VIDEO: कोरोना वायरस को लेकर जयपुर समेत प्रदेशभर में 'अलर्ट', सीएम की समीक्षा बैठक के बाद केन्द्रीय मंत्रालय की VC

VIDEO: कोरोना वायरस को लेकर जयपुर समेत प्रदेशभर में 'अलर्ट', सीएम की समीक्षा बैठक के बाद केन्द्रीय मंत्रालय की VC

जयपुर: एसएमएस अस्पताल की स्क्रीनिंग में कोरोना वायरस का केस मिलने के बाद जयपुर समेत पूरे प्रदेशभर में खलबली मची हुई है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की देर रात की समीक्षा बैठक के बाद केन्द्रीय मंत्रालय ने आज सुबह वीसी के जरिए चिकित्सा विभाग के अधिकारियों से फीडबैक लिया. इसके साथ ही निर्देश दिए कि जिलों में तत्काल प्रभाव से रेपिड एक्शन फोर्स का गठन किया जाए, जो किसी भी परिस्थिति में तत्काल एक्शन मोड में रहे. 

VIDEO: कोरोना वायरस की राजधानी जयपुर में दस्तक! SMS अस्पताल में मिला पॉजिटिव

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने वीडियो कॉफ्रेसिंग के जरिये राजस्थान से फीडबैक लिया:
SMS मेडिकल कॉलेज में इटली के 69 वर्षीय पर्यटक की कोरोना वायरस स्क्रीनिंग रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद आज केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने वीडियो कॉफ्रेसिंग के जरिये राजस्थान से फीडबैक लिया. राजस्थान ACS मेडिकल रोहित कुमार सिंह ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को जानकारी दी कि जहां-जहां इटली पर्यटकों का ग्रुप घुमने के लिए गया था. उसकी पूरी हिस्ट्री ले ली गई है. जिन लोगों के संपर्क में आया उनकी एक सूची तैयार कर संपर्क में आये लोगों की स्क्रीनिंग की कार्रवाई शुरू कर दी गई है. इसी क्रम में उदयपुर की होटल ट्राईडेंट को सेंसटाईज किया जा चुका है. 

चित्तौड़गढ़: अनियंत्रित निजी बस ने बाइक सवारों को कुचला, 4 युवकों की मौत 

- 'कोरोना' को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय की वीसी से बड़ी खबर
- चिकित्सा विभाग के आलाधिकारियों ने दी पूरी रात की एक्शन रिपोर्ट
- मरीज के सम्पर्क में आए कुल 52 संदिग्ध लोगों को किया गया चिन्हित
- इन सभी लोगों को आइसोलेशन में रखते हुए उठाए सैम्पल
- राजधानी के फोर्टिस अस्पताल में चिन्हित किए गए 52 कॉन्टेक्ट पर्सन
- इसमें से 11 लोगों के एतियातन उठाए गए सैम्पल
- इसी तरह SMS अस्पताल से 37 कॉन्टेक्ट पर्सन, होटल रमाडा से 4 कॉन्टेक्ट पर्सन के लिए गए सैंपल

वीसी के बाद एसीएस रोहित कुमार सिंह ने दावा किया कि पॉजिटिव मरीज के सम्पर्क में आए सभी लोगों को चिन्हित किया जा चुका है. वीसी में भारत सरकार की तरफ से सभी राज्यों को ये निर्देशित किया है कि हर जिले में कोरोना को लेकर रेपिड रेस्पोंस टीम का गठन किया जाए. इसकी पालना में जिलों में टीमें जल्द ही गठित की जाएगी. आपको बता दें कि SMS मेडिकल कॉलेज की स्क्रीनिंग में पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद मरीज के ब्लड सैम्पल को एनआईवी पूना भेजा गया है. 

- केंद्र ने सभी जिलों में रैपिड एक्शन फ़ोर्स बनाने के दिए है निर्देश
- निर्देशों की पालना में जिलों में गठित की जा रही रैपिड एक्शन फोर्स
- इसके साथ ही विदेशी नागरिक की ट्रैवलिंग हिस्ट्री के हिसाब से जारी किया अलर्ट
- जिन होटल और पर्यटन स्थलों पर गया था विदेशी नागरिक
- उन सभी जिलों के CMHO को दिए गए विस्तृत निर्देश
- इन जगहों पर सभी कॉन्टेक्ट पर्सन की स्क्रीनिंग के दिए गए निर्देश

चरित्र पर संदेह के चलते पति ने की पत्नी और दो बच्चों की हत्या 

कोरोना वायरस को लेकर अब सबकी निगाह NIV पुणे की रिपोर्ट पर टिकी. हालांकि, सीएम गहलोत और चिकित्सा मंत्री के निर्देश पर पूरी सरकारी मशीनरी एक्टिव मोड में है. सभी कॉन्टेक्ट पर्सन की स्क्रीनिंग प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. ऐसे में उम्मीद ये है कि है कि पूरी दुनिया में खौफ बनती इस बीमारी की रोकथाम में सूबे का चिकित्सा विभाग कोई कमी नहीं छोड़ेगा. ताकि कोई भी चूक बीमारी के फैलने का कारण ना बने. 

और पढ़ें