अम्बेडकर DBT Voucher योजना हुई मंजूर: आरक्षित वर्गों के कॉलेज छात्रों को Residential Facility के लिए मिलेंगे वाउचर

 अम्बेडकर DBT Voucher योजना हुई मंजूर: आरक्षित वर्गों के कॉलेज छात्रों को Residential Facility के लिए मिलेंगे वाउचर

 अम्बेडकर DBT Voucher योजना हुई मंजूर: आरक्षित वर्गों के कॉलेज छात्रों को Residential Facility के लिए मिलेंगे वाउचर

जयपुर: प्रदेश के विभिन्न आरक्षित वर्गां (Reserved Classes) के कॉलेजों में अध्ययनरत छात्रों को राज्य सरकार (State Government) अपने घर से दूर शहरी क्षेत्रों में रहने के लिए आवासीय सुविधा हेतु वाउचर उपलब्ध करवाएगी. इसके लिए मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने SC, ST, OBC, MBC तथा EWS वर्ग के विद्यार्थियों के लिए अम्बेडकर DBT वाउचर योजना (Ambedkar DBT Voucher Scheme) लागू करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है.

आवासीय सुविधा के लिए प्रति छात्र को 7 और 5 हजार प्रतिमाह मिलेंगे:
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग (Social Justice and Empowerment Department) के प्रस्ताव के अनुसार, गत परीक्षा में न्यूनतम 75 प्रतिशत (Minimum 75 Percent) अंक हासिल करने वाले कुल 5 हजार छात्रों को मेरिट के आधार पर वर्ष में 10 माह के लिए डीबीटी वाउचर दिए जाएंगे. योजना के तहत लाभार्थी छात्रों को संभागीय मुख्यालयों पर आवासीय सुविधा के लिए प्रति छात्र 7 हजार रूपए प्रतिमाह तथा अन्य जिला मुख्यालयों के लिए 5 हजार रूपए प्रतिमाह देय होंगे. 

योजना का लाभ केवल रेगुलर छात्र ही ले सकेंगे:
राज्य बजट 2021-22 में की गई घोषणा के क्रम में अम्बेडकर डीबीटी वाउचर योजना शैक्षणिक सत्र 2021-22 (Ambedkar DBT Voucher Scheme Academic Session 2021-22) में ही प्रारंभ हो जाएगी. राजकीय महाविद्यालयों में स्नातक (Graduates in State Colleges) अथवा स्नातकोत्तर कक्षाओं में नियमित रूप से अध्ययनरत छात्र ही योजना के लिए पात्र होंगे. राज्य सरकार के विभिन्न विभागों द्वारा संचालित छात्रावासों में रहकर अध्ययन कर रहे विद्यार्थी योजना के पात्र नहीं होंगे. 

मुख्यमंत्री के इस संवेदनशील निर्णय से अपने परिवार से दूर रहकर स्नातक अथवा स्नातकोत्तर की पढ़ाई कर रहे विद्यार्थियों को लाभ होगा। 

और पढ़ें