VIDEO: आखिर कैसे हुआ गुजरात के AICC प्रभारी का चयन, किसी अदृश्य शक्ति ने की रघु शर्मा की पैरवी ? 

VIDEO: आखिर कैसे हुआ गुजरात के AICC प्रभारी का चयन, किसी अदृश्य शक्ति ने की रघु शर्मा की पैरवी ? 

जयपुर: आखिर कैसे हुआ गुजरात के AICC प्रभारी का चयन ? डॉ. रघु शर्मा ने आखिर कैसे अंत में बाजी मारी? आखिर कैसे किसी 'अदृश्य शक्ति' ने रघु शर्मा की पैरवी की ? और इसके बाद ही राहुल ने रघु को बुलाकर 40 मिनट की बातचीत की. बातचीत में रघु शर्मा ने अपनी संगठन क्षमता का प्रभाव छोड़ा और फिर अगले ही दिन इसकी औपचारिक घोषणा हो गई. रघु शर्मा से पहले पायलट-आरपीएन सिंह और सुरजेवाला के नामों पर भी विचार हुआ था, लेकिन अदृश्य शक्ति के कारण अंततः रघु के पक्ष में फैसला हुआ.

गौरतलब हैं कि कांग्रेस पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल की ओर से जारी बयान के मुताबिक, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने रघु शर्मा को गुजरात के साथ ही दमन एवं दीव और दादरा एवं नगर हवेली के लिए अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी का प्रभारी नियुक्त किया. राजीव सातव के निधन के बाद से यह पद खाली था. राज्यसभा सदस्य सातव का कोरोना संक्रमण की वजह इसी साल 16 मई को मात्र 46 वर्ष की आयु में निधन हो गया था.

रघु शर्मा वर्तमान समय में राजस्थान की अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री हैं. वह अजमेर जिले की केकड़ी विधानसभा सीट से विधायक हैं. पहले वह लोकसभा सदस्य भी रह चुके हैं. गुजरात में अगले साल नवंबर-दिसंबर में विधानसभा चुनाव होना है.

और पढ़ें