जयपुर CM अशोक गहलोत बोले- युवाओं के भविष्य व देश की सुरक्षा से खिलवाड़ है 'अग्निपथ' योजना

CM अशोक गहलोत बोले- युवाओं के भविष्य व देश की सुरक्षा से खिलवाड़ है 'अग्निपथ' योजना

CM अशोक गहलोत बोले- युवाओं के भविष्य व देश की सुरक्षा से खिलवाड़ है 'अग्निपथ' योजना

जयपुर: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने अल्पकालिक अवधि के लिए संविदा नियुक्ति के आधार पर सेनाओं में युवाओं की भर्ती की केंद्र सरकार की नई ‘अग्निपथ’ योजना (Agneepath Scheme) की आलोचना करते हुए इसे युवाओं के भविष्य व देश की सुरक्षा से खिलवाड़ करार दिया है.

गहलोत ने केंद्र सरकार से इसे तुरंत वापस लेने व इसका विरोध कर रहे युवाओं से हिंसा से बचने की अपील की. गहलोत ने गुरुवार शाम को ट्वीट किया कि सेना जैसे संवेदनशील संस्थान में संविदा भर्ती करना अविवेकपूर्ण फैसला है. उन्होंने कहा कि सेना को अभी तक गैर-राजनीतिक एवं वित्तीय बंधनों से मुक्त रखा गया. एक तरफ तो यह तर्क दिया गया कि सेना में न्यू पेंशन स्कीम (NPS) को भी इसलिए ही लागू नहीं किया जिससे सैनिक भविष्य की चिंता किए बगैर अपना योगदान दे सकें. अग्निपथ योजना युवाओं के भविष्य एवं देश की सुरक्षा से खिलवाड़ है.'

{embed}

मुख्यमंत्री के अनुसार, “राजस्थान के हजारों युवा देशसेवा के लिए सेना में भर्ती होते हैं . अग्निपथ योजना से राजस्थान समेत भारत के लाखों युवाओं में रोष एवं नाराजगी है. पूरे देश में जिस तरह युवा आक्रोशित होकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं, उसे देखते हुए इस योजना को केन्द्र सरकार अविलंब वापस लेना चाहिए. गहलोत ने युवाओं से शांति बनाए रखने की अपील करते हुए कहा,' मैं युवाओं से अपील करता हूं कि विरोध में हिंसा का रास्ता ना अपनाएं. बता दें कि गहलोत इन दिनों दिल्ली में हैं. सोर्स- भाषा

और पढ़ें