घूसखोर IRS अधिकारी को लेकर एक और खुलासा, नोटों का दीवाना था सहीराम

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/01/29 05:34

कोटा। गणतंत्र दिवस के दिन 1 लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए एसीबी के हत्थे चढ़े घूसखोर IRS अधिकारी सहीराम मीणा को लेकर आज एक और खुलासा हुआ है। घूसखोर नारकोटिक्स अधिकारी सहीराम के बारे में हुए इस खुलासे में सामने आया है कि सहीराम ने एक किताब भी लिखी थी। 

सहीराम ने यह किताब GST पर लिखी थी, जिसकी नाम Need of Tax Reforms in India : New Era of GST है। सहीराम की यह किताब ऑनलाइन भी बिक रही है, जिसकी कीमत 17.17 डॉलर यानि 1221.48 रुपए बताई जा रही है। सामने आया है कि सहीराम ने प्राचीन आदिवासी कबीला राज्यों पर शोध तथ्य जुटा रखे थे। सहीराम जनजातियों को भारत का मूल शासक मानता था और उसने टैक्स सुधारों पर ये पुस्तक भी लिखी।

इसके साथ ही यह बात भी सामने आई है कि घूसखोर सहीराम नोटों का दीवाना था। एसीबी की टीम जब आरोपी के सिद्धार्थ नगर आवास पर पहुंची, तो एसीबी भी उसके घर को देखकर चौक गई। सहीराम का यहां पर ये दो मंजिला आलीशान घर किसी महल से कम नहीं है। घर में घुसते ही एसीबी को एक बड़ी तस्वीर लगी हुई मिली, इस तस्वीर में भी बड़ी संख्या में नोटों की गड्डियां थी। जबकि इस तस्वीर के ऊपर लिखा था 'आई एम फर्स्ट बिलेनियर'। फिलहाल ACB लगातार घूसखोर अधिकारी का रिकॉर्ड खंगाल रही है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in