Live News »

VIDEO: महाधिवक्ता एम एस सिंघवी ने जस्टिस एम एन भंडारी का किया सम्मान

VIDEO: महाधिवक्ता एम एस सिंघवी ने जस्टिस एम एन भंडारी का किया सम्मान

जयपुर। राजस्थान हाईकोर्ट के वरिष्ठ न्यायाधीश जस्टिस एम एन भंडारी के इलाहाबाद हाईकोर्ट में तबादले के बाद शुरू हुए सम्मान समारोह का सिलसिला लगातार जारी है। राज्य के महाधिवक्ता एम एस सिंघवी की और से भी जस्टिस एम एन भंडारी के सम्मान में लंच का आयोजन किया गया। 

22 गोदाम स्थित एक निजी होटल में आयोजित हुए इस कार्यक्रम में जस्टिस मोहम्मद रफीक, जस्टिस बी एल शर्मा, जस्टिस गोवर्धन बारधार, जस्टिस प्रकाश गुप्ता, जस्टिस पंकज भण्डारी, जस्टिस जी आर मूलचंदानी, जस्टिस इन्द्रराजसिंह मौजुद रहे। वहीं पूर्व महाधिवक्ता जी एस बाफना, एम एन लोढा, बीसीआर चैयरमेन सी एल सैनी, बार अध्यक्ष अनिल उपमन, राजेश कर्नल, सीनियर एडवोकेट बी एस सिनसिनवार, भरत शर्मा, सुधीर गुप्ता, एएजी मेजर आर पी सिंह  सहित कई विधि जगत की हस्तियां मौजुद रही। लंच के अंत में महाधिवक्ता एम एस सिंघवी और उनकी पत्नी ने जस्टिस भंडारी और उनकी पत्नी को पौधा भेंट कर सम्मान किया। 

और पढ़ें

Most Related Stories

Weather Update: राजस्थान में भीषण गर्मी से आंशिक राहत मिलने की संभावना, इन 15 जिलों में होगी हल्की बारिश!

Weather Update: राजस्थान में भीषण गर्मी से आंशिक राहत मिलने की संभावना, इन 15 जिलों में होगी हल्की बारिश!

जयपुर: उत्तर भारत के साथ राजस्थान में भी लगातार गर्मी का कहर जारी है. सूर्य देवता ने इस समय रौद्र रूप धारण कर लिया है. इसी बीच मौसम विभाग ने भीषण गर्मी से आंशिक राहत मिलने की संभावना जताई है. मौसम विभाग के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने से 29 मई को प्रदेश के कई इलाकों में धुलभरी हवाओं के साथ हल्की बारिश की संभावना है, जिससे तापमान में गिरावट हो सकती है. 

Coronavirus: राहुल गांधी ने हेल्थ एक्सपर्ट से पूछा भईया बताइए कि वैक्सीन कब तक आएगी? मिला ये जवाब  

इन 15 जिलों में मिल सकती है राहत:
मौसम विभाग के मुताबिक 29 मई को जोधपुर, बीकानेर, चुरू, हनुमानगढ़, नागौर, श्रीगंगानगर, अलवर, भरतपुर, धौलपुर, जयपुर, सीकर, सवाईमाधोपुर, दौसा, झुंझुनूं और करौली इलाके में धूलभरी हवाओें और आंधी के साथ मेघ गर्जना की संभावना है. इस दौरान इन इलाकों में 50 से 60 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से हवाएं चलने के साथ हल्की बारिश होने की भी संभावना है. 

2022 तक T20 वर्ल्ड कप का टलना तय, कल ICC की बैठक में औपचारिक घौषणा संभव 

चूरू में तापमान 50 डिग्री तक पहुंच गया:
वहीं इस समय प्रदेश के कई इलाकों में तापमना रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया है. मंगलवार को चूरू में तापमान 50 डिग्री तक पहुंच गया था. वहीं बीकानेर में भी 3 साल बाद मंगलवार को सबसे ज्यादा तापमान रहा. बीकानेर में पारा 47.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था. इसके अलावा श्रीगंगानगर में मंगलवार को 47 डिग्री, जैसलमेर में 46.4, बाड़मेर में 45.7, अजमेर में 44, जयपुर में 45, उदयपुर में 43 और जोधपुर 44 और डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया था.

दो—दो नगर निगम बनाने का फैसला सरकार का नीतिगत निर्णय, हाईकोर्ट नहीं करें हस्तक्षेप— महाधिवक्ता

दो—दो नगर निगम बनाने का फैसला सरकार का नीतिगत निर्णय, हाईकोर्ट नहीं करें हस्तक्षेप— महाधिवक्ता

जयपुर: जयपुर, जोधपुर और कोटा में दो दो नगर निगम बनाने के मामले में राज्य सरकार ने राजस्थान हाईकोर्ट में जवाब पेश करते हुए मामले को नितीगत निर्णय बताते हुए अदातल से हस्तक्षेप नहीं करने को कहा है. महाधिवक्ता एम एस सिंघवी की ओर से पेश किये गये जवाब में कहा गया कि है तीन जगहों पर दो दो नगर निगम के गठन का फैसला राज्य सरकार ने जनता के हित में लिया है. जो कि सरकार का एक नीतिगत निर्णय है जिसमें अदालत को हस्तक्षेप करने का अधिकार नहीं है. महाधिवता ने कहा कि वर्तमान में लॉक डाउन के कारण तीनों जगह पर चुनाव नहीं हो पा रहे हैं लेकिन राज्य सरकार अदालत के आदेश के अनुसार अगस्त में चुनाव कराने को तैयार है और तीनों जगह की नगर निगमों में अगस्त में चुनाव हो जाएंगे.

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में सामने आए 109 पॉजिटिव केस, संक्रमितों का ग्राफ पहुंचा 7645 

महाधिवक्ता ने जनहित याचिका पर भी सवाल खड़े करते हुए कहा कि दो-दो नगर निगम बनाए जाने का नोटिफिकेशन अक्टूबर 2019 में ही जारी हो चुका है लेकिन अब इस याचिका को दायर करना और उसमें जयपुर नगर निगम को पक्षकार बनाया गया है जिसका अब अस्तित्व ही नहीं है और जयपुर हेरिटेज व ग्रेटर जयपुर को पक्षकार नहीं बनाया है. महाधिवक्ता ने याचिका को बिना रिसर्च के दायर किया गया बताते हुए खारिज करने की अपील की है. मुख्य न्यायाधीश इन्द्रजीत महांति और जस्टिस सतीश शर्मा ने सरकार के जवाब को रिकॉर्ड पर लेने का निर्देश देते हुए मामले की सुनवाई शुक्रवार को तय की. साथ ही अन्य पक्षकारों को मामले में जवाब पेश करने को भी कहा है. यह आदेश प्रियास यादव की ओर से दायर जनहित याचिका पर दिये है. 

आदमखोर का कलंक झेल रहा बाघ T-24, वन्यजीव प्रेमियों ने उठाई रिहाई की मांग

क्या है इस जनहित याचिका में: 
गौरतलब है कि प्रिया यादव की ओर से अधिवक्ता माही यादव ने जनहित याचिका दायर कर राज्य में कोरोना के चलते बदली परिस्थितयों में 2—2 नगर निगम बनाने के फैसले को रद्द करने गुहार लगायी है. याचिका में कहा गया कि कोरोना के चलते देश व राज्य के आर्थिक व वित्तीय हालात सही नहीं हैं. जयपुर, जोधपुर व कोटा में दो-दो नगर निगम बनाए जाने से प्रदेश पर 1000 करोड़ रुपए से भी ज्यादा का भार पड़ेगा.  केवल जयपुर नगर निगम को ही दो हिस्सों में बांटने पर करीबन 518 करोड़ रुपए का आर्थिक भार आता है. जयपुर नगर निगम में दो निगम बनने से कुल वार्षिक बजट 204649 लाख रुपए होगा जबकि एक निगम पर 152848 लाख रुपए खर्चा आता है. दो नगर निगम बनने से जयपुर में ही सरकार पर 51801 लाख रुपए का अतिरिक्त भार आएगा. इसलिए सरकार जयपुर, जोधपुर व कोटा में दो-दो नगर निगम बनाए जाने की नोटिफिकेशन को वापस ले.

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में सामने आए 109 पॉजिटिव केस, संक्रमितों का ग्राफ पहुंचा 7645

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में सामने आए 109 पॉजिटिव केस, संक्रमितों का ग्राफ पहुंचा 7645

जयपुर: देशभर के साथ राजस्थान में भी लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है. पिछले 12 घंटे में प्रदेश में 109 पॉजिटिव केस सामने आए हैं. इसमें सर्वाधिक 64 केस अकेले झालावाड़ जिले में सामने आए हैं. इसके अलावा भरतपुर में 6, बीकानेर में 1, दौसा में 1, जयपुर में 6, झुंझुनूं में 2, करौली में 1, कोटा में 16 और नागौर में 12 केस चिन्हित किए गए है. ऐसे में राजस्थान में अब संक्रमित मरीजों का ग्राफ बढ़कर 7645 पहुंच गया है. 

28 मई को कांग्रेस का महा अभियान, प्रवासी श्रमिकों ,कामगारों की आवाज करेगी बुलंद,  AICC की VC में बनी रणनीति

कुल पॉजिटिव से नेगेटिव हुए 4293:
वहीं पिछले 12 घंटे में कोरोना की चपेट में आने से 2 लोगों ने दम भी तोड़ दिया है. दोनों मौतें राजधानी जयपुर में दर्ज की गई है. ऐसे में मौतों का आंकड़ा 172 पहुंच गया है. दूसरी ओर राहत वाली खबर यह है कि कुल पॉजिटिव से 4293 मरीज नेगेटिव हो गए है. ऐसे में प्रदेश में कुल कोरोना एक्टिव केसों की संख्या 3180 रह गई है. इसमें पॉजिटिव प्रवासियों की संख्या 2029 है. 

जयपुरिया की तर्ज पर एक जून से SMS भी होगा कोरोना फ्री, OPD से IPD तक में चिकित्सा सेवाओं में दिखेगा बदलाव

मंगलवार को प्रदेश में 236 नए पॉजिटिव केस सामने आए:
इससे पहले मंगलवार को प्रदेश में 236 नए पॉजिटिव केस सामने आए. इसमें सर्वाधिक 32 केस अकेले जयपुर में सामने आये है. इसके अलावा अजमेर में 2, बाड़मेर में 4, भरतपुर में 2, भीलवाड़ा में 9, बीकानेर में 7, चित्तौड़गढ़ में 4, दौसा में 1, धौलपुर में 2, डूंगरपुर में 12, गंगानगर 1, झालावाड़ 12, झुंझुनूं 5, जोधपुर 7, कोटा 10, नागौर 13, पाली 23, प्रतापगढ़ 1, राजसमंद 11, सवाई माधोपुर 1, सीकर 25, सिरोही 27, उदयपुर 25 केस सामने आये है. 

Rajasthan Corona Updates: पिछले 24 घंटे में 3 मरीजों की मौत, 236 नए पॉजिटिव केस आये सामने, अकेले जयपुर में मिले सर्वाधिक 32 केस 

Rajasthan Corona Updates: पिछले 24 घंटे में 3 मरीजों की मौत, 236 नए पॉजिटिव केस आये सामने, अकेले जयपुर में मिले सर्वाधिक 32 केस 

जयपुर: राजस्थान में लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है. राजस्थान में पिछले 24 घंटे में 3 मरीजों की मौत हो गई. जबकि 236 नए पॉजिटिव केस सामने आये है. जयपुर में 2, राजसमंद में एक मरीज की मौत हो गई. सर्वाधिक 32 केस अकेले जयपुर में सामने आये है. अजमेर में 2, बाड़मेर में 4, भरतपुर में 2, भीलवाड़ा में 9, बीकानेर में 7, चित्तौड़गढ़ में 4, दौसा में 1, धौलपुर में 2, डूंगरपुर में 12, गंगानगर 1, झालावाड़ 12, झुंझुनूं 5, जोधपुर 7, कोटा 10, नागौर 13, पाली 23, प्रतापगढ़ 1, राजसमंद 11, सवाई माधोपुर 1, सीकर 25, सिरोही 27, उदयपुर 25 केस सामने आये है. वहीं राजस्थान में कुल 170 लोगों की कोरोना की चपेट में आने से मौत हो चुकी है. वहीं अब तक कुल 7 हजार 536 पॉजिटिव मरीज मिल चुके है.

जयपुरिया की तर्ज पर एक जून से SMS भी होगा कोरोना फ्री, OPD से IPD तक में चिकित्सा सेवाओं में दिखेगा बदलाव

अब तक 170 लोगों की मौत:
राजस्थान में कोरोना से अब तक 170 लोगों की मौत हुई है. इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 85 (जिसमें चार यूपी से) की मौत हुई. इसके अलावा, जोधपुर में 17, कोटा में 16, पाली और नागौर में 6, भरतपुर में 5, अजमेर में 6, चित्तौड़गढ़ और सीकर में 4-4, बीकानेर में 3, जालौर, करौली, अलवर और भीलवाड़ा 2-2, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है. वहीं दूसरे राज्य से आए एक व्यक्ति की भी मौत हुई है.राजसमंद में एक मरीज की मौत हो गई.

सोमवार को सामने आए 272 नए मामले: 
इससे पहले सोमवार को प्रदेश में कोरोना के 272 नए मामले सामने आए हैं. इसमें सर्वाधिक 50 पॉजिटिव केस अकेले पाली जिले में सामने आये है. इसके अलावा अलवर में 5, बाड़मेर में 5, भीलवाड़ा में एक, चूरू में 17, दौसा में एक, डूंगरपुर में एक, जयपुर में 13, जालोर में 5, झुंझुनूं में 3, जोधपुर में 47, कोटा में 7, नागौर में 48, राजसमंद में 3, सवाई माधोपुर में एक, सीकर में 44, सिरोही में 9 और उदयपुर में 12 पॉजिटिव केस मिले हैं. 

28 मई को कांग्रेस का महा अभियान, प्रवासी श्रमिकों ,कामगारों की आवाज करेगी बुलंद,  AICC की VC में बनी रणनीति

28 मई को कांग्रेस का महा अभियान, प्रवासी श्रमिकों ,कामगारों की आवाज करेगी बुलंद,  AICC की VC में बनी रणनीति

28 मई को कांग्रेस का महा अभियान, प्रवासी श्रमिकों ,कामगारों की आवाज करेगी बुलंद,  AICC की VC में बनी रणनीति

जयपुर: 28मई को कांग्रेस महा अभियान शुरु करने जा रही है. अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने विडियो कांफ्रेसिंग की. प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और डिप्टी सीएम सचिन पायलट VC में शामिल हुए. तय हुआ है कि वर्तमान परिस्थिति में संकट के दौर से गुजर रहे लाखों की संख्या में प्रवासी श्रमिकों, किसानों, संगठित क्षेत्रों के कामगारों, एमएसएमई, छोटे कारोबारियों और दैनिक मजदूरों की आवाज को केन्द्र सरकार तक पहुंचाने के लिये कांग्रेस आवाज बुलंद करेगी. प्रदेश कांग्रेस कमेटी भी 28मई को सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक ऑनलाईन अभियान चलायेगी. इस सम्बन्ध में मंगलवार को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव के.सी. वेणुगोपाल ने समस्त राज्यों के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्षों और कांग्रेस विधायक दल के नेताओं की वी.सी. आयोजित की.

जयपुर एयरपोर्ट से फ्लाइट संचालन का दूसरा दिन, कुल 11 फ्लाइट्स का हुआ संचालन, 20 में से 9 फ्लाइट रहीं रद्द

ऑनलाइन अभियान की तैयारियों पर विस्तृत चर्चा:
इसमें ऑनलाइन अभियान की तैयारियों पर विस्तृत चर्चा की गई. सचिन पायलट ने कहा कि सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने समय-समय पर केन्द्र सरकार को प्रवासी श्रमिकों और मजदूरों की पीड़ा को कम करने हेतु अनेक उपयोगी सुझाव दिए , जिन्हें केन्द्र सरकार ने सिरे से नकार दिया और प्रवासी श्रमिकों, किसानों, दैनिक मजदूरों, एमएसएमई, लघु उद्यमियों और गैर-संगठित क्षेत्रों के कामगारों को किसी प्रकार का सहयोग करने की बजाय उन्हें अपने हाल पर छोड़ दिया है. इन वर्गों की आवाज को केन्द्र सरकार तक पहुँचाने के उद्देश्य से उक्त अभियान चलाया जायेगा.

10 हजार रुपये की मदद की जाये:
पायलट ने बताया कि कोरोना महामारी के कारण वर्तमान परिस्थिति में ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार उपलब्ध करवाकर आर्थिक सम्बल प्रदान करने में मनरेगा योजना मददगार साबित हुई है. उन्होंने बताया कि राजस्थान में मनरेगा के तहत श्रमिक नियोजन 40 लाख से अधिक हो गया है जो कि गत् 10 वर्षों में सर्वोच्च है. पायलट ने कहा कि कांग्रेस पार्टी मांग करेंगी कि लॉकडाउन के कारण अपना रोजगार खो चुके परिवार, जो आयकर के दायरे से बाहर हैं, उन्हें केन्द्र सरकार द्वारा तुरन्त प्रभाव से 10 हजार रुपये की मदद सीधे नकद के रूप में की जाए. उन्होंने प्रदेश के सभी कांग्रेसजनों से आह्वान किया है कि इसके लिए फेसबुक, ट्वीटर, इंस्टाग्राम, यू-ट्यूब तथा अन्य सोश्यल मीडिया माध्यमों से इस देशव्यापी ऑनलाईन कैम्पेन में अनिवार्य रूप से प्रतिभागी बनकर अपने उत्तरदायित्व का निर्वाह करें.

जयपुरिया की तर्ज पर एक जून से SMS भी होगा कोरोना फ्री, OPD से IPD तक में चिकित्सा सेवाओं में दिखेगा बदलाव

जयपुरिया की तर्ज पर एक जून से SMS भी होगा कोरोना फ्री, OPD से IPD तक में चिकित्सा सेवाओं में दिखेगा बदलाव

जयपुर: राजस्थान के सबसे बड़े एसएमएस अस्पताल में एक जून से मरीजों को काफी बदलाव देखने को मिलेगा. कोरोना महामारी के चलते आम मरीजों से दूर हुए एसएमएस अस्पताल को फिर से सामान्य मरीजों यानी नॉन कोविड पेंशेटस के लिए शुरू करने की कवायद जोरशोर से चल रही है.चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा के निर्देश के बाद अस्पताल अधीक्षक डॉ राजेश शर्मा ने कोरोना की गाइडलाइन की पालना करते हुए अस्पताल को नॉन कोविड मरीजों के लिए शुरू करने का एक्शन प्लान तैयार किया है.आखिर अस्पताल को फिर से आम मरीजों के लिए शुरू करने में क्या-क्या चुनौतियां रहेगी और इनसे निपटने के लिए क्या-क्या प्लान बनाया गया है. इसको लेकर अस्पताल अधीक्षक डॉ राजेश शर्मा ने खास बातचीत की हमारे संवाददाता विकास शर्मा ने.

-तीन माह बाद फिर से सामान्य मरीजों के लिए SMS अस्पताल
-नॉन कोविड अस्पताल के लिए चल रही जोरशोर से तैयारी
-अधीक्षक डॉ राजेश शर्मा की देखरेख में एक्शन प्लान तैयार
-एक्शन प्लान के मुताबिक संदिग्ध मरीजों पर रहेगी पैनी निगाह
-सर्दी, खासी, जुखाम के मरीजों के लिए अलग से रजिस्ट्रेशन काउंटर
-ऐसे संदिग्ध मरीजों के लिए अलग से चलाई जाएगी ओपीडी
-साथ ही जब तक मरीज की नहीं आएगी कोरोना रिपोर्ट
-तब तक उसे डेडिकेटेड वार्ड में रखकर दी जाएगी चिकित्सा सुविधा
-यदि किसी मरीज की रिपोर्ट आएगी कोरोना पॉजिटिव
-तो उसे तत्काल किया जाएगा आरयूएचएस में शिफ्ट

-एसएमएस में क्राउड मैनेजमेंट पर रहेगा प्रबन्धन का फोकस
-SMS को नॉन कोविड अस्पताल बनाने के लिए चल रही तैयारी
-ओपीडी में लोगों की भीड़ को मैनेज करने के लिए ये व्यवस्था
-एक-एक घंटे में सीमित लोगों का किया जाएगा रजिस्ट्रेशन
-चिकित्सक के कक्ष में भी एक-एक मरीज को दी जाएगी एंट्री
-ओपीडी में चिकित्सकों को खुद की सेफ्टी पर रखना होगा विशेष ध्यान
-जरूरत के हिसाब से पीपीई किट का उपयोग करेंगे चिकित्सक

आदमखोर का कलंक झेल रहा बाघ T-24, वन्यजीव प्रेमियों ने उठाई रिहाई की मांग

-क्रॉनिकल डिजीज के मरीज के लिए विशेष सुविधा
-रूटिन दवा के लिए बार-बार अस्पताल में नहीं आएंगे मरीज
-ऐसे मरीजों को एक बार में ही दो से तीन माह की मिलेगी दवा
-मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना के नियमों में इसके लिए होगा बदलाव
-फिलहाल ऐसे मरीजों को एक माह तक की दी जाती है दवाएं
-लेकिन अस्पताल में मरीजों की भीड़ कम करने के लिए ये व्यवस्था
-हालांकि, RMSCL में दवाओं की उपलब्धता पर रहेगा सबकुछ निर्भर

-SMS में भर्ती मरीजों को ऑनलाइन मिलेगी रेफरेंस की सुविधा
-नॉन कोविड अस्पताल के लिए चल रही जोरशोर से तैयारी
-अधीक्षक डॉ राजेश शर्मा की देखरेख में एक्शन प्लान तैयार
-वार्ड में भर्ती मरीज को दूसरी स्पेशिलिटी के चिकित्सक से लेना होगा पराशर्म
-तो उसके लिए मरीज के परिजन नहीं भटकेंगे इधर से उधर
-सम्बधित वार्ड से सम्बन्धित विंग के चिकित्सक को ऑनलाइन भेजा जाएगा रेफरेंस
-रेफरेंस का आग्रह मिलते ही तय समय में चिकित्सक या उनके रेजिडेंट जाकर देखेंगे मरीज को

-एसएमएस अस्पताल का क्राउड मैनेजमेंट !
-नॉन कोविड अस्पताल के लिए चल रही जोरशोर से तैयारी
-अस्पताल में मरीजों के रजिस्ट्रेशन के लिए ऑनलाइन व्यवस्था पर जोर
-अस्पताल प्रबन्धन इसके लिए चलाएगा जारूकता कैम्पेन
-ताकि, एकसाथ भीड के बजाय सीमित दायरे में मरीजों को मिले उपचार

जयपुर एयरपोर्ट से फ्लाइट संचालन का दूसरा दिन, कुल 11 फ्लाइट्स का हुआ संचालन, 20 में से 9 फ्लाइट रहीं रद्द

आदमखोर का कलंक झेल रहा बाघ T-24, वन्यजीव प्रेमियों ने उठाई रिहाई की मांग

जयपुर: आदमखोर का कलंक झेलकर करीब पांच वर्ष से अपने घर यानी जंगल से बेघर हो एक बाड़े में जिंदगी काट रहे टी 24 यानी उस्ताद की रिहाई को लेकर वण्यजीव प्रेमियों में एक बार फिर मांग उठने लगी है. एनटीसीए से लेकर सीज़ेडए तक की नॉर्म्स को ताक पर रखकर उस्ताद को 16 मई 2015 को लॉकडाउन कर दिया गया था. उस्ताद पर चार लोगों की हत्या का अरोप लगाया गया, यह बात अलग है कि आज तक इनमें से एक भी घटना की पुष्टी नहीं हो सकी. पांच वर्ष से अपनी बेगुनाही की जंग लड़ रहे उस्ताद की हकीकत से पर्दा उठाती फर्स्ट इंडिया न्यूज़ की रिपोर्ट:

जंगल की दहाड़ पिंजरे की दर्दनाक जिंदगी:
रणथंभौर के जंगल में राज करने वाले 'उस्ताद' यानी बाघ टी 24 को 16 मई को लॉक डाउन में 5 वर्ष हो गए हैं. इंसान पर हमले के आरोप में उस्ताद को एक ऐसी सजा सुनाई गई जिससे उसकी जंगल की दहाड़ पिंजरे की दर्दनाक जिंदगी में बदल गई. उस्ताद आज पिंजरे में अपनी जिंदगी गुजार रहा है लेकिन सवाल उठता है कि बाघ के घर में घुसने वाले इंसान पर अगर बाघ ने हमला किया तो दोषी बाघ कैसे हुआ ? और क्या इस तरह की घटनाओं के बाद जंगल के राजा को इस तरह कैद करना उचित है..? रणथंभौर के लाहपुर क्षेत्र में वर्ष 2006 में जन्में बाघ टी 24 यानी उस्ताद के दो भाई टी 23 और टी 25 भी हैं.

उस्ताद के नाम से मशहूर T24 बाघ:
उस्ताद की दादी मशहूर बाघिन 'मछली' थी जिस पर दुनियाभर में कई डॉक्यूमेंटरी बनी. उस्ताद की मेटिंग पार्टनर नूर नाम की बाघिन है जिससे दो बाद में तीन शावक हुए. उस्ताद को उसकी ताकत और मिजाज के लिए जाना जाता है. बहरहाल रणथंभौर से उस्ताद के नाम से मशहूर T24 बाघ उस्ताद को वन रक्षक रामलाल सैनी पर हमला कर मौत के घाट उतारने के कथित आरोप में 16 मई 2015 को उदयपुर स्तिथ सज्जनगढ़ बायोलॉजिकल पार्क लाया गया था. इसके बाद ये बीच में कई बार बीमार पड़ा लेकिन उपचार के बाद स्वस्थ हो गया. कतिथ तौर पर चार व्यक्तियों की टाइगर द्वारा मौत के बाद होटल लॉबी के दबाव में टी.24 को उदयपुर स्तिथ बायोलॉजिकल पार्क शिफ्ट किया गया था. यह काम एक सीक्रेट मिशन की तरह किया गया था उस समय उदयपुर वाइल्डलाइफ के डी.एफ.ओ. टी मोहन राज थे.

वन्यजीव प्रेमियों में उस्ताद को कैद किए जाने का था रोष:
उस्ताद को जब मध्य रात्रि उदयपुर लाया गया तो पत्रकारों का जमावड़ा सज्जनगढ़ बायो पार्क के मैन गेट पर था लेकिन वन विभाग वाले पत्रकारों को गच्चा दे कर उसे सज्जनगढ़ के रामपुरा वाले गेट से अंदर ले गए. मीडिया के प्रेशर के बाद लगातार उस्ताद की सेहत की खबरें आने लगीं, लेकिन वन्यजीव प्रेमियों में उस्ताद को कैद किए जाने का रोष था. उस्ताद के लिए मानो पूरे भारतवर्ष के वन्यजीव प्रेमी एक हो गए थे. बीच में कई बार उस्ताद के गंभीर रूप से बीमार होने की भी खबरें आईं लेकिन किसी को भी उसकी वास्तविक हालात देखने के लिए अनुमति नहीं दी गयी. स्टेट वाइल्ड लाइफ बोर्ड के सदस्य धीरंद्र गोधा और सिमरत संधू का कहना है कि उस्ताद पर चार हत्याओं का अरोप लगाया गया. इनमें से एक भी साबित नही हुई. एनटीसीए और सीजेडए ने भी उस्ताद को लॉकडाउन करने को गलत माना है. इसलिए बेहतर होगा कि उस्ताद को वापस जंगल में छोड़ा जाए.

नौतपा में भट्टी सा तपा शेखावाटी, 50 डिग्री पहुंचा चूरू का तापमान  

उस्ताद की तरह ही टी104 भी फ़िलहाल कैद:
निवर्तमान वन मंत्री राजकुमार रिणवा उदयपुर उस्ताद को देखने भी गए थे लेकिन उस्ताद की रिहाई की बात जब पत्रकारों द्वारा पूछे जाने पर इसे सिरे से टाल गए. अब उस्ताद को कैद में लगभग 5 वर्ष भी गए हैं. साथ ही उसका व्यवहार भी बदल गया है, नॉन डिस्प्ले एरिया में उस्ताद जहां पहले किसी को देखते ही भड़क उठता था अब होल्डिंग एरिया में किसी पार्क कर्मी को देखकर छिपने की कोशिश करता है. डाइजेशन की समस्या होने की वजह से खाने में इसे फिलहाल कीमा ही दिया जा रहा है. उस्ताद की तरह ही टी 104 भी फ़िलहाल कैद में है. सवाल उठता है कि वन्यजीवों को लेकर काम कर रही बड़ी-बड़ी संस्थाएं, वन विभाग और मंत्रालय आज तक ऐसे ही कोई नीति तैयार नहीं कर पाया जिसमें बाघ और इंसान के आपसी संघर्ष की सजा किसको मिले यह तय हो पाए.

उस्ताद की जल्द रिहाई की मांग:
बाघों के रहवास में यानी उनके प्राकृतिक आवास में इंसानी दखल बढ़ता जा रहा है. ऐसे में उस्ताद या किसी अन्य बाघ ने इंसान पर हमला किया तो उसे किस नीति के तहत एक छोटे से पिंजरे में आजीवन कैद कर दिया जाता है. इस विषय पर पहले भी बहस होती रही हैं लेकिन आज तक कोई स्पष्ट नीति नहीं बन पाई. गुजरात में जहां मानव की स्वयं की गलती से जब इंसान शेरों द्वारा मार दिया जाता है तो कुछ समय कैद में रखने के बाद उसे दोबारा छोड़ दिया जाता है देखना ये होगा कि राजस्थान में बाघों के पुनर्वास के लिए किस प्रकार के कदम उठाए जाते हैं. इस मामले में सरिस्का टाइगर फाउंडेशन के दिनेश दुर्रानी और स्टेट वाइल्ड लाइफ बोर्ड के सदस्य सुनील मेहता कहते हैं कि उस्ताद को उस अपराध की सजा दी गई जो उसने किया ही नहीं. इसलिए बेहतर होगा उस्ताद को जल्द रहलीज किया जाए. दरअसल टी 24 यानी उस्ताद पर चार इंसानों के कत्ल का अरोप है. चारों घटनाएं कोर क्षेत्र की हैं और चारों में उस्ताद को महज शक यानी उसकी आक्रमकता के आधार पर आरोपी माना गया. जबकि हकीकत में चारों घटनाओं में उस्ताद के होने के कोई प्रत्यक्ष साक्ष्य नहीं हैं. ऐसे में बेहतर होगा सरकार उस्ताद को अपने घर यानी जंगल में जितना जल्दी हो छोड़ दे. 

जयपुर एयरपोर्ट से फ्लाइट संचालन का दूसरा दिन, कुल 11 फ्लाइट्स का हुआ संचालन, 20 में से 9 फ्लाइट रहीं रद्द

जयपुर एयरपोर्ट से फ्लाइट संचालन का दूसरा दिन, कुल 11 फ्लाइट्स का हुआ संचालन, 20 में से 9 फ्लाइट रहीं रद्द

जयपुर: घरेलू फ्लाइट्स के संचालन का मंगलवार को दूसरा दिन इस लिहाज से बेहतर रहा कि फ्लाइट्स की संख्या में बढ़ोतरी हुई है. हालांकि मंगलवार को भी जयपुर से जाने वाली फ्लाइट्स में यात्रियों की संख्या बहुत अच्छी नहीं रही, लेकिन यह अपेक्षाकृत रूप से कल से ज्यादा रही. जयपुर एयरपोर्ट से 9 फ्लाइट का संचालन रद्द रहा. हवाई सेवाओं पर 2 माह के लंबे लॉक डाउन के बाद एविएशन इंडस्ट्री एक बार फिर रफ्तार पकड़ रही है. धीरे-धीरे एयरलाइंस फ्लाइट की संख्या में बढ़ोतरी कर रही हैं. जयपुर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से 11 फ्लाइट्स का संचालन किया गया. जयपुर से जाने वाली फ्लाइट्स में आज कल की अपेक्षा यात्री भार थोड़ा ज्यादा देखा गया. मंगलवार को इंडिगो एयरलाइन ने अपनी फ्लाइट की संख्या में बढ़ोतरी की.

इंडिगो ने किया जयपुर से चार फ्लाइट का संचालन:
सोमवार को जहां एयरलाइन ने मात्र एक फ्लाइट संचालित की थी, आज इंडिगो ने जयपुर से चार फ्लाइट का संचालन किया. हालांकि आज भी महाराष्ट्र के मुंबई के लिए एक भी फ्लाइट संचालित नहीं की गई. वहीं पश्चिम बंगाल के कोलकाता के लिए भी फ्लाइट का संचालन निरस्त रहा. हालांकि महाराष्ट्र के पुणे के लिए दो फ्लाइट संचालित की गई. स्पाइसजेट और एयर एशिया एयरलाइन ने पुणे के लिए जाने व आने की फ्लाइट संचालित की. मंगलवार सुबह सबसे पहली फ्लाइट इंडिगो एयरलाइन की बेंगलुरु के लिए संचालित हुई, जिसमें 180 सीटर विमान में मात्र 25 यात्रियों ने यात्रा की. स्पाइसजेट एयरलाइन की अमृतसर जाने वाली फ्लाइट में 80 यात्रियों की सीट पर मात्र 6 यात्री मौजूद रहे.

नौतपा में भट्टी सा तपा शेखावाटी, 50 डिग्री पहुंचा चूरू का तापमान  

ये 9 फ्लाइट रहीं रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 5:45 बजे सूरत जाने वाली फ्लाइट SG-2763 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 7:20 बजे जालंधर जाने वाली फ्लाइट SG-2750 हुई रद्द
- इंडिगो की सुबह 6:40 बजे मुंबई जाने वाली फ्लाइट 6E-218 नहीं हुई संचालित
- एयर इंडिया की सुबह 7:35 बजे आगरा जाने वाली फ्लाइट 9I-687 हुई रद्द
- इंडिगो की शाम 4:45 बजे कोलकाता जाने वाली फ्लाइट 6E-6156 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 8 बजे मुंबई जाने वाली फ्लाइट SG-279 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की सुबह 9:45 बजे उदयपुर जाने वाली फ्लाइट SG-6632 हुई रद्द
- स्पाइसजेट की दोपहर 2:15 बजे गुवाहाटी जाने वाली फ्लाइट SG-448 हुई रद्द
- एयर एशिया की शाम 5:15 बजे पुणे जाने वाली फ्लाइट I5-1427 आज शेड्यूल में रद्द थी

मुंबई से आये परिवार के 3 लोग पाए गए पॉजिटिव, गांव में मची खलबली, दुकानें हुई बंद 

यात्रियों की संख्या एयरपोर्ट पर एक साथ बढ़ गई:
मंगलवार सुबह जब बेंगलुरु, दिल्ली, अमृतसर और हैदराबाद की फ्लाइट का समय एक साथ था, तब यात्रियों की संख्या एयरपोर्ट पर एक साथ बढ़ गई. इस दौरान डिपार्चर गेट पर यात्रियों की कतार डिपार्चर गेट से लेकर अराइवल गेट तक पहुंच गई. करीब 100 मीटर लंबी कतार में सोशल डिस्टेंसिंग की पालना नहीं हो सकी. दरअसल चिकित्सा विभाग की टीमों के मेडिकल स्क्रीनिंग करने के दौरान अधिक समय लग रहा है, जिसके चलते यात्रियों की कतार लग रही है. इसके लिए जरूरी है कि एयरपोर्ट प्रशासन चिकित्सा विभाग के अधिकारियों के साथ बातचीत कर मेडिकल स्क्रीनिंग के काउंटर्स की संख्या में बढ़ोतरी करे। साथ ही डिपार्चर गेट भी एक से बढ़ाकर 2 किए जाएं. अन्यथा आने वाले दिनों में जब यात्रीभार और बढ़ेगा, तब यात्रियों और एयरपोर्ट प्रशासन के लिए परेशानी और बढ़ सकती है.

...फर्स्ट इंडिया के लिए काशीराम चौधरी की रिपोर्ट

Open Covid-19