राजस्थान में 'प्रशासन गांवों के संग' और 'प्रशासन शहरों के संग' अभियान का आज से होगा आगाज, CM गहलोत ने कहा- आमजन से जुड़ी समस्याओं का मौके पर ही होगा समाधान

राजस्थान में 'प्रशासन गांवों के संग' और 'प्रशासन शहरों के संग' अभियान का आज से होगा आगाज, CM गहलोत ने कहा- आमजन से जुड़ी समस्याओं का मौके पर ही होगा समाधान

राजस्थान में 'प्रशासन गांवों के संग' और 'प्रशासन शहरों के संग' अभियान का आज से होगा आगाज, CM गहलोत ने कहा- आमजन से जुड़ी समस्याओं का मौके पर ही होगा समाधान

जयपुर: राजस्थान में आम लोगों से जुड़ी समस्याओं का मौके पर ही समाधान देने के लिए दो बड़े अभियान 'प्रशासन गांवों के संग' व 'प्रशासन शहरों के संग' का आज से आगाज होने जा रहा है. एक बयान के अनुसार अभियान की शुरूआत मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अपने निवास स्थान पर आयोजित कार्यक्रम में करेंगे.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस बारे में ट्वीट कर जानकारी देते हुए बताया कि राज्य सरकार का महत्वाकांक्षी कार्यक्रम है 'प्रशासन गांवों और शहरों के संग अभियान-2021' जिसके माध्यम से आमजन से जुड़ी समस्याओं का मौके पर ही समाधान सुनिश्चित किया जाएगा. 

उन्होंने कहा कि इस अभियान के लिए जटिलताओं को दूर करते हुए विभिन्न नियमों का सरलीकरण किया गया है. जिससे वर्षों से लंबित कार्यों के पूर्ण होने में सुगमता होगी. इस अभियान के लिए मेरी शुभकामनाएं. 

इसके साथ ही सीएम गहलोत ने ट्वीट कर आज से गांव सभा में विभिन्न योजनाओं में किए जाने वाले कार्यों की भी जानकारी साझा की. 
प्रशासन गांवों के संग अभियान 17 दिसम्बर, 2021 तक चलेगा: 

आपको बता दें कि प्रशासन गांवों के संग अभियान 17 दिसम्बर, 2021 तक चलेगा और इसके तहत राज्य की 352 पंचायत समितियों में कुल 11,341 ग्राम पंचायत मुख्यालयों पर शिविर आयोजित होंगे. अभियान के दौरान राजस्व विभाग के अतिरिक्त अन्य 21 विभागों द्वारा आम लोगों से जुड़े विभिन्न कार्य किए जाएंगे. 

और पढ़ें