Amit Shah In Rajasthan: जयपुर पहुंचने पर प्रदेश भाजपा करेगी शाह का 'शाही' स्वागत, मिशन-2023 का होगा आगाज

Amit Shah In Rajasthan: जयपुर पहुंचने पर प्रदेश भाजपा करेगी शाह का 'शाही' स्वागत, मिशन-2023 का होगा आगाज

जयपुर: भाजपा के चाणक्य अमित शाह जैसलमेर के बाद आज जयपुर आएंगे. उनका दोपहर एक बजे विशेष विमान से जयपुर पहुंचने का कार्यक्रम है. जयपुर पहुंचने पर शाह का प्रदेश भाजपा जोरदार स्वागत करने की तैयारी में है. शाह का मानव श्रृंखला बनाकर पहली बार स्वागत-सत्कार होगा. इसके साथ ही एयरपोर्ट से सीतापुरा तक करीब 9 किलोमीटर लंबा रोड-शो होगा. इस दौरान अमित शाह प्रदेश में भाजपा की वापसी के लिए मिशन-2023 का आगाज करेंगे. 

अमित शाह का एयरपोर्ट के मुख्य गेट के बाहर पुष्पवर्षा, हाथों में बड़े झंडे, गले में दुप्पटा, 51 पंडितों का स्वस्तिवाचन और शंखनाद के साथ कार्यकर्ता स्वागत करेंगे. इसके साथ ही एयरपोर्ट के बाहर बस स्टैंड पर पुष्पवर्षा, घूमर नृत्य, केसरिया साफे में 100 युवतियां शाह का स्वागत करेंगी. इसके साथ ही जवाहर सर्किल रोड पर एसटी मोर्चा के पदाधिकारी भी स्वागत करेंगे. वहीं पुष्प वर्षा और बृज के प्रसिद्ध दंगल के अलावा भाजपा के पदाधिकारी जगह-जगह लोक परंपरा में स्वागत करेंगे. 

शाह की शाम को टॉप लीडर्स के साथ बंद कमरे में मुलाकात होगी:
इसके बाद शाह JECC, सीतापुरा में भाजपा कार्यसमिति की बैठक को संबोधित करेंगे. अमित शाह प्रदेशभर के जनप्रतिनिधि सम्मेलन को भी संबोधित करेंगे. शाह की शाम को टॉप लीडर्स के साथ बंद कमरे में मुलाकात होगी. शाह का फोकस संगठन मजबूती और गुटबाजी दूर करने पर रहेगा. साथ ही उपचुनाव में हार से निराश भाजपा कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाएंगे. इसके बाद जयपुर से शाम 7 बजे विशेष विमान से दिल्ली के लिए रवाना होंगे. 

शाह ने अपने दौरे की पहली रात ‘रोहिताश’ सीमा चौकी बिताई:
इससे पहले अमित शाह ने अपने दौरे की पहली रात ‘रोहिताश’ सीमा चौकी बिताई. जहां उन्होंने ‘बड़ा खाना’ (दावत) के दौरान जवानों के साथ भोजन भी किया. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल के कर्मियों के लिए बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं और परिवार के साथ बिताये जाने वाले समय में वृद्धि सुनिश्चित करने के लिए काम कर रही है, जो बहुत कठिन परिस्थितियों में भारत के सीमाओं की रक्षा कर रहे हैं. 

नयी योजना बीएसएफ जैसे बलों पर प्रशासनिक बोझ को कम करेगी:
मंत्री ने कहा कि आप केवल एक कार्ड स्वाइप करके अपने परिवारों के लिए सभी स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर सकते हैं. यह नयी योजना बीएसएफ जैसे बलों पर प्रशासनिक बोझ को कम करेगी, पहले के विपरीत जब उन्हें कई स्वास्थ्य बिलों का भुगतान करना पड़ता था.  आधिकारिक आंकड़ों का हवाला देते हुए, शाह ने कहा कि 2 दिसंबर तक विभिन्न केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) के कर्मियों के बीच 25 लाख 'आयुष्मान सीएपीएफ' स्वास्थ्य कार्ड वितरित किए गए हैं. उन्होंने कहा कि बीएसएफ में साढ़े चार लाख कार्ड बांटे जा चुके हैं. 

हम इन कार्डों को अगले साल फरवरी तक वितरित करना चाहते:
उन्होंने कहा कि हम इन कार्डों को अगले साल फरवरी तक वितरित करना चाहते हैं, जिससे जवानों और उनके परिवारों को, प्रत्येक कर्मियों और उनके परिजनों को आसान स्वास्थ्य सुविधाएं सुनिश्चित हो सकें. उन्होंने कहा कि हम सीएपीएफ कर्मियों के लिए आवास संतुष्टि स्तर में सुधार करने के लिए भी काम कर रहे हैं और 2024 तक काफी प्रगति हासिल की जाएगी और हम वैज्ञानिक रूप से यह सुनिश्चित करने के लिए भी काम कर रहे हैं कि प्रत्येक जवान को हर साल अपने परिवारों के साथ 100 दिन बिताने का मौका मिले. 

और पढ़ें