close ads


अमरनाथ यात्रियों के लिए खुशखबरी! 21 जुलाई से शुरू हो सकती है यात्रा, 55 साल से कम उम्र वालों को ही मिलेगी अनुमति

अमरनाथ यात्रियों के लिए खुशखबरी! 21 जुलाई से शुरू हो सकती है यात्रा, 55 साल से कम उम्र वालों को ही मिलेगी अनुमति

जम्मू कश्मीर: बाबा बर्फानी के भक्तों के लिए खुशखबरी है. जी हां बाबा अमरनाथ यात्रा शुरू होने वाली है. जानकारी के मुताबिक जम्मू-कश्मीर में इस वर्ष की अमरनाथ यात्रा 21 जुलाई से शुरू होकर 3 अगस्त को तक चलेगी. ये 15 दिनों की अवधि की होगी. यह जानकारी श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड के अधिकारियों ने दी. यात्रा के लिए प्रथम पूजा शुक्रवार को आयोजित की गई थी. कोरोनावायरस महामारी की वजह से इस बार यात्रा की अवधि में कटौती की गई है.

राजस्थान हाई कोर्ट में कॉलेजियम हो लेकर जारी रहा बैठकों का दौर, ग्रीष्मावकाश से पूर्व राजस्थान हाईकोर्ट में हो सकता है कॉलेजियम

इन नियमों का करना होगा पालन:
साधुओं को छोड़कर अन्य तीर्थयात्रियों में 55 साल से कम उम्र के श्रद्धालुओं को ही अनुमति होगी. साधुओं को छोड़कर सभी तीर्थयात्रियों को यात्रा के लिए ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा. यात्रा करने वाले सभी लोगों के पास कोरोना वायरस का निगेटिव प्रमाणपत्र होना जरूरी है. श्रद्धालुओं को जम्मू-कश्मीर में यात्रा शुरू करने की अनुमति देने से पहले उनको वायरस के लिए क्रॉस-चेक होगा. स्थानीय मजदूरों की कमी और बेस कैंप से गुफा मंदिर तक ट्रैक में कठिनाइयों के चलते हेलिकॉप्‍टर का इस्तेमाल होगा. 

उत्तरी कश्मीर बालटाल मार्ग से होकर निकलेगी यात्रा:
तीर्थ यात्रा में गांदरबल जिले में बालटाल बेस कैंप से गुफा तक पहुंचने के लिए हेलीकॉप्टर का यूज होगा. अमरनाथ यात्रा केवल उत्तरी कश्मीर बालटाल मार्ग से होकर निकलेगी. इस वर्ष किसी भी तीर्थयात्री को पहलगाम मार्ग से यात्रा करने की अनुमति नहीं होगी. अधिकारियों ने यह भी तय किया गया है कि 15 दिनों के दौरान सुबह और शाम गुफा मंदिर में की जाने वाली ‘आरती’ का देशभर के भक्तों के लिए सीधा प्रसारण होगा. 

जयपुर महानगर में दो जिला न्यायालय को मुख्यमंत्री की मंजूरी, राज्य सरकार ने जारी की अधिसूचना

और पढ़ें