Court से दो टूक जवाब मिलने के बाद Twitter India ने भारत में नियुक्त किया शिकायत अधिकारी, विनय प्रकाश को दी जिम्मेदारी

Court से दो टूक जवाब मिलने के बाद Twitter India ने भारत में नियुक्त किया शिकायत अधिकारी, विनय प्रकाश को दी जिम्मेदारी

Court से दो टूक जवाब मिलने के बाद Twitter India ने भारत में नियुक्त किया शिकायत अधिकारी, विनय प्रकाश को दी जिम्मेदारी

नई दिल्ली: दिल्ली हाई कोर्ट की ओर से दो टूक जवाब मिलने के बाद आखिरकार ट्विटर इंडिया ने भारत में शिकायत अधिकारी की नियुक्ति कर दी है. माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म की वेबसाइट पर मौजूद जानकारी के मुताबिक, अब विनय प्रकाश भारत में ट्विटर के शिकायत अधिकारी होंगे. दिल्ली हाईकोर्ट ने 8 जुलाई को एक मामले की सुनवाई के दौरान ट्विटर को यह कहा था कि अगर वह भारत के नए आईटी नियमों को लागू नहीं करता है तो उसे किसी भी तरह का कानूनी संरक्षण नहीं दिया जा सकता.

पिछले दो महिनों से सरकार और ट्विटर के मध्य जारी है टकराव की स्थिति:
बता दें कि बीते लगभग दो महीने से ट्विटर और भारत सरकार के बीच टकराव की स्थिति जारी है. बार-बार नोटिस मिलने के बावजूद ट्विटर ने अभी तक भारत के नए आईटी नियमों को लागू नहीं किया था. ट्विटर को भारत के आईटी नियम 2021 के अनुच्छेद 4(डी) के तहत हर महीने भारतीय यूजर्स की शिकायतों के निपटारे से जुड़ी एक रिपोर्ट जारी करनी है. इसके साथ ही ट्विटर को उन यूआरएल की संख्या भी बतानी है, जिन्हें सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की निगरानी के दौरान गलत या भ्रामक पाए जाने पर हटाया गया हो.

हाई कोर्ट ने ट्विटर के सभी नवनियुक्त अधि​कारियों से मांगा एफिडेविट: 
हाई कोर्ट ने ट्विटर की ओर से नियुक्त किए गए सभी अंतरिम अधिकारियों से एफिडेविट मांगा था कि वे खुद को सौंपे गए टास्क की जिम्मेदारी लेते हैं. इससे पहले केस की सुनवाई के दौरान ट्विटर ने कहा कि उसे भारत में शिकायत अधिकारी नियुक्त करने के लिए 8 सप्ताह का वक्त चाहिए. इससे पहले हाई कोर्ट ने मंगलवार को ट्विटर को दो दिनों का ही वक्त दिया था. 

भारत में अंतरिम अनुपालन अधिकारी की नियुक्ति कर दी है: ट्विटर 
दिल्ली हाई कोर्ट में ट्विटर ने कहा कि उसने भारत में अंतरिम अनुपालन अधिकारी की नियुक्ति कर दी है, जो भारत का ही निवासी है. इसके साथ ही सोशल मीडिया कंपनी ने कहा कि अंतरिम शिकायत अधिकारी की नियुक्ति 11 जुलाई तक की जाएगी और दो सप्ताह में अंतरिम नोडल संपर्क अधिकारी की भी नियुक्ति हो जाएगी. 

इसके साथ ही सोशल मीडिया कंपनी ने अदालत में कहा कि उसकी ओर से 11 जुलाई को पहली अनुपालन रिपोर्ट जारी की जाएगी. इससे पहले हाई कोर्ट ने ट्विटर से कहा था कि वह भारत में अंतरिम अधिकारी की नियुक्ति के लिए मनमाना समय नहीं ले सकता. 

और पढ़ें