जयपुर के नीरजा मोदी स्कूल के बच्चे के साथ यौनशोषण!, इन्क्रेडबल जर्नी ट्यूर एजेंसी के मालिक पर आरोप

जयपुर के नीरजा मोदी स्कूल के बच्चे के साथ यौनशोषण!, इन्क्रेडबल जर्नी ट्यूर एजेंसी के मालिक पर आरोप

जयपुर: राजधानी के एक प्रतिष्ठित स्कूल के मासूम बच्चे के साथ यौन शोषण किए जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. यहां एक ट्यूर एजेंसी के मालिन ने महज 13 साल के बच्चे के साथ कथित रूप से यौनशोषण किया. मामले की जानकारी पीड़ित बच्चे के परिजनों को चलने के बाद उन्होंने थाने में मामला दर्ज कराया है. लेकिन पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं करने के बाद उन्हे खुद को मीडिया के सामने आना पड़ा. 

2016 से लेकर 2019 तक बच्चे का होता रहा यौन शोषणः 
जानकारी के अनुसार जयपुर के नीरजा मोदी स्कूल के 13 साल के बच्चे के साथ इन्क्रेडेबल जर्नी ट्यूर एजेंसी के मालिक द्वारा कथित रूप से यौनशोषण करने का मामला मानसरोवर थाने में दर्ज कराया गया था. पीड़ित बच्चे के परिजन रविवार को मीडिया के सामने आए और पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाया. उन्होंने बताया कि स्कूल की ओर से उनका 13 साल का बच्चा ट्यूर पर गया था जहां उसके साथ इन्क्रेडेबल जर्नी ट्यूर एजेंसी के मालिक ने कथित रूप से यौन शोषण किया. उन्होंने बताया कि वह 2016 से लेकर 2019 तक बच्चे के साथ कथित रूप से यौन शोषण करता रहा. उन्होंने बताया कि पहले बच्चा छोटा था इसलिए वह इन हरकतों के बारे में समझ नहीं पाया, लेकिन जब बच्चा इसके बारे में समझा तो उसने इसकी शिकायत अपने परिजनों से की. मामले की जानकारी लगने के बाद परिजनों ने मानसरोवर थाने में पोक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कराया है. पीड़ित के परिजनों ने पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाया है. 

पुलिस पर लगाया मामले में कार्रवाई नहीं करने का आरोपः
परिजनों ने बताया कि बच्चे के माता-पिता जो कि एनआरआई है उन्हे यहां के नियमों की जानकारी नहीं है. उन्होंने आरोप लगाया कि जब बच्चे के माता-पिता पुलिस थाने में मामला दर्ज कराने गए तो पुलिस ने उनके साथ ही आरोपियों जैसा बर्ताव किया. उन्होंने ये भी आरोप लगाया कि 2 तारीख को मामला दर्ज होने के बाद से पुलिन ने इस पर कोई कार्रवाई और ट्यूर एजेंसी के मालिक से पूछताछ नहीं की गई. परिजनों ने आशंका जताई है कि मामले की जांच की जाए तो और भी बच्चों के साथ ऐसा अपराध होने के मामले सामने आ सकते हैं. 

और पढ़ें