close ads


America ने क्यूबा को Terrorism Sponsored देशों की सूची में फिर से शामिल किया

America ने क्यूबा को Terrorism Sponsored देशों की सूची में फिर से शामिल किया

वाशिंगटनः डोनाल्ड ट्रंप के नेतृत्व वाले अमेरिकी प्रशासन ने देश के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के फैसले को पलटते हुए क्यूबा को आतंकवाद को प्रायोजित करने वाले देशों की सूची में फिर से शामिल कर दिया है. ये फैसला अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन के सत्ता की कमान संभालने से कुछ दिन पहले लिया गया है. 

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने सोमवार को कहा था कि अमेरिका की सरकार ने हमेशा ही कास्त्रो शासन की उन संसाधनों तक पहुंच रोकने पर ध्यान केंद्रित किया है, जिनका इस्तेमाल वह घर पर अपने लोगों को दबाने में करता है.  इसके अलावा अमेरिका ने वेनेजुएला और शेष पश्चिमी गोलार्द्ध में उसका हस्तक्षेप रोकने की कोशिश की है.

पोम्पिओ ने कहा है कि विदेश मंत्रालय ने आतंकवादियों को पनाह मुहैया कराकर अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद के कृत्यों का बार-बार समर्थन करने के कारण क्यूबा को आतंकवाद को प्रायोजित करने वाले देशों की सूची में शामिल किया है. उन्होंने कहा है कि इस कदम के जरिए, हम क्यूबा सरकार को एक बार फिर जवाबदेह बनाएंगे.

उनका कहना है कि वे एक स्पष्ट संदेश देंगे कि कास्त्रो शासन को अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद को अपना समर्थन और अमेरिकी न्याय व्यवस्था को नष्ट करना बंद कर देना चाहिए. पूर्ववर्ती ओबामा प्रशासन ने क्यूबा को इस सूची से हटा दिया था. क्यूबा को इस सूची में शामिल किए जाने के बाद उसके साथ कारोबार करने वाले देशों और लोगों को दंडित किया जा सकेगा.

इस सूची में शामिल देशों को अमेरिकी विदेशी सहायता नहीं मिलती और रक्षा आयात एवं निर्यात संबंधी प्रतिबंध समेत कई प्रतिबंध लगाए जाते हैं. ये आदेश तब निकाला गया है, जब अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति अपनी सत्ता संभालने वाले है. फिलहाल ये आदेश कितने परिवर्तन लाता है और इसके क्या प्रभाव देखने को मिलेगें, ये तो वक्त ही बताएगा. (सोर्स-भाषा) 

और पढ़ें