एडीजे भर्ती 2018: एडवोकेट कोटे के 48 पदों के लिए मात्र 7 अभ्यर्थी हुए उत्तीर्ण, मजिस्ट्रेट कोटे से एक भी अभ्यर्थी नहीं हुआ सफल

Nizam Kantaliya Published Date 2019/08/26 09:08

जयपुर: प्रदेश की लॉअर ज्यूडिशरी में रिक्त पदों को भरने की कवायद को एक बार फिर झटका लगा है. एडीजे भर्ती 2018 के तहत 69 पदों के लिए निकाली गयी भर्ती के लिए राजस्थान हाईकोर्ट को योग्य उम्मीदवार नहीं मिल पा रहे है. हालात ये है कि एडवोकेट कोटे के 48 पदो के लिए मात्र 7 एडवोकेट साक्षात्कार के लिए चुने गये है. इससे भी बुरी स्थिती ज्यूडिशिल अधिकारियों के परिणाम से सामने आयी है. मजिस्ट्रेट कोटे से एडीजे भर्ती में 21 पदों के लिए भर्ती निकाली गयी थी लेकिन मुख्य परीक्षा में एक भी अभ्यर्थी सफल नही हो पाया है. 

एडीजे 69 पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया: 
प्रदेश की न्यायपालिका को मजबूत करने के लिए इरादे से वर्ष 2018-19 के लिए एडीजे 69 पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू कि गयी. इनमें से 48 पद वकील कोटे से सीधी भर्ती के जरिए भरे जा रहे है. वहीं 21 पद मजिस्ट्रेट कोटे से भरे जाने थे. वकील कोटा और मजिस्ट्रेट कोटा दोनों के लिए ही परीक्षा का आयोजन किया गया. पहली प्रारंभिक परीक्षा 7 जुलाई 2018 को आयोजित होनी थी लेकिन पीएम मोदी के जयपुर दौरे के चलते हाईकोर्ट ने इस परीक्षा को स्थगित कर दिया था. बाद में हाईकोर्ट प्रशासन ने इस भर्ती को ही रद्द कर नए सिरे से भर्ती निकाली गयी. हाईकोर्ट प्रशासन द्वारा नए सिरे से निकाली गयी भर्ती के लिए 26 सितंबर से 10 अक्टूबर 2018 तक आवेदन लिये गये. वकील कोटे के पदों में 17 पद बैकलॉग के रखे गये. इसके साथ ही वकील कोटे से जिन अभ्यर्थियो को 2017 की भर्ती में पात्र मान लिया गया था उन्हे आवेदन नही करने की छुट दी गयी. इस भर्ती के लिए 23 और 24 फरवरी 2019 को लिखित परीक्षा का आयोजन किया गया. 

48 पदों पर मात्र 7 अभ्यर्थी ही उत्तीर्ण:  
हाईकोर्ट परीक्षा रजिस्ट्रार की ओर से जारी किये गये परिणाम के अनुसार 48 पदों पर मात्र 7 अभ्यर्थी ही उत्तीर्ण हो पाये है. इस परीक्षा परिणाम में सफल हुए सभी अभ्यर्थी एडवोकेट कोटे से है. वहीं ज्यूडिशियल कोटे से इस परीक्षा में शामिल होने वाले सैकड़ों अभ्यर्थियो में से एक भी अभ्यर्थी उत्तीर्ण नही हो पाया है. एडीजे भर्ती 2018 के लिए मुख्य परीक्षा 23 और 24 फरवरी 2019 को आयोजित कि गयी थी. जोधपुर-जयपुर के 67 परीक्षा केन्द्रों पर आयोजित हुई इस परीक्षा में 2750 अभ्यर्थी शामिल हुए थे. इन 2750 अभ्यर्थियो में से मात्र 7 अभ्यर्थियों का ही साक्षात्कार के लिए चयन हुआ है. अधिवक्ताओं का तर्क है कि जितने पद है उससे तीन गुणा अभ्यर्थियों को पास किया जाना चाहिए लेकिन इस परीक्षा में ऐसा कुछ नही हुआ है. 

भर्ती और विवाद दोनों चलते रहे साथ साथ: 
एडीजे भर्ती 2018 के नोटिफिकेशन के साथ ही विवाद भी शुरू हो गया थे. अधिवक्ता कोटे में न्यायिक अधिकारियों के शामिल करने के प्रावधान का प्रदेशभर के अधिवक्ताओं ने विरोध किया था. एडीजे भर्ती मामले में सुप्रीम कोर्ट के अंतरिम आदेश के बाद से प्रदेशभर में अधिवक्ताओं ने विरोध जताया. जयपुर बार एसोसिएशन के नेतृत्व में अधिवक्ता 15 दिन तक हड़ताल पर भी रहे थे. ये विवाद एडीजे भर्ती में अधिवक्ताओं के 25 प्रतिशत कोटे में न्यायिक अधिकारियों को भी सम्मिलित करने से शुरू हुआ था. इस भर्ती को लेकर लगातार हाईकोर्ट से लेकर सुप्रीम कोर्ट में कई याचिकाए दायर हुई. प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा के प्रश्न पत्रों को लेकर भी हाईकोर्ट में दर्जनो याचिकाए दायर हुई. इसी के चलते मुख्य परीक्षा परिणाम होने के 6 माह बाद इसका परिणाम जारी किया जा सका. परिणाम जारी होने के बाद भी कई अधिवक्ताओं इसके विरोध की तैयारी है. राजस्थान हाईकोर्ट बार एसोसिएशन जयपुर से जुड़े कई अधिवक्ताओं ने सोशल मीडिया पर परिणाम को लेकर सवाल खड़े किये है.

हाईकोर्ट में हुई बैठक:
एडीजे भर्ती 2018 की मुख्य परीक्षा का परिणाम जारी होने से कुछ देर पूर्व ही राजस्थान हाईकोर्ट में मुख्य न्यायाधीश एस रविन्द्र भट्ट की अध्यक्षता में बैठक हुई. बैठक में जस्टिस मोहम्मद रफीक, जस्टिस संगीतराज लोढा मौजुद रहे. सूत्रों के अनुसार परिणाम जारी करने से पूर्व परीक्षा कमेटी द्वारा इस कमेटी से अनुमोदन कर परिणाम जारी किया गया है. इसी के चलते जोधपुर हाईकोर्ट के वरिष्ठ न्यायाधीश संगीत लोढा खासतौर से जयपुर पहुंचे थे. 

विरोध के सुर: 
परिणाम जारी होने के बाद भी कई अधिवक्ताओं इसके विरोध की तैयारी में है. राजस्थान हाईकोर्ट बार एसोसिएशन जयपुर से जुड़े कई अधिवक्ताओं ने सोशल मीडिया पर परिणाम को लेकर सवाल खड़े किये है. विभिन्न बार से जुड़े कई पदाधिकारियों ने नाम नही छापने की प्रार्थना करते हुए कहा कि वे सोमवार को इस मामले पर चर्चा करेंगे. वहीं सोशल मीडिया पर चल रहे मैसेज में अधिवक्ता आपस में एक होने की बात कह रहे है. 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in