प्रेमी युगल के शादी करने की घटना से गुस्साए लड़की के परिजनों ने ऑनर किलिंग के उद्देश्य से किया लड़के का अपहरण

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/08/23 04:08

नागौर: खबर नागौर जिले के जसवंतगढ़ से है जहां प्रेमी युगल के शादी करने की घटना से गुस्साए लड़की के परिजनों ने ऑनर किलिंग के उद्देश्य से युवक के घर का दरवाजा तोड़कर दोनों का अपहरण करने का मामला सामने आ रहा है.  

नवविवाहित जोड़े का ऑनर किलिंग की नीयत से अपहरण कर लिया: 
नागौर जिले के जसवंतगढ़ से नवविवाहित जोड़े का ऑनर किलिंग की नीयत से अपहरण कर लिया और युवक को हाथ पैर बांधकर घर मे पटक दिया. घटना की जानकारी मिलते ही नागौर पुलिस पूरी तरह से सतर्क हो गई और आरोपियों की तलाश पर पूरे जिले भर में नाकाबंदी की गई सूचना के साथ ही जसवंतगढ़ थाना अधिकारी सुमन चौधरी घटनास्थल पर पहुंची और अपने उच्च अधिकारियों को घटना से अवगत कराया घटना की जानकारी मिलते ही डीडवाना एडिशनल एसपी नितेश आर्य भी मौके पर पहुंचे और घटनास्थल की जांच की तथा पुलिस की अलग-अलग टीमें गठित करके आरोपियों की तलाश शुरू कर दी. डीडवाना एडिशनल एसपी नितेश आर्य के निर्देशन में गठित टीमों ने कई जगह दबिश दी. आखिरकार नागौर पुलिस की तत्परता काम आई और 4 घंटे बाद ही प्रेमी युगल को प्रेमिका के घर से दस्तयाब कर लिया गया.

घर के दरवाजे तोड़कर शादीशुदा जोड़े का अपहरण कर लिया: 
जानकारी के अनुसार रात्रि में करीब 3 बजे के आस पास 4 बदमाश एक राय होकर गाड़ियों में लाठी और सरिए लेकर आए और जसवंतगढ़ में एक घर के दरवाजे तोड़कर एक शादीशुदा जोड़े का अपहरण कर लिया. अपहरणकर्ताओं ने घरवालों के साथ भी मारपीट की. जानकारी में यह भी आया है कि लड़की के परिजनों ने घरवालों की मर्जी के खिलाफ युवक से शादी कर ली थी जिससे गुस्साए लड़की के घरवालों ने थी लड़की और लड़के दोनों का अपहरण कर लिया. लड़की की गुमशुदगी की रिपोर्ट 1 महीने पहले चूरू जिले के सांडवा थाने में लड़की के परिजनों द्वारा दर्ज करवाई गई थी लेकिन जब लड़की के परिजनों को ज्ञात हुआ कि उसने छुप कर शादी कर ली है तो उन्होंने अपहरण की योजना बनाई और मौका मिलते ही अपहरण की घटना को अंजाम दे दिया. एसपी विकास पाठक ने घटना की गंभीरता को देखते हुए जिला नागौर व चूरू के नाकाबंदी करवाई और अपहरणकर्ताओं के संभावित मार्गों पर पहुंचे नितेश आर्य अति पुलिस अधीक्षक डीडवाना गणेश राम चौधरी और उप अधीक्षक डीडवाना के नेतृत्व में  2 टीम गठित कर जिला साइबर सेल की मदद नवविवाहित युगल को हर सूरत में दस्तयाब  करने और अपहरकर्ताओं को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए.

घटना में शरीक मुलाजिमों की दस्तयाबी हेतु दबिश दी जा रही: 
थाना अधिकारी जसवंतगढ़ सुमन और क्यूआरटी की दो अलग-अलग टीम द्वारा मुताबिक सूचना कि अपहरणकर्ताओं के भागने के संभावित मार्गों पर पीछा करना शुरू किया अपहरणकर्ताओं छोटी कातर के होने के कारण उक्त लोगों के घटना में शरीक होने की आशंका के चलते थाना अधिकारी के नेतृत्व में गठित टीमों द्वारा थानाधिकारी सांडवा के संपर्क कर रात्रि में ही घटना आसपास के इलाके में संदिग्ध स्थानों पर दबिश दी गई. इसी दौरान शंकर पुत्र मांगीलाल प्रजापत निवासी जसवंतगढ़ एक मकान में हाथ पैर बांध कर डाला हुआ मिला जिसके सिर से खून बह रहा था. घटना में शरीक मुलाजिमों की दस्तयाबी हेतु जगह-जगह संभावित ठिकानों पर दबिश दी जाकर घटना में शरीक हुए. छोटी कातर थाना सांडवा के रहने वाले चारों आरोपियों को डिटेन किया गया और अपहरण की वारदात में प्रयुक्त दो बोलेरो वाहन जप्त किए गए.

...नरपत ज़ोया फर्स्ट इंडिया न्यूज संवाददाता डीडवाना

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in