Live News »

तीन स्वाइन फ्लू के मरीजों की पुष्टि के बाद जिले में अलर्ट घोषित

तीन स्वाइन फ्लू के मरीजों की पुष्टि के बाद जिले में अलर्ट घोषित

सिरोही। सिरोही जिले में बुधवार को तीन स्वाइन फ्लू के मरीजों की पुष्टि के बाद चिकित्सा विभाग ने शहर व जिले में अलर्ट घोषित कर दिया है। इन तीन में से दो मरीज आबूरोड शहर से और एक अन्य और गांव का है। वहीं एक साथ तीन मरीज सामने आने के बाद चिकित्सा विभाग की टीम ने पूरे जिले में सर्वे शुरू करा दिया है। इसके लिए 16 टीमे बनाई गई है जो डोर-टू-डोर सर्वे कर संदिग्ध मरीजों की स्क्रीनिंग करेगी।  लेकिन जिले की बात की जाए तो जिले के कई ऐसे चिकित्सालय भी है जहां पर रोगियों की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है तो सामान्य बीमारी के लिए भी और लोग अस्पताल का रुख कर रहे हैं ऐसे में चिकित्सा विभाग की ओर से कई अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड अभी तक नहीं बने हैं जो कि चिंता का विषय है । 

दरअसल, चिकित्सा विभाग के पास 5संदिग्ध मरीज आए थे, जिन्हें सर्दी-जुकाम और बुखार की शिकायत थी। इस पर पांचों के सैंपल उदयपुर स्थित मेडिकल कॉलेज में भेजे गए। आई रिपोर्ट में पांच में से तीन में स्वाइन फ्लू की पुष्टि की है। इधर, सीएमएचओ डॉ. दिनेश कुमार शर्मा की ओर से पूरे जिले में रेपिड रेस्पोंस टीमों का गठन किया गया। यह टीमें सिरोही शहर समेत सभी 9 ब्लॉक पर संदिग्ध मरीजों की स्क्रीनिंग कर डोर टू डोर सर्वे करेगी। 

बुधवार सुबह चिकित्सा विभाग की बैठक आयोजित की गई। बैठक में यह सीएमएचओ व पीएमओ की ओर से यह दावा किया गया कि चिकित्सा विभाग शुरू से ही सतर्कता बनाए हुए है। यहीं कारण है कि स्वाइन फ्लू को लेकर स्थिति नियंत्रण में है। और,शाम को ही विभाग के दावों की पोल खुल गई और तीन मरीज सामने आए। 

जहां सिरोही जिले में स्वाइन फ्लू ने दस्तक दी है और ए कैटेगरी के रोगी सिरोही जिले के आबूरोड कस्बे में देखने को मिल रहे हैं ऐसे में चिकित्सा विभाग की ओर से लापरवाही भी देखने को मिल रही है कि जहां पर आइसोलेशन वार्ड का निर्माण भी नहीं किया गया है इसकी वजह एक यह भी मानी जा सकती है कि जिले का सबसे बड़ा शहर आबूरोड है लेकिन उसके मुताबिक यहां पर चिकित्सालय में अव्यवस्थाओं की कमी इसका कारण माना जा सकता है वहीं जनप्रतिनिधियों में भी चिकित्सा के प्रति लापरवाही को गंभीर माना है और सरकार पर कटाक्ष करते हुए अपनी बात कही ।
सिरोही से कमलेश प्रजापत की रिपोर्ट

और पढ़ें

Most Related Stories

सिरोही जिले में इंद्रदेव हुए मेहरबान, पिछले 3 घंटे से जारी है बारिश, किसानों के चेहरे खिले

सिरोही जिले में इंद्रदेव हुए मेहरबान, पिछले 3 घंटे से जारी है बारिश, किसानों के चेहरे खिले

सिरोही: प्रदेश के सिरोही जिले में गुरुवार को इंद्रदेव ने जमकर मेहरबानी की.पूरे दिन की तेज तपिश और उमस के बाद दोपहर बाद अचानक से बारिश की बूंदे रिमझिम बरसना शुरू हुई.देखते ही देखते रिमझिम बारिश तेज़ मूसलाधार बारिश में तब्दील होती गई.सड़कों पर पानी बहने लगा और थोड़ी ही देर में नदी नालों में भी बरसाती पानी तेज़ वेग के साथ बहना शुरू हो गया.

नई शिक्षा नीति को लेकर बयानबाजी का दौर हुआ शुरू, मंत्री सुभाष गर्ग और मंत्री डोटासरा ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना

पिछले तीन घण्टों से लगातार बारिश:
आज की बारिश पुरे जिले में जमकर बरसी.फिर चाहे वो सिरोही शहर हो या उपखण्ड क्षेत्र, रेवदर उपखण्ड, आबूरोड़ और पिंडवाड़ा उपखण्ड क्षेत्र में भी एक साथ समान रूप से बादल बरस रहे हैं.जिले भर में पिछले तीन घण्टों से लगातार बारिश हो रही हैं.

किसानों के चेहरे पर मायूसी गायब:
लगातार बारिश होने और नदी नालों सहित बांधों में पानी आने से जिले के किसानों के चेहरे की मायूसी एकाएक गायब हो गई हैं.जिलेभर के किसान आज बेहद खुश नजर आ रहे हैं.वहीं जिला प्रशासन भी अच्छी बारिश से बेहद खुश नजर आ रहा हैं.

निजी स्कूलों की निशुल्क सीटों पर प्रवेश लॉटरी, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने निकाली लॉटरी

गाय के पैर बांधकर फांसी देने की अमानवीय हरकत, ग्रामीणों में रोष

गाय के पैर बांधकर फांसी देने की अमानवीय हरकत, ग्रामीणों में रोष

रेवदर(सिरोही): लोग इंसान के साथ दुर्व्यवहार करते हैं, ये समझ आता है, लेकिन जो लोग बेजुबानों के साथ अमानवीय हरकत करते हैं वो समझ से परे हैं. कुछ दिनों से गुलाबगंज पालडी गांव में गाय के पैर बांधकर फांसी देने की घटना ने सबको झकझोर दिया है. रेवदर तहसील के गुलाबगंज गांव मे कुछ असामाजिक तत्वों ने गाय के पैर बांधकर गले में फंदा डाल उसे पेड़ की डाली से बांध मौत के घाट उतार दिया. जिसकी सूचना सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद ग्रामीण और हिन्दू वादी संगठन के नेता और प्रतिनिधि गुलाबगंज गांव पहुंचे.

भाई की मौत से आक्रोशित मृतक का भाई चढ़ा टावर पर, पुलिस की कार्यशैली पर उठाए सवाल 

थानाधिकारी ने ली मामले की जानकारी: 
उधर गाय की निर्मम हत्या से आक्रोशित जन भावना को शांत करने और मामले की बात को लेकर पुलिस उपाधीक्षक नरेंद्र सिंह देवड़ा, थानाधिकारी हमीरसिंह भाटी भी मौके पर पहुंचे और घटनाक्रम की जानकारी ली,, और आक्रोशित लोगों को समझाइश करते हुए इस इस निंदनीय कृत्य की नींदा‌ की. वहीं इस कृत्य में लिप्त लोगों की जानकारी या सुराग मिलने पर पुलिस प्रशासन को इत्तेला देने की बात की.

विकास दुबे का मध्य प्रदेश से रहा पुराना कनेक्शन, 20 साल पहले दोस्त की बहन से गन पॉइंट पर की थी शादी 

गाय का पोस्टमार्टम कर समाधि दी: 
पुलिस प्रशासन ने इस प्रकरण को गंभीरता से अनुसंधान कर रही है और दोषी पकड़ में आएंगे और कानून इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगा. साथ ही इस निंदनीय घटना के आरोपी को तुरंत पकड़ने की सांत्वना दी. उसके बाद गाय का पोस्टमार्टम कर समाधि दी गई. गौरतलब है कि जिले में पशु क्रूरता की वारदातें नित रोज बढ़ती जा रही है. लेकिन पशु क्रूरता निवारण के लिए कार्यरत संस्थाओं और आम जन भी ऐसे मामलों में पुलिस में मुकदमे दर्ज करने से कतराता है. 

8 हज़ार रुपए की रिश्वत लेते डिप्टी रजिस्ट्रार गिरफ्तार, सिरोही एसीबी की बड़ी कार्रवाई

सिरोही: सिरोही एसीबी की टीम ने गुरुवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए सहकारिता विभाग के डिप्टी रजिस्ट्रार को 8 हज़ार की रिश्वत लेते रंग हाथों दबोचा.दरसअल परिवादी राजाराम जो कि पूर्व में सहकारिता विभाग में ही व्यवस्थापक के पद पर रोहिड़ा ग्राम सेवा सहकारी समिति में कार्यरत था.जिसके खिलाफ एक मामले में विभागीय जांच की गई थी, उसकी परिवादी को नकल की जरूरत थी.

सरकारी गाइडलाइंस की उड़ी धज्जियां? परीक्षा केन्द्र पर बिना थर्मल स्क्रीनिंग के ही स्टूडेंट्स को दी गई एंट्री

8 हज़ार रुपए में हुआ सौदा तय:
जिसके लिए सहकारिता विभाग के डिप्टी रजिस्ट्रार राजेन्द्र प्रसाद दायमा ने नकल देने और समिति की ऑडिट पैरा रिपोर्ट के निराकरण के लिए परिवादी से 10 हज़ार की रिश्वत मांगी थी.जिस पर दोनों के बीच 8 हज़ार रुपए में सौदा तय हुआ.जिस पर गुरुवार को घुस की रकम आरोपी डिप्टी रजिस्ट्रार राजेन्द्र प्रसाद दायमा को दी गई.

 

एसीबी की टीम ने आरोपी को किया गिरफ्तार: 
जिसे एसीबी के एडिशनल एसपी नारायणसिंह राजपुरोहित की टीम ने मौके से ही धर दबोचा.आरोपी ने घुस की रकम अपनी पेंट की जेब मे डाली थी.जहाज़ एसीबी की टीम ने रकम बरामद कर पेन्ट की जेब को पानी डालकर धोया तो उसमें से गुलाबी रंग निकला.यह पूरी कार्रवाई को अथिति होटल के पीछे आपेश्वर क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसायटी के कार्यालय में कार्रवाई को अंजाम दिया गया.अब एसीबी की टीम आरोपी को गिरफ्तार कर कल न्यायालय में पेश करेगी.

India vs China: गलवान घाटी में चीन के साथ हुए संघर्ष में भारत का कोई जवान गायब नहीं

8 हज़ार रुपए की रिश्वत लेते डिप्टी रजिस्ट्रार गिरफ्तार, सिरोही एसीबी की बड़ी कार्रवाई

सिरोही: सिरोही एसीबी की टीम ने गुरुवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए सहकारिता विभाग के डिप्टी रजिस्ट्रार को 8 हज़ार की रिश्वत लेते रंग हाथों दबोचा.दरसअल परिवादी राजाराम जो कि पूर्व में सहकारिता विभाग में ही व्यवस्थापक के पद पर रोहिड़ा ग्राम सेवा सहकारी समिति में कार्यरत था.जिसके खिलाफ एक मामले में विभागीय जांच की गई थी, उसकी परिवादी को नकल की जरूरत थी.

सरकारी गाइडलाइंस की उड़ी धज्जियां? परीक्षा केन्द्र पर बिना थर्मल स्क्रीनिंग के ही स्टूडेंट्स को दी गई एंट्री

8 हज़ार रुपए में हुआ सौदा तय:
जिसके लिए सहकारिता विभाग के डिप्टी रजिस्ट्रार राजेन्द्र प्रसाद दायमा ने नकल देने और समिति की ऑडिट पैरा रिपोर्ट के निराकरण के लिए परिवादी से 10 हज़ार की रिश्वत मांगी थी.जिस पर दोनों के बीच 8 हज़ार रुपए में सौदा तय हुआ.जिस पर गुरुवार को घुस की रकम आरोपी डिप्टी रजिस्ट्रार राजेन्द्र प्रसाद दायमा को दी गई.

एसीबी की टीम ने आरोपी को किया गिरफ्तार: 
जिसे एसीबी के एडिशनल एसपी नारायणसिंह राजपुरोहित की टीम ने मौके से ही धर दबोचा.आरोपी ने घुस की रकम अपनी पेंट की जेब मे डाली थी.जहाज़ एसीबी की टीम ने रकम बरामद कर पेन्ट की जेब को पानी डालकर धोया तो उसमें से गुलाबी रंग निकला.यह पूरी कार्रवाई को अथिति होटल के पीछे आपेश्वर क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसायटी के कार्यालय में कार्रवाई को अंजाम दिया गया.अब एसीबी की टीम आरोपी को गिरफ्तार कर कल न्यायालय में पेश करेगी.

India vs China: गलवान घाटी में चीन के साथ हुए संघर्ष में भारत का कोई जवान गायब नहीं

पिस्तौल की नोक पर आंखों में मिर्ची डालकर लूटी कार, आरोपियों की तस्वीर सीसीटीवी में हुई कैद

पिस्तौल की नोक पर आंखों में मिर्ची डालकर लूटी कार, आरोपियों की तस्वीर सीसीटीवी में हुई कैद

सिरोही: जिले के बरलूट थाना क्षेत्र में आज सवेरे एक सनसनीखेज मामले ने पुलिस महकमें में हड़कम्प मचा दिया. बरलूट थाने में एक व्यक्ति ने फोन कर बताया कि दो लुटेरों ने एक कार चालक को आंखों में मिर्ची डालकर पिस्तौल के नोक पर कार लूट ली. दिनदहाड़े लूट की इस सूचना से पूरा पुलिस महकमा हरकत में आ गया.

राज्य में बोर्ड परीक्षाएं स्थगित करने से हाईकोर्ट का इनकार, जनहित याचिका के साथ अवमानना याचिका को भी किया खारिज 

जालोर जिले के सीमावर्ती थानों में भी नाकेबंदी करवाई:  
वहीं बरलूट थानाधिकारी जाप्ते के साथ घटना स्थल पर पहुंचे और पीड़ित कार ड्राइवर से पूरे मामले की जानकारी ली. वहीं इस पूरे मामले से पुलिस कप्तान कल्याणमल मीना को अवगत करवाया. जिस पर एसपी मीना ने तुरन्त ही आसपास के थाना क्षेत्रों में नाकाबंदी करवाई साथ ही पड़ोसी जिले जालोर के एसपी से टेलीफोन पर चर्चा करके जालोर जिले के सीमावर्ती थानों में भी नाकेबंदी करवाई गई. थोड़ी ही देर में लूट कर ले जाई गई कार को जालोर जिले की बागरा पुलिस ने सांथू गांव बरामद कर लिया. हालांकि दोनों आरोपी कार को छोड़कर मौके से फरार हो गए थे.

कांग्रेस ने पूछे केंद्र सरकार से पांच सवाल, कहा- पूरा देश आक्रोशित

तस्वीरें सीसीटीवी कैमरे में भी रिकॉर्ड हो गई:
आज सवेरे सिरोही के गोयली चौराहे के पास से जब इस स्विफ्ट कार को किराए पर लेकर दो युवक रवाना हुए तो इसकी तस्वीरें सीसीटीवी कैमरे में भी रिकॉर्ड हो गई हैं.  पुलिस ने दोनों आरोपियों के सीसीटीवी फुटेज निकालकर आरोपियों तलाश शुरू कर दी हैं. आपको बता दें आरोपियों ने बरलूट थाना क्षेत्र के मंडवारिया गांव के पास एक मोड़ में पहुंचकर कार चालक की आंखों में मिर्ची डालकर पिस्तौल दिखाकर कार लूट ली और फरार हो गए. पीड़ित ने जब पुलिस को सूचित किया तो तत्काल प्रभाव से जालोर व सिरोही पुलिस ने नाकाबंदी की और कार को बरामद कर लिया. 

...विक्रमसिंह करणोत, 1st इंडिया न्यूज सिरोही

बिना पंचों की इजाजत के प्यार करने वाले युवक के साथ अमानवीय कृत्य, युवक को जबरदस्ती पेशाब पिलाकर की मारपीट

बिना पंचों की इजाजत के प्यार करने वाले युवक के साथ अमानवीय कृत्य, युवक को जबरदस्ती पेशाब पिलाकर की मारपीट

सिरोही: जिले के पालड़ी-एम थाना क्षेत्र में एक समाज विशेष के जातिय पंचों ने एक युवक के साथ जबरदस्त पिटाई कर उसे पेशाब पिलाकर अजीबोगरीब सजा दे डाली. युवक का कसूर बस इतना था कि वो अपने ही समाज की एक लड़की प्यार करता था. लड़का लड़की के प्यार की भनक सामाजिक पंचों को लगी तो पंचायती की गई. पंचायत के बाद फैसला सुनाया गया. जिसमें प्यार करने वाले युवक को पेशाब पिलाकर उसके साथ मारपीट करने का फैसला लिया गया. 

LAC पर भारत-चीन के बीच हिंसक झड़प, एक अफसर और 2 सैनिक शहीद 

पूरा मामला पांच दिन पुराना बताया जा रहा: 
उसके बाद युवक को सुनसान जगह पर ले जाकर उसे एक बोतल में पेशाब भरकर जबरदस्ती पिलाया गया. युवक के साथ जूतों से जोरदार मारपीट की गई. पिटाई करने वाले पंच बार बार उसे भविष्य में कभी प्यार नहीं करने व उस लड़की से नही मिलने की हिदायत देते सुनाई दे रहे हैं. पूरा मामला पांच दिन पुराना बताया जा रहा हैं. पर अभी तक पीड़ित पक्ष ने आकर मामला थाने में दर्ज नहीं करवाया. लेकिन पंचों ने अपने तुगलकी फरमान को समाज के अन्य युवाओं तक संदेश देने के लिए इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो बनाकर समाज के सोशल मीडिया ग्रुप्स में भेज दिया और यह वीडियो 1st इंडिया के पास पहुंच गया. जिसको लेकर हमने आज सुबह से ही इसकी खबर चलाई. जिस पर सिरोही जिले की पुलिस ने तत्परता दिखाते  हुए पूरे घटनाक्रम को उजागर कर दिया. 

सुशांत सिंह राजपूत के परिजनों के दूसरी बुरी खबर, सदमे में भाभी ने तोड़ा दम  

युवक के साथ अमानवीय कृत्य किया: 
पालड़ी एम थानाधिकारी पूराराम ने बताया कि मारपीट करने वालो में व्यक्ति वेरा विलपुर का हैं जो भोपा भी हैं और समाज का पंच भी हैं. उसके साथ मिलकर कई पंचों ने भेव गांव निवासी इस युवक के साथ यह अमानवीय कृत्य किया हैं. हालांकि पुलिस का कहना हैं कि पीड़ित पक्ष का मकान अभी बन्द हैं और उसके घर वाले सभी बाहर गए हुए हैं. अभी तक पीड़ित पक्ष ने इस संबंध में कोई मामला थाने में दर्ज नही करवाया हैं. पर पुलिस अपराधियो को पकड़कर पूरे मामले को गम्भीरता से लेने की बात कर रही है. 


 

VIDEO: सिरोही के बरलूट में एक युवक को घेरकर पेशाब पिलाने का वीडियो वायरल

VIDEO: सिरोही के बरलूट में एक युवक को घेरकर पेशाब पिलाने का वीडियो वायरल

सिरोही: जिले के बरलूट में एक युवक को घेरकर मूत्र पिलाने का वीडियो वायरल होने का मामला सामने आया है. मूत्र पिलाने के बाद युवक के साथ हाथापाई भी की गई. सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा यह वीडियो बरलूट थाना क्षेत्र का बताया जा रहा है. हालांकि पुलिस के पास अभी तक ऐसा कोई मामला नहीं पहुंचा है. बरलूट थानाधिकारी ने कहा कि वीडियो की जांच कर जानकारी जुटाई जाएगी. अगर वाकई थाना क्षेत्र में यह कृत्य हुआ है तो दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी. हालांकि फर्स्ट इंडिया न्यूज वायरल वीजियो की पुष्टि नहीं करता. 

18 जून से शुरू होगी बोर्ड की परीक्षाएं, सिरोही में बनाए गए 60 परीक्षा केंद्र, 19141 परीक्षार्थी देंगे परीक्षा

18 जून से शुरू होगी बोर्ड की परीक्षाएं, सिरोही में बनाए गए 60 परीक्षा केंद्र, 19141 परीक्षार्थी देंगे परीक्षा

सिरोही: कोरोना महामारी के चलते स्थगित हुई 10 वीं और 12 वीं कक्षाओं की बोर्ड परीक्षाएं अब 18 जून से सिरोही जिले में भी शुरू होने जा रही हैं.माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर से जारी टाइम टेबल के अनुसार 18 जून से लेकर 30 जून के मध्य ये परीक्षाएं आयोजित की जाएगी.लेकिन इस बार परीक्षा देने आने वाले परीक्षार्थियों को अनिवार्य रूप से मास्क पहनकर ही परीक्षा केंद्र पर आना होगा, बिना मास्क वाले किसी भी परीक्षार्थी को परीक्षा केंद्र पर प्रवेश नही दिया जाएगा.साथ ही साथ इस बार परीक्षार्थी को परीक्षा समय से एक घण्टे पूर्व परीक्षा केंद्र पर पहुंचना होगा.जहाँ केंद्र के दरवाजे पर परीक्षार्थी को साबुन से हाथ धुलवाएं जाएंगे, उसके बाद सेनेटराइज करके परीक्षार्थी को परीक्षा कक्ष में प्रवेश दिया जाएगा.सेनेटाइजर उपलब्ध करवाने के लिए इस वर्ष प्रत्येक परीक्षा केंद्र को 300/- रुपये की राशि उपलब्ध करवाई गई हैं.

PWD के शुरू हुए कार्यों से 19 हजार से अधिक श्रमिकों को मिला रोजगार: उप मुख्यमंत्री

कुल 60 परीक्षा केंद्र बनाए गए:
सिरोही जिले में दसवीं और बाहरवीं की बोर्ड परीक्षाओं के लिए जिले में कुल 60 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं.जहां पर दसवीं के 11890 परीक्षार्थी, वहीं बाहरवीं के 7254 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे. इस बार कोरोना महामारी के चलते कक्षा कक्षो में बैठक व्यवस्था में भी फेरबदल किया गया हैं. इस बार एक कक्ष में 60 प्रतिशत परीक्षार्थी ही बैठ सकेंगे. यानी पिछले वर्ष यदि किसी कक्ष में 50 परीक्षार्थियों की बैठक व्यवस्था थी, तो इस वर्ष उस कक्ष में मात्र 30 परीक्षार्थी ही बैठ सकेंगे.शेष परीक्षार्थियों के लिए अलग कक्षा कक्षों की व्यवस्था की जाएगी. इस प्रकार से परीक्षा केंद्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग की भी पालना अनिवार्य रूप से की जाएगी.

प्रश्न पत्र सम्बन्धित पुलिस थानों में रखवाए जाने की व्यवस्था:
इस वर्ष परीक्षा केंद्रों के लिए प्रश्न पत्र सम्बन्धित पुलिस थानों में रखवाए जाने की व्यवस्था की गई हैं.इस बार पुलिस चौकियों में प्रश्न पत्र नही रखे जाएंगे.परीक्षाओं के पेपर 15 जून को ही पुलिस थानों में रखवा दिए जाएंगे.परीक्षा केंद्र अधीक्षक, वीक्षक और पेपर कॉर्डिनेटर को 15 जून को ही परीक्षा केंद्रों पर उपस्थिति देने के भी आदेश जारी कर दिए गए हैं.

जयपुर के हॉट स्पॉट में चिकित्सा विभाग की बड़ी चूक! एक महिला होम क्वॉरंटीन को तोड़कर पहुंची कोलकाता

Open Covid-19