने से शराब की बिक्री में कमी आई है ऐसी स्थिति में लाइसेंसी के लिए अपने राशि निकालना मुश्किल हो गया है और उपभोक्ता पर भी भार पड़ रहा है.

ढाई महीने के लंबे इंतजार के बाद खुले पर्यटन स्थल, पर्यटन स्थलों पर 524 पर्यटक ही पहुंचे 

ढाई महीने के लंबे इंतजार के बाद खुले पर्यटन स्थल, पर्यटन स्थलों पर 524 पर्यटक ही पहुंचे 

जयपुर: ढाई महीने के लंबे इंतजार के बाद मंगलवार को प्रदेश के स्मारक और संग्रहालयों को पर्यटकों के लिए खोल दिया गया. पहले दिन राजधानी जयपुर में आए 214 पर्यटकों सहित पूरे प्रदेश में स्मारक और संग्रहालय में पर कुल 524 सैलानी पहुंचे इनमें 7 विदेशी पर्यटक भी शामिल हैं. राजधानी में आज पहुंचे कुल 214 पर्यटकों में से आमेर 82, जंतर मंतर 23, हवा महल 43, अल्बर्ट हॉल 27, नाहरगढ़ 32, सिसोदिया रानी भाग 3, ईसरलाट 4 पर्यटक पहुंचे. 

जयपुर जंक्शन से गति पकड़ रहा ट्रेनों का संचालन, मुम्बई से 834 यात्रियों के साथ ट्रेन पहुंची जयपुर

एक विदेशी पर्यटक पहुंचा अल्बर्ट हॉल:
जंतर मंतर पहुंचे 4 विदेशी पर्यटक, एक विदेशी पर्यटक पहुंचा अल्बर्ट हॉल और 2 विदेशी पर्यटक मंगलवार को नाहरगढ़ पहुंचे. इसी तरह जयपुर के अलावा शेष राजस्थान में कुल 310 पर्यटक पहुंचे. इनमें अजमेर 33, अलवर 165, उदयपुर 1, चित्तौड़गढ़ 26, पाली 11, कोटा और झालावाड़ 13-13 पर्यटक, गागरोन किला 12, सुख महल बूंदी 10, रानी जी की बावड़ी 14 पर्यटक, 84 खंभों की छतरी दो और बूंदी 10 पर्यटक पहुंचे.

पर्यटन स्थलों की रौनक तेजी से लौटेगी:
पुरातत्व विभाग के निर्देशक प्रकाश चंद्र शर्मा ने बताया कि पर्यटन स्थल खोलने के पहले दिन सैलानियों की सर्वाधिक आमद आमेर में हुई. उम्मीद की जा रही है कि पर्यटकों की संख्या में दिन-ब-दिन इजाफा होगा और पर्यटन स्थलों की रौनक तेजी से लौटेगी.

राजस्थान रोडवेज बढ़ा रहा बस संचालन का दायरा, बुधवार से 100 नए रूटों पर चलेंगी बसें

राजस्थान रोडवेज बढ़ा रहा बस संचालन का दायरा, बुधवार से 100 नए रूटों पर चलेंगी बसें

जयपुर: अनलॉक 1.0 में राजस्थान रोडवेज अपने संचालन का दायरा बढ़ाने जा रहा है. इसके तहत रोडवेज प्रबंधन कल से करीब 100 नए मार्गों पर बसों का संचालन शुरू करेगा. 2 महीने से अधिक के लॉक डाउन के बाद अब प्रदेश सरकार जनजीवन को सामान्य करने के प्रयास कर रही है. हाल में सरकार ने सार्वजनिक परिवहन सेवा को शुरू करने का एलान किया था. सरकार के आदेशों के बाद अब रोडवेज बुधवार से अपने संचालन का दायरा बढ़ाने जा रहा है. बुधवार से करीब 100 रूटों पर राजस्थान रोडवेज की बसें शुरू हो जाएंगी. बुधवार से चलने वाली सभी बसों के बारे में रोडवेज की वेबसाइट से जानकारी ली जा सकती है. बुधवार से शुरू हो रही नई बसों के लिए ऑनलाइन बुकिंग भी शुरू की जा चुकी है. 

जयपुर के लिए शुरू हो जाएगा बसों का संचालन:
रोडवेज प्रबंधन ने बुधवार से शुरू हो रही बसों को लेकर यह प्रयास किया है कि सभी जिला मुख्यालयों से जयपुर के लिए बसों का संचालन शुरू हो जाएगा. अब प्रदेश के सभी जिलों में भी कल से बसों का संचालन शुरू हो जाएगा. रोडवेज के एमडी नवीन जैन ने बताया कि कल से ही राजस्थान रोडवेज़ अंतर्राज्यीय बस सेवा भी शुरू कर देगा. पहले चरण में फिलहाल हरियाणा के लिए ही यह सेवा शुरू होगी लेकिन जल्द ही इस सेवा का विस्तार किया जाएगा. रोडवेज एमडी ने सभी आगार प्रबंधक को आदेश जारी कर कोरोना को लेकर जारी सभी गाइडलाइंस का पालन करने के निर्देश दिए हैं.

यहां से शुरू होंगी रोडवेज की बसें:

जयपुर से गुड़गांव

जयपुर से हिसार

जयपुर से कोटा

जयपुर से जोधपुर

जयपुर से उदयपुर

जयपुर से भरतपुर

जयपुर से बीकानेर

जयपुर से तिजारा

भरतपुर से अलवर

नागौर से बीकानेर

ब्यावर से पाली

जैसलमेर से जोधपुर

जैसलमेर से बाड़मेर

भीलवाड़ा से देवली

भीलवाड़ा से अजमेर

भीलवाड़ा से कोटा

रोडवेज ने किया कैशबैक ऑफर भी लॉन्च:
बुधवार से 100 नए रूटों पर शुरू हो रहीं बसों को लेकर एक अच्छी खबर यह है कि अब बसों में यात्रा करने के लिए सिर्फ़ ऑनलाइन टिकिट लेने की अनिवार्यता नही है. यात्री काउंटर से या बस में परिचालक से भी टिकिट ले सकेंगे. सिर्फ ऑनलाइन टिकिट के विकल्प के कारण ग्रामीण क्षेत्र के यात्रियों को काफी परेशानी हो रही थी. हालांकि ऑनलाइन तिकीटिंग को बढ़ावा देने के लिए रोडवेज ने कैशबैक ऑफर भी लॉन्च किया है.  ऑनलाइन बुकिंग को बढ़ावा देने के उद्देश्य से रोडवेज ने ऑनलाइन टिकट बुक कराने पर 5 प्रतिशत कैश बैक देने की योजना बनाई है. लेकिन यह कैश बैक केवल रजिस्टर्ड यूजर को ही मिलेगा. इसके लिए आपको टिकट बुक करने से पहले वेबसाइट पर रजिस्टर्ड करना होगा. यात्रियों के लिए अच्छी खबर यह भी है कि अब बस में 30 सवारी होने के आदेश को भी वापस ले लिया है,,अब बस में सभी सीटों के अनुसार 52 यात्री सफर कर सकेंगे. हालांकि बस में खड़े हो कर यात्रा करने पर रोक रहेगी.

सामान्य लोग भी जा सकेंगे अब अपनी मंजिल तक:
रोडवेज ने बस संचालन में कहीं संक्रमण नहीं फैल जाए इसे लेकर भी आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए हैं. इसके तहत रूट पर बस को भेजने से पहले उसे पूरी तरह से सेनेटाइज किया जाएगा. वहीं क्षमता के अनुसार ही बस में यात्री बैठाए जाएंगे. इसके अलावा बस स्टैंड पर पूछताछ खिड़की, टिकट विंडो और परिचालक को वॉशेबल ग्लब्ज़, फेश शील्ड और मास्क पहनना अनिवार्य किया जाएगा. इन 100 नए मार्गों पर बसें चलाने के बाद रोडवेज जल्द ही मार्गों की संख्या बढ़ाएगा, अगले सप्ताह से 200 रूट्स पर बसों का संचालन किया जाएगा. इसके लिए आप भी [email protected] पर ईमेल करके अपने सुझाव भेज सकते हैं. रोडवेज सीएमडी नवीन जैन का कहना है कि रूट्स निर्धारण में इन सुझावों को भी पूरा महत्व दिया जाएगा. सार्वजनिक परिवहन सेवा शुरू होने से अलग अलग जिलों में अटक रहे सामान्य लोग भी अब अपनी मंजिल तक जा सकेंगे. लोगों के मूवमेंट से आमजन जीवन भी सामान्य होगा.

...फर्स्ट इंडिया के लिए शिवेंद्र परमार की रिपोर्ट

जयपुर जंक्शन से गति पकड़ रहा ट्रेनों का संचालन, मुम्बई से 834 यात्रियों के साथ ट्रेन पहुंची जयपुर

जयपुर: जयपुर जंक्शन से ट्रेनों का संचालन अब गति पकड़ रहा है, लेकिन यात्रियों की संख्या के अनुरूप स्टेशन पर पर्याप्त सुविधाएं नहीं रखे जाने से सोशल डिस्टेंसिंग रख पाना संभव नहीं हो पा रहा है. मंगलवार दोपहर में जब स्पेशल ट्रेन मुम्बई से जयपुर पहुंची तो यात्रियों की भीड़ के आगे इंतजाम नाकाफी नजर आए और सोशल डिस्टेंसिंग की पालना नहीं हो सकी. यूं तो देशभर में 200 स्पेशल ट्रेनों का संचालन कल से शुरू हो गया था, लेकिन सही मायनों में जयपुर जंक्शन से ट्रेनों का संचालन मंगलवार से शुरू हुआ है. मंगलवार दोपहर मुम्बई सेंट्रल से स्पेशल ट्रेन जयपुर पहुंची. 

मुम्बई ट्रेन के समय नहीं रखी जा सकी सोशल डिस्टेंसिंग:
यात्रियों की संख्या बहुत अधिक नहीं होने के बावजूद जयपुर जंक्शन पर सोशल डिस्टेंसिंग नहीं रखी जा सकी.दरअसल ट्रेन से उतरते समय यात्रियों के बाहर निकलने के लिए दो निकास द्वार तय किए गए हैं. लेकिन मंगलवार को जब मुम्बई सेंट्रल से दोपहर साढ़े बारह बजे यह ट्रेन जयपुर पहुंची, तो उसी समय इस ट्रेन से मुम्बई जाने वाले यात्री भी स्टेशन पहुंचे हुए थे, ऐसे में यात्रियों का निकास दो के बजाय केवल एक गेट से कर दिया. कॉनकोर्स हॉल वाले निकास द्वार से यात्रियों का निकास नहीं करते हुए केवल एस्केलेटर वाले गेट से ही निकास रखा गया। चूंकि प्रत्येक यात्री की डिटेल वाला डिक्लेरेशन फॉर्म भरवाया जाता है और उसकी स्वास्थ्य जांच भी की जाती है, ऐसे में निकलते समय यात्रियों की जांच में अधिक समय लगा. इस वजह से निकास द्वार पर यात्रियों की कतार काफी अधिक लम्बी हो गई और भीड़ के कारण यात्रियों के बीच 2 फुट की दूरी भी नहीं रखी जा सकी। इसके बावजूद यात्रियों को बाहर निकालने में एक घंटे से ज्यादा समय लगा.

केंद्र के 10 राज्यों के तुलनात्मक अध्ययन में राजस्थान अव्वल, चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने सार्वजनिक की केंद्रीय रिपोर्ट

इस तरह रहा कुछ ट्रेन संचालन
- मुम्बई सेंट्रल से दोपह 12:30 बजे ट्रेन जयपुर जंक्शन पहुंची
- इस ट्रेन से 834 यात्री जयपुर आए, 64 यात्री दुर्गापुरा स्टेशन पर उतरे
- जयपुर से दोपहर 2 बजे स्पेशल ट्रेन मुम्बई के लिए रवाना हुई
- इस ट्रेन से कुल 779 यात्री मुम्बई के लिए रवाना हुए
- मुम्बई से आई ट्रेन में 5 यात्री बगैर मास्क पाए गए, इनके चालान किए
- इन यात्रियों से प्रति यात्री 200 रुपए जुर्माना वसूला गया
- आज अलसुबह अहमदाबाद-दिल्ली आश्रम एक्सप्रेस का आगमन हुआ
- ट्रेन में 126 यात्री अहमदाबाद से जयपुर आए, 132 जयपुर से दिल्ली गए
- जयपुर से जोधपुर गई ट्रेन में 284 यात्री रवाना हुए

यात्रियों की भीड़ बढ़ी, लेकिन एक ही गेट से रखा निकास:
यूं तो रेलवे प्रशासन ने सोशल डिस्टेंसिंग और सेनिटाइजेशन के लिए काफी इंतजाम किए हैं, लेकिन इन्हें और व्यवस्थित किए जाने की जरूरत है. जिस तरह से आज यात्रियों के निकास के समय एक गेट से बाहर निकलते समय परेशानी हुई है, उसे देखते हुए रेलवे प्रशासन को अतिरिक्त इंतजाम करने होंगे. चूंकि मुम्बई सेंट्रल ट्रेन के समय अधिक यात्रीभार रहेगा, और शाम को आश्रम एक्सप्रेस के आगमन के समय भी ज्यादा भीड़ रह सकती है, उस हिसाब से यात्रियों को अधिक सावधानी बरतनी होगी. यात्रियों के स्टेशन से बाहर निकलते समय कॉनकोर्स हॉल स्थित मुख्य निकास द्वार को भी खुला रखना जरूरी होगा. इसके अलावा चिकित्सा टीमों की संख्या में भी बढ़ोतरी करनी होगी. एक विकल्प यह भी हो सकता है कि यात्रियों को डिटेल्स भरने वाले डिक्लेरेशन फॉर्म पहले से मुहैया करवाए जाएं या फिर बोर्डिंग वाले स्टेशन पर ही यात्रियों से डिटेल भरवा ली जाए, अन्यथा निकास के समय भीड़ से इंतजाम और खराब हो सकते हैं. 

...फर्स्ट इंडिया के लिए काशीराम चौधरी की रिपोर्ट

सूरत, उदयपुर, जालंधर के लिए शुरू नहीं हो पा रहीं फ्लाइट, हवाई यात्रियों के लिए नहीं बढ़ पा रहे विकल्प

सूरत, उदयपुर, जालंधर के लिए शुरू नहीं हो पा रहीं फ्लाइट, हवाई यात्रियों के लिए नहीं बढ़ पा रहे विकल्प

सूरत, उदयपुर, जालंधर के लिए शुरू नहीं हो पा रहीं फ्लाइट, हवाई यात्रियों के लिए नहीं बढ़ पा रहे विकल्प

जयपुर: जयपुर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से हवाई सेवाओं में ज्यादा बढ़ोतरी नहीं दिख रही है. घरेलू फ्लाइट्स में कई शहर ऐसे हैं, जिनके लिए एयर कनेक्टिविटी नहीं सुधर पा रही है. एयरलाइंस ने शेड्यूल में सूरत, जालंधर, उदयपुर जैसे कई शहरों के लिए फ्लाइट संचालित करने का प्रस्ताव दिया था, लेकिन इन शहरों के लिए अभी तक फ्लाइट्स शुरू नहीं हो पा रही हैं.

स्पाइसजेट की एयरलाइन की 4 फ्लाइट रद्द:
सूरत के लिए यात्रियों को मुम्बई या दिल्ली होकर जाना पड़ रहा है. इसी तरह जालंधर और उदयपुर के लिए भी फ्लाइट्स शुरू नहीं हो पा रही हैं. मंगलवार को जयपुर एयरपोर्ट से कुल 8 फ्लाइट रद्द हैं, जबकि 12 फ्लाइट संचालित हो रही हैं. इनमें सबसे ज्यादा 4 फ्लाइट स्पाइसजेट एयरलाइन की रद्द हुई हैं. इंडिगो और एयर एशिया की भी दो-दो फ्लाइट रद्द हुई हैं. हालांकि एयर इंडिया अपनी सभी 3 फ्लाइट संचालित कर रही है. वहीं मंगलवार को जयपुर एयरपोर्ट से वंदे भारत मिशन की फ्लाइट भी संचालित नहीं हो रही है.

शराब के शौकीनों को बड़ा झटका, जानिए राजस्थान में कितनी महंगी हुई बीयर और शराब

ये 8 फ्लाइट रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 5:45 बजे सूरत जाने वाली फ्लाइट SG-2763 हुई रद्द
- इंडिगो की सुबह 6:10 बजे बेंगलूरु जाने वाली फ्लाइट 6E-839 हुई रद्द
- इंडिगो की सुबह 6:40 बजे मुंबई जाने वाली फ्लाइट 6E-218 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 7:20 बजे जालंधर जाने वाली फ्लाइट SG-2750 हुई रद्द
- एयर एशिया की सुबह 9:15 बजे बेंगलूरु जाने वाली फ्लाइट I5-1721 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 9:45 बजे उदयपुर जाने वाली फ्लाइट SG-6632 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 11:15 बजे अमृतसर जाने वाली फ्लाइट SG-3522 हुई रद्द
- एयर एशिया की शाम 5:15 बजे पुणे जाने वाली फ्लाइट I5-1427 हुई रद्द

...फर्स्ट इंडिया के लिए काशीराम चौधरी की रिपोर्ट

मुकुंदरा से आई खुशखबरी, बाघिन MT-2 ने दिया दो शावकों को जन्म, मुख्यमंत्री गहलोत ने जताई खुशी

केंद्र के 10 राज्यों के तुलनात्मक अध्ययन में राजस्थान अव्वल, चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने सार्वजनिक की केंद्रीय रिपोर्ट

जयपुर: कोरोना रोकथाम को लेकर राजस्थान सरकार ने देश भर में अपनी अलग पहचान बनाई है. खुद केंद्र सरकार ने देश के 10 राज्यों में अलग-अलग मापदंडों पर स्टडी कराई जिसमें राजस्थान अव्वल आया है.चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने इस उपलब्धि का श्रेय मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की माइक्रो प्लानिंग और प्रदेशवासियों की सजगता और सावधानी को दिया है. केंद्र सरकार ने कोरोना को लेकर 10 राज्यों द्वारा कोरोना की रोकथाम के लिए किए कार्यों का अध्ययन कर रिपोर्ट प्रस्तुत की है.इस रिपोर्ट में राजस्थान हर मामले में एक नंबर पर रहा है.

अकेले राजस्थान में 4 लाख टेस्ट:
भले ही बात एक्टिव केसेज, रिकवर केसेज, मृत्यु दर या अन्य प्रदेष हर इंडेक्स में राजस्थान नंबर वन पर है.इस पूरे मामले में चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कहा है कि पूरे देश में जहां 35 लाख टेस्ट हुए हैं, उनमें से अकेले राजस्थान में 4 लाख टेस्ट किए जा चुके हैं.SMS अस्पताल में अकेले 1 लाख 10 हजार से ज्यादा टेस्ट किए गए हैं. प्रदेश में 18 दिनों में संक्रमितों की संख्या दोगुनी हो रही है, जबकि देश में यह दर तो 12 दिनों में ही है. यही वजह कि राजस्थान में कोरोना संक्रमण का ग्राफ नीचे जा रहा है.  

मुकुंदरा से आई खुशखबरी, बाघिन MT-2 ने दिया दो शावकों को जन्म, मुख्यमंत्री गहलोत ने जताई खुशी

18250 टेस्ट प्रतिदिन करने की क्षमता विकसित:
चिकित्सा मंत्री ने बताया कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में सरकार ने हर पहलू पर बेहतर काम किया.उन्होंने बताया कि प्रदेश में मृत्युदर 2.16 है, जो राष्ट्रीय औसत से काफी कम है. प्रदेश में 201 लोगों की मृत्यु हुई है उसमें कोविड को लेकर कुछेक होंगी.जो अब तक मौतें हुई हैं वे अधिकतर किडनी, ह्दय, डायबीटीज, कैंसर व अन्य बीमारियों से हुई हैं.उन्होंने कहा कि यह मुख्यमंत्री का ही विजन था कि जिस प्रदेश में जीरो टेस्टिंग थी वहां आज 18250 टेस्ट प्रतिदिन करने की क्षमता विकसित कर ली है. जल्द ही 25000 के लक्ष्य को भी पा लेंगे.

- सरकार की माइक्रो प्लानिंग के चलते ही कोरोना गांवों में फैलने से बचा
- चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा का दावा
- चिकित्सा मंत्री ने कहा सरकार होम, इंस्टीट्यूषनल क्वारंटीन सेंटर, कोविड केयर सेंटर, कोविड डेडिकेटेड अस्पाल नहीं बनाती तो संक्रमितों की तादात कहीं ज्यादा होती
- प्रदेश की संस्थागत क्वारंटीन सुविधा अव्वल दर्जे की रही है
- ग्राम, उपखंड और जिला स्तर पर कमेटी बनाकर जो माइक्रो लेवल पर काम किया उसी का नतीजा रहा कि 11 लाख लोग अहमदाबाद, सूरत, मुंबई जैसे देश के अन्य संक्रमित हिस्सों से गावों में आए लेकिन संक्रमण उतना नहीं फैल पाया
ग्राफिक्स आउट

राजस्थान में 2803 एक्टिव केसेज:
चिकित्सा मंत्री ने बताया कि राज्य में पहले कोरोना केसेज का ग्राफ बढ गया था लेकिन अब यह नीचे आ रहा है. प्रदेश में अब लोगों की सावधानी की वजह से संक्रमण बढ नहीं रहा है. अब ग्रामीण लोगों में भी कोरोना को लेकर जागरूकता आने लगी है. उन्होंने कहा कि प्रदेश में हालांकि 2803 एक्टिव केसेज हैं लेकिन इनमें से 2620 प्रवासी कामगार हैं. प्रवासियों को छोड़कर केवल 103 केसेज वर्तमान में एक्टिव हैं. उन्होंने कहा कि यही वजह कि जयपुरिया और एसएमएस अस्पताल को कोविड फ्री कर दिया गया है.

प्रदेश में चलाई गई 550 मोबाइल ओपीडी वैन: 
डॉ शर्मा ने कहा कि धीरे-धीरे अब प्रदेश में राष्टीय कार्यक्रम, टीकाकरण, मातृ-शिशु के कार्यक्रम, कैंसर रोकथाम और अन्य कार्यक्रमों को जारी रखेंगे ताकि स्वस्थ और निरोगी रहकर कोराना का सामना कर सकें. उन्होंने कहा कि कोरोना के अलावा अन्य बीमारियों के उपचार के लिए प्रदेश में 550 मोबाइल ओपीडी वैन चलाई गई, जिससे लाखों लोग लाभान्वित हो चुके हैं. आमजन को घर बैठे ऑनलाइन चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए ई-संजीवनी पोर्टल शुरू किया. जहां हजारों लोग सीधे या ई-मित्र के जरिए परामर्ष और उपचार ले चुके हैं. उन्होंने कहा कि जब हम कोरोना को काफी हद तक नियंत्रित कर चुके हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट का हवाला देते हुए चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कहा हैै कि कोरोना को पूरी तरह खत्म होने में सालों लगेंगे.इसलिए रोकथाम की सावधानियों को जीवन शैली में अपनाकर ही कोरोना से बचा जा सकता है.

शराब के शौकीनों को बड़ा झटका, जानिए राजस्थान में कितनी महंगी हुई बीयर और शराब

शराब के शौकीनों को बड़ा झटका, जानिए राजस्थान में कितनी महंगी हुई बीयर और शराब

शराब के शौकीनों को बड़ा झटका, जानिए राजस्थान में कितनी महंगी हुई बीयर और शराब

जयपुर: राजस्थान सरकार ने शराब पर सरचार्ज के लिए अधिसूचना जारी कर दी है. राज्य सरकार ने 1 माह में दूसरी बार शराब के दाम बढ़ाए है. अब शराब पर सरचार्ज से आपदाओं से संघर्ष होगा. राज्य सरकार ने अधिसूचना जारी की है. सूखा,बाढ़,महामारी,जन स्वास्थ्य,आगजनी के नाम पर सरचार्ज लगाया है. शराब की विभिन्न पैकिंग पर 5रुपए से 20रुपए तक सरचार्ज लगाया है.

भरतपुर के पहाड़ी में ACB की कार्रवाई, JTA रविन्द्र कुमार को 5 हजार की रिश्वत लेते दबोचा 

शराब पर सरचार्ज के लिए राज्य सरकार की अधिसूचना:
-अंग्रेजी शराब के पव्वे पर 5रुपए
-अद्धे पर 5रुपए, बोतल पर 10रुपए
-ब्रीज़र पर 5रुपए, मिनिएचर व अन्य पैलललकिंग पर 5रुपए
-बीयर बोतल पर 20 रुपए
-छोटी बीयर पर 5रुपए, 
-500ml बीयर पर 20 रुपए
-देसी शराब पर 1.50 रुपए 
-RML पर 1.50 रुपए सरचार्ज
-सरकार ने 1 महीने में दूसरी बार बढ़ाए शराब के दाम

मुकुंदरा से आई खुशखबरी, बाघिन MT-2 ने दिया दो शावकों को जन्म, मुख्यमंत्री गहलोत ने जताई खुशी

Open Covid-19