VIDEO: चुनाव प्रचार पर रोक के बाद निर्वाचन विभाग की ओर से विस्तृत दिशा-निर्देश जारी

Dr. Rituraj Sharma Published Date 2019/04/28 08:10

जयपुर। राज्य में पहले चरण के लोकसभा चुनाव प्रचार पर अब रोक लग गई है। अब प्रत्याशी घर-घर जाकर जनसंपर्क करेंगे । प्रचार पर रोक के बाद भारत निर्वाचन आयोग की गाइड लाइन का पालना के लिए निर्वाचन विभाग की ओर से विस्तृत दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं। 

राज्य में पहले के चुनाव प्रचार पर रोक के बाद के लिए दिशानिर्देशों के बारे में एसीईओ डॉक्टर रेखा गुप्ता ने कलेक्टर संभागीय आयुक्तों,पुलिस महानिरीक्षकों जयपुर और जोधपुर पुलिस आयुक्तों और रिटर्निंग अधिकारियों को पत्र लिखकर बताया है।

- जिसके तहत बाहरी राजनीतिक व्यक्तियों का क्षेत्र में रुकना निषिद्ध रहेगा। 
- इसके तहत चुनाव प्रचार बंद होने के साथ जिला निर्वाचन अधिकारी और जिला पुलिस अधीक्षक यह सुनिश्चित करेंगे कि निर्वाचन क्षेत्र में कोई भी वह बाहरी राजनीतिक व्यक्ति मौजूद नहीं रहे जो उस क्षेत्र का मतदाता नहीं हो।
- क्षेत्र का कोई मतदाता जिसको सुरक्षा मिली हुई है वह मतदान दिवस को मतदान बाद अपनी आवाजाही पर अंकुश रखेगा लेकिन यह प्रतिबंध अभ्यर्थी या प्रत्याशी पर लागू नहीं होगा।
- क्षेत्र के चुने गए सांसद या विधायक उस क्षेत्र के मतदाता नहीं होने पर भी अपने निर्वाचन क्षेत्र में रुक सकते हैं लेकिन वे दूसरे निर्वाचन क्षेत्र में नहीं जा सकेंगे।
- इसके साथ ही वोटिंग के 48 घण्टे पूर्व प्रसारण संबन्धी गाइडलाइन भी जारी की गई है।
- मतदान समाप्ति के 48 घंटे पूर्व चलचित्र,टीवी अन्य उपकरणों से निर्वाचन की बात का नहीं होगा प्रदर्शन
- निर्वाचन परिणाम पर असर करने वाली बात का न हो प्रसारण 
- उल्लंघन करने पर 2 वर्ष तक जेल या जुर्माना या दोनों का मिलेगा दंड 
- 48 घंटे में टीवी रेडियो की विषय सूची ऐसी हो कि प्रतिभागी परिणाम प्रभावित करने वाले विचार न करें प्रस्तुत
 - इसमें ओपिनियन पोल, वाद विवाद के परिणामों विश्लेषण विजुअल व साउंड बाइट्स का प्रदर्शन भी है शामिल

वोटिंग शुरू होने से समाप्ति के आधा घंटे बाद प्रसारण नहीं
- एग्जिट पोल नहीं होगा प्रसारित 
- निर्वाचन के दौरान अभ्यर्थी,पार्टी या घटना पर अतिशयोक्ति पूर्ण रिपोर्ट वर्जित
 - न्यूज में अभ्यर्थी द्वारा विरोधी पर आक्षेप लगानेवाला न हो बिंदु
 - धर्म,संप्रदाय जाति आधारित वोट मांगते हुए  प्रचार वर्जित 

अभ्यर्थी के आचरण या उसके निजी चरित्र पर गलत टिप्पणी न हो
- वित्तीय या अन्य प्रलोभन स्वीकार नहीं करेगा प्रसारक
- विशेष अभ्यर्थी या दल के प्रचार में शामिल नहीं होगा प्रेस 
- समाचार प्रसारक राजनीतिक व वित्तीय दबाव से बचेंगे 
- अफवाह,निराधार अटकलबाजी संबंधी नहीं करेंगे प्रचार 
- घटना,तारीख,स्थान उद्धरण संबंधी यथार्थ हो सुनिश्चित
- चैनल या उनके संवाददाता,अधिकारी प्रलोभन के ना हों शिकार
-  घृणा पूर्ण भाषण या आपत्तिजनक अंश का नहीं करें प्रसार
 - पेड विज्ञापन या पेड़ सामग्री का नहीं करें प्रचार ओपिनियन पोल प्रसारण हो तो सटीकता व निष्पक्षता का रखें ध्यान

48 घंटों में दबाव डालना या प्रभावित करने वाला प्रसारण ना हो
 - गाइडलाइन उल्लंघन की शिकायत एनबीसी को होगी
-  प्रसारक यथासंभव बताएंगे मतदान प्रक्रिया के बारे में 

ए सी ई ओ डॉक्टर रेखा गुप्ता ने यह पत्र लिखकर इसकी पालना सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए हैं। इस कार्यपालना की रिपोर्ट आयोग को भेजी जाएगी।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in