नागरिक संशोधन बिल सबसे पहले आएगा, उसके बाद एनआरसी बनेगा : अमित शाह

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/04/22 12:15

कोलकाता। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवर को पश्चिम बंगाल में प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान उन्होंने कहा कि देश की जनता सुरक्षा के मुद्दे पर वोट कर रही है और दो चरणों के मतदान से तय है कि नरेंद्र मोदी एक बार फिर प्रधानमंत्री बनने जा रहे हैं। देश की सुरक्षा पर विपक्ष चुप्पी साधे हुए है, विपक्ष ना नेता देश के सामने रख पाया है और ना ही कोई नीति रख पाया है।

बतादें, तीसरे चरण के लिए मंगलवार को वोट डाले जाने हैं। जिसमें पश्चिम बंगाल की 5-5 सीटों पर मतदान होगा। अमित शाह ने कहा कि नागरिक संशोधन बिल सबसे पहले आएगा, उसके बाद एनआरसी बनेगा, शरणार्थियों नहीं घुसपैठी चिंता करें।

पश्चिम बंगाल में तीसरे चरण के मतदान के लिए आज चुनाव प्रचार थम गया है, वहीं राजनीतिक दल चौथे चरण के प्रचार के लिए जुट गए हैं। इस दौरान कोलकाता में अमित शाह ने कहा कि बंगाल में चुनाव के दौरान हिंसा हो रही है, ऐसे में बंगाल के मतदाता पूरे गांव के साथ वोट डालने जाएं और किसी से डरे नहीं। 

उन्होंने कहा कि बंगाल में लगातार तुष्टिकरण की राजनीति टीएमसी की तरफ से की जा रही है, पुलिस भी यहां पर राजनेताओं की तरह काम कर रही है। उन्होंने कहा कि बंगाल में लोकतंत्र को जिंदा रखने के लिए ये चुनाव बेहद जरूरी है, देश के लिए भी ये चुनाव काफी अहम है। 

मालूम हो, लोकसभा चुनाव 2019 के तीसरे चरण के मतदान में 16 राज्यों की कुल 117 सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं। ये इस बार का सबसे बड़ा चरण है। इसमें गुजरात की सभी 26, केरल की सभी 20, महाराष्ट्र-कर्नाटक की 14-14, उत्तर प्रदेश की 10, छत्तीसगढ़ की 7, ओडिशा की 6, बिहार-पश्चिम बंगाल की 5-5, असम की चार, गोवा की 2, दादर एवं नगर हवेली की 1, दमन व दीव की एक सीट शामिल हैं। 

इसके अलावा तमिलनाडु के वेल्लोर और त्रिपुरा की एक सीट पर भी मतदान होगा, इन सीटों पर दूसरे चरण में सुरक्षा कारणों की वजह से वोट नहीं डाले गए थे।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in