पाक को 'खैरात' देने के बाद अब सऊदी भारत में करेगा 'डबल' निवेश 

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/02/18 07:13

नई दिल्ली। पाकिस्तान के दो दिवसीय दौरे के बाद सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान मंगलवार को भारत आएंगे। क्राउन प्रिंस पाकिस्तान में 20 बिलियन डॉलर के निवेश की घोषणा कर चुके हैं। हालांकि प्रिंस ने कहा कि पाकिस्तान में निवेश को लेकर कोई तुलना नहीं होनी चाहिए, क्योंकि यहां निवेश केवल एक खैरात (दान) है। बताया जा रहा है कि भारत में क्राउन प्रिंस 44 बिलियन डॉलर के निवेश की घोषणा करेंगे। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक क्राउन प्रिंस मोहम्मद -बीन सलमान रत्नागिरी रिफाइनरी परियोजना में सऊदी की कंपनी अरामको और अबू धाबी नेशनल ऑयल कंपनी (ADNOC) द्वारा 44 बिलियन डॉलर के निवेश पर वार्ता करेंगे। इसके अलावा भारत और सऊदी अरब 5 एमओयू पर हस्ताक्षर कर सकते हैं। वहीं रणनीतिक साझेदारी परिषद बनाने के तौर तरीकों पर भी काम किया जाएगा। भारत और सऊदी अरब रक्षा सहयोग को गहरा करने और संयुक्त नौसेना अभ्यास जल्द ही आयोजित कर सकते हैं। सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने कहा है कि सऊदी ने भारत को 8 वें रणनीतिक साझेदार के रूप में स्थान दिया है। 

प्रिंस ने कहा है कि सुरक्षा पर सहयोग बहुत सक्रिय है, दोनों देश आतंकवाद, खुफिया जानकारी साझा करने, मनी लॉन्ड्रिंग और आतंकवाद पर जानकारी साझा करने में सक्रिय रूप से शामिल हैं। सऊदी ने वर्षों में कई आतंकवादियों को भारत में प्रत्यर्पित किया है।

बता दें कि सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने भारी आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान में 20 बिलियन डॉलर निवेश की घोषणा की है। क्राउन प्रिंस ने रविवार को पाकिस्तान के साथ आठ समझौतों पर हस्ताक्षर किए। निवेश को लेकर क्राउन प्रिंस का कहना है कि पाकिस्तान में निवेश एक खैरात है। वहीं प्रिंस ने भारत को मजबूत अर्थव्यवस्था बताया है। साथ ही सऊदी ने पुलवामा हमले की बहुत कड़ी निंदा की।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in