एलेस्टेयर कुक बोले, भारत के लिए इंग्लैंड को उसकी धरती पर हराना आसान नहीं 

एलेस्टेयर कुक बोले, भारत के लिए इंग्लैंड को उसकी धरती पर हराना आसान नहीं 

एलेस्टेयर कुक बोले, भारत के लिए इंग्लैंड को उसकी धरती पर हराना आसान नहीं 

लंदन: इंग्लैंड के पूर्व कप्तान और सलामी बल्लेबाज एलेस्टेयर कुक का मानना है कि भारतीय टीम के लिये मेजबान को पांच मैचों की टेस्ट श्रृंखला में हराना आसान नहीं होगा और इस लंबे दौरे के आखिर में वे मानसिक रूप से काफी थक जाएंगे. भारतीय टीम इस समय साउथम्पटन में न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल खेल रही है. इसके बाद चार अगस्त से इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला खेलनी है.

कुक ने ईएसपीएन क्रिकइन्फो से कहा कि भारत ने दिखा दिया है कि वह कितनी बेहतरीन टीम है क्योंकि वह विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल खेल रही है.उसके बाद हालांकि इंग्लैंड को उसकी धरती पर पांच टेस्ट मैचों में हराना आसान नहीं होगा. यह काफी कठिन श्रृंखला रहेगी. उन्होंने कहा कि भारतीय टीम लंबे समय तक यहां रूकेगी लिहाजा मानसिक रूप से काफी थक जाएगी.

उन्होंने कहा कि भारत की शुरूआत अच्छी होगी लेकिन लगातार पांच मैचों में उसे बनाये रखना और इंग्लैंड को इंग्लैंड में हराना काफी मुश्किल है. मुझे लगता है कि शुरूआत में सब्र से काम लेने पर इंग्लैंड यह श्रृंखला जीत सकता है. इंर्ग्लैंड को भारत ने अपनी मेजबानी में 3.1 से हराया. इसके बाद न्यूजीलैंड ने इंग्लैंड में टेस्ट श्रृंखला 1.0 से जीती. कुक ने कहा कि गलत रोटेशन नीति का खामियाजा इंग्लैंड को भुगतना पड़ा है जिसकी वजह से कप्तान जो रूट को उनकी सर्वश्रेष्ठ एकादश नहीं मिल सकी.

उन्होंने कहा कि इंग्लैंड के लिये खेलते समय या अगर आप कप्तान, कोच या चयनकर्ता है तो नतीजों के आधार पर आपका आकलन होता है और रूट को उसके सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी नहीं मिल सके. बेन स्टोक्स, जोस बटलर, जॉनी बेयरस्टॉ जैसे खिलाड़ी काफी अंतर पैदा करते हैं. जोफ्रा आर्चर और स्टोक्स चोटिल थे जबकि बटलर, बेयरस्टॉ , क्रिस वोक्स, मोईन अली और मार्क वुड को ब्रेक दिया गया.

और पढ़ें