अजमेर के गुरुजी की रासलीला आयी सामने, परीक्षा देने गई नाबालिग छात्रा को घर ले जाकर की अश्लील हरकत

अजमेर के गुरुजी की रासलीला आयी सामने, परीक्षा देने गई नाबालिग छात्रा को घर ले जाकर की अश्लील हरकत

अजमेर: जिले में शिक्षा के मंदिर में पढ़ाने वाले गुरुजी की काली करतूत सामने आई है. नाबालिक छात्रा ने शिक्षक की करतूत का पर्दाफाश कर क्रिस्चनगंज थाने में छेड़छाड़ का मामला दर्ज करवाया है. पुलिस ने मामला दर्ज कर पड़ताल शुरू कर दी है. 

VIDEO: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दी चिकित्सा जगत को बड़ी सौगात, 108 भवनों का किया शिलान्यास 

घर ले जाकर अश्लील हरकत करने का मामला सामने आया: 
अजमेर के मॉडर्न स्कूल वैशाली नगर में कार्यरत नरेश प्रजापत नामक शिक्षक पर नाबालिक छात्रा को जबरन घर ले जाकर अश्लील हरकत करने का मामला सामने आया है. पीड़िता ने जानकारी देते हुए बताया कि वह दसवीं की परीक्षा देने के लिए वैशाली नगर स्तिथ महात्मा गांधी स्कूल गई थी वहां से परीक्षा खत्म होने के बाद शिक्षक नरेश प्रजापत गाड़ी लेकर उसके पास आया उसने कहा कि मैं तुम्हें घर छोड़ देता हूं. जिस पर छात्रा ने उसे मना कर दिया लेकिन वह जबरन उसे गाड़ी पर बैठा कर ले गया. वहीं बीच रास्ते से वह उसे अपने घर की ओर ले गया वहां पर कोई भी नहीं था. छात्रा ने उसका वहां भी विरोध किया और कहा कि मुझे घर जाना है जल्दी चलो.

कोरोनिल विवाद पर बाबा रामदेव की सफाई, कहा- हमने क्लीनिकल ट्रायल नियमों का पालन किया 

दुराचारी शिक्षक ने किया छात्रा का पीछा:
वहीं उसके बाद शिक्षक पानी पीने के बहाने उसके बगल में आकर बैठ गया उसके साथ अश्लील हरकतें करने लगा. पीड़िता घबराकर वहां से भागने लगी और उसके घर के मुख्य गली के बाहर आकर खड़ी हो गई. इसके बाद दुराचारी शिक्षक छात्रा का पीछा करते हुए आया और उसे वापस घर ले जाने की बात करने लगा. इतने में उसे उसका सहपाठी मिला और उसने उससे लिफ्ट मांग कर अपने घर तक छोड़ने की बात कही जिसके बाद वह अपने घर पहुंची. उसके बाद पीड़ित नाबालिग छात्रा ने अपने परिवार को आपबीती सुनाई और पीड़िता के परिजनों ने क्रिश्चियन गंज थाने में मुकदमा दर्ज करवाया है. पुलिस ने पॉक्सो की धाराओं में शिक्षक नरेश प्रजापत के खिलाफ मामला दर्ज कर अनुसंधान शुरू कर दिया. वहीं पीड़िता ने शिक्षक के खिलाफ शिक्षा विभाग में भी शिकायत दे दी है और न्याय की गुहार की है.  

...अजमेर से फर्स्ट इंडिया के लिए शुभम जैन की रिपोर्ट

और पढ़ें