सेना प्रमुख नरवणे ने की ब्रिटेन के Chief of Defence Staff जनरल सर निकोलस कार्टर से मुलाकात, दोनो देशों के बीच रक्षा सहयोग पर हुई चर्चा

सेना प्रमुख नरवणे ने की ब्रिटेन के Chief of Defence Staff जनरल सर निकोलस कार्टर से मुलाकात, दोनो देशों के बीच रक्षा सहयोग पर हुई चर्चा

सेना प्रमुख नरवणे ने की ब्रिटेन के Chief of Defence Staff  जनरल सर निकोलस कार्टर से मुलाकात, दोनो देशों के बीच रक्षा सहयोग पर हुई चर्चा

लंदन: भारत (India) और ब्रिटेन (Britain) के बीच रक्षा  सहयोग पर बातचीत के लिए सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे (Army Chief General MM Naravane) ने ब्रिटेन के सशस्त्र बलों के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल सर निकोलस कार्टर (General Sir Nicholas Carter) से मुलाकात की और दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग पर विचार साझा किए. ब्रिटेन में भारतीय उच्चायोग (Indian High Commission in the UK) ने एक बयान में बताया कि जनरल नरवणे पांच जुलाई को ब्रिटेन की दो दिवसीय यात्रा पर पहुंचे. 

द्विपक्षीय रक्षा सहयोग पर विचारों का आदान-प्रदान किया:
यूरोपीय देशों की अपनी यात्रा के तहत ब्रिटेन दौरे के दौरान नरवणे का देश के रक्षा मंत्री बेन वालेस (Defense Minister Ben Wallace) और चीफ ऑफ जनरल स्टाफ जनरल सर मार्क कार्लटन-स्मिथ से मुलाकात का भी कार्यक्रम है. भारतीय सेना (Indian Military) के अतिरिक्त जनसूचना महानिदेशालय ने मंगलवार को ट्वीट किया कि सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ, CDS, जनरल सर निकोलस कार्टर से बातचीत की और द्विपक्षीय रक्षा सहयोग पर विचारों का आदान-प्रदान किया.

 

नरवणे को ब्रिटिश सेना द्वारा दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर:
इससे पहले जनरल नरवणे ने ब्रिटिश सेना द्वारा किए गए उनके स्वागत के तहत हॉर्स गार्ड्स परेड स्क्वायर पर ग्रेनेडियर गार्ड्स (Grenadier Guards) द्वारा दिए गए गॉर्ड ऑफ ऑनर का निरीक्षण किया. जनरल नरवणे ब्रिटिश सेना की विभिन्न इकाइयों का दौरा करेंगे और परस्पर हितों के मुद्दों पर चर्चा करेंगे. अपने यूरोप दौरे के दूसरे चरण में बुधवार और बृहस्पतिवार को जनरल नरवणे इटली की सेना के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ और चीफ ऑफ स्टाफ से महत्वपूर्ण चर्चा करेंगे.

भारतीय सेना ने दौरे से पूर्व जारी किए गए एक बयान में कहा था, इसके अलावा, सेना प्रमुख प्रसिद्ध शहर कैसिनो में भारतीय सेना स्मारक का उद्घाटन करेंगे और उन्हें रोम में इतालवी सेना के काउंटर आईईडी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस द्वारा भी जानकारी दी जाएगी.

और पढ़ें