एक्टर सोनू सूद ने फिर दिखाई दरियादिली, छात्रों के हित को लेकर सरकार से की अपील

 एक्टर सोनू सूद ने फिर दिखाई दरियादिली, छात्रों के हित को लेकर सरकार से की अपील

नई दिल्ली: कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने देशभर की एक बार फिर मुश्किलें बढ़ा दी हैं. देश के कई हिस्सों में फिर से लॉकडाउन और कर्फ्यू की स्थिति बन गई है. वहीं स्कूल और कॉलेज भी बंद हो गए हैं. इन सबके बीच बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद ने बच्चों की बोर्ड परीक्षाओं को रद्द करने की अपील की है. इतना ही नहीं उन्होंने अन्य देशों का उदाहरण देते हुए सरकार से परीक्षा रद्द करने की अपील की है.

छात्र मौजूदा परिस्थितियों के बीच परीक्षा में बैठने के लिए तैयार नही:
सोनू सूद ने यह अपील सोशल मीडिया के जरिए की है. उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर अपना एक वीडियो साझा किया है. इस वीडियो में उन्होंने बोर्ड परीक्षा को ऑफलाइन न करवाने की अपील की है. सोनू सूद ने वीडियो में कहा है कि छात्रों की ओर से मैं एक निवेदन करना चाहता हूं. सीबीएसई और बोर्ड परीक्षाएं ऑफलाइन होने जा रही हैं. मुझे नहीं लगता कि छात्र मौजूदा परिस्थितियों के बीच परीक्षा में बैठने के लिए तैयार हैं.


आम आदमी को इसमें आगे आना चाहिए:
सोनू सूद ने सऊदी अरब और मैक्सिको जैसे अन्य देशों का उदाहरण देते हुए वीडियो में यह बताया है कि वहां कोरोना के बहुत कम मामले होने के बावजूद शैक्षणिक संस्थानों ने परीक्षा रद्द कर दी है. अभिनेता ने कहा कि फिर भी, हम परीक्षा करवाने की सोच रहे हैं, जो अनुचित है. मुझे नहीं लगता कि ऑफलाइन परीक्षा के लिए यह सही समय है. मैं चाहूंगा कि हर कोई आगे आए और इन छात्रों का समर्थन करे, ताकि वह सुरक्षित रह सकें, शुभकामनाएं.

छात्रों के साथ हो आंतरिक मुल्यांकन की नीति:
इस वीडियो के साथ सोनू सूद ने अपने ट्वीट में लिखा है कि मैं उन सभी छात्रों से समर्थन करने का अनुरोध करता हूं जो इस कठिन समय में ऑफलाइन बोर्ड परीक्षाओं के लिए उपस्थित होने के लिए मजबूर हैं. एक दिन में 1 लाख से ज्यादा तक बढ़ रहे मामलों की संख्या के साथ मुझे लगता है कि इतने सारे जीवन को खतरे में डालने के बजाय उन्हें बढ़ावा देने के लिए एक आंतरिक मूल्यांकन विधि होनी चाहिए. अपने इस ट्वीट में सोनू सूद ने हैशटैग के साथ बोर्ड परीक्षा रद्द करने की अपील की है. उन्होंने #cancelboardexam2021 लिखा है. आपको बता दें कि देश में कोरोना वायरस की रफ्तार बेहद खतरनाक हो चुकी है. एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के रिकॉर्ड 1.50 लाख से अधिक नए मामले सामने आए हैं. जिसके बाद पहली बार उपचाराधीन मरीजों की संख्या 11 लाख के पार पहुंच गई है.

कई राज्यों में लगी सख्त पाबंदियां:
महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, पंजाब, गुजरात, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु में मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। ऐसे में राज्य सरकारों ने सख्त पाबंदियां लगानी शुरू कर दी है। महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में वीकेंड लॉकडाउन लगाया है, जबकि दिल्ली सरकार ने सामाजिक, धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रमों पर पूरी तरह से रोक लगा दी है. मध्य प्रदेश के कई जिलों में लॉकडाउन को आगे बढ़ा दिया गया है.

और पढ़ें