VIDEO: अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर BSF का ऑपरेशन, सेना का OPS अलर्ट एक्सरसाइज समर 2021 शुरू, देखिए ये खास रिपोर्ट

VIDEO: अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर BSF का ऑपरेशन, सेना का OPS अलर्ट एक्सरसाइज समर 2021 शुरू, देखिए ये खास रिपोर्ट

बाड़मेर: बाड़मेर के सरहदी इलाके भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर बीएसएफ ने स्वाधीनता दिवस के मद्देनजर ऑपरेशन Ops अलर्ट एक्सरसाइज समर 2021 शुरू किया है. ऑपरेशन Ops अलर्ट में सरहद पर जवानों की संख्या बढ़ाई गई है. पेट्रोलिंग व चेकिंग भी बढ़ाई गई है.

बीएसएफ का ऑपरेशन Ops अलर्ट:
-अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर BSF का ऑपरेशन Ops अलर्ट एक्सरसाइज समर 2021 शुरू
-अंतर्राष्ट्रीय बॉर्डर पर बीएसएफ के जवानों की बढ़ाई गई संख्या
-संदिग्ध गतिविधियों पर बीएसएफ की पैनी नजर
-खासकर स्वाधीनता दिवस के मद्देनजर बॉर्डर पर बढ़ाई गई पेट्रोलिंग
-अंतर्राष्ट्रीय बॉर्डर पर परिंदा भी नहीं मार सकता पर 
-स्वाधीनता दिवस के मद्देनजर
-अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर घुसपैठ का रहता खतरा

स्वाधीनता दिवस पर आजादी का जश्न:

आज 15 अगस्त पर पूरे देश में स्वाधीनता दिवस पर आजादी का जश्न मनाया जा रहा है पूरा देश आजादी के जश्न में डूबा हुआ है, लेकिन बाड़मेर के सरहदी इलाके में बीएसएफ ने स्वाधीनता दिवस के मध्य नजर ऑपरेशन Ops अलर्ट एक्सरसाइज समर 2021 शुरू किया है.  हालांकि साल भर अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर बीएसएफ के जवान देश की सुरक्षा में तैनात रहते हैं. लेकिन स्वाधीनता दिवस के मद्देनजर तारबंदी के पार से घुसपैठ के खतरे बढ़ जाते हैं. उन घुसपैठ के खतरों को रोकने के लिए बीएसएफ ने बाड़मेर के सरहदी इलाके में ऑपरेशन Ops अलर्ट शुरू कर दिया.

बॉर्डर पर BSF के जवानों की बढ़ा दी गई संख्या:

ऑपरेशन Ops अलर्ट के तहत बॉर्डर पर बीएसएफ के जवानों की संख्या बढ़ा दी गई है. वहीं बॉर्डर पर तारबंदी के पास पेट्रोलिंग सघन चेकिंग भी बढ़ा दी गई है. स्वाधीनता दिवस के मद्देनजर संदिग्ध गतिविधियों पर बीएसएफ के जवान पैनी नजर रखे हुए हैं. स्वाधीनता दिवस के मद्देनजर BSF के डीआईजी विनीत कुमार ने सरहदी इलाके का दौरा कर जायजा लिया. 2 दिन तक डीआईजी विनीत कुमार ने अंतर्राष्ट्रीय बॉर्डर पर जायजा लिया. 

 BSF के तमाम अधिकारियों का फोकस अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर:

स्वाधीनता दिवस के मद्देनजर बीएसएफ के तमाम अधिकारियों का फोकस अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर रहता है. इतना ही नहीं अंतर्राष्ट्रीय बॉर्डर तारबंदी पर परिंदा भी पर नहीं मार सके. जिसको लेकर बीएसएफ के जवान चप्पे-चप्पे पर तैनात हैं. पाकिस्तान के हीरोइन तस्करों की नजर भी इसी बाड़मेर के सरहदी इलाके की तारबंदी पर है, जिसके चलते पहले कई बार भारी मात्रा में तारबंदी पार से लाई गई भारी मात्रा में हीरोइन पकड़ी जा चुकी है, ऐसे में पाकिस्तान के तस्करों के मंसूबों को भी हिंदुस्तान के बीएसएफ के जवान कामयाब नहीं होने देते. 

और पढ़ें